देसी सेक्स स्टोरीस दीदी को सॅटिस्फाइड किया

Behan Ki Chudai Desi Sex Stories Didi Ko Satisfied Kiya हाय दोस्तो पिछली कहानी मे मैने आपको बताया कैसे मिस्टर.विल्यम्स ने मेरी दी पाख़ी की चुदाई की. जॉब की खातिर दी ने भी बिना कुछ सोचे ये स्टेप उठा लिया अब आइए पढ़े आगे की बेहन की चुदाई देसी सेक्स स्टोरीस.

दी की जॉब लगने के दो साल बाद मेरा भी ग्रॅजुयेशन हो गया और दी ने मुझे भी अपनी ही कंपनी मे जॉब दिलवा दी. ये उसके लिए आसान था बस मिस्टर. विल्यम्स को खुश करना था.

कोई भी लड़की औरत सेक्स करना चाहती हैं तो मुझे मेरे मैल पे कॉंटॅक्ट कर सकती हैं. और कोई भी पर्सन किसिको चोदना चाहे तो अपने सवाल भी मुझ तक ला सकता हैं. मुझे आपकी हेल्प करना अछा लगेगा. आपको मेरी मैल आईडी इन लास्ट ऑफ द स्टोरी मिल जाएगी.

आते हैं कहानी पर.

अब 3 साल बाद दी के घर वालो ने अरेंज मॅरेज करा दी. पर दी शादी नही करना चाहती थी. शादी के एक महीने बाद दी हुमारे घर मेरे पास भाग आई उस रात दी बहोत उदास थी. उनके दिल मे बोहोत कुछ भरा था.

मैं रात करीब 11 बजे दी के पास गया उनके कंधे पर हात रखा और कहा.

मैं – दी. क्या हुआ. ??

दी – नही कुछ नही. तेरे बिना मन नही लगता. याद आ रही थी तेरी.

मैने दी का फेस अपनी तरफ किया और उसके बाल सहलाते हुए कहा.

मैं – दी. क्या हुआ. ?? मुझे भी नही बताएगी. ??

दी – भाई मुझे एक बात अंदर से निगल रही हैं.

मैं – क्या हुआ सॉफ सॉफ बोल ना. जीजू टॉर्चर कर रहे क्या. या कोई और परेशानी है.

दी – तुझे याद हैं ना 5 साल पहले हमारी कंडीशन कैसी थी और मुझे जॉब की कितनी ज़रूरत थी.

मैं – हा दी पता हैं. फिर तुझे मिस्टर. विल्यम्स के यहा जॉब लग गयी. तेरी पढ़ाई तेरा पेशेन्स सब काम आया.

दी – नही भाई. उस समय जॉब के लिए मुझे एक कॉंप्रमाइज़ भी करना पढ़ा था.

मैं – कैसा कॉंप्रमाइज़. ?

दी – आई स्लेप्ट वित हिम.

मैं – वॉट. .??? वॉट आर यू सेयिंग. ??

दी – हा भाई इतना ही नही ईवन 3 साल पहले तेरी जॉब लगाने के टाइम भी मुझे उनके बिस्तर मे जाना पढ़ा था.

मैं – दी तू पागल हैं. अरे हम स्ट्रगल कर लेते. तूने ये सब क्यू किया.

दी रोने लगी और रोते रोते बोली.

दी – भाई तेरे और मेरे फ्यूचर के लिए. मुझे लगता हैं मैं तेरे जीजू को चीट कर रही हू. यही गल्ति मुझे खाए जा रही है.

मैं – दी देख गुस्सा तो मुझे बहोत आ रहा है. बट आई कॅन अंडरस्टॅंड तेरे पास चोइसे नही थी.

इतना कहते ही मैने दी को हग कर लिया. दी का मूह मेरी चेस्ट पे था और मैं उनकी बॅक रब कर रहा था. मेरे दिमाग़ मे कुछ ग़लत नही चल रहा था.

अचानक दीदी बोली.

दी – भाई आज मुझे सुला दे ..

मैं – इसमे प्लीज़ क्यू चलो.

फिर हम बेडरूम मे गये मैने बिस्तर लगाया और दी को सोने के लिए कहा. मुझे एक प्रेज़ेंटेशन बनाना था मैं वही बना रहा था और दी मेरा काम ख़त्म होने का वेट कर रही थी. करीब 1 बजे मैने काम ख़तम किया एंड लॅपटॉप बेड के नीचे ही रख दिया और दी को सुलाने लगा. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

More Sexy Stories  छोटे भाई ने तोड़ी मेरी सील

दी बैठी थी जैसेही सोने के लिए लेटी उसकी सारी मे की तार उसे चुभ गयी. मैने कहा उठ मैं टीशर्ट लाता हू तो उसने कहा नही रहने दे भाई ही हैं तू मेरा. और सारी निकाल के बालो की क्लिप खोल कर ब्लाउस और पेटिकोट मे सो गई.

हू तो मैं भी मर्द ही दी को सुलाते हुए उसकी बॉडी मुझे टच हो रही थी और मेरा लॅंड फन फ़ना गया. मेरे मन मे येही चल रहा था की इसने यह कदम क्यू उठाया मुझे गुस्सा आ रहा था. मैं धीरे धीरे उसे थाप रहा था . तभी अंजाने मे मेरा हाथ ज़ोर से उसे लग गया. वो उठ गयी.

मैने उसे सॉरी कहा. उसने मेरे गाल पे हाथ रखा और कहा मैं जानती हू भाई तू गुस्सा हैं. मेने कहा कुछ नही सॉरी तू आ सोजा और उसका सिर अपनी चेस्ट पे रख लिया और वो मुझे हग कर के सो गयी. बट मुझे नींद ही नही आ रही थी. अचानक मैने महसूस किया दी ने अपना एक हाथ मेरे लंड पे रखा. मेरा समान फिर खड़ा हो गया मैने दी के सिर पे किस किया उसे खुद से अलग किया अब रूम ठंडा हो रहा था मैं एसी बंद करने के लिए उठा तो दी ने मुझे पकड़ लिया और एसी बंद नही करने दिया.

हम दोनो ने एक ही चद्दर ऑड ली और चिपक के सोने लगे. करीब 3 बजे पाख़ी ठंड से तटूरने लगी वो काप रही थी उसने मेरी टीशर्ट उपर कर दी और मुझसे लिपट गयी. पता नही उसे क्या होने लगा वो मेरे चेस्ट के पास गहरी साँसे लेने लगी मेरी नींद खुल गयी मैं दूर्र हटने लगा और कहा ये क्या कर रही है पागल है भाई हू मैं तेरा. अब दी ने कहा.

दी – मुझे ठंड लग रही है.

मैं – हा तो मैं एसी ऑफ कर देता हू.

दी – (मूह उतारते हुए) हा जा करदे.
मैने एसी ऑफ कर दिया और अब हम कुछ डिस्टेन्स पे एक ही बेड पे सो रहे थे थोड़ी देर बाद मैने देखा दी के ब्लाउस का उपर का बटन लगा हैं और नीचे का बीच के तीनो खुले हैं उसने ब्रा भी नही पहनी और उसके बूब्स बाहर आना चाहते हैं.

उसने अपना पेटिकोट भी घुटनो के उपर तक कर रखा था मैं समझ गया ये आज चुदने ही आई हैं मेरे पास. मैने अपना हाथ बढ़ाया और उसकी कमर पे रख दिया. उसने एक गहरी सास ली और आ कर मुझसे लिपट गयी. जैसेही वो मुझसे लिपटी मैं उसकी नेक के पास किस करने लगा और चाटने लगा.

मैने उसके पेटिकोट का नाड़ा खोल दिया. मैने उसे लेटा दिया अब उस पर लेट के उसे ज़ोर ज़ोर से चूमने लगा मैने उसका ब्लाउस उतार दिया,
अब वो मेरे लंड पे बैठ आगे पीछे हो रही थी हम काफ़ी जोश मे थे और बोहोत एक्ससिटेड थे.

अचानक मैने उसे दूर कर दिया और बोला यह सब ग़लत हैं. और उसे चद्दर उड़ा दी. मेरी दी ने अपने पर से चद्दर हटाई और मुझे घुराने लगी मैं उससे नज़रे छुपा रहा था. उसने मुझे अपनी तरफ खीचा और ज़ोर ज़ोर से किस करने लगी उसने मेरी टीशर्ट उतार दी.

