कैसे मैने अपनी चुदाई पंडित से करवाई

हेलो दोस्तो मेने कैसे मेने एक पंडित से अपनी चुदाई करवाई, वैसे मै वर्जिन नही हू पास्ट मे मेरेबाय्फ्रेंड रह चुके है सो मेने दोनो के साथ सेक्स किया हुआ है.

सो आप लोगो को ज़्यादा बोर ना करते हुए मै अपना इंट्रो दे देती हू मेरा नाम निमरात singh है अंड मै पंजाब की रहने वाली हू मेरी एज अभी 25 साल की है मै देखने मे गोरी हू मेरी हाइट 5’5” है मेरा फिगर है 33ब 30 35 मोस्ट्ली मै सूट सलवार पहनती हू और ब्रा अंडरवाइयरर्ड पहनती हू जिस से ब्रेस्ट को सपोर्ट मिलता है और शेप खराब नही होती.
सो हुआ यू की मै ओर मेरी 4 फ्रेंड्स ने घूमने का प्लान बनाया हम ने अपने घर वालो को राज़ी कर लिया और डिसाइड किया क ऋषिकेश आंड हरिद्वार जाएगे सो हम ने प्लान बनाया और हम हरिद्वार के लिए निकल गये हम सभी गर्ल्स बहुत खुश थी घूमने जाने के लिए हम सभी ट्रेन से निकल गये..
और दोपेहर को हरिद्वार पहुच गये हम ने पहले सोचा क्यू ना ऋषिकेश चले वाहा से घूम कर आएगे क्यूकी वापिस हम ने ट्रेन तो हरिद्वार से ही लेनी है तो पहले हम ऋषिकेश की तरफ निकल पडे हम ने हार्द्वार से एक गाड़ी की आंड हम ऋषिकेश पहुच गये वाहा पर एक कॅंपस था.

वाहा पर चले गये वाहा पर टेंट वगेरा लगे हुए एक आड्वेंचर्स सा था सो हम ने वाहा पैसे दिए और हम रुक गये हम शाम को शाम को घूमने के लिए निकल गये हल्की हल्की बारिश हो रही थी सो मजा आ रा था.
हम रात को घूम कर आए कॅंप वालो ने ह्मे खाना दिया और कॅंप फाइयर किया हम ने एंजाय किया हम सुबह से थके हुए थे सो जल्दी सो गये सुबह मेरी 5 ब्जे क आस पास नींद खुल गई मै अपने टेंट से निकली मेरी सारी फरन्डस सोई हुई थी सो मेने सोचा क्यू ना थोड़ा चल फिर के आउ देखु सुबह का मौसम कैसा है.

हमारा कॅंप काफ़ी बाहर रह जाता था सो मै यू ही चल दी मै थोड़ा साइड मे गई तो मेने देखा की वाहा पर एक पंडित नहा रा था बिल्कुल नंगा उसकी एज 55 के आस पास होगी वो हर हर गांगे बोल कर गंगा जी मे डुबकी लगा रहा था उसका शरीर मोटा था पेट बाहर निकला हुआ था बट उसका लंड ठंडे पानी मे भी 7 इंच के आस पास लग रा था और इतने ठंडे पानी मे भी उसका लंड खड़ा हुआ था.
उस टाइम पर मेने चोरी से उसको नहाते देखा और वो नाहया उसने कपड़े पहने ओर वो निकल गया मेने आस पास देखा कोई नही है मेने उस टाइम पर लॉंग टी शर्ट और लोवर पहना हुआ था मेने लोवर नीचे किया और उस पंडित को देख लार उंगली की मै झाड़ गई मेने लोवर वैसे सेट किया और माई अपने टेंट मे आकर सो गई.

8 ब्जे मुझे मेरी दोस्तो ने उठया मै उठी नहाई बुर्श किया और रेडी होने लगी तो मेरी फरन्डस बोली की सूट मत पहन ना हम को रफ्टिंग के लिए जाना है मेने बॅग मे से एक दूसरा टी शर्ट और जीन्स निकाला और हम रफ्टिंग के लिए चल दिए उस दिन हम ने रफ्टिंग की बहुत मजा आया.
फिर से अपने कॅंप गये कपड़े चेंज किए और लंच किया और ट्रॅकिंग के लिए निकल गये ट्रॅकिंग करते करते पसीना आ गया मेने लोंग कुरती और लेग्गी टाइप जीन्स पहनी हुई थी काफ़ी ट्रॅकिंग करने क बाद वाहा वॉटरफॉल आ गया हम सब वाहा पर रिलॅक्स होकर बैठ गये तभी वो सुबह वाला पंडित वाहा आ गा हम 5 गर्ल्स के अलावा वाहा कोई ओर नही था पंडित के आने से हम 6 लोग हो गये पंडित भी वाहा आराम से बैठ गया.

