मेरी बहेन नीलू की गॅंड चुदाई

हाय, फ्रेंड्स मैं सोनू एक बार फिर अपनी अगली स्टोरी लेके आया हूँ जैसा की मैने वादा किया था, नये रीडर्स को इंट्रोड्यूस करा दू.

मेरा नाम सोनू है और मैं बल्लिया का रहने वाला हूँ ये स्टोरी मेरी कज़िन नीलू जिसकी एज 20 साल हुई है उम्मीद करता हूँ आप लोगो को पसंद आएगी और कोई भी गर्ल्स या भाभी चुदवाना चाहे तो मेरा 7″ इंच का लंड उनकी खिदमत मे हाजिर होगा अब मैं ज़्यादा टाइम वेस्ट ना करते हुए सीधे स्टोरी पे आता हूँ आप लोगो का लंड और चुत भी ये स्टोरी सुनने के लिए उतावला हो रहा होगा.

तो बात तबकि है जब नीलू के एग्ज़ॅम हो गये तो जिस दिन रिज़ल्ट आया तो मैने चेक करके बताया की वो फर्स्ट क्लास से पास हुई है वो खुश हो गई और मुझे हग कर लिया, मैं भी उसे हग किया और एक फ्रेंच किस कर लिया, फिर उसके घर इस खुशी मे एक पार्टी रखी गई मेरे मम्मी पापा भी वही पर गये थे, मैं घर पे कुछ ज़रूरी मैल करना था तो बैठ के लॅपटॉप पे बिज़ी था, इतने मे मुझे बुलाने मेरी सिस्टर नीलू आ गई तो मैं बोला की मैं तुमसे नाराज़ हूँ, तो वो पूछने लगी भैया क्यूँ नाराज़ हो तो मैं बोला की तुम्हे मैं इतना हेल्प किया स्टडी मे पर तुमने मुझे कोई गिफ्ट नही दिया, इसपर मेरी बहन कुछ देर सोच के बोली भैया आपको क्या गिफ्ट चाहिए बताओ.

मैं उसके नज़दीक गया और पीछे से हग करके बोला मुझे अपनी मस्त और प्यारी बहन की गॅंड मारनी है, तो वो मना करने लगी बोली नही इसमे बहुत दर्द होगा पर मैने उसको समझाया की इसमे तो और भी मज़ा आएगा मेरा लंड जो की एक दम से तन गया था और उसकी गॅंड की गॅप मे लग रहा था, फिर मैं जल्दी से मैने गेट बंद करके आया और उसे लेकर अपने बेडरूम मे आ गया क्या बताउ यार वो क्या मस्त लग रही थी उस दिन नीलू ने एक पिंक कलर की सलवार सूट पहन रखा था उसके 32 साइज़ के चुचे देख कर मैं उनको सहलाने लगा.

More Sexy Stories  जीजू ने की चुदाई मेरी चूत और गांद मे

अब वो भी मेरा लोवर के उपर से ही मेरे लंड को सहलाने लगी, मैं उसके होट चूसने लगा वो भी मेरा साथ दे रही थी और मेरी जीभ को एक मजेदार पॉर्न आक्ट्रेस की तरह चूस रही थी और मोन कर रही थी अहह भैया उूुुुउऊँ बोली की भाई मुझे तुम्हारे लंड की आदत पड़ गई है अब तक मैं उसका कुर्ता निकाल चुका था, उसने रेड कलर की मुलायम ब्रा पहन रखी थी, तो मैने पीछे से उसके ब्रा का हुक खोला तो उसकी चुचियाँ एकदम मस्त कयामत लग रही थी.

अब मैं उसकी लेफ्ट चुचि को अपने मूह मे लेकर चूसने लगा और राइट चुचि को मसलने लगा, उसका तो बुरा हाल होने लगा और सिसकारिया लेने लगी बोल रही थी भैया चूसो मेरी चुचि को आआअहह भाई और ज़ोर से इसको निचोड़ के दूध निकाल दो उउईईईई भाई आआअहह और चूसो मैं भी अब राइट चुचि को चूसने लगा और एक हाथ उसकी सलवार मे डाल के पैंटी के उपर से उसकी चुत सहला रहा था.

अब तक उसकी चुत से पानी निकलने लगा था जिससे उसकी पैंटी गीली हो चुकी थी, अब मैने उसकी सलवार का नाडा खोल दिया वो सिर्फ़ रेड कलर की पैंटी मे थी उसकी पैंटी इतनी पतली थी की सिर्फ़ चुत के दोनो होट कवर थे और पीछे से तो गॅंड के दरार मे घुसा हुआ था, ये नज़ारा देख कर मैं पागल होने लगा और घुटनो पे बैठ के पैंटी के उपर से ही अपनी बहन की चुत को चाटने लगा, वो मेरा सर पकड़ के अपनी चुत पे रगड़ने लगी और बोली चाटो भाई चाटो इसमे आग लगी है.

More Sexy Stories  पहली चुदाई अपनी कज़िन की

अब मैने उसकी पैंटी निकाल के अलग कर दी, वो पूरी तरह न्यूड खड़ी थी मैं उठा और किचन से डाबर हनी की शीशी ले के आ गया नीलू कहने लगी भाई प्रोग्राम क्या है, मैं बोला देखती जा मेरी रानी बहना फिर ढेर सारा हनी मैने उसकी 36″ साइज़ के चट्डो पे लगाया और उसको डॉगी स्टाइल मे झुकने को बोला वो भी झुक गई, अब मैं उसके चट्डो को खूब चाटने लगा क्या मजा था यारो एक दम हनी लगा होने से मीठा और नमकीन दोनो मजा आ रहा था,

फिर हम 69 पोज़िशन मे आ गये मेरा लंड नीणू के मूह मे था और मैं उसकी गॅंड चाट रहा था, मैं अपनी जीभ उसकी गॅंड के होल मे डाल डाल के उसे खूब चोद रहा था, वो बोल रही थी भाई तुम तो मेरी रूह को भी खुश कर रहे हो और खूब अपनी गॅंड भी हिला रही थी, पहली बार किसी लड़की के गॅंड चाटने का मजा मिल रहा था, मैं सातवे आसमान पर था, मैने नीलू के मूह मे ही अपना माल निकाल दिया और वो सारा पी गई.

फिर मैं उसकी चुत की तरफ बढ़ा और उसके दाने को जीभ से चाटने लगा उसकी चुत गीली हो चुकी थी और कामरस बह रहा था क्या टेस्ट था मैं तो उसकी चुत का पुराना दीवाना था हमे ऐसे करते हुए 30 मिनिट हो चुके थे, वो बोलने लगी भैया अब जान निकाल दोगे क्या जल्दी कुछ करो मेरा 7″ का लंड फिर से पूरे जोश मे आ चुका था, मैने कॉंडम निकाला और नीलू को बोला की लंड पे चढ़ाओ तो वो मना करने लगी बोली मैं अपने भाई का लंड बिना कॉंडम के ही लूँगी.

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *