गॅंड चुदाई मॉं की सेक्स कहानी

दोस्तो मेरा नाम विजय है और मेरी उमर 20 साल है. मैं एक गाओं मे अपनी मा के साथ रहता हूँ. मैने पिछले ही साल +12 पास की है और फिर मैं अपने पापा के पास शहर जाना चाहता था उनके साथ वाहा पर काम करना चाहता था.

Free Mom Son Sex Story Maa Ki Gand Chudai पर पापा ने मुझे शहर आने से सॉफ सॉफ मना कर दिया और मुझे कहा की तू अपनी मा के साथ रहकर अपनी ज़मीन मे खेती कर और अपनी मा को घर को संभाल. पर मेरी मा मुझे शहर भेजना चाहती थी पर पापा के सामने उनकी एक ना चली. और मैं अब घर पर ही मा के साथ रहने लग गया.

मेरे घर मे 2 कमरे है और एक बहोत बड़ा सा आँगन है. एक कमरा हमने गेस्ट्स के लिए रखा हुआ है और दूसरे कमरे मे मैं और मेरी मा एक साथ सोते है. मेरी मा की उमर करीब 38 साल की होगी वो बहोत ही कमाल के फिगर वाली औरत है.

मुझे उनकी मटकती गॅंड और उनके हिलते मोटे मोटे बूब्स सब से आछे लगते है. मेरी मा घर मे ज़्यादातर सारी और लहनगा पहनती है. पर रात को अपना ल़हेंगा उतारकर एक खुला सा ब्लाउस और ढीली सी सारी डाल लेती थी. इससे मुझे रोज रात को उनके बूब्स के दर्शन हो जाते थे जब वो मेरे सामने झुकती थी. और जब वो मेरे साथ रात को सोती थी तब कभी कभी उनकी सारी उपर हो जाती थी तो मुझे उनके चुत्तरो के चूत के भी दर्शन हो जाते थे.

कुछ दीनो बाद मैने महसूस किया की मा कुछ परेशन ही रहने लग गई है जब मैने उन्हे इसका कारण पूछा तो उन्होने मुझे कुछ नही बताया. फिर कुछ दिन ऐसे ही बीत गये और फिर मुझे पता चला की मेरे तयजि हमारे घर सिर्फ़ एक रात रहने के लिए आ रहे है. मैने देखा इस बात का पता चलते ही मा बहोत खुश हो गई और आछे से तैय्यार होने लग गई जैसे ताइजी नही उनके हज़्बेंड आ रहे हो.

आख़िर ताइजी घर आ गये और मेरी मा ने रात तक उनकी खूब सेवा करी उनके लिए नये नये पकवान बनाए गये. ये देख कर मैं बहोत हैरान हो रहा था मैने सोचा शायद ताइजी आज बहोत दीनो बाद हमारे घर आ रहे है इस लिए मा इतना कुछ कर रही है.

रात को मेरी मा ने मुझे कहा की तू दूसरे कमरे मे ताइजी का बिस्तर लगा दे वो वाहा सो जाएगे और हम दोनो रोज की तरह यही पर सो जाएँगे. मैने मा के कहने पर उनका बिस्तर दूसरे कमरे मे लगा दिया. रात को मैं और मेरी मा एक कमरे मे सो रहे थे और दूसरे कमरे मे ताइजी.

कुछ ही देर मे मुझे नींद आ गई पर फिर मुझे कमरे मे कुछ खड़खड़ाने की आवाज़ आई और मेरी नींद खुल गई. मैने देखा की मेरी मा बिस्तर से उठ कर दरवाजा खोल रही है. मुझे समझ नही आ रहा था की इतनी रात को मा कहा जा रही है इसलिए मैं भी उनके पीछे पीछे कमरे से बाहर आ गया तो मैने देखा की वो ताइजी के कमरे मे घुस गई है.

मैं ये सब देख कर हैरान हो गया मैं जल्दी से टाइजी वाले कमरे की विंडो के पास गया और अंदर देखने लग गया. मा को अंदर आते देख ताइजी एक दम बोले – साली रांड़ कहा रह गई थी तू कबसे मेरा लंड तुझे चोदने को तड़प रहा है.

More Sexy Stories  पापा ने मम्मी की जमकर चुदाई की

मा – अरे क्यो इतना गुस्सा करते हो विजय सोता तो ही तो मैं आती आप के पास. अब शांत हो जाओ क्योकि अब मैं आ गई हूँ. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

ताइजी अपना लंड सहलाते हुए बोले – देख साली मेरा लंड कैसे तड़प रहा है ये.

मा अपनी सारी उपर कर के अपनी चूत उनको दिखाती हुई बोली – ये देखिए ज़रा मेरी चूत आपके मोटे लंड के बारे मे सोच सोच कर कैसे पानी छोड़ रही है इसे भी आछे से एक बार देख लो.

मैने आज पहली बार मा की चूत इस रूप मे देखी उनकी चूत पर एक भी बाल नही था चूत एक दम चिकनी थी. ताइजी ने अपना एक हाथ मा की चूत पर रखा और उसे सहलाने लग गये. और मा ने अपना हाथ ताइजी की लूँगी पर रखा और उनकी लूँगी खोल कर उनका लंड बाहर निकाल दिया और उनका लंड देख कर वो एक दम बोली – आईएए भगवान इतना बड़ा ये कैसे हो गया जब मैं 4 साल पहले आप से चुदि तो तब ये तो इतना बड़ा नही था.

ताइजी अपना लंड अपने हाथ से पकड़ कर हिलाते हुए बोले – साली कुत्तिया तुझ जैसी रंडी को चोदने के लिए अपना लंड को और बड़ा किया है मैने अब ज़्यादा देर ना कर 4 साल हो गये है तुझे चोदे हुए.

मुझे अब सब कुछ समझ आ गया था की मेरी मा मुझे शहर क्यो भेजना चाहती थी क्योको वो मेरे पीछे बड़े आराम से ताइजी से चुद सके. अब मा ने जल्दी से अपने सारे कपड़े उतार कर फेंक दिया और ताइजी अब पूरे नंगे हो चुके थे. अब ताइजी और मेरी मा एक दूसरे के उपर 69 की पोज़िशन मे आ गये. मा ताइजि का लंड अपने मूह मे डाल डाल कर चूस रही थी और ताइजी अपनी जीब से मा की चूत को चाटने मे लगे हुए थे. करीब 10 मिनिट एक दूसरे को चूसने के बाद मा उनके उपर से उठ गई.
और मेरी तरफ अपनी गंद कर के ताइजी के लंड को अपनी जीब से चाटने लग गई. मा जब उनका लंड चाट रही थी तब वो अपनी टाँगे खोल कर अपनी गॅंड उपर उठा रही थी. आज पहली बार मा की चूत और गॅंड एक साथ देख रहा था. उधर ताइजी ने मा की चूत मे अपने पैर का एक अंगूठा उनकी चूत मे डाला हुआ था और वो अपने अंगूठे से ही मा की चूत को मसल रहे थे. कुछ ही देर मे मा का जिसम एक दम अकड़ गया और उनकी चूत का पानी निकल के नीचे गिरने लग गया.

ये सब देख कर तो मेरा लंड भी अब पूरा खड़ा हो चुका था. अब फिर से मा ने ताइजी का लंड चूसना और चाटना शुरू कर दिया था और अब टाइजी अपने एक हाथ से मा के बूब्स को मसल रहे थे. इतने मे ही मा फिर से पूरी गरम हो गई और अब मा उठ गई और अपनी चूत को अपने हाथ की उंगलियो से खोल कर टाइजी के लंड पर रख दी.

टाइजी मस्ती मे बोले – चल साली रंडी अब मेरे 8 इंच के लंड की सवारी कर.

फिर क्या था मा ने धीरे धीरे टाइजी का पूरा लंड अपनी चूत के अंदर ले लिया और उपर नीचे होने लग गई. ये नज़ारा देख कर तो मेरे लंड ने अपना पानी मेरे अंडरवेर मे ही छोड़ दिया. टाइजी मेरी मा की चूत को ज़ोर ज़ोर से धक्के मार कर चोद रहे थे. मा की आहह आहुफफफ्फ़ उउउफ़फ्फ़ की आवाज़ें मुझे बाहर तक सुनाई दे रही थी. फिर टाइजी ने मा को पकड़ा बेड पर सीधा लेटा दिया और खुद उनके उपर चढ़ गये. इस दौरान उनका लंड मा की चूत के अंदर ही था. और फिर उन्होने करीब 30 मिनिट मा को बहोत बुरी तरह चोदा और फिर अपने लंड का सारा पानी मा की चूत मे ही निकाल दिया. ये सब देखकर मेरा लंड एक बार और अपना पानी निकाल दिया. फिर मैं अपने कमरे मे जा कर सो गया.

More Sexy Stories  गुजराती भाभी की चुदाई

उसके बाद शायद फिर से टाइजी ने मा के साथ एक और राउंड खेला और फिर वो मेरी मा के साथ ही सो गया और टाइजी वापिस चले गये और मा मुझसे बोली – बेटा आज ऐसा करना की तू रात को मेरे साथ ही सो जाना.

मैं उनकी ये बात सुनकर बहोत खुश हो गया क्योकि आज फिर मा को नंगा देखने का मौका मिलेगा. मैं रात को अंडरवेर मे ही मा से पहले बेड पर आ गया.

अब मैं मा से पहले बेड पर तो आ गया और जब मा आई तो उन्हे लगा की मैं सो गया हूँ इसलिए वो सिर्फ़ ब्लाउस और सारी मे आ कर लेट गई और जैसे ही वो लेटी तो उन्हे मेरा लंड खड़ा हुआ दिखा जिसको देख कर उनकी आँखो मे चमक आ गई और उन्होने उसको हाथो मे ले लिया. उनके हाथो मे लंड आते ही मैं पागल हो गया और थोड़ा उपर नीचे होने लग गया जिससे उनको पता चल गया की मैं जाग रहा हूँ और फिर मैने आँखे खोल दी तो वो बोली – बेटा तू तो जवान हो गया है और मुझे इसकी खबर तक नही.

ये बात सुनते ही मैने मा को बाहो मे भर लिया और कहा- मा इसको लेने के लिए तैयार हो जाओ.

फिर मैने मा का ब्लाउस उतार कर उसके बूब्स को मूह मे भर लिया और अपनी मा के दूध पी लिया और फिर मा ने मुझे हटा कर मेरे लंड को चूसने के लिए मुझे लेटा दिया और मेरे लंड को मूह मे डाल कर चूसने लग गई और मेरा लंड तो मूह मे जा कर पागल हो गया और फिर मा मेरे उपर आकर लंड को अंदर लेने लग गई और जैसेही लंड अंदर गया तो मैने उनकी चूत का स्वाद पहली बार चखा और फिर क्या था मैं ज़ोर ज़ोर से उनकी चूत को चोदने लग गया और बड़े मज़े से मा के दूध को पीने लग गया.

मुझे अपना फीडबॅक देने के लिए कृपया कहानी को ‘लाइक’ ज़रूर करे, ताकि कहानियों का ये दौर देसीकाहानी पर आपके लिए यूँ ही चलता रहे.

मा फिर करीब 5 मिनिट मे झड़ गई और मैने अब उसे अपने नीचे करलिया और उसकी चूत मे लंड डाल कर ज़ोर ज़ोर से चूत को पेल दिया और उसके होंठो को चूस कर अपना लंड का पानी उनकी चूत मे ही निकाल दिया पर मेरा मन उनकी गॅंड लेने को भी कर रहा था..

इसलिए मैने उनके साथ बैठकर ब्लू फिल्म देखी जिससे वो भी गॅंड मरवाने के लिए राज़ी हो गई और मैने उन्हे कुतिया की तरह लेट कर उसके उपर कुत्ते की तरह चढ़ कर 8 इंच लंबे लंड से उनकी गॅंड मार दी और पूरा एक घंटा मार कर अपना पानी निकाल दिया और उस रात करीब 6 बार गॅंड मारी जिससे मा 3 दिन वॉशरूम नही जा पाई पर गंद मार कर मज़ा ही आ गया,