तभी मेरी फरन्डस पिक वगेरा क्लिक करने लग गई मै भी साथ मे थी हम फरन्डस वाहा पानी मे खेलने लगी मै कुछ देर बाद वाहा आ गई और मेरी एक ओर फरन्ड 2 मीं बाद आ गई तभी पंडित हम दोनो से बाते करने लग और बोला की लाओ बेटी मै तुम्हारा हाथ देखता हू बाकी मेरी 3 फरन्डस ऐसे ही आगे घूमने के लिए चल दी मेरी पैरो मे मटीत्ती लग गयइ थी तो मेने कहा रूको मै पैर धो कर आती हू और मेरी फरन्ड अपना हाथ दिखाने लगी मै अपना पैर धोकर आई तो मै थोड़ा वॉटरफॉल के नीचे खड़ी हो गई.
2-3 मीं बाद वाहा से आ गई मेने फरन्ड को कहा क्या हुआ पैसा आ रा ह या नही ऐसे हाथ दिखाने से कुछ नही होता वो हस्स के बोली की नही कुछ कुछ इन्होने सही कहा है हमारा बॅग वाहा पर था उसमे फोन वगेरा और पैसे थे और मोबाइल्स भी मेने कहा बाकी को फोन करो अंधेरा होने वाला चलते है मेरी फरन्ड ने फोन मारा उनको लगा नही.
वो बोली तुम यहा रूको मै देख कर आती हू वो उनको डुनधने के लिए निकल गई तभी पंडित बोला आओ बेटी मै तुम्हारा हाथ देखु मेने खा नही जी मुजको इन सब मे विशवाश नही वो बोले ना सही लगे तो मत दिखना मै कॉन सा पैसे माँग रा हू मेने कहा सही है उसने मेरे से मेरी जनम तारीक़ पूछी मेने बता दी.

More Sexy Stories  सासाराम ट्रेन में मिली देसी गर्ल को होटल में चोदा

उसने कुछ बाते मेरे बारे मे सही कही मूज़े लगा आजकल इतना तो सबको पता ही होता है वो बोला की अब कुछ ओर बताऊँ तो तुम मुझ को मानोगी मेने कहा हा उसने खा की तुम्हारे राइट के बूब पर 2 तिल है साइड मे मै हैरान हो गई..

उसने कहा की तुम्हारे 2 पस्त मे ब्फ थे मै ओर हैरान हो गई वो बोला की अब तुम्हारे घर पर घोर संकट आने वाला है मेरी वजह से मेरे पापा की डेत हो जाएगी तो मई घबरा गई और बोला की इसका उपाय क्या है.
वो बोला की तुम्हारे लिए पूजा करनी पड़ेगी मेने कहा की कितना खर्चा आएगा वो बोला की खर्चे की चिंता मत लो बस तुम पूजा करवा लो मेने खा आप कर दो वो बोला की यहा नही कर सकता हरिद्वार मे उसका घर है वाहा कर सकता है एक बात ओर ये पूजा मे जो कपड़े पहनोगी वो वाहा उतरने होंगे दूसरे पहन ने होंगे.

फिर और जो बताया वो करना होगा मेने कहा क्या पंडित जी वो बोला की वो बाद मे बताऊँ उसने मूज़े अपना नंबर दिया और चला गया 2 मीं बाद मेरी फरन्डस भी आ गई हम ने उस रात तोड़ा बहुत एंजाय किया और सो गई . अगली दोफर हम मार्केट घूमे और हरिद्वार के लिए निकल गये वाहा हम ने एक धरामशाला ली और बॅग वगेरा रखे थोड़ा रेस्ट किया और निकल गये घूमने.
मेने रास्ते मे उस पंडित को फोन लगाया और उसने मुझे एक अड्रेस दिया मै अपनी फरन्डस से अलग होकर उसके अड्रेस की तरफ गई वाहा पर 2 कपल पहले से बैठे थे.

वो बोला की तुम शाम को आना मै अपने फरन्डस के पास गई हम ने दर्शन किए मंदिरो के और वापिस धरामशाला के लिए निकल गये शाम को मेने फ्री होकर पंडित को फोन किया उसने मुझे आने को कहा और खा की कपड़े ले आना पूजा कर लेते है मेने अपनी फरन्डस को कुछ बहाना लगाना था सो मेने वेट किया 10 ब्जे वो सो गई.
तब मेने कपड़े बॅग मे लिए और निकल गई पंडित ने अपना ऑफीस का शटर नीचे कर दिया और अंदर से लाइट ऑन थी वो मुझे ऑफीस के बॅक साइड ले गया उसने मुझे एक हवन कुंड के पास बिठाया और मेरे बालो को खोलने को कहा और उसने कुछ पूजा की मुझे कहा की बैठी रहो और खुद उठा और पानी की बाल्टी लाया और मुझे सारा भिगो दिया.

