19 साल की कुंवारी स्टूडेंट की चुदाई

पोर्न स्टूडेंट सेक्स इन कॉलेज में एक टीचर और उसकी छात्रा के सेक्स की कहानी है. लड़की कॉलेज में नई आई थी, उसे अपना टीचर अच्छा लगा तो …

मैं पेशे से एक शिक्षक हूं जो मेडिकल के छात्र छात्राओं को पढ़ाता है।
मेरी उम्र 25 वर्ष है।

यह पोर्न स्टूडेंट सेक्स इन कॉलेज मेरे शिक्षक जीवन से सम्बन्धित है.

कॉलेज में नए स्टूडेंटस का नया बैच आया था जिसका मुझे क्लास टीचर नियुक्त किया गया था।
मैं रोज़ की तरह उन बच्चों को पढ़ाता।

कुछ महीने पहले ही मेरी गर्लफ्रेंड से मेरा ब्रेकअप हो गया था और उसके बाद से मैंने सेक्स नहीं किया था।
मेरा मन करता था सेक्स करने का … लेकिन मैं अपनी इच्छा दबा लेता था।

एक रात उसी बैच की मेरी एक स्टूडेंट ने मुझे पढ़ाई से संबंधित मेसेज किया।
मैंने जवाब दिया।

लेकिन फिर उसके बाद रोज़ उसके मेसेज आने लगे और फिर एक उसने मुझसे अपने जज्बातों का इजहार कर दिया।

कुब्रा (बदला हुआ नाम) नाम था उसका और उम्र 19 वर्ष।

देखने में दुबली लेकिन पतली कमर, काली आंखें, गोरा बदन और नींबू जैसे स्तन।
मैंने भी उसको हां कर दी।

जल्द ही उसके और मेरे दबे जज्बात बाहर आ गए और हमने एक होटल में मिलने का तय किया।
हम दोनों होटल में मिले।

काफी देर तक एक दूसरे की बांहों में रहे और बातें करते रहे.
लेकिन उसकी 19 साल की नई नई जवानी उसे परेशान कर रही थी और मैं भी अपनी जवानी के आगोश में था।

फिर हम दोनों ने एक दूसरे को होठों पे किस किया।
उसके रसीले गुलाबी होठों को चूमते ही मैं समझ गया कि अभी इस 19 साल की कली को किसी ने छुआ तक नहीं है।

मेरे चूमते ही वह एकदम सिहर उठी।
मैं उसके होठों को चूसने लगा और वह मेरे!

धीरे धीरे मेरा हाथ उसकी चूचियों पे जाने लगा और मैं उसकी दोनो चूचियां कपड़े के ऊपर से ही दबाने लगा।

उसकी आहें बता रही थी कि ये सब उसका पहली बार है।

मेरी जवानी की भूख और उसकी कमसिन 19 साल की नई जवानी ने माहौल एकदम गरम कर दिया।

मैं तो भूखा शेर था ही एक लड़की की जिस्म के लिए और वह 19 साल की कच्ची कली थी जिसे एक मर्द की जरूरत थी जो उसे कच्ची कली से एक फूल बना दे।

एक पल के लिए मैंने अपने होंठ हटाए और कहा- आज मैं तुम्हें पूरी तरह से जवान बनाऊंगा। आज मैं तुम्हें जवानी का सबसे बड़ा आनंद दूंगा।

मेरे इतना कहते ही वह मुझसे लिपट गई और फिर मेरे होठों को चूसने लगी और मैं उसके!

हम दोनों काफी देर तक एक दूसरे के होंठ चूसते रहे।

वो भी मेरे सीने को सहला रही थी।

धीरे धीरे मैंने उसके कपड़े उतारना शुरू किया।
सबसे पहले उसका कुर्ता उतारा और फिर सलवार!
चंद लम्हों में वो मेरे सामने बस ब्रा और पैंटी में थी।

मैंने उसकी चूचियों को ब्रा के ऊपर से ही मसलना शुरू कर दिया था।

वो लगातार मुझसे लिपट हुए मेरे होंठ चूसे जा रहे थी।

पैंट के भीतर मेरा लन्ड तन गया था और एकदम कड़क हो उठा था; कपड़े से बाहर आने के लिए बेताब था।
मेरी वासना की आग बढ़ती ही का रही थी।

ब्रेकअप हुए मेरा 6 महीने से ज़्यादा हो गया था और इतना ही समय मुझे बिना सेक्स किए भी हो गया था।

