सहेली को उसी के कज़िन से चुदवाया

दोस्तो, मैं आपकी प्यारी और सेक्सी हिमानी फिर से आपकी सेवा में हाजिर हूँ।

आपने पहले तो पढ़ा ही था कि मैं कैसे-कैसे चुदी हूँ। इस कहानी में मैं आपको बता रही हूँ कि मैंने कैसे अपनी सहेली का बुर चोदन उसके ही मामा के लड़के से करवा दिया।

आप लोग अब मेरी सहेली के बारे में जाना चाह रहे होंगे.. तो सुनिए उसका नाम शिवानी है। उसकी उम्र 21 साल की है और फिगर तो इतना मस्त है बस क्या कहूँ। उसके चूचे 34 इंच हैं, कमर 30 इंच और गांड मेरे से भी बड़ी 38 की है।

उसके मामा का लड़का मेरा बॉयफ़्रेंड है, यह बात उसको पता नहीं है कि उसका भाई मेरा बॉयफ़्रेंड है।

मैं अक्सर उसको अपनी चुदाई की कहानी सुनाकर उसको गर्म करती थी और कहती थी कि चुदाई में बहुत मज़ा आता है। उसका भी एक पहले का बॉयफ़्रेंड था लेकिन उसने पहले कभी चुदाई नहीं की थी।

मैं जब भी शिवानी के साथ लेसबो करती थी.. तो वो कभी-कभी कहने लगती थी कि मैं भी चुदूँगी यार, मन करता है।
दूसरी तरफ मेरा बॉयफ़्रेंड भी अपनी कज़िन को चोदना चाहता था क्योंकि मैं और विकास चुदाई की सब बातें खुल के कर लेते थे।

मैंने विकास को कहा था- टेंशन मत ले यार.. तेरे को तेरी कजिन शिवानी की बुर ज़रूर दिलाऊँगी।

अब चालू होती है मेन कहानी..

एक दिन मैं शिवानी के घर गई और बातें करने लगी, मैंने कहा- कल तो मेरे पूरे दिन मज़े आएंगे।
उसने कहा- कैसे?
मैंने कहा- कल पूरे दिन मेरे घर पर कोई नहीं रहेगा और विकास आएगा, हम दोनों पूरे दिन बुर चोदन करेंगे।

उसने मेरी तरफ कौतूहल भरी निगाहों से देखा तो मैं उसको बताने लगी कि कल किस-किस तरह से कितना मजा आएगा।
अब उसके मन में भी आ गया कि काश वो भी चुदती। अभी तक उसको पता नहीं था कि उसके मामा का लड़का ही मेरा बॉयफ़्रेंड विकास है।

फिर मैंने उससे कहा- शिवानी, कल तू भी अपनी इस जवानी के साथ मज़े ले ले ना!
तो वो बोली- मैं कैसे?
मैंने कहा- कल तू भी विकास से चुद जा।
वो बोली- यार, वो तेरा बॉयफ़्रेंड है।
तो मैंने कहा- हाँ वो मेरा बॉयफ़्रेंड है.. तो क्या उसका लंड तेरी बुर में नहीं जा सकता है?

वो कहने लगी- तुझे बुरा नहीं लगेगा?
मैंने कहा- मुझको बुरा नहीं लगता.. हम दोनों तो खूब कपल एक्सचेंज करके सेक्स करते हैं।
वो कहने लगी- कुछ होगा तो नहीं?
मैंने कहा- कुछ नहीं होगा यार और अब तू भी कल अपना बुर चोदन करवा ही ले।
वो मान गई।

More Sexy Stories  25 साल का कुँवारा लड़का: चूत कैसे मिली

मैंने उसको समझा दिया कि अपनी बुर को एकदम चिकनी करके आइयो.. विकास को बुर चूसना बहुत पसन्द है।

अब वो दिन आ गया। जब शिवानी की चुदाई उसके भाई से होनी थी।
विकास ने मुझसे कहा- अगर मैं सीधा इसके सामने आ गया.. तो ये नहीं चुदेगी.. पहले तू इसको पूरी नंगी करके इसके साथ लेसबो करके गर्म कर दियो फिर जब मैं सामने आऊँगा तो वो चुद जाएगी वरना ड्रामे करेगी।

फिर 11 बजे मेरे घर शिवानी आ गई। मैंने उसको बिठाया हम दोनों ने बातें की और कोल्डड्रिंक पी।
मैंने उसकी ड्रिंक में सेक्स की गोली मिला दी थी।
पीने के बाद वो कहने लगी- यार विकास से तो मिलवा दे.. आज तक बस उसके बारे में सुना है.. उसे कभी देखा ही नहीं है।
मैंने कहा- आ जाएगा डार्लिंग.. तू लंड लेने को इतनी क्यों उतावली है।
वो हँस कर शरमाने लगी।

मैं उसको बेडरूम में ले गई, मैंने कहा- चल पहले हम लेसबो करते हैं।
मैंने उसके होंठों को काफ़ी चूसा। उस दिन वो ब्लैक टी-शर्ट और ब्लैक जीन्स पहन कर आई थी। मैंने पहले उसकी टी-शर्ट उतारी और उसके मम्मों को ब्रा में ही दबाना शुरू कर दिया। फिर धीरे-धीरे उसके पूरे कपड़े उतार कर उसको नंगी कर दिया। सेक्स की गोली उसके दिमाग पर चढ़ने लगी थी।

मैं उसकी बुर में उंगली पेलकर बुर चाटने लगी, चूत में उंगली जाते ही गोली का पूरा असर भी होने लगा।
तभी मैंने आवाज़ दी- विकास आ जा!