More Sexy Stories  मेरी सेक्सी कज़िन सिस्टर कमला

अब वो मेरी चेस्ट एब्स चाटने लगी. नीचे होते हुए उसने मेरा पैजामा और अंडरवेर दोनो उतार दिए मेरा लंड देख कर वो खुश हो गई और बोली हाए भाई तेरा भी मस्त हैं इतना कहते ही उसने मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया था. वो मेरा लंड बहोत फुर्ती तेज़ी से एक पोर्न्स्टार की तरह चुस्स रही थी.

करीब 10 मीं तक लंड चुसकर उसने मेरा लंड टाइट कर दिया.
और वो मेरे लंड पे बैठ गयी मेरा लंड अपनी चुत पर सेट करने लगी. इतने मे ही मैने उसे पलंग पे पटक दिया और मैं बोला वाह दी सब मज़े तू ही करेंगी और मैने उसका पेटिकोट उतार दिया था उसने पैंटी भी नही पहनी थी उसकी चुत पूरी चिकनी थी. मैने चुत मे उंगली मारना स्टार्ट किया वो अब सिसकारिया ले रही थी.

मैं उस पर चढ़ गया और उसके बूब्स चाटने चूसने लगा और एक हाथ से उसकी चुत मे उंगली कर रहा था. वो बहोत ज़ोर से सिसकारिया ले रही थी आआअह्ह्ह्ह आआह्ह्ह्ह आआअह्ह्ह्ह उउउम्म्म्म आआअह्ह्ह भायी अब ना तररसाअ छोद्द दे आअहह आआअहह भाईईइ.

कुछ देर बाद मैने उसकी टांगे फैला दी और अपना लंड उसकी चुत पर सेट किया. दी कई बार चुद चुकी थी इसलिए मेरा लंड एक धक्के मे उसकी चुत मे घुस गया. पर मेरा लंड मोटा होने के कारण उसकी चुत फाड़ रहा था मेरे हर धक्के पे वो ज़ोर ज़ोर से चिल्लाह रही थी. आआअह्ह्ह्ह्ह आआह्ह्ह्ह्ह आआह्ह्ह्ह्ह ब्ब्भ्हाआईइ आआह्ह्ह्ह्ह चोदो मुज्झहहीए आअहह क्याअ ल्लुउउन्न्ञदडड़ हैं तेरा आअहह बाऐईइ आआहह.

करीब 15 मीं बाद मैने अपना लंड उसकी चुत से बाहर निकाला और मैं पलंग पर लेट गया अब मैने अपना लंड उसके मूह मे दे दिया और वो 5 मीं तक उसे चुस्ती रही.

5 मीं बाद वो मेरे लंड पे बैठ उपर नीचे होने लगी उसे बहोत मज़ा आ रहा था वो और चुदना चाहती थी उसकी सिसकारिया बता रही थी आआहह आआहह आआहह आअहह ऊऊहह अहहहः फक फक फक फक य्ाआअ हहााअ आआहह.

10 मीं बाद मैने उसे घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी चुत मारनी शुरू की. एक हाथ से मैने उसके बाल खीछे और दूसरे हाथ से उसकी गॅंड पे चाटे मार मार के लाल कर दी और अब मैं स्पीड से चोदे जा रहा था. वो तेज़ी से सिसकारिया लेने लगी आअहह आअहह आअहह आअहह आआहाआहाआहाआह यायायाया आआहाहाश यायाये फक भाई फक या या या या या आअहह और करीब 20 मीं बाद मैं उसकी चुत मे ही झड़ गया.

मुझे अपना फीडबॅक देने के लिए कृपया कहानी को ‘लाइक’ ज़रूर करे, ताकि कहानियों का ये दौर देसीकाहानी पर आपके लिए यूँ ही चलता रहे.

हम बहोत थक गये थे हम पलंग पर नंगे ही सो गये. सुबह पाख़ी जैसेही उठी उसने मेरा लंड चुसकर मुझे उठाया. फिर उसने बताया मिस्टर.विल्यम्स की डेत के बाद कैसे वो सेक्स के लिए तड़प रही थी और उसका पति भी उसे शांत नही कर पा रहा था. उसने बताया उसके पति का लंबा तो हैं बट मोटा नही. उसको सॅटिस्फॅक्षन नही मिल रहा था.

तो दोस्तो ऐसे की मैने मेरी बहन की चुदाई. कहानी पसंद आई हो तो लाइक ज़रूर करे अपने सुझाओ और सवालो के लिए मेरी मैल आईडी पर संपर्क करे