मेरी हवस में मैंने कब मैंने उसे पूरी नंगी कर दिया, ये नहीं पता चला।
उस 19 साल की जवान का नंगा बदन देख कर मैं पागल हो गया।
मेरे अंदर काम वासना की आग जोरों से दहकने लगी।

मैंने उसे ऊपर से नीचे तक चूमना शुरू कर दिया।
फिर उसके दूध दबाये। छोटे छोटे थे मगर नरम थे।

उसकी चूचियों के निप्पल तन गए थे और मैं एक मासूम बच्चे की तरह उसके निप्पल चूसने लगा।
उसके मुंह से सिसकारी निकालने लगी।

मैं उसके होंठ चूसते हुए एक हाथ से उसके चूची दबा रहा था और दूसरे हाथ से उसकी पैंटी की ऊपर से उसकी बुर सहला रहा था।

वो मुझसे एक पल के लिए भी लिपटना नहीं छोड़ रही थी।

फिर एक उसके चूची को मैंने अपने मुंह में लिया और चूसने लगा और दूसरी को सहलाने लगा।
बारी बारी से मैंने उसकी दोनों चूचियां चूसी।

उसके निप्पल एकदम तन गए थे मानो एकदम नुकीले हाथियार जैसे!

मैं जैसे जैसे उसके निप्पल अपनी उंगली से निचोड़ रहा था, उसके मुंह से सिसकारी निकल जा रही थी।

More Sexy Stories  அக்காவும் அவசரமாய் கை அடிக்கத்தான் வந்திருக்கிறாள்

दोनों हाथों से दोनों चूचियां दबाते हुए मैं नीचे की तरफ चूमते हुए बढ़ा।

चूमते चूमते मैं उसकी पैंटी के पास आया और फिर अपने एक हाथ से उसकी बुर सहलाने लगा।
उसकी पैंटी गीली हो चुकी थी; उसकी बुर ने पानी छोड़ दिया था।

मैंने भी उसको और तड़पाया और पैंटी के ऊपर से ही उसकी बुर को सहलाते हुए उसकी जांघों पर किस करने लगा।

वो वासना में एकदम मगन हो चुकी थी और मैं एकदम ज्वालामुखी की तरह गरम!
धीरे धीरे मैंने उसकी पैंटी सरका दी और फिर उसे पूरी नंगी कर दिया।

मैं पागल हो उठा उसको पूरी नंगी देख के!
19 साल की कुंवारी जवान लड़की एकदम टाईट बुर वाली!

मैं समझ गया था कि आज मेरी प्यास बहुत अच्छे से शांत होगी।
उसकी बुर पर एक भी झांट का बाल नहीं था। एकदम चिकनी और टाईट जो गीली थी।

मैंने उसकी बुर को सहलाया।

फिर मैं बिस्तर पर पीठ के बल लेट गया और उसने एक भूखी जवान लड़की की तरह तुरंत ही मेरे शर्ट के बटन खोल दिए और मेरी शर्ट उतार दी।

वो मेरे सीने को चूमने लगी और साथ ही साथ अपना एक हाथ पैंट के ऊपर से ही मेरे लंड पर सहला रही थी।

मैं अपने हाथों से उसकी पीठ सहलाते हुए उसके चूतड़ सहलाने लगा और फिर पीछे से ही उसकी योनि को भी सहला रहा था।
वो और ज़्यादा मुझे प्यार करने लगी।

फिर वो नीचे की तरफ आईं और मेरी बेल्ट खोलने लगी।

इस वक़्त मैं उसका चेहरा देख रहा था और उसके चेहरे से साफ पता चल था कि वो सेक्स के लिए कितनी आतुर हैं।

जल्द ही उसने मुझे भी पूरा नंगा कर दिया।
मेरे 7 इंच के खड़े लंड को को वो कुछ देर तक देखती रही और फिर अपने हाथ से सहलाने लगी।

उसके कोमल कोमल हाथों का स्पर्श जैसे ही मेरे खड़े लंड पर हुआ, मैं एकदम मदमस्त हो गया।

मैंने उससे कहा कि मेरा लंड अपने मुंह में ले लो।
उसने मेरी बात मानी और तुरंत ही मेरा लन्ड अपने मुंह में ले लिया।

मेरा बड़ा लंड पूरा तरफ से उसके मुंह में नहीं आ पा रहा लेकिन धीरे धीरे वो मेरा लन्ड चूसने लगी।

