सविता भाभी की गॅंड चुदाई

bhabhi ki chudai kahani हेलो दोस्तो, मेरा नाम मोहित है और मैं आपके लिए अपनी एक इंडियन भाभी की चुदाई ले कर आया हूँ. इससे पहले की मैं अपनी कहानी शुरू करू तो मैं अपने बारे मे बताना चाहूँगा.

दोस्तो मेरी उमर 22 साल है और मैं जॉब कर रहा हूँ, मेरा रंग गोरा, हाइट 5’9 इंच और लंड 8 इंच लंबा और 4 इंच मोटा है. मैने अपनी कॉलेज लाइफ मे बहोत सी लड़कियो को चोदा है पर जिसकी मैं आज कहानी बताने जा रहा हूँ वो मेरी पहली चुदाई है. वो ना ही बचपन की दोस्त है, ना ही कॉलेज की फ्रेंड है और ना ही मेरी कोई बहन है बल्कि वो है पड़ोस मे रहने वाली भाभी जो की बहोत सुंदर है.

तो दोस्तो अब मैं अपनी कहानी का श्री गणेश करने जा रहा हूँ इसलिए अपने- अपने मेन पार्ट पर हाथ रख ही लीजिए.

सो लेट’स स्टार्ट.

दोस्तो, ये कहानी तब की है जब मैं 20 साल का था और मैं अपनी मम्मी- पापा के साथ देल्ही मे एक फ्लॅट मे रहता था. मैं अपने मम्मी-पापा की एकलौती संतान ही हूँ इसलिए मेरी हर ख्वाइश को वो पूरा करते है और करे भी क्यो ना आख़िरकार वो दोनो ही जॉब करते है.

दोस्तो उस समय मेरे फ्लॅट के सामने वाले फ्लॅट मे एक कपल आया था जो की बहोत मस्त था. उनका फ्लॅट बिल्कुल मेरे फ्लॅट के सामने था इसलिए जाहिर सी बात है की उन्हे हमारे घर का सब कुछ दिखता था और हमे उनके घर का दिखता था. एक दिन की बात है मैं ऐसे ही बाहर को खड़ा था तो मैने देखा की भैया की वाइफ बाहर खड़ी थी और उन्होने साड़ी डाल रखी थी जिसमे वो बहोत मस्त लग रही थी.

उनके बूब्स बहोत बड़े-बड़े थे और कम से कम 38 के साइज़ के थे और बॉम्ब भी एक दम गोल और मस्त मटकीले थे. उनका जिस्म भी एक दम भरा और गोरा-चिकना था जिसको देखते ही मेरा लंड खड़ा हो गया था और मैने मन ही मन सोच लिया था की रिया भाभी को ज़रूर चोदुन्गा और अपनी प्यास ज़रूर बूझौँगा.

More Sexy Stories  दीदी के बूब्स गिफ्ट मे मिले

मैं ऐसे ही उनको चोदने के सपने देखने लग गया और एक दिन मैं अपने घर गया तो मैने देखा की रिया भाभी मेरे घर पर मम्मी के साथ बाते कर रही थी और फिर मैं उनके साथ से निकल कर हेलो करते हुए अपने कमरे मे चला गया और कमरे का दरवाजा खुल्ला रख दिया क्योकि मैने उनकी आते वक़्त बाते सुन ली थी की वो सेक्स के बारे मे बात कर रही थी. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

रिया भाभी कह रही थी की उनके पति का लंड बहोत ही छोटा है इसलिए वो अंदर पूरा नही जाता और वो तो महीने मे एक बार ही चोदते है इसलिए मैं तो तड़पति रह जाती हूँ और एक तो उनका बिज़्नेस जिसके चलते वो अधिकतर बाहर ही रहते है. ये सुन कर मैं पागल हो गया और भाभी के घर होते हुए ही बाथरूम मे जा कर उनके नाम की मूठ मार ली.

फिर ऐसे ही कुछ दिन निकल गये तो एक दिन मम्मी ने मुझे उनके घर कुछ देने के लिए भेजा तो मैं जब वाहा पहॉंचा तो भाभी घर पर अकेली थी और उन्होने गाउन पहन रखा था जिसके नीचे कुछ भी नही था और उनके बड़े बड़े बूब्स और निप्पल देख कर तो मैं दंग ही रह गया और एक आँख लगा कर उनको ही देखता रहा.

फिर जब भाभी ने मेरी नज़र को पढ़ लिया तो उन्होने अपने होंठो को दांतो के बीच दबा लिया और तब मैने महसूस किया और देखा की भाभी भी शायद यही चाहती है और फिर मैं उन्हे समान देकर फटाफट घर आ कर उनके नाम की मूठ मार ली और फिर मैने एक प्लॅन बनाया.

फिर एक दिन जब मम्मी ऑफीस चले गये तो मैं जान बुझ कर दरवाज़ खुला कर दिया और कंप्यूटर पर ब्लू फिल्म लगा कर देखने लग गया क्योकि मुझे पता था की मम्मी है नही तो किसी ना किसी बहाने भाभी घर पर ज़रूर आएगी और फिर तो बस ऐसा ही हुआ जैसे की मैने सोचा था.

More Sexy Stories  बस मे मिली भाभी ने बहुत मज़ा दिया

घर का दरवाजा खुला होने की वजह से भाभी अंदर आ कर मुझे अडल्ट मूवी देख कर वही दरवाजे पर रुक गई और खुद भी देखने लग गई और फिर मैने उन्हे वाहा खड़े देख तो लिया था इसलिए कुछ देर तो मैं ऐसे ही मूवी देखता रहा फिर जान बुझ कर उनको देखते ही फटाफट मूवी बंद की और कहा – भाभी आप.

भाभी- हाँ मैं तो घर पर बोर हो रही थी इसलिए सोचा तुम्हारी मम्मी के पास आजाउ.

मैं – मम्मी तो है नही, आप मेरे साथ बैठ कर बाते कर् लो.

अब भाभी मेरे पास बैठ गई और आज उन्होने ब्लॅक साड़ी डाल रखी थी जिसमे वो बहोत मस्त लग रही थी और तभी भाभी ने मुझसे पूछा – क्या देख रहे थे?

मैं – कुछ नही भाभी ऐसे ही, ब्लू फिल्म देख रहा था.

भाभी- मुझे भी देखनी है.

मैं ये सुन कर हैरान हो गया और फिर उन्होने मुझसे ब्लू फिल्म लगवा ली और मेरे होंठो को मूह मे डाल कर चूसने लग गई जिसका मैने भी साथ दिया और फिर मैं उनके बूब्स को दबाने लग गया और अगले ही पल हम एक दम नंगे हो गये और उन्होने मेरे लंड को पकड़ कर उपर नीचे करना शुरू कर दिया जिससे लंड पर तनाव आ गया और उन्होने मेरे लंड को मूह मे ले कर चूसना शुरू कर दिया जिसके 5 मिनिट बाद ही मेरा पानी निकल गया और वो मैने उनके मूह मे ही निकाल दिया.
अब मेरे निकालने के बाद मैने उनकी छूट मे उंगली डालना शुरू कर दिया जिससे वो आअह्ह्ह करने लग गई और फिर मैं उनकी चूत को चाटने लग गया जिसके 15 मिनिट बाद उनका पानी निकल गया जिसको मैने चाट चाट कर पी लिया.

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *