वासना भरी मामी को चोदा

मामी की चुत में 4 साल बाद कोई लंड जा रहा था, इसीलिए उन्हें बहुत दर्द हो रहा था. मामी के नाख़ून से मेरे पीठ पे बहुत सारे निशान बन गए, लेकिन मैंने उस पर इतना ध्यान नहीं दिया. मैं बस उनको चोदने में ही मस्त था. उनकी चुत एकदम कसी हुई थी, ऐसा लग रहा था मानो किसी ने अपने हाथों से मेरे लंड को पकड़ कर रख लिया है, इतनी टाइट थी उनकी चुत.. मुझे लंड को अन्दर बाहर करने में बहुत जोर लगाना पड़ रहा था. चूंकि उनकी डिलीवरी भी ऑपरेशन से हुई थी, इसीलिए उनकी चुत एकदम सही सलामत थी.

मैं आँखें बंद करके ज़ोर ज़ोर से झटके लगाए जा रहा था. मामी मेरे नीचे पड़ी ज़ोर ज़ोर से चिल्ला रही थीं लेकिन मैं बिना रुके उनकी चुत को चोदता चला जा रहा था.

काफी देर के बाद मामी डिसचार्ज हो चुकी थी, वो बार बार अपना सिर इधर उधर हिला रही थीं और सुस्त हो कर पड़ी हुई थीं और मैं अब भी उनको उसी रफ़्तार में पेले जा रहा था.
उनकी चुत इतनी गीली हो गई थी कि मेरा लंड उसमें सटासट फिसलने लगा था और छप.. छाप.. छप.. छाप की आवाजें गूँज रही थीं.

करीब 20 मिनट के बाद मैं भी उनकी चुत में ही डिसचार्ज हो गया और अपना सारा पानी उनकी कसी हुई चुत में ही छोड़ दिया.

अब मैं भी एकदम सुस्त उनके ऊपर लेट गया और मेरा लंड अब भी उनकी चुत में ही पड़ा था.
थोड़ी देर बाद मामी उठीं और अपने कपड़े पहनने लगीं. तो मैंने पूछा कि मामी इस वीडियो का क्या करूँ?
तो मामी बोलीं- इसको रखे रहो.. फिर कभी काम आएगा तुम्हारे.
मैं हंस दिया.

More Sexy Stories  इंटरनेट से मिली लड़की की चुत को चोदा

मामी ने मुझे बोला कि अब से रोज तुम्हीं मुझे चोदोगे और अगर ऐसा नहीं किया तो मैं तुम्हारे मामा को बता दूँगी कि रोहन मेरा वीडियो बना रहा था.
मैंने बोला- मामी ये कोई बोलने वाली बात है क्या.. मैं तो अब से रोज तुम्हें ऐसे ही चोदूँगा.. आप मामा से मत कहना.
हम दोनों वहीं हँसने लगे.

और फिर मामी नीचे चली गईं. थोड़ी देर बाद मैं भी नीचे जा कर सो गया. उस समय सुबह के 4:30 बज रहे थे. जब सुबह मैं उठा तो देखा सब एकदम नॉर्मल था. मामा जा चुके थे. मामी किचन में काम कर रही थीं.

मैंने उनको आवाज दी तो मामी आ कर मुझसे लिपट गईं और हम दोनों का खेल शुरू हो गया. इस तरह मैंने मामी को खूब चोदा.

आज भी मैं जब भी दिल्ली जाता हूँ, तो मामी को चोदे बिना रह नहीं पाता हूँ और इसके बारे में किसी को कानों कान खबर भी नहीं है.

यह कहानी मेरी सच्ची हिंदी सेक्स कहानी है, इसमें कोई मिलावट नहीं है. धन्यवाद.

Pages: 1 2 3