थोड़ी देर में मैं पागल हो उठा और मैंने उसके बाल पकड़ के अपने अनुसार उसके मुंह में अपना लंड देने लगा और एकदम उसके हलक तक मैंने अपना लन्ड घुसा दिया।

यह पहली बार था उसके लिए जब वो किसी का लंड चूस रही थी।

फिर उसने मेरी गोटियां सहलाई और उन्हें चाटा।
उसने एकाएक मेरी दोनों गोटियों को अपने मुंह में भर लिया।

फिर हम दोनों 69 पोजिशन में आ गए।
वो मेरे ऊपर और मैं उसके नीचे!

वह मेरा लंड चूस रही थी और मैं उसकी योनि!

हम दोनों की जवानी की आग दहक रही थी।

मैंने उसको उसके पीठ के बल लिटाया। मैंने उससे बोला- आज मैं तुम्हें पूरी तरह से जवान बनाऊंगा। आज मैं तुम्हारी बुर को चूत बनाऊंगा।

फिर मैंने उसकी दोनों टांगें खोली।
उसकी बुर एकदम टाइट थी।
मैं समझ गया था कि बहुत समझदारी से काम लेना है।

मैंने अपने खड़े लंड को पहले उसकी बुर पे टिका दिया और फिर ऊपर से 2-4 बार टप टप किया।

मैं उसे और तड़पा रहा था तो वो बोली- सर प्लीज, अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है। प्लीज करिए ना!
मैंने अपने लंड उसके अंदर डालना शुरु किया।

मेरे लन्ड का सिर्फ टोपा ही अंदर गया था कि वो एकदम सिहर उठी और उसके मुंह से आह निकल गई और कहने लगी- दर्द हो रहा है … बाहर निकाल लीजिए सर!

मैंने लंड बाहर निकाल लिया।

फिर मैंने उसे चूमना शुरू किया और उसके स्तन सहलाए।
जब वो इनमें मदहोश हो गई तब मैंने बिना उसे बताए एक ही झटके में अपना 7 का लंड पूरा का पूरा उसके अंदर घुसा दिया.

वो एकदम चीख पड़ी और मुझे पीछे करने लगी।

मैं उससे लिपट गया और हाथ उसका मुंह बंद कर दिया।
वो दबे मुंह से जोर जोर से सिसकारी भर रही थी।

मैं अपना लंड उसके अंदर डाल के कुछ देर के लिए रुक गया।
जब उसकी सिसकारी कम हुई तो मैं उससे बोला- मैंने कहा था ना कि तुम्हारी बुर को आज चूत बनाऊंगा, लो मैंने बना दी।

मैंने जब अपना लन्ड उसकी चूत से बाहर निकाला तो वो एकदम लाल हो चुका था और उसकी चूत का खून मेरे लंड पे लगा था।

तब मैंने उससे कहा- मुबारक हो, अब तुम वर्जिन नहीं रही।

More Sexy Stories  वाइफ की चुदाई इनकम टैक्स ऑफिसर से

जैसे ही मैं दोबारा डालने लगा तो वो बोली- सर, बहुत दर्द हो रहा है।
मैं बोला- ये तुम्हारा पहली बार है इसलिए इतना दर्द हो रहा है। अभी कुछ देर बाद नहीं होगा।

फिर मैंने दोबारा पहले धीरे धीरे लंड डाला और बाद में अचानक से एक झटके में पूरा का पूरा 7 इंच का खड़ा लंड उसकी चूत में उतार दिया।

क्यूंकि उसकी चूत काफी टाईट थी और मेरा लन्ड बड़ा, इसलिए मैं धीरे धीरे अपने लंड की जगह उसकी चूत में बना रहा था।
उसकी फिर चीख निकल गई।

मैंने उसके मुंह से अपने हाथ से दबाया और चोदने लगा।

मैं तेज़ी से अपना लन्ड उसकी चूत के अंदर बाहर करने लगा।

थोड़ी देर में उसकी चीखें भी बंद हो गई और उसे भी मज़ा आने लगा।
मैं उसे चोदता रहा।

मेरे लन्ड को जब उसकी चूत के पानी का स्वाद मिला तो मैं और उत्तेजित हो गया।

फिर मैंने उसको पलट दिया और उसकी पीठ चूमने लगा।
पीठ चूमने चूमते मैं नीचे पहुंचा और चूतड़ चूमने लगा।

उस जवान 19 साल की लड़की के गोल गोल गोरे गोरे चूतड़ देख मेरे अंदर का जानवर और भड़क गया.
मैंने लगातार 4-6 बार उसके चूतड़ पर चट चट मारा और पीछे से उसकी चूत में उंगली करी।

उसने अपनी कमर उठाई और मैं पीछे से उसकी चूत चाटने लगा।

मैंने उसको सीधा लिया और उसकी चूत चूसने लगा।

फिर मैं उसे बेड की किनारे पर लाया और मैं फर्श पर खड़ा हो गया और सुविधानुसार उसकी टांगें उठाकर उसे चोदने लगा।
मैं एक भूखे जानवर की तरह उसे चोदे जा रहा था बिना ये सोचे समझे कि ये उसका फर्स्ट टाइम है.

लेकिन मैं समझ गया था कि उसे बहुत मज़ा आ रहा है।

बेड के किनारे खड़े होके मैं उसे चोद रहा था और उसके दूध एकदम ऐसे हिल रहे थे मानो भूकंप आ गया हो।

मैं कुछ पलों के लिए रुका और वो ज़मीन पर अपने घुटनों पर आ गई और मेरा खड़ा लंड चूसने लगी।

इस बार उसने काफी देर तक मेरा लंड चूसा मानो जैसे कब से बेताब हो।
मैंने भी उसको तबियत से अपना लन्ड चूसा दिया।

मेरे अंदर का ज्वालामुखी बुलंद हो रहा था।
मैंने उसको उठा कर कमरे की टेबल पर बैठा दिया और खुद जमीन पर खड़ा होकर उसके चोदने लगा।
उसने मेरे कंधों का सहारा लेकर खुद को संभाला।

फिर मैंने उसके उठा कर बिस्तर में पटक दिया और बिना रुके चोदता रहा।
वो भी अपनी कमर उठा उठा कर मेरा पूरा सहयोग करने लगी और मेरा लन्ड अपने अंदर लेने लगी।

मेरी रफ़्तार बढ़ रहीं थीं और मैं जोरों से अपने लंड को उसकी चूत के अंदर बाहर कर रहा था।

मेरा लन्ड भी मानो प्यासे की तरह एकदम हाहाकरी चुदाई कर रहा था उस 19 साल की जवान कली की जिसे मैं फूल बना रहा था।
मेरे झटके बढ़ते जा रहे थी।

हम दोनों की सांसें भी गहरी होने लगी और हम दोनों सिसकारियां जोरों से सिसकारियां भरने लगे थे।

मैं समझ गया था कि मैं झड़ने वाला हूं।

मैंने बिजली जितनी रफ्तार से उसे चोदना शुरू कर दिया।
मैं पूरा पसीने से लथपथ था।

उसने भी मेरी पीठ को कस के पकड़ लिया था। मेरी सांसें और मेरी चोदने की रफ़्तार दोनों ही बढ़ गए थे।

कुछ ही लम्हों में मेरा माल निकल गया और सारा का सारा माल मैंने पूरा उसकी चूत में निकाल दिया।

मेरे लन्ड से निकाल गरम गरम गाढ़ा गाढ़ा माल अपनी चूत के अंदर लेकर वो एकदम मदस्मत हो उठी और मेरे पीठ और चूतड़ सहलाने लगी।

माल निकलने के बाद भी मैं तब तक उसकी चूत में अपना लन्ड पेलता रहा जब तक को खड़ा रहा।

थोड़ी देर बाद हम दोनों ही काम सुख की नींद में सो गए।

यह उस लड़की की पहली चुदाई थी और मैं भी लगभग 6 महीने बाद सेक्स कर रहा था तो एक बार कहां हम दोनों का मन भरता?
थोड़ी देर आराम करने बाद वो फिर मेरे लन्ड को सहलाने लगी और चंद लम्हों में लंड फिर पूरी ताकत के साथ खड़ा हो गया।

मैं फिर उसे चोदने लगा।
इस बार की चुदाई और ज़्यादा लंबी चली।

उसके बाद से हम दोनों अभी भी रिलेशनशिप में है और आए दिन सेक्स करते रहते हैं।

प्रिय पाठको, आपको पोर्न स्टूडेंट सेक्स इन कॉलेज में मजा आया? मुझे कमेंट्स बताएं.
लेखक के आग्रह पर इमेल आईडी नहीं दिया जा रहा है.