विकास के आते ही उसका चेहरा एकदम लाल हो गया।
मैंने हँस कर कहा- ये ले मेरा बॉयफ़्रेंड है.. और आज का तेरा लंड..

उसने एकदम से अपने आपको चादर में ढक लिया और मुझसे कहने लगी- यार क्या तू पागल है.. हम भाई बहन हैं। तू हमारे बीच ये सब कैसे करवा सकती है।
फिर मैंने उसको गाली बकी और कहा- भैन की लौड़ी.. भाई-बहन कुछ नहीं होता.. सिर्फ़ लंड बुर होता है। मैं भी पहली बार अपनी कजिन से चुदी थी।
वो मेरी तरफ देखने लगी।
यह हिंदी चुदाई की कहानी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!

मैंने कहा- ये साला खुद तुझे चोदना चाहता है।
फिर वो विकास की तरफ़ देखने लगी।
विकास बोला- शिवानी.. भाई बहन कुछ नहीं होता.. तू इतनी सेक्सी है कि मेरा लंड तुझे चोदने के लिए तड़प रहा है। तू यहाँ चुदने ही तो आई है.. तो चुद ले ना।

इतना कहते हुए उसने शिवानी को अपनी तरफ खींचा और उसके होंठ चूसने लगा। लेकिन शिवानी साथ नहीं दे रही थी.. और किस भी नहीं कर रही थी।
लेकिन आग तो उसकी बुर में भी लग चुकी थी.. तो कुछ पल बाद वो मान गई। विकास ने उसको उठाया और खूब किस किए। उसके होंठ गर्दन पूरे लाल कर दिए।

More Sexy Stories  सामने रहने वाली लड़की को पटाकर चोदा

मैंने कहा- तुम दोनों चुदाई करो.. मैं आज भाई बहन की चुदाई देखूँगी।

विकास ने शिवानी के मम्मों को खूब नोंचा और चूसा, वो धीरे-धीरे मम्मों को चूसते हुए उसकी बुर पर आ गया, उसने शिवानी की बुर खूब चूसी।
शिवानी की सिसकारियाँ निकल गई उम्म्ह… अहह… हय… याह… और विकास ने कहा- शिवानी आज तुम्हारी बुर चूसने की मेरी इच्छा पूरी हुई।

फिर उसने अपना लंड शिवानी के मुँह पर लगा दिया और उससे लंड चूसने के लिए कहा।

शिवानी भी शायद इसी इंतज़ार में थी कि कब विकास उससे लंड चूसने को कहे। विकास के लंड चुसाई का कहते ही शिवानी ने लंड को चूसना शुरू कर दिया।

पूरा लंड चुसवाने के बाद विकास ने शिवानी को बिस्तर पर लिटा दिया। फिर उसने मुझे बुलाया- इसके होंठों पर होंठ रख ले.. तेरे होंठ हटने नहीं चाहिए।

मैं विकास की बात को समझ गई और मैंने वैसा ही किया। शिवानी समझ ही नहीं पाई कि अब क्या होने वाला है।

विकास ने उसकी बुर पर अपना लंड सैट करके एक जोरदार झटका मारा, शिवानी एकदम से उछल गई। पर हम दोनों की पकड़ इतनी सख्त थी कि वो हिल नहीं पाई.. और ना ही उसकी आवाज़ निकली। बस उसके आँसू आ गए। उसकी बुर की सील टूट चुकी थी।

फिर विकास ने एक और झटका मारा और शिवानी की बुर में अपना पूरा लंड पेल दिया। तभी विकास ने मुझे एकदम से हटा दिया उसी वक्त शिवानी की चीख निकल पड़ी- आआहहह अहह.. हुईईई.. हरामी.. मुझे मार दिया साली तू भी कुतिया है रंडी कमीनी।

फिर विकास और मैं हँसने लगे। हम दोनों ने उसके मम्मों को खूब दबाया। फिर जब वो सामान्य हुई तो विकास ने उसको छोड़ा। करीब दस मिनट तक 3 अलग-अलग आसनों में उसकी चुदाई की।

अंत में जब विकास का माल निकलने को हुआ तो उसने शिवानी से कहा- बता कहाँ निकालूँ.. तेरे मुँह के अन्दर या चेहरे पर?
वो कहने लगी- नहीं, मम्मों पर निकालना।

विकास ने उसके मुँह में लंड डाला और पूरा उसके मुँह के अन्दर माल निकाल दिया।

उसने लंड हटाया ही नहीं जिसके कारण शिवानी को सब माल पीना पड़ा। वो लंड हटते ही बाथरूम की ओर भागी। हम दोनों फिर से हँसने लगे।

तो दोस्तो, ये थी मेरी सहेली की पहली बात बुर चुदाई की कहानी.. बताईए ना कैसी लगी आपको।

आपकी प्यारी ओर सेक्सी हिमानी।
[email protected]

What did you think of this story??