पब की पार्किंग में पति से छुपकर चोर से चुद गई

मैं अपने पति के साथ पब में गई। वहां पर मेरा चुदाई का मूड बन गया और पति से पार्किंग में चूत मारने को कहा। उसने मना किया तो मैंने चूत की आग कैसे बुझाई?

हैलो ठरकी दोस्तो, अगर एक सेक्सी लेडी तुमसे आधी रात को पब के बाहर कार पार्किंग में कारों के पीछे अपनी चूत चुदवाने के लिए कहे, तो क्या तुम उसे चोदोगे या बहाना करके निकल जाओगे?

मेरे हस्बेंड को एक बार एक ऐसा ही मौका मिला लेकिन उसने अपना लंड निकालने से मना कर दिया क्योंकि उसको बहुत तेजी से पेशाब लगी थी।
पर यह केवल एक घटिया बहाना था, जो उसने मुझे दिया।

मैं और मेरा हस्बेंड एक बार एक लोकल पब में गए हुए थे।
शुक्रवार की रात थी और हमारे साथ में हमारे दोस्त भी थे।

मैं आपको वह घटना बताने जा रही हूं जो उस रात पब के बाहर हुई थी। पब के अंदर की घटना अगली स्टोरी में बताऊंगी।

पब से मैं बाहर निकली तो काफी चुदासी महसूस कर रही थी। मैं और मेरे हस्बेंड बाहर वहीं पब की सीढ़ियों पर बात कर रहे थे।

मुझे चुदास चढ़ी हुई थी और सामने पार्किंग के कोने में दो कारों को खड़ी देख मेरी चूत में खुजली होने लगी।

चूंकि मेरे पति के रूप में मेरे पास एक लंड पहले से मौजूद था तो मैं उसको गर्म करने के लिए अपनी गांड उसके लंड पर टच करने लगी।
पर वो कुछ रेस्पोन्स नहीं दे रहा था।

मैं उस पर बरसी- अगर तुम्हारी बीवी इतनी गर्म हो रही है तो क्या तुम उसे यहां चोद नहीं सकते हो? तुम सच में गांडू हो!
मेरे पति में वो दम नहीं था कि वो इस तरह से वहां कारों के पीछे मेरी चूत मार सके।

जतिन- मुझे वाशरूम जाना है। इसके अलावा, यह जगह प्राइवेसी के लिए सेफ नहीं है। कोई भी चलकर आ सकता है!
मैं- तुम जाकर वॉशरूम में मुठ मार लेना क्योंकि घर जाने के बाद मैं सेक्स नहीं करने वाली, अब निकलो यहां से!

जतिन एक हारे हुए आदमी की तरह गर्दन लटकाकर पब में वापस चला गया।
अब मैं सोच रही थी कि अपने आशिक के पास जाऊं या अपने घर जाऊं?

तभी मैंने दो लोगों को धीमी आवाज में बहस करते सुना।
मैंने वहां देखा तो पाया कि दो चोर एक कोने में अपनी छोटी सी लूट को लेकर आपस में बहस कर रहे थे।
जिस चोर का मुंह मेरी तरफ था, उसने मुझे उनको घूरते हुए देख लिया।
उसने उस छोटे पर्स से अपना हाथ हटाया और मेरी तरफ आने लगा।

मैं घबराई नहीं क्योंकि वह देखने में पतला सा था और मुझे उससे कोई चोट पहुंचने की आशंका दिखाई नहीं दे रही थी।
उसने मेरे हाथ को पकड़ा और मुझे लेन में अंदर खींच लिया।

चोर- यहां आ रंडी! मैं तुझे दिखाता हूं कि दूसरे के मामले में टांग अड़ाने पर क्या होता है।
दूसरे लड़के की तरफ देखते हुए उसने कहा- तुम निकलो यहां से! और ले जाओ ये पर्स अपने साथ!

वो दूसरा चोर, जो थोड़ा सा मोटा था, उसने एक कदम भी और नहीं बढ़ाया और वो मेरी फिगर पर हाथ फिराकर मुझे चेक करने लगा। उसने पर्स को अपने साथी को देना चाहा लेकिन उसने लेने से मना कर दिया।

दूसरा चोर- अगर तुम ये पर्स रख लो और इस सेक्सी माल को मेरे साथ बांट लो तो कैसा रहे?
चोर (जिसने मुझे पकड़ा हुआ था)- निकलो! तुम बस इसके ख्वाब ही लेते रहो मोटू!

उस मोटू ने अपनी बेइज्जती महसूस की और अपनी ताकत को आजमाने की सोची।
उन दोनों का जोश काफी तेज था और पतले चोर ने जल्दी से उस मोटू को मारना चाहा लेकिन उसका वार ऐसा था कि मुझे देखकर हंसी आ गई।

मैंने बीच बचाव किया और उनकी हंसाने वाली डॉग फाइट को बंद करवाया।
मैं- सुनो, सुनो लड़को, अब रुको … इस मामले को मुझे अपने तरीके से सुलझाने दो।

मैंने उस पतले लड़के को पकड़ा और अपनी बांहें उसके गले में कसकर डाल दीं।
उसने छूटने की कोशिश की लेकिन उसमें इतना दम नहीं था कि वो मेरी पकड़ को छुड़ा सके।

मैं- शांत हो जाओ, मैं तुम्हें बताऊंगी कि मेरे साथ कैसे बर्ताव करना था।
दूसरे मोटे लड़के की ओर देखते हुए मैंने कहा- तुम निकलो यहां से मोटू! इससे पहले कि मैं तुम्हारे इस फुटबॉल जैसे पेट में पंचर कर दूं!

उस मोटे ने मेरी बात तुरंत मान ली क्योंकि उसमें भीतर की ताकत नहीं थी।
पतला लड़का, जो सोच रहा था कि मुझे डरा देगा, अब मेरी गिरफ्त से छूटने के लिए फड़फड़ा रहा था।

मैंने उसके कानों में फुसफुसाते हुए कहा- शांत हो जाओ!
उसने एकदम से जोर लगाना बंद कर दिया और अपनी बॉडी का कंट्रोल मेरे हाथ में दे दिया।

मैंने उसकी पैंट की चेन खोली और उसके सिकुड़े हुए लंड को बाहर निकाल लिया- ओह … माय! मेरे होते हुए भी तुम्हारा लंड अभी तक सिकुड़ा पड़ा है?
मैं हंसी.
चोर- इसकी मुठ मारने की कोशिश करो, रंडी!

मैं- अपना चेहरा देखना जब मैं तुम्हारी गोटियों को दबाऊंगी। अब देखते हैं कि मेरे पास एक ताकतवर घोड़ा है या एक डरा हुआ मेंढक!
मैंने उसके लंड को खींचते हुए सहलाना शुरू कर दिया। मुझे इसमें मजा आ रहा था।

More Sexy Stories  स्टूडेंट के पापा ने की चुदाई

वो चोर हंसाने वाली आवाजें निकाल रहा था क्योंकि उसके लंड की त्वचा उसकी चेन से रगड़ खा रही थी।

उसने अपनी पैंट को नीचे खींच दिया। उसने कोई अंडरवियर नहीं पहना हुआ था। उसकी पतली टांगें नंगी हो गईँ और उसकी गांड एकदम से फ्लैट थी। उस पर कोई मांस नहीं था।
मगर फिर भी, उसकी बालों वाली गोटियों में काफी रस भरा हुआ लग रहा था।

हर एक मुठ के साथ अब उसके लंड में तनाव बढ़ता जा रहा था।
मैं- वाऊ … एक चोर के हिसाब से यह लंड काफी अच्छा है। मुझे लगता है तुम्हें मजा लेने के लिए ज्यादा चूतें मिलती नहीं हैं। आज तुम्हारा लकी डे है।

उसको मैंने घुटनों पर आकर उसकी नाक मेरी चूत वाले एरिया में रगड़ने के लिए कहा।
वो घुटनों पर आ गया और अपनी नाक को मेरी जींस पर चूत वाली जगह पर रगड़ने लगा।
मैंने देखा कि वो मेरी खुशबू को पसंद कर रहा था, इसलिए मैंने उसको ये समझाना उचित सोचा कि आगे क्या होने वाला है।

मैं- तुम्हें मेरी सेवा करनी है। मैं देखना चाहती हूं कि तुम मेरे बदन को कितना प्यार देते हो। इसमें ये तुम्हारी मदद करेंगे।

कहते हुए मैंने अपनी शर्ट के बटन खोल दिए और उसे रेड ब्रा में कैद मेरे टाइट चूचे दिखा दिए।
उन्हें देख उसके चेहरे पर चमक आ गई और वो बेतहाशा मेरे बदन को प्यार करने लगा।

“मुझे इस चूत से बेहद प्यार है, तुम अब तक की सबसे सेक्सी औरत हो। मैं तो बहुत लकी हूं कि मुझे ऐसी खूबसूरती की पूजा करने का मौका मिला है।” कहते हुए वो मेरे बदन को जहां-तहां से चूम रहा था।

वो मेरी तारीफ करते हुए मुझे रिझाता रहा और मैंने अपनी जीन्स की चेन खोलकर उसको अपनी लाल पैंटी के दर्शन करवा दिए जिसमें मेरी पाव रोटी जैसी चूत उभरी हुई दिख रही थी।
उसने मेरी चूत के होंठों पर पैंटी के ऊपर से ही जीभ फेरी जिससे मेरे अंदर करंट सा लगा लेकिन उसने ये बिना पूछे किया तो मुझे गुस्सा आ गया।

मैं- बिना गिड़गिड़ाए मेरे बदन को चाटने की हिम्मत कैसे की तुमने? कमॉन, इसके लिए भीख मांगो मुझसे। दिखाओ कि तुम कैसे मरे जा रहे हो इसके लिए!

हाथ जोड़कर वो मुझसे उसके लिए भीख मांगने लगा- प्लीज, मुझे तुम्हारी चूत का स्वाद लेने दो। तुम्हारी चूत चाटकर मुझे तु्म्हें खुश करने का मौका दो।
वो तब तक कहता रहा जब तक मैंने उसको इसकी छूट नहीं दी।

उस कामुक लड़के ने अपनी जीभ मेरी चूत की दरार में लगा दी और उसकी फांकों पर लगा पानी चूसने चाटने लगा जिससे मेरी चूत और ज्यादा गीली होने लगी।
उसकी जीभ काफी सख्त थी और उसके चूत चाटने के अंदाज ने मुझे झड़ने पर मजबूर करना शुरू कर दिया था।

वो मेरे क्लिटोरिस को चाटने लगा और अब मेरे मुंह से तेज तेज सिसकारियां निकलने लगीं।

जब मैं इसका मजा ले रही थी तो मेरा पति मुझे ढूंढता हुआ आ गया।
वो मेरा नाम पुकारता हुआ आ रहा था और हर पुकार के साथ उसकी आवाज तेज होती जा रही थी।

मैंने उस लड़के को उसके बालों से पकड़ कर खींचा और उसको दीवार के पास ले गई।
उसकी जीभ मेरी चूत में लगी थी और वो उसका पूरा मजा ले रहा था।

मैं दीवार पर झुकी और अपने हस्बेंड को देखा।
उसको कोई अंदाजा नहीं था कि नीचे कोई आदमी मेरी क्लीन शेव चूत में मुंह लगाए बैठा हुआ है।
जतिन- मैंने सोचा कि तुम मेरे बिना ही निकल गईं। थैंक गॉड, कि तुम यहां हो। लेकिन तुम वहां कर क्या रही हो?

मैंने उसको चुप रहने के लिए कहा और कई सारे टिश्यू पेपर और तौलिया देने को कहा।
जब वो पूछने लगा कि ये सब क्यों चाहिए तो मैंने उसे फिर से मुंह बंद रखने को कहा और वहां से निकल जाने के लिए कह दिया।

लड़के से मैं बोली- ये मेरा पति था। अगर तुम्हें और मजा चाहिए तो इसके आने से पहले मेरी गांड को भी चाट लो।

वो चोर जल्दी से पीछे की ओर गया और पैंटी को खींचकर मेरी गोल मोटी गांड को देखने लगा।
उसने पसीने से भीगे मेरे चूतड़ों को अलग अलग खींचकर खोला और अपनी जीभ सीधे मेरी गांड के गीले हो चुके छेद में लगा दी।

लग रहा था कि जैसे वो मेरी गांड का दीवाना हो गया है।
जब वो मेरी गांड को चाट रहा था तो इतने में जतिन तौलिया लेकर आ गया।
मैंने उसको अपनी चूचियों के दर्शन करवा दिए और अपनी ओर आने के लिए उकसाया।

मैं- यहां आओ बेबी! इन नींबुओं को दबाओ और अपना जूस इन पर गिरा दो। मैं तुम्हारे लंड के रस का स्वाद लेने के लिए मरी जा रही हूं।
उस चोर लड़के ने सोचा कि मैं उससे बात कर रही हूं।

उसकी गोटियों पर हल्के से लात मारते हुए मैंने उसको चुप रहने का इशारा किया। जतिन मेरे पास आने से घबरा रहा था और उसने मुझे चूचियों को अंदर करने के लिए कहा। उन दोनों मर्दों को कंट्रोल करना मुझे बहुत अच्छा लग रहा था।

मैं दूसरी तरफ घूम गई और अपनी गांड उसे दिखाने लगी ताकि उसको ये शक न हो कि कोई दूसरा मर्द उसकी बीवी की गांड को चाट रहा है।

More Sexy Stories  Hot Indian Aunty ko maa banaya

इतने में मैंने उस लड़के का लंड अपनी चूत में ले लिया।
लड़के से मैं बोली- अगर तुम मुझे चोदने का मजा लेना चाहते हो तो मुझे छुओ मत और किसी तरह का शोर मत करो!
वो वैसे ही करने लगा।

जतिन चिंता में था कि कोई उसकी बीवी को ऐसे पब के बाहर देख न ले।

वो बोला- प्लीज डार्लिंग, खेल बंद करो और अपने कपड़े पहन लो। कोई सोचेगा कि तुम वहां सेक्स कर रही हो। कपड़े पहनो और घर चलो।

मुझे अच्छा लगा कि जतिन मुझे ऐसे मना रहा था।
उसे और चिढ़ाने के लिए मैंने जोर से सिसकारियां लेना शुरू कर दिया- ओह येस! फक माय पुस्सी … आह्ह। मेरे पति को देखने दो कि वो कैसे दूसरे मर्द से चुद रही है। और तेज चोदो!

मैंने उस लड़के के फ्लैट चूतड़ों को कसकर पकड़ लिया और उसे अपने बदन की ओर तेजी से खींचने लगी।
मेरी चूत को चोदते हुए वो अलग ही दुनिया में पहुंच चुका था।
अब उस लड़के के मुंह से हल्की आवाजें निकलने लगी थीं।

इसस पहले कि वो और तेज आवाज करता, मैं आगे की तरफ झुक गई।
मैं- यहां आओ जतिन … मुझे पीछे से चुदते हुए देखो। अब मैं तुम्हारा लंड भी चूस सकती हूं।

मैंने उस चोर को और करीब खींच लिया।
वो मेरी चूत से चिपका हुआ था और लगातार उसे चोदे जा रहा था।

वो बस सीधा खड़ा था और मैं अपनी गांड को उसके लंड पर पटके जा रही थी।

मैं- ओ डार्लिंग … तुम आकर थ्रीसम में शामिल क्यों नहीं होते? मैं चाहती हूं कि तुम दोनों मेरे मुंह पर अपना माल गिरा दो।

अब मैं देख रही थी कि मेरी गंदी कामुक बातों से मेरे पति की पैंट में उसके लंड ने तंबू बना लिया था।
वो चाहता था कि वो अपने लंड का माल निकाल फेंके लेकिन उसके अंदर हिम्मत नहीं थी।

जतिन- यार, ऐसे कहना बंद करो। अपने कपड़े पहनो और बाहर आ जाओ वहां से। तुम वहां गई क्यों हो?
मैं- मैं यहां ऐसे आदमी से चुदने आई हूं जिनके लंड में जान है। मैंने इसको बताया कि मेरा पति निकम्मा है। अगर तुम्हारा लंड खड़ा होता है, तो ये कामुक बातें सुनते हुए माल निकाल दो, अभी के अभी।

मेरा पति अभी भी हिचक रहा था लेकिन वो जानता था कि मैं कितनी जिद्दी हूं; तो उसने अपना लंड निकाला और धीरे धीरे उसकी मुठ मारने लगा।
मैं- और तेज!

ऐसा कहते ही वो चोर मुझे तेजी से चोदने लगा और मेरे पति अपने लंड की तेजी से मुठ मारने लगे।
मैंने पति से पूछा- तुम्हें कैसा लगेगा अगर तुम अपनी वाइफ को दूसरे मर्द से चुदते हुए देखो?

वो कुछ देर तो चुप रहा और फिर दिल खोलकर बोला- मजा आ जाएगा। कमॉन हनी … अपने यार को बोलो कि वो तुम्हें रगड़ कर चोदे। तुम्हें ऐसे खुले में नंगी देखकर मुझे बहुत मजा रहा है। लंड फटने को है।

वो चोर भी बहुत ज्यादा उत्तेजित हो गया और मेरी गांड पर चपत लगाने लगा।
बदले में मैंने भी उसकी गोटियों को हल्के से लात मार दी ताकि वो थोड़ी देर और टिक सके और मेरी चूत के अंदर झड़ न जाए।

जतिन- ओह्ह … मैं आने वाला हूं। मुझे अपने मुंह पर माल निकालने दो।
जैसे ही जतिन मेरे पास आने लगा, मैंने उस चोर को लात मार दी और वहां से भागकर अपनी जान बचाने के लिए कहा।

उसकी पैंट पास ही पड़ी हुई थी, वो उनके बिना ही वहां से भाग गया।

इधर मेरे पति को मुझे कंट्रोल करना था जो मेरे मुंह पर माल गिराने आ रहा था।
मैं- वहीं रुको! तुम मेरे मुंह पर माल गिराने की हिम्मत कैसे कर सकते हो? मुझे ही इसे देखने दो।

जतिन देखने लगा कि क्या कोई सच में मेरी चूत मार रहा था! मैंने उसके लंड को पकड़ लिया और उसकी मुठ मारने लगी।
कुछ ही पल में उसके लंड से वीर्य निकल कर नीचे गिरने लगा।

मैं- ये हो गया! तुम इसी के लायक हो। अगर तुम अपनी बीवी की इच्छा को पूरी नहीं कर सकते तो तुम्हें यही मिलेगा।
मैं अपने कपड़े ठीक करने लगी तो जतिन मेरी कमर पर हाथ फिराकर देखने लगा।

वहां वीर्य की कुछ बूंदें लगी हुई थीं। मुझे पता नहीं चल पाया कि उस चोर ने भागने से पहले कुछ वीर्य की बूंदें मेरे ऊपर गिरा दी थीं।
उन बूंदों पर हाथ लगने के बाद जतिन का चेहरा जैसे ठंडा पड़ गया।

मैंने उसकी ओर देखा और मेरे पीछे आने को कहा।
एक नाकारा पति के साथ ऐसा ही किया जाता है।

तो दोस्तो, इस तरह से मैंने उस चोर के साथ डील किया और अपने पति को एक सबक सिखाया, जिसने मुझे तेज इच्छा होने पर चोदने से मना कर दिया था।
अगली बार मैं आपको बताऊंगी कि उस रात पब के अंदर क्या हुआ था!

अगर आप वहां होते तो मेरे साथ क्या करते? मुझे अपने कमेंट्स में बताएं।

ये स्टोरी कैसी लगी? उम्मीद है कि आप सबने मेरी हॉट बीडीएसएम स्टोरी को मजा लेकर पढ़ा होगा।
अगर कोई हॉट सेक्स चैट करना चाहता है या मुझे नंगी देखते हुए अपनी बीडीएसएम फैंटेसी मुझसे शेयर करना चाहता है तो यहां पर क्लिक करें।