मेरी गर्लफ्रेंड की पहली चुदाई

दोस्तो.. मैं सैफ आपकी खिदमत में फिर से एक नई कहानी के साथ हाजिर हूँ. सबसे पहले मैं अपने चाहने वालों को तहेदिल से शुक्रिया करता हूँ कि उन्होंने मेरी पिछली कहानी
प्लेबॉय बनने के लिए चुत चुदाई का टेस्ट
को बहुत पसंद किया.

अब मैं आपको अपने बारे में बताता हूँ. मेरे चाहने वाले तो मेरे बारे में जानते ही हैं कि मैं कितना मस्त हूँ. नए पाठिकाओं और पाठकों के लिए बताना चाहता हूँ कि मैं एक खूबसूरत जिस्म का मालिक हूँ, जिसकी वजह से लड़कियां मेरी तरफ काफी आकर्षित होती हैं. ऊपर वाले के करम से मेरा लंड भी काफी लम्बा और तगड़ा है. मेरा लंड 7 इंच लम्बा और 3.5 मोटा है.

यह बात उन दिनों की है, जब मैं मुंबई पढ़ने गया था. मैं और मेरा दोस्त इलाहाबाद से मुंबई के लिए घर से निकले और एक लम्बे सफर के बाद हम मुंबई पहुँच गए. वहां पर हमारा दोस्त राहुल हम दोनों का इंतजार कर रहा था. उसी ने हमें पिक किया और अपने घर ले गया. वो घर पर अकेला रहता था. हम दोनों नहा कर फ्रेश हुए और बाजार में घूमने के लिए निकल पड़े. मुंबई के बाजार में तो भाई बहुत भीड़ थी. हम सभी घूम कर चले आए और रात में सो गए.

अगले दिन मैं सुबह गार्डन में घूमने गया और वहां पे मैंने देखा कि कई हॉट और खूबसूरत लड़कियां जॉगिंग करने आई हुई थीं. उनको देख कर मेरा जवान दिल मचल उठा और उनको निहारने के चक्कर में मैं डेली सुबह शाम गार्डन में घूमने जाने लगा.

फिर ऐसे कई दिन बीत गए.

एक दिन शाम को मैं गार्डन में बैठा था तो एक छोटा सा करीब 5 साल का लड़का मेरे पास आया और मेरे बगल में बैठ गया. मैं मोबइल में गेम खेल रहा था.
वो लड़का मुझसे बोला- भैया मैं भी खेलूंगा.

तो मैंने उसकी तरफ देखा, वो बहुत क्यूट था.. मैंने उसे मोबाइल दे दिया और वो खेलने लगा. तभी कुछ देर बाद उसकी छोटी बहन भी आ गई, वो भी बैठ गई. वो भी बहुत क्यूट थी, मैंने उसे और उसके भाई दोनों को कैंडी दिलाई. वो दोनों मस्त होकर मेरे पास बैठ कर कैंडी खाने लगे.

More Sexy Stories  हॉट मॅरीड बिंगाली स्टोरी रीडर की चुदाई

तभी एक लड़की जो कि उनकी बुआ थी, उन्हें ढूँढते हुए हमारे पास आई और उन्हें कहने लगी कि बिना बताए कहां चले गए थे. वो उन्हें डांट रही थी.
तो लड़के ने बोला- देखो अंकल, बुआ हमें डांट रही है.
मैंने उस लड़की से कहा- छोड़ो, जाने दो, ये अभी बच्चे हैं.

वो चुप हो गई और मुझे देखने लगी. मेरी तो उस पर से नजर ही नहीं हट रही थी.

क्या कमाल की काँटा माल लड़की थी यार.. उसका फिगर एक नम्बर का था. मेरी तो हालत ख़राब हो गई थी. क्या रेशमी बाल थे उसके.. गोरे गोरे गाल उसकी पतली कमर.. तने हुए बूब्स.. उसके जानलेवा चूतड़.. आह.. यार एक नम्बर का माल था भाई. उसका फिगर साइज 32-26-34 का था. वो एकदम मस्त पटाखा माल थी.

फिर उसने मेरा नाम पूछा, मैंने बताया- जी मैं सैफ.. और आपका क्या नाम है?
उसने बताया कि उसका नाम परवीन है.

वो मुझे कैंडी के पैसे देने लगी. मैंने नहीं लिए. वो बच्चों को ले जाने लगी.

उस बच्चे ने मुझे मेरा मोबाईल दिया और कहने लगा कि कल मैं फिर खेलूँगा.. आप जरूर आना अंकल.
मैंने कहा- ठीक है.
वो सब जाने लगे. मैं पीछे से उसकी मटकती गांड देख रहा था. क्या मस्त थी यार.. कलेजा बाहर निकला जा रहा था.

कुछ देर बाद मैं भी घर आ गया और बाथरूम में जाकर उसके नाम की मुठ मारी और सो गया.

अब ये रोज का नियम हो गया था. हम दोनों गार्डन में रोज मिलने लगे. धीरे धीरे हमारी दोस्ती हो गई.

फिर एक दिन उसने मुझे अपने घर बुलाया, मैं उसके घर गया. घर में उसकी अम्मी और उसकी भाभी और भाभी के ही वे दोनों बच्चे थे. उसका भाई मलेशिया में रहता था. इस वक्त उसकी अम्मी बाजार गई हुई थीं. मैं वहीं सोफे पे बैठ गया था.

More Sexy Stories  हॉर्नी चाची की चुदाई की

उसने मेरा परिचय अपनी भाभी से कराया तो भाभी ने कहा- अच्छा ये वही हैं, जिनके बारे में बच्चे बात करते हैं.
परवीन ने कहा- हां ये वही है.
भाभी ने मुझसे पूछा- क्या करते हो आप?
मैंने बताया कि पढ़ाई करता हूँ.
भाभी- अच्छा.. क्या कर रहे हो?
मैंने- जी, बीएससी.
तो उन्होंने कहा- ठीक है.

परवीन कॉफ़ी बनाने चली गई तो उन्होंने मुझसे मुस्कुरा कर पूछा- कोई गर्लफ्रेंड है?
मैंने कहा- नहीं.
उन्होंने कहा- क्यों?
मैंने कहा- मैं इतना हैंडसम नहीं हूँ.
भाभी- क्यों झूठ बोल रहे हो.
मैंने कहा- नहीं… सच में कोई नहीं है!

उन्होंने कहा- परवीन कैसे लगती है?
मैंने मुस्कुरा कर कहा- अच्छी लगती है.
उन्होंने कहा- तो उसे ही अपनी गर्लफ्रेंड बना लो न..!
मैंने- पता नहीं वो मानेगी कि नहीं?
भाभी ने कहा- मानेगी.. वो तुमसे बहुत प्यार करती है, पर कहने से डरती है.
मैंने खुश होते हुए कहा- सच!
उन्होंने कहा- हां.

मैंने कहा- भाभी किचन में ही जाकर प्रपोज कर दूँ क्या?
भाभी ने कहा- और क्या.. जाओ आल द बेस्ट.
मैंने कहा- थैंक यू भाभी.

फिर मैं किचन में गया और सीधा जाकर मैंने उसकी कमर को पीछे से पकड़ कर उसके कानों में बोला- आई लव यू.
वो भी प्यार से बोली- आई लव यू टू.
फिर मैंने उसके गालों पर किस किया, वो शरमा गई.

मैंने कहा कि यार जब तुम मुझसे प्यार करती थी तो अब तक बोला क्यों नहीं?
परवीन- बस मैं डर रही थी.

Pages: 1 2 3