पति के दोस्त ने मेरी कामवासना जगायी

मैं घर में अकेली थी. मेरे पति के दोस्त ने अपना मोटा लंड दिखा कर मेरी कामवासना कैसे जगायी. पढ़ें इस फ्री हिंदी सेक्स कहानी में!

दोस्तो, मेरा नाम सपना है. मेरी पिछली कहानियाँ अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज पर प्रकाशित हुई थी. मुझे बहुत अच्छा रेस्पोन्स मिला. आप लोगों के इस प्यार के लिए मैं आप सभी को धन्यवाद करना चाहती हूं.

बहुत दिनों से मुझे मेल प्राप्त हो रहे थे जिनमें पाठकों की शिकायत थी मेरी कहानियां काफी समय से प्रकाशित नहीं हो रही हैं. मैं आप लोगों से कहना चाहती हूं कि मुझे कहानी लिखने का समय नहीं मिल रहा था इसलिए मैं नई कहानी नहीं लिख पा रही थी. फिर मैंने अपनी ये कहानी आप लोगों को बताने का मन बना लिया.

अब मैं अपनी आज की सेक्स कहानी आप लोगों के सामने रख रही हूं. यह बात मेरी शादी के चार साल बाद की है. यह घटना मेरी जिन्दगी में हुई मेरी चूत चुदाई की सबसे बुरी चुदाइयों में से एक है.

मेरे पति एक प्राइवेट जॉब करते हैं. उनको काफी देर तक काम करना होता है इसलिए वो देर रात को ही घर पर आते हैं. कई बार तो उनको अपने काम के चलते शहर से बाहर भी जाना पड़ा जाता है.

मगर यह उन दिनों की बात है जब मैं सेक्स को लेकर इतनी बेसब्र नहीं रहती थी. मेरे पति के ऑफिस में उनके एक दोस्त भी थे. उसका नाम विकास था. चूंकि मेरे पति शहर से बाहर गये हुए थे तो मेरे पति ने उनको बोल दिया था कि अगर मुझे किसी चीज की जरूरत हो तो मैं विकास से कह दूं. विकास कई बार मेरे घर पर भी आ जाते थे और उनको मैं अच्छी तरह जानती थी.

उस दिन जब मेरे पति घर से बाहर दूसरे शहर में गये हुए थे तो विकास का फोन आया था कि अगर आपको किसी भी जरूरत पड़े तो बस मुझे एक बार फोन कर देना. मैं आ जाऊंगा.
मैंने कहा- ठीक है. अगर मुझे कुछ चाहिए होगा तो मैं बता दूंगी.
विकास के साथ मेरी कई बार बात हो चुकी थी इसलिए हमारे बीच में ऐसा वैसा कुछ भी नहीं था.

More Sexy Stories  गुजराती हॉट बीवी की चुदाई

एक दिन की बात है जब मेरे घर पर मेरे सास ससुर नहीं थे. मैं उस वक्त अन्दर बाथरूम में नहाने के लिए गयी हुई थी. मैं बाहर से मेन गेट को बन्द करना भूल गई.

जब नहा कर सिर्फ तेलिया लपेट कर बाथरूम से बाहर आई तो देखा कि विकास पहले से आये हुए थे. मैं उनको देख कर एक बार तो घबरा सी गई और फिर अपने बदन को छिपाते हुए कहने लगी- आप कब आये?
वो बोले- बस कुछ ही देर पहले आया हूं. जब मैं आया था तो घर का मेन गेट खुला हुआ था और घर पर भी कोई नहीं था. मैंने कई बार आपको आवाज लगाई लेकिन आप शायद बाथरूम में होने की वजह से मेरी आवाज को सुन नहीं पाई.
मैंने कहा- हां, मुझे अंदर कुछ सुनाई नहीं दिया.

उस दिन मैंने विकास के लिए चाय बना दी और फिर कुछ देर तक बातें करने के बाद वो चले गये.

मगर उस दिन के बाद मैंने एक बात नोटिस करनी शुरू कर दी कि विकास मेरे बदन को अब घूरने लगे थे. मेरे हिप्स और मेरे बूब्स को अक्सर मैंने उनको घूरते हुए देखा था. कई बार बहाने से वो मेरे बूब्स को टच करने की कोशिश भी करते थे.

लेकिन मैं उनमें कोई रुचि नहीं दिखा रही थी. मैं जानती थी कि उनके मन में मेरे लिए क्या चल रहा है. लेकिन मैंने कभी इस बात को जाहिर नहीं होने दिया कि मैं उनकी हरकतों के पीछे के मतलब को समझ रही हूं कि वो मेरी कामवासना जगा कर मुझे चोदना चाह रहा है.
सच कहूं तो मुझे वास्तव में ही उनके अंदर कोई रुचि नहीं थी इसलिए मैं उसकी हरकतों को अनदेखा कर दिया करती थी.

More Sexy Stories  इंटरनेट पर मिली एक विधवा औरत

ऐसे ही तीन चार दिन निकल गये. एक दिन जब घर पर कोई नहीं था तो मुझे बाजार से एक सामान की जरूरत आन पड़ी. मैंने विकास को फोन करके वो सामान मंगवा लिया.

जब वो सामान देने के लिए अंदर आये तो मैंने उनके हाथ से सामान लेने के लिए अपना हाथ आगे किया. मगर पता नहीं कैसे मेरा हाथ विकास की जिप के अंदर लटक रहे उसके लंड से स्पर्श हो गया. या फिर शायद विकास ने जानबूझकर मेरा हाथ उसके लंड से टच करवा दिया था.

उसके लंड को हाथ लगा कर मेरे बदन में एकदम से करंट सा दौड़ गया और मैंने हाथ पीछे खींच लिया. फिर दोबारा से मैंने संभलते हुए सामान लिया.

जब मैं रसोई में सामान रख कर वापस आई तो मैंने नीची नजरों से उसके लंड की तरफ देखा तो उसका लंड खड़ा होना शुरू हो गया था उसके लंड की शेप उसकी पैंट में अलग से ही दिखाई देने लगी थी.

मैं न चाहते हुए भी उसके लंड के आकार को देख रही थी. उसके लंड का साइज काफी बड़ा लग रहा था. पैंट के अंदर तने हुए लंड को देख कर मुझे कुछ-कुछ होने लगा था. मेरी कामवासना जागने लगी थी.

फिर मैंने उनको बैठने के लिए कहा. मैं रसोई में चाय बनाने के लिए चली गई. जब मैं वापस आई तो वो सोफे पर बैठे हुए थे. उनकी टांगें फैली हुई थीं और लंड वैसे ही एक साइड में अगल से दिखाई दे रहा था. वो सेक्स के लिए जैसे मेरी अनुमति मांग रहे थे.

मैंने एक दो बार उनके लंड को देखा तो उनके लंड में एक उछाल सा आ गया. मैं थोड़ी घबरा गई. काफी बड़ा और मोटा लंड लग रहा था विकास का.

Pages: 1 2 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *