सेक्सी चाची की तड़पति जवानी

सभी रीडर्स को मेरा नमस्कार, मैं संदीप आपका दोस्त, आज आपके लिए मैं बहोत ही अच्छी कहानी ले कर आया हू जो की मेरी ही कहानी है और आपको बहोत पसंद आने वाली है.

ये कहानी आज से कुछ समय पहले की न्ही बल्कि 2 दिन पहले की है. तो कहानी पर जाने से पहले मैं अपना पहले थोड़ा बहुत इंट्रोडक्षन देना चाहता हूँ.

तो दोस्तो, मेरा नाम संदीप है और मेरी उम्र अभी 22 साल की है. मैं दिखने मे काफ़ी हॅंडसम हूँ. मेरी हाइट भी काफ़ी अच्छी है और मेरे लंड का साइज़ भी काफ़ी अछा है. मेरे लंड का साइज़ 6 इंच है और काफ़ी अछा है जिससे की चूत की प्यास को ख़तम किया जाता है.

मैं कॉलेज मे जाता हूँ और बहोत ही मस्ती भी करता हूँ. मैं अपनी लाइफ मे अब तक 3 लड़कियो को चोद चुका हूँ और तीनो को छोड़ने के बाद मुझे बहुत ही मज़ा मिला है.

मैं अब ऐसे ही सब कुछ बताता रहुगा पर अब साथ ही साथ मैं आपको अपनी कहानी पर ले कर चलता हूँ.

ये कहानी मेरी और मेरी चाची प्रिया के साथ की है. मेरी प्रिया चाची बहोत ही सेक्सी है और बहोत ही सुंदर है. उसका फिगर तो बहोत ही कमाल का है. उसका फिगर 38-32-38 का है जिसको देख कर हर किसी का लंड खड़ा हो जाता है.

मेरी चाची की उमर 38 साल है. बेशक उमर अच्छी ख़ासी है पर वो अभी भी काफ़ी जवान लगती है. मैं उनकी गांड को जब भी देखता हूँ तो मेरा मन उन्हे चोदने का करता है. और जब वो अपनी गांड को चलते हुए हिलाति है तो मेरा लंड खड़ा हो जाता है.

एक दिन की बात है. मैं अपनी चाची के घर गया हुआ था. हुमारा सबका घर एक ही कॉलोनी मे है इसलिए मैं उनके पास गया हुआ था और तब मैं जब वाहा गया तो वो नाइटी मे थी और घर पर कोई भी न्ही था.

More Sexy Stories  लाजवाब पार्टी और चुदाई का मंज़र

मैने चाची से चाचा जी और बच्चो के बारे पूछा तो वो बोली की तुम्हे चाचा जी का तो पता है की वो कहा जाते है और रही बात बच्चो की तो वो स्कूल गये है.

अब मैं उनके वही बैठ गया और थोड़ी ही देर बाद जाने लगा. तो मुझे उठता देख कर चाची बोली – तुम्हे क्या कोई काम है?

मैं – न्ही चाची मुझे तो कोई काम न्ही है.

तब चाची ने मुझसे कहा की घर पर कोई न्ही है इसलिए तुम थोड़ी देर बैठ जाओ.इतने मे मैं न्हा कर आजाति हूँ.मैं भी उनकी बात को सुन कर वही पर बैठ गया और उनके आने का इंतेज़ार करने लग गया.

मैं आपको एक बात बता दू की मेरे चाचा जी के लंड से वो बिल्कुल भी खुश न्ही थी और वो लंड लेने के लिए प्यासी थी.

मैं अब उनके कमरे मे बैठ गया और फिर तब मैने देखा की वाहा पर बेड पर टॉवेल ब्रा और पेंटी पड़े थे जिसको देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया. मैं देख ही रहा था की तभी चाची ने मुझे आवाज़ दी और कहा की टॉवेल पकड़ा दो तो मैने पकड़ा दिया और फिर उन्होने मुझसे कहा की ब्रा और पेंटी भी पकड़ा दो तो मैने वो भी पकड़ा दिए.

अब वो बाहर आ गई तो मैने देखा की उन्होने काले रंग का सूट डाल रखा था जो की बहोत ही ज़्यादा अच्छा लग रहा था. उसमे से उनकी ब्रा भी दिख रही थी और वो बहोत ही सेक्सी लग रो थी. अब उनके जाने के बाद मैं वाहा से खड़ा हुआ और वाहा से जाने ल्गा तो उन्होने फिर से रोक लिया.

चाची – तुम्हे क्या कोई काम ज़रूरी है क्या?

मैं – न्ही तो क्यू क्या हुआ.

चाची – तो तुम मेरे साथ ही बैठ जाओ, मैं घर पर अकेली हूँ मेरा मन लग जाएगा.

More Sexy Stories  बुआ को नंगा करके गॅंड मारी

मैं भी उनकी ये बात सुन कर उनको हाँ करदी और वही उनके पास बैठ गया. मुझे उनके पास बैठ कर बहोत अच्छा लग रहा था.वैसे मेरी चाची बहोत ही गुस्से वाली है इसलिए मैं खुद उनसे डरता था.

अब हम दोनो बैठ कर बाते करने लग गये तब वो मुझसे मेरी गर्लफ्रेंड के बारे पूछने लग गये तो मैने ना करदी. तब चाची ने मुझसे कहा की मैं सब जानती हू की तुमने किस किस को चोद रखा है. और तो और मैने तुम्हारे लंड को भी देख रखा है.

मैं उनके मूह से ये सब सुन कर काफ़ी हैरान था और फिर मैंने उनसे पूछा की आपने कब देखा तो वो बोली की जब तुम मेरे वॉशरूम मे गये थे.

अब चाची अच्छे से बात करने लग गई और मैं भी. मैने कभी सोचा न्ही था की जिसको मैं चोदना चाहता हूँ वो खुद ही मेरे पास आएगी. अब चाची ने ऐसे ही बैठे बैठे मेरे लंड पर हाथ रख दिया और फिर तब वो बोली इसे बाहर निकालो और मुझे चोद डालो.

मैं भी अब चाची के साथ काफ़ी ओपन हो गया था और फिर मैने अपने लंड को पेंट से बाहर निकाला और फिर उनके हाथो मे थमा दिया.

मुझे उनके हाथो मे अपना लंड देकर बहोत अछा लग रा था और फिर उसके बाद वो अपने हाथो मे ले कर उपर नीचे करने लग गई. मुझे ये सब करवाने मे बहोत मज़ा आ रा था. और फिर उसके बाद मैने उनकी कमीज़ को उतारने को कहा तो उन्होने उतार डाला.

अब मैने उनकी ब्रा को खोला और उनके बूब्स ज़ोर ज़ोर से दबाने लग गया. मुझे ये सब करने मे बहोत मज़ा आ रा था और फिर उसके बाद धीरे धीरे मैने उन्हे पूरा ही नंगा कर दिया.

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *