डांस टीचर से दोस्ती और चुदाई के बाद प्यार- 1

सेक्सी लड़की की वासना जब जागृत होती है तो वो अपनी चूत में उंगली करने लगती है. ऐसी ही एक लड़की को मैंने देखा. फिर उसे मैंने कैसे पटाया?

नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम तुषार है. मेरी उम्र 27 साल है.

जो सेक्स कहानी आज मैं आप सबको सुनाने जा रहा हूं, वो एक हकीकत है.

दोस्तो, ये सेक्स कहानी अब से 4 साल पुरानी है. उन दिनों मैं कॉलेज में पढ़ता था.
वो हमारा आखिरी साल था. मैं 23 साल का नौजवान था लेकिन मैंने अब तक कभी भी कोई गर्लफ्रेंड नहीं बनाई थी.
इस कारण मैं अभी तक एक बार भी चुदाई नहीं कर पाया था.

वो साल मेरा कॉलेज का आखिरी साल था इसीलिए मुझे फेयरवेल पार्टी में डांस परफ़ॉर्मेंस के लिए चुना गया था.

लेकिन मैं रिहर्सल में अकेले डांस करते हुए किसी को जमा नहीं इसलिए सिलेक्शन कमेटी ने मुझे डुओ डांस परफ़ॉर्मेंस करने के लिए कहा.

अब मुझे प्रीति नाम की एक लड़की के साथ डांस करना था.
चूंकि मैं शर्मीला था तो शुरू में उसके साथ डांस करने के लिए नानुकर करने लगा.

फिर वहां हमारे वॉलीबाल के कोच आ गए और कहने लगे- अरे कर ले ना … इतना शरीफ लगता तो नहीं तू!
उनकी बातें सुनकर मैंने हां कर दी.

उन दिनों हमारी डांस टीचर बहुत व्यस्त रहती थीं क्योंकि फेयरवेल पार्टी बहुत नजदीक थी.

उन्होंने मुझे और प्रीति को बुलाकर कहा कि बच्चो (हम उनके स्टूडेंट्स थे इसलिए वे हमें बच्चे कहती थीं) मैं बहुत व्यस्त रहने लगी हूं, क्या तुम किसी और डांस टीचर से डांस सीख सकते हो?
मैंने हां कर दी.

फिर प्रीति बोली- टीचर, हमारे घर से दो मोहल्ले के बाद एक डांस टीचर रहती हैं. मैं उन्हें अच्छी तरह से जानती हूं.

बात तय हो गई और उसके बाद हम प्रीति की बताई डांस टीचर के पास जाने लगे.

उस टीचर का नाम श्रेया था और वह अभी सिर्फ 25 साल की थी.

अब दोस्तो मैं क्या बताऊं … श्रेया बिल्कुल दूध सी गोरी थी. उसके बूब्स थोड़े छोटे थे, लेकिन फिर भी वो बहुत ज्यादा ही हॉट आइटम थी.
उसका घर बहुत ही आलीशान था.

एक दिन जब मैं डांस क्लास के लिए पहुंचा तो मैंने पहले प्रीति को कॉल किया और उससे पूछा कि प्रीति तुम क्लास पहुंच चुकी हूँ या आ रही हो?
मैं रोज ऐसा ही करता था.

तो प्रीति ने कहा- मैं चार या पांच दिन क्लास नहीं आ पाऊंगी. इतने दिन तुम अकेले ही क्लास अटेंड कर लो. मैंने पहले ही मैडम को बता दिया है कि कुछ दिन तुम अकेले ही क्लास आओगे.

उससे बात करने के बाद मैं मैडम के घर की तरफ बढ़ने लगा.
उनके घर के मुख्य दरवाजे के पास एक कांच की खिड़की थी जिससे उसके बेडरूम और किचन को छोड़कर बाकी सब दिखता था.

पता नहीं क्यों, उस दिन मैंने खिड़की से झांकना चाहा … और फिर जो अन्दर का नजारा देखा, उसे देखकर मैं दंग रह गया.

श्रेया मैडम एक कोने में नंगी बैठी थी और लैपटॉप में कुछ देख कर अपनी चुत में उंगली करती हुई मुठ मार रही थी.

मैं समझ गया था कि वो सेक्सी लड़की पोर्न देख रही है.

थोड़ी देर तक मुठ मारने के बाद वह तेज तेज कामुक आवाजें निकालने लगी.
मैं समझ गया था कि श्रेया मैडम झड़ने वाली है.

उसी पल मुझे कुछ सूझा और मैं तेजी से दरवाजे की तरफ भागा.
मैं जोर जोर से डोर बेल बजाने लगा.
मैंने उसे झड़ने का भी मौका नहीं दिया.

मैंने आज तक कोई चुदाई नहीं की थी लेकिन पोर्न विडियोज को देख कर मैं इतना तो समझ चुका था कि इस वक्त मैडम की चुत को अगर हल्का सा टच भी किया जाएगा, तो वो झड़ जाएगी.

उसने जैसे ही दरवाजा खोला तो मैंने देखा कि जल्दी जल्दी में श्रेया मैडम ब्रा पहनना ही भूल गई थी इसलिए उसके गुलाबी बूब्स के उभार टी-शर्ट में साफ़ दिख रहे थे.

मैंने उसे गुडआफ्टरनून कहा, वो कुछ नहीं बोली.
बस मेरी तरफ नशीली नजरों से देखती रही.

उसने नीचे एक ढीली सी जींस पहनी हुई थी.

मैं अन्दर आ गया और बैठ गया.
उसने मुझसे पानी के लिए पूछा.

मैंने जानबूझ कर हाथों से इशारा करते हुए उसकी चुत पर हाथ लगा दिया.

वो मुझे देखने लगी और मैंने चुत मसल दी.
वो वहीं झड़ गई, उसकी चुत ने सारा रस निकाल दिया और उससे उसकी पूरी जींस भीग गई.

More Sexy Stories  अपने कज़िन से चुदवाई अपनी चूत

उसने तुरंत सोफे से तकिया उठाया और अपनी जींस ढक ली.

फिर वो सोफे पर बैठकर रोने लगी.

मैं सीन देख कर एकदम से अचकचा गया कि ये क्या हुआ.

फिर मैं तुरंत उसके पास जाकर बैठ गया और कहने लगा- आप रो क्यों रही हो मैडम … यहां आपके और मेरे अलावा और कोई नहीं है. मैं ये बात किसी से नहीं कहूंगा.

मैंने मैडम को उसी समय बता दिया कि मैंने आपको मुठ मारते हुए खिड़की से देख लिया था.

फिर श्रेया मैडम बोली- प्लीज तुषार, ये बात किसी को मत बताना वरना मेरी बहुत बदनामी होगी.
मैंने श्रेया मैडम से कहा- आपने मुझे ऐसा वैसा लड़का समझ रखा है क्या … आप चिन्ता मत कीजिए, ये बात सिर्फ आपके और मेरे बीच रहेगी.

उसके बाद हम दोनों अच्छे दोस्त बन गए.

उस दिन के बाद मैं मैडम की नज़र में बहुत अच्छा लड़का बन गया था.

प्रीति हमारे इस रिलेशन से बिलकुल अंजान थी.
उसे न जाने ऐसा क्यों लगता था कि हम दोनों उसके लिए कुछ सरप्राइज प्लान कर रहे हैं.

उसने एक दो बार मुझसे पूछा भी कि तुम श्रेया मैडम के साथ क्या बात करते रहते हो.
मैं हंस कर चुप हो जाता.

एक दिन जब में ऐसे ही श्रेया मैडम के घर गया, तो वो घर पर नहीं थी.

मैं वापस घर चला गया.

रात को जब मैं पोर्न देखते हुए अपना लंड हिला रहा था तो तभी एक अनजान नंबर से मेरे फ़ोन पर फ़ोन आया.

मैंने फ़ोन उठाया और पूछा- हैलो कौन?
तो आवाज़ आयी- अरे पागल … ये मैं हूँ.

श्रेया मैडम की आवाज़ सुनकर मैं हैरान था क्योंकि मैडम के पास मेरा नंबर नहीं था.
मैंने उससे पूछा- मैडम, आपके पास मेरा नंबर कहां से आया?

तो वो बोलीं- मैंने तुम्हारा नंबर प्रीति से लिया है.
मैंने उनसे पूछा- क्या हुआ मैडम आज फ़ोन कैसे मिला दिया?

वो कहने लगीं- क्या यार मैडम मैडम लगा रखा है. अरे यार मैं भी एक लड़की हूँ. मैं तुम्हारी मैडम सिर्फ क्लास में हूँ, उसके अलावा तुम मुझे सिर्फ श्रेया बोला करो.
फिर मेरे मन में मजाक सूझा तो मैंने कहा- ठीक है क्लास के अलावा मैं आपको श्रेया दीदी कहूंगा.

इस पर श्रेया बोली- अरे यार, तुम भी बहुत बड़े वाले चूतिये हो, तुम्हें मुझ पर लाइन मारनी चाहिए … लेकिन मैं तुम्हें अपने आपसे लाइन दे रही हूँ और तुम पीछा छुटा रहे हो.
मैंने कहा- पीछा कौन छुटा रहा है. मैं तो तुम्हें अपनी गर्लफ्रेंड बनाना चाहता हूँ.

वो खुश गई.

कुछ देर यूं ही बात हुई. इसके बाद मैंने फ़ोन काट दिया.
उसके बाद श्रेया मेरी गर्लफ्रेंड बन गयी थी.

इस घटना के 2 दिन बाद फेयरवेल पार्टी थी.

पार्टी बहुत अच्छे से निपट गयी और मैं घर आ गया.

फेयरवेल पार्टी के बाद मुझे डांस क्लास की कोई जरूरत नहीं थी.

एक मिनट दोस्तो, मैंने कहानी में श्रेया के बारे में बताया, प्रीति के बारे में बताया लेकिन मैं अपने बारे में तो बताना ही भूल गया.

दोस्तो, मेरा रंग गोरा है और मैंने आयुर्वेदिक दवा खाकर अपने लंड का साइज काफी लम्बा और मोटा कर लिया है.
मुझे अपने लंबे लौड़े के साथ मुठ मारने में बड़ा आनन्द आता है.
आयुर्वेदिक दवा के अलावा में शहद में डूबे लहसुन भी खाता हूँ, इससे लौड़ा चुदाई में लंबा टिकता है और जल्दी से वीर्य नहीं छोड़ता है.

उसके बाद मैंने श्रेया को फ़ोन किया और कहा- यार, मैं कहना तो नहीं चाहता … लेकिन अब मुझे डांस क्लास की कोई जरूरत नहीं है. अब मैं वेब डिजाइनिंग सीखना चाहता हूँ.

ये सुनकर श्रेया खुश हो गयी क्योंकि श्रेया ने वेब डिजाइनिंग का कोर्स किया हुआ था.

उसने मुझसे कहा- अरे यार … मैं तुम्हें वेब डिजाइनिंग भी सिखा सकती हूँ.

ये सुनकर मैं खुश हो गया और अब मैं श्रेया से वेब डिजाइनिंग सीखने लगा.

एक दिन अचानक श्रेया का फ़ोन आया और उसने मुझसे कहा- तुम जल्दी मेरे घर आ जाओ, मैं तुम्हें एक नया सॉफ्टवेयर दिखाना चाहती हूँ. मगर जल्दी आओ.
मैंने कहा- जल्दी क्यों … क्या सॉफ्टवेयर भाग जाएगा?

वो हंस दी और बोली- यार, मुझे तुम्हें जल्दी से वो दिखाना है.
मैंने उसे छेड़ते हुए कहा- वो क्या दिखाना है?

वो झल्ला पड़ी और बोली- तंग मत करो … बस तुम जल्दी से आ जाओ.

मैंने सोचा कि चलो सॉफ्टवेयर देखने के साथ साथ श्रेया के साथ थोड़ा फ़्लर्ट भी कर लूंगा.

More Sexy Stories  असिस्टेंट मैनेजर से चुद गई पार्किंग लॉट में

लेकिन मुझे क्या पता था कि श्रेया तो मुझसे भी दो कदम आगे निकलेगी.

मैं उसके घर पंहुचा तो उसने मुझे घर के अन्दर खींच लिया और दरवाजा बंद कर दिया.

फिर उसने सभी खिड़कियों पर पर्दा लगा दिया और मुझे कंप्यूटर के पास लेकर गयी.

मुझे चेयर पर बैठाकर वो पीछे खड़ी हो गयी. उसने एक पेन ड्राइव CPU में लगाकर उसने एक वीडियो लगाई और फिर से पीछे जाकर खड़ी हो गयी.

अब वो कहने लगी कि इसे प्ले करो.

मैंने वीडियो प्ले किया.

शुरू में तो सब ठीक था, लेकिन बाद में पता चला कि वो एक पोर्न वीडियो थी, जिसमें एक लड़की का बॉयफ्रेंड लड़की को बहुत बुरी तरह चोद रहा था.

फिर मैंने हैरानी से पीछे देखा, तो जो मैंने देखा, वो कभी सोचा भी नहीं था.

श्रेया ने जींस नीचे की हुई थी और वो अपनी चुत को पैंटी के ऊपर से ही मसल रही थी.

मुझे हैरान देख कर वो बोली- क्यों कैसा लगा सॉफ्टवेयर?

मैं उसे देखता रहा, कुछ बोल ही नहीं पाया.
फिर वो मेरे आगे आकर खड़ी हो गयी.

मैं चेयर पर ही बैठा था इसलिए उसकी चूत बिलकुल मेरे मुँह पर थी.
लेकिन उसने पैंटी पहनी हुई थी.

मेरा लंड धीरे धीरे खड़ा होने लगा था.

उसने मेरे मुँह को पकड़ कर अपनी पैंटी पर सटा दिया.
उसकी पैंटी से अच्छी महक आ रही थी. उसने अपनी पैंटी में परफ्यूम लगा रखा था.

‌मैं समझ तो सब रहा था लेकिन फिर भी मैंने अपना मुँह पैंटी से हटाया और उससे पूछा- ये तुम क्या कर रही हो?
अब वो बोली- तुम समझ तो सब रहे हो … फिर भी मैं बता देती हूँ. अरे यार मैं मुठ मार मार कर थक गयी हूँ. अब मुझे असली लंड से अपनी चूत चुदवानी है. आज मैं तुमसे ही चुदना चाहती हूँ. अब बेडरूम में चलो.

मैं उसकी बात मानकर बेडरूम में चल दिया.
उधर उसने अपनी जींस पूरी तरह उतार दी और अपनी टीशर्ट भी उतार दी.

मैंने भी अपनी जींस उतार दी.
मैं अपनी टी-शर्ट उतारने ही वाला था कि उसने मुझे जोर से बेड पर धक्का दे दिया और वो मेरे ऊपर लेट गयी.

हम दोनों एक दूसरे को गर्म करने लगे.
कभी वो मेरे होंठ चाटती औऱ चूसती, तो कभी मैं उसके होंठ चूसता.

उसके होंठ बहुत नर्म और रसीले थे.

कुछ देर के बाद वो बोली- मेरी जान, बहुत हुई ये चुम्मा चाटी … अब मैं तुम्हारा लंड चूसना चाहती हूँ.

वो अभी तक ब्रा और पैंटी में ही थी तो मैंने कहा- मेरी जान श्रेया, तू अपनी चूत चुदवाना चाहती है … लेकिन तूने अभी तक अपनी ब्रा और पैंटी नहीं उतारी है.

इस पर वो बोली- अभी मैं तुम्हारा लंड चूसना चाहती हूं. जब चूत की चुदाई करने की बारी आएगी, तो पैंटी उतार दूंगी.

फिर उसने मेरा अंडरवियर उतारा और दूर फैंक दिया.
वो मेरा लम्बा लंड देख कर एक पल को तो सहम गई.
फिर मेरे लंड को हाथ से पकड़ कर ऊपर नीचे करने लगी.

मेरे लंड का धागा अभी जुड़ा हुआ था, जो चुदाई में थोड़ी बाधा डाल सकता था.

मैंने उसे बताया, तो वो मेरे लंड का सुपारा देख कर श्रेया बोली- चलो आज इसका भी इलाज कर दूंगी.

मेरा लम्बा लंड देखकर वो मुस्करा रही थी और कह रही थी- आज तो बहुत मज़ा आने वाला है. इतना लम्बा लंड तो मैंने पोर्न विडियोज में भी नहीं देखा.

वो मेरा लंड चूसने में मगन हो गई.

लगभग 15 मिनट तक वो मेरा लंड बिना रुके चूसती रही.

फिर मैंने ही उसके मुँह से अपना लंड निकाला और उससे कहा- यार मैं तुम्हारी चूत से पहले तुम्हारी गांड मारना चाहता हूं.
वो बोली- लेकिन क्यों?

तो मैंने कहा- क्योंकि यार अभी मेरे लंड धागा जुड़ा हुआ है … और मैं इसे जल्दी से तोड़ना चाहता हूं. मैंने सुना और पढ़ा है कि वर्जिन लड़की की चूत से ज्यादा टाईट उसकी गांड होती है, इसलिए अगर मैं तुम्हारी गांड मारूंगा … तो मेरे लंड का धागा जल्दी टूट जाएगा.
वो मान गई.

दोस्तो, सेक्सी लड़की की सीलपैक चुत और गांड की चुदाई की कहानी को मैं अगले भाग में लिखूँगा.
आप मुझे मेल कीजिए.
[email protected]

सेक्सी लड़की की वासना की कहानी का अगला भाग: डांस टीचर से दोस्ती और चुदाई के बाद प्यार- 2