More Sexy Stories  मेरी फ्रेंड मुस्कान की चुदाई

मेने तब कुरती और जीन्स पहन रखी थी अंदर मेने पनटी और अंडरवाइयरर्ड ब्रा कुरती वाइट कलर की थी तो उसमे से मेरी ब्लू ब्रा नज़र आ रही थी उस पंडित का लंड खड़ा होना सुरू हो गया उसने खा की बेटी पूजा संपन्न हुई पर तुमको अब शिव लिंग को खुश करना है मेने कहा मै समझी नही वो बोले की बेटी तुम्हारा कास्ट दूर हो जाएगा उसके लिए तुमको मेरे साथ संभोग करना होगा मेने कहा क्यू पंडित जी.
उन्होने कहा की इसके बिना पूजा नही संपन्न है और उसने मुझे समझाया और मुझे अपने दूसरे ऑफीस के पीछे बने रूम मे ले गया वाहा पर एक बेड था उसने कहा बेटी तुम यहा पर कपड़े सुख़ाओ मै तुम्हारे कपड़े ला देता हू और वो मेरे दूसरे कपड़े लेने के लिए चला गया और 1 मीं मे वापिस भी आ गया और आकर उसने मुझे टवल दिया मेने अपनी बॉडी सॉफ की उसने अपने उपर के कपड़े उतार दिए..

और फिर उसने अपनी धोती खोली और नंगा हो कर बेड पर लेट गया और मुझे बुलाने लगा मेरे पास ओर कोई चारा नही था तो मेने वॉया खड़ी खड़ी ही अपनी कुरती उतरी और फिर जीन्स मै अब ब्लू ब्रा और ब्लॅक पैंटी मे थी.
फिर मेने वो दोनो भी उतार दिए और बालो का जूड़ा सा बनाया और बेड पर आकर बैठ गई वो पंडित ने कुछ मंतर सा पड़ा ओर बोला की बेटी लिंग को चूसो पंडित का कला लंड टन कर खड़ा था और मेने लंड को पकड़ कर चूसना स्टार्ट कर दिया मूज़े भी फुल मजा आने ल्गा मेरी चूत एक दम गीली हो गई थी मै इस पंडित का लंड मजे से चूस रही थी.

फिर वो पंडित खड़ा हुआ मुझे उसने बेड के किनारे लाया और नीचे आकर मेरी चूत चूसनी स्टार्ट कर दी वो पंडित गंजा और बूढ़ा था बट चूत अच्छे से चूस रा था मेने अपना पानी उसके मूह पर छोड़ दिया फिर वो मेरे साथ आकर लेट गया और मुझे बहो मे भरके कभी गालो पर किस करता कभी बूब्स चूस्ता मै 5 मीं मे फिर से रेडी हो गई.
मेने उस पाड़ित के उपर आ गई और अपनी चूत उसके लंड पर ले आई उसका लंड मेरे ब्फ जितना ही था 7.5 इंच का बट इस पर झुर्रिया थी मै धीरे धीरे इसके लंड पर बैठ गी अब पंडित मुझे चोदने लगा और मेरे बूब्स भी प्रेस करता फिर 5 मीं बाद हम ने स्टाइल चेंज की और मिशनरी पोज़िशन मे आ गये पंडित मुझे काफ़ी अच्छे से चोद रा था.

5 मीं बाद वो थोडा थक गया और हम डॉगी स्टाइल मे आ गये 2-3 मीं उसने मुझे डॉगी स्टाइल मे चोदा और बाद मे धक्के तेज कर दिए फिर 2 मीं बाद वो मेरी चूत मे ही झाड़ गया उसका काफ़ी माल निकला फिर हम दोनो थक कर बेड पर लेट गये मै 2 बार ऑलरेडी झाड़ चुकी थी उसका वीर्या मेरी चूत से बाहर आ रा था.
मै 5 मीं बाद उठी अपनी चूत सॉफ की और कपड़े पहनने लगी तो वो बोला की रात भर रुक जाओ सुबह चले जाना मैने कहा मुझे जाना है उसने कहा की चिंता मत करो एक ओर राउंड फिर चले जाना मेरा भी मूड बंन गया उसके बाद हम ने 2 ओर राउंड लगाए उसने बाद मे मुझे बताया की उसने मेरी सहेली को 2000 दिए थे सब इन्फर्मेशन देने के लिए मुझे मेरी फ्र्न्ड पर बहुत गुस्सा आ रा था.

वो बोला की तुम टेन्षन ना लो तुमको मजा आया और मेने भी यही सोच कर अपने रूम मे वापिस आ गई सब फ्र्न्द सो रही थी सुबह के 4 बजे मै रूम मे लौटी और चुप चाप आकर सो गई किसी को क्या हुआ कुछ पता नही चला..