मेरा लंड लेने को आतुर मेरी कमसिन स्टूडेंट

Xxx स्टूडेंट की चुदाई की मैंने! वो एक और लड़की जिसे मैंने खूब चोदा, उसकी सहेली थी. एक दिन इस स्टूडेंट ने खुद से पहल करके मुझे प्रोपोज किया. और मैंने मौक़ा देखकर चोद दिया उसे!

मैं हूं आपका अपना साथी सन्दीप सिंह!
मेरी उम्र 26 साल है। मैं दिल्ली में जॉब करता हूं। वैसे मैं उत्तर प्रदेश के शहर कानपुर का रहने वाला हूं।
दिल्ली में मैं अपने एक दोस्त के साथ रहता हूं।

अपनी शारीरिक बनावट की बात करूं तो मेरी हाईट 5’7″ है।
मेरा शरीर बिल्कुल फिट है।
उसकी वजह ये है कि मैं प्रतिदिन एक्सरसाइज़ करता हूं।
मेरे लण्ड का साइज़ करीब 7 इन्च लम्बा और करीब 2.5 इन्च मोटा है।

मुझे यह जानकर बहुत अच्छा लगता है कि आप सबको मेरी कहानियां बहुत पसंद आ रही हैं।
मुझे उम्मीद है कि आप सब इसी तरह से मुझे अपना प्यार और मेरा साथ देते रहेंगे और मेरी कहानियों को पसंद करते रहेंगे।

आपके ईमेल और कमेंट्स का मैं इंतजार करता हूं क्योंकि उसी से मुझे कहानी लिखने की प्रेरणा मिलती है।
कई बार हो सकता है कि कोई मेल मुझसे छूट जाता हो जिसका जवाब मैं न दे पाता हूं तो उसके लिए क्षमा चाहता हूं।

जिन पाठकों और पठिकाओं ने मेरी पिछली कहानियाँ नहीं पढ़ी हैं वो कृपया पुरानी कहानियों पर भी एक नज़र ज़रूर डालें जिनके शीर्षक कुछ इस प्रकार हैं
तलाकशुदा लड़की को दी चुदाई की खुशी
बड़े बूब्स वाली स्टूडेंट मनमीता की चुदाई
फुफेरी बहन की चुदाई

मैं अन्तर्वासना हिन्दी सेक्स साइट पर साल 2012 से नियमित पाठक हूँ। मैं अपनी एक और नयी हॉट लड़की की चुदाई कहानी के साथ हाजिर हूँ।

इस Xxx स्टूडेंट की चुदाई कहानी को पढ़कर आप मुट्ठ मारने के लिए मजबूर हो जाओगे और सेक्सी चूतों में लन्ड लेने की प्यास बढ़ जायेगी।

जैसा कि आप सबने मेरी पहली कहानी में पढ़ा था कि मैंने अपनी स्टूडेंट मनमीता की चुदाई की थी।
यह चुदाई मनमीता की सहेली प्रिया की वजह से हो सकी थी।

मैंने और मनमीता ने पूरे साल खूब चुदाई की।

मनमीता के एक्जाम हो गये और उसे कालेज छोड़ना पड़ा और हमारी मुलाकात बन्द हो गयी।
लेकिन हमारी फोन में बात होती रहती थी।

प्रिया अब अगली क्लास में आ गयी थी। प्रिया तो पहले से मुझे पसंद करती थी, यह बात तो मैं जानता था।
प्रिया से फोन पर मेरी बात कभी कभी हो जाया करती थी लेकिन हमारे बीच कुछ नहीं था।

एक दिन मेरा मन चुदाई को बहुत ज्यादा कर रहा था।
मैंने मनमीता को मिलने के लिए बुलाया लेकिन वो नहीं आयी।

एक रात को प्रिया और मैं फोन पर बाते कर रहे थे.
तब प्रिया ने मुझसे कहा- मैं आपको बहुत पसन्द करती हूँ। आप तो जानते हैं। मैं आपको बहुत पहले से पसंद करती हूँ। आप मनमीता को पसंद करते थे इसलिए मैंने आपको आज तक नहीं बताया।
अब मनमीता आपको मिलने से रही। यदि आपको मैं थोड़ी सी भी पसंद हूँ, आपके दिल में थोड़ी सी जगह खाली है तो मैं उसमें आना चाहती हूँ।

More Sexy Stories  मैं अपने दफ्तर में रंडी बन गयी

मैं आप लोगों को प्रिया के बारे मे कुछ बता देता हूँ।
हाइट करीब 5’2″ इन्च बूब्स का साइज 28 डी और करीब 28 की कमर; बदन उसका भरा हुआ था।
प्रिया के चेहरे पर मुहासे के दाग थे थोड़े से।

उस दिन मैंने फोन काट दिया।
करीब एक हफ्ते तक हमारी बात नहीं हुई।

एक दिन मेरा चुदाई का बहुत मन कर रहा था।
तो मैंने प्रिया को फोन किया और हमारी बहुत सी बातें हुई।

मैंने उसे मिलने के लिए बुलाया तो वो मिलने के लिए मान गयी।

दूसरे दिन वो मेरे केबिन में आयी तो मैंने उसे अपने कमरे से कुछ सामान लाने के लिए बोला।

जैसे ही वह मेरे कमरे में पहुंची तो मैं भी उसके पीछे से आके कमरे का दरवाजा बंद कर दिया और प्रिया को पीछे से पकड़ लिया।

मैं उसके गले पर किस करने लगा और प्रिया के बूब्स को धीरे-धीरे सहलाने लगा।

मैंने उसे सीधा किया और उसके नर्म और गुलाबी लबों पर अपने होन्ठ लगा के चूसने लगा।
एक हाथ से मैं उस Xxx स्टूडेंट की पैन्टी के ऊपर से उसकी चूत को सहलाने लगा।

तो मुझे उसकी चूत में गीलापन महसूस हुआ।

थोड़ी देर बाद मुझे होश आया तो मैंने प्रिया को बोला- तुम अभी जाओ, हम रविवार को मिलेंगे।
प्रिया ने अपने कपड़े सही किये और बाहर चली गयी।

दो दिन बाद रविवार था लेकिन समय कट नहीं रहा था।
किसी तरह रविवार आया।

मैंने उस दिन सबकी कोचिंग क्लास के लिए मना किया था, केवल प्रिया को बुलाया था।

उस दिन प्रिया ने स्कर्ट और टाप पहना हुआ था।
ऐसा लग रहा था कि मेरी स्टूडेंट आज खुद मुझसे चुदना चाहती हो।

प्रिया आयी और सीधे मेरे कमरे में चली गयी।

थोड़ी देर बाद मै कमरे में गया।
वो मेरे बेड पर बैठी थी।

मैंने इधर उधर चेक किया कि कोई हमें देख तो नहीं रहा।

पूरी तसल्ली के बाद मैंने दरवाजा बंद कर दिया।
मैंने प्रिया को गले लगा लिया और मैं प्रिया के होंठों को पीने लगा।

मैं धीरे धीरे टॉप के ऊपर से उसके बूब्स को सहलाने लगा।
धीरे से मैंने टाप को उतार दिया और उसके बूब्स को मसलने लगा।

फिर कुछ देर बाद मैं उसके निप्पलों को मुख में लेकर चूसने लगा। उसके बाद मैं प्रिया के 28″{ के बूब्स को पूरा मुंह में लेकर चूसने की कोशिश लगा।
और एक हाथ से मैं प्रिया की चूत को सहलाने लगा।

प्रिया के मुख से आह आह करके सिसकारियाँ निकल रही थी।

मैं प्रिया को अच्छे से चोदना चाहता था।

मैंने प्रिया की पैन्टी को उतार के स्कर्ट के अन्दर मुंह डाल दिया और प्रिया की चूत को चूसने लगा।

जैसे कि आप सबको मेरी पिछली कहानियों से पता है कि मुझे चूत पीना बहुत पसन्द है।
तो काफी देर तक मैंने उसकी चूत की चुसाई की।

More Sexy Stories  पड़ाई के बहाने हॉट चुदाई की कहानी

मैंने अपना लण्ड निकाल कर प्रिया को चूसने को बोला तो उसने मना कर दिया।
तो मैंने प्रिया की चूत का पानी अपने लण्ड पे लगाया और लण्ड को प्रिया के मुंह में जबरदस्ती डाल दिया और लण्ड को प्रिया के मुख में आगे पीछे करने लगा।

जब वो समझ गयी कि लण्ड तो उसे चूसना पड़ेगा तो लण्ड को पकड़ कर लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी।

हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गये।
प्रिया की चूत के अन्दर जीभ डाल कर मैं उसे चूसने लगा।

फिर मैंने प्रिया को सीधा लिटाया और कमर के नीचे एक तकिया रखा और उसकी चूत में अपनी उंगली डाली।
क्योंकि प्रिया पहली बार चुदने जा रही थी तो मेरी कोशिश थी कि उंगली से उसकी चूत थोड़ी खुल जाये।

मैंने प्रिया की चूत के ऊपर लण्ड को थोड़ा सा घिसा और उसकी चूत के छेद में लण्ड को लगा के थोड़ा सा धक्का दिया।
मेरा लण्ड फिसल गया।

इस बार मैं प्रिया के ऊपर लेट गया और लण्ड को चूत के छेद में लगाया।

मैंने प्रिया के लबों को को अपने लबों में लिया और जोर से धक्का लगाया।

मेरा सख्त लण्ड प्रिया की चूत को फाड़ कर आधा घुस गया।
प्रिया दर्द के मारे छटपटाने लगी।

मैंने तुरन्त दूसरा धक्का दिया मेरा पूरा लण्ड प्रिया की चूत को फाड़ता हुआ पूरा चूत में घुस गया।

मैं प्रिया के दर्द को इग्नोर करते हुए प्रिया की चूत में लण्ड को पेलने लगा।
उसकी आँखों में आंसू आ गए थे।

थोड़ी देर बाद प्रिया को चुदाई मे मजा आने लगा।
वो कमर चला के मेरा साथ देने लगी।

मैंने अपना वीर्य उसकी चूत में ही छोड़ा क्योंकि पहली बार की चुदाई में उसे अहसास होना चाहिए कि चूत में कुछ गर्म सा लावा गया है. वो बहुत सुखद अहसास होता है लड़की के लिए।
तब मैंने प्रिया को बोला- जानू, आज की यह पहली चुदाई तुम जिन्दगी में कभी भी नहीं भूल पाओगी।

उस दिन प्रिया की मैंने दो बार चुदाई की।
फिर मैंने उसे एक पेनकिलर और निरोध की दवा लाकर दी।

जब मैं दूसरे दिन क्लास में पहुंचा तो Xxx स्टूडेंट प्रिया मेरी तरफ देख कर मुस्करा रही थी.

उसके बाद मैंने और प्रिया ने बहुत बार कालेज में चुदाई की।
वो हरदम मेरा लण्ड लेने को तैयार रहती थी। बस ज़रा से इशारे की देर होती थी और वो तुरन्त अपनी चूत में मेरा लंड घुसवाने के लिए मेरे कमरे में आ जाती थी.

दोस्तो, आपको मेरी यह छोटी सी Xxx स्टूडेंट की चुदाई कहानी कैसी लगी?
कहानी पर अपनी प्रतिक्रिया के ज़रिये अपना प्यार देना न भूलें.

अपनी जिन्दगी के कुछ और भी हसीन किस्से आपके साथ शेयर करने की अभिलाषा के साथ फिलहाल के लिए अलविदा कहना चाहता हूँ.
आप मुझे मेल या हैन्गआउट भी कर सकते हैं।
धन्यवाद!
[email protected]