पड़ोसी को पटा कर चुत चुदवा ली- 5

3सम सेक्स कहानी में पढ़ें कि मौसी ने अपने भानजे से सेक्स के बाद उसकी गर्लफ्रेंड को भी अपने सेक्स गेम में शामिल करके थ्रीसम सक्स और लेस्बियन का मजा लिया.

दोस्तो,
कहानी के पिछले भाग
मौसी को भानजे का लंड पसंद आ गया
में अब तक आपने पढ़ा था कि मीरा ने निखिल और रीमा के साथ थ्रीसम सेक्स की प्लानिंग कर ली थी.

उसने निखिल को दो चूतों की चुदाई के लिए तैयार करने के लिए उसके दूध में सेक्स पॉवर बढ़ाने वाली दवा भी मिला कर पिला देने की सोच रही थी.

अब आगे 3सम सेक्स कहानी:

मीरा अभी ये सब सोच ही रही थी कि तभी रितेश का कॉल आया कि आज उसको शहर जाना होगा क्योंकि उसे डिस्पेंसरी के लिए कुछ नए मेडिकल इक्विपमेंट्स आए हैं. उनको चैक करके शहर से लाना है, तो वो आज संडे को शाम को निकलेगा और मंडे शाम तक आएगा.

मीरा ने कहा- ठीक है … मगर रितेश तुमसे बिना चुदे तो मैं पागल हो जाऊंगी.
रितेश ने उसे फोन पर ही चूमते हुए कहा- अरे जान, दो दिन के लिए अपनी चुत को समझा लो … मैं वापस आकर तुम्हारी चुत का भोसड़ा बना दूंगा.

इस बात पर मीरा ने आह भरते हुए कहा- मेरी जान, अब तुम मेरी चुत का भोसड़ा बनाओ या पकौड़ा बनाओ … मैं तो तुम्हारे लंड की दीवानी हो गई हूँ.

रितेश ने मीरा को समझाते हुए कहा- अरे यार, तुम बस दो दिन रुक जाओ … और हां इस बीच मेरे नाम से तू अपनी चुत में कुछ मूली गाजर डाल लेना.
मीरा ने कहा- ओके जान, मुझे तुम्हारे आने का बेसब्री से इंतजार रहेगा.

रितेश ने कहा- मीरा मेरी जान, मेरी एक प्रॉब्लम और है. मेरे घर में रीमा अकेली है. इसलिए मैं रीमा को बोल देता हूँ कि आज की रात वो तुम्हारे घर पर रुक जाए.

ये सुनकर मीरा खुश हो गयी क्योंकि वो अभी रीमा को रात भर रोकने की तरकीब सोच ही रही थी.

उसने जल्दी से रितेश से कहा- हां हां, वो बेचारी अकेली कैसे रहेगी. मैं अभी उसको कह देती हूँ कि वो मेरे साथ ही आ जाए.

इसके बाद उन दोनों की बातचीत खत्म हो गई.

रितेश के गैरहाजिर रहने की खबर सुनकर मीरा भी आज रात की तैयारी में लग गयी.
वहां निखिल का मैसेज पाते ही रीमा ने भी अपनी चुत और बगलों के बाल की सफाई की और रात होने का इंतज़ार करने लगी.

तभी उसके पास रितेश का फोन आया कि मैं आज घर नहीं आ पाऊंगा और कल शाम तक घर पहुंच सकूंगा.

ये सुन कर रीमा की खुशी का ठिकाना नहीं रहा.
फिर जब रितेश ने उससे कहा कि उसको रात को मीरा के घर सोने जाना होगा, तो वो दोगुनी खुश हो गयी. वो रात भर चुदाई के सपनों में खो गयी.

ये बात उसने निखिल को भी बताई, तो निखिल भी खुश हो गया.
लेकिन निखिल ने उसे मीरा के खेल में शामिल होने की बात नहीं बताई.
वो तो ये सोच सोच कर मस्त हो रहा था कि आज की रात उसे दो चूतों को चोदने का मौका मिलने वाला है.

रात 9 बजे के क़रीब रीमा निखिल के घर पहुंच गई.
उसने एक टी-शर्ट और ट्राउज़र पहन रखा था.

मीरा, निखिल और रीमा ने एक साथ रात का खाना खाया.
फिर थोड़ी देर बैठ कर टीवी देखने लगे.

तभी मीरा ने सोने का बहाना करते हुए कहा कि मैं सोने जा रही हूँ, रीमा तुम भी टीवी देखने के बाद मेरे कमरे में आकर सो जाना.

मीरा ने जाते जाते निखिल को आंख मारी.
निखिल भी रीमा से नजर बचा कर मुस्कुरा दिया.

मीरा के जाते ही रीमा निखिल के पास आ गयी और अपना हाथ उसकी पैंट के ऊपर रख कर लंड सहलाने लगी.
वो चुदने के लिए तड़प रही थी.

निखिल ने उसे अपने ऊपर खींच लिया और उसके होंठ चूसने लगा.
साथ ही वो रीमा की टी-शर्ट के अन्दर हाथ डाल कर उसके चुचे सहलाने लगा.

रीमा पूरी तरह से वासना में खो गयी थी. वो भी उसके पैंट के अन्दर हाथ डाल कर लंड मसलने लगी.

More Sexy Stories  दोस्त की बीवी और साली मेरे लंड की दीवानी- 2

कुछ ही देर में निखिल ने रीमा की ब्रा और टी-शर्ट निकाल दी और उसके नंगे हो चुके मम्मों को मसलने लगा.
निखिल रीमा के एक मम्मे के निप्पल को जोर से चूसने लगा.

रीमा भी अपने एक दूध को पकड़ कर निखिल को पिलाने लगी.
उसको भी आज काफी दिनों बाद निखिल से चुदने का मौका मिला था तो वो भी एकदम गर्म थी.

निखिल उसकी चूची को खींच खींच कर पी रहा था, तो रीमा की मदभरी आवाजें निकलने लगी थीं.

इन आवाजों से निखिल ने मस्त होते हुए उसे और मस्ती से चूसना शुरू कर दिया.

तभी रीमा ने कहा- कमरे में चलते हैं … इधर हॉल में मीरा आंटी आ सकती हैं. एक बार चुदाई के बाद में मीरा आंटी के कमरे में चली जाऊंगी.
निखिल ने दूध मसलते हुए ओके कहा.

फिर रीमा ने निखिल से कहा कि वो एक बार मीरा आंटी के कमरे में देख आए कि वो सो गयी हैं या नहीं.

तब निखिल मीरा के कमरे की ओर गया और उसने देखा कि उसकी मीरा मौसी पहले से ही नंगी लेटी अपनी चुत सहला रही है.

निखिल अपनी मौसी के करीब गया और उससे बोला कि आप योजना के अनुसार 30 मिनट बाद मेरे कमरे में आ जाना, तब तक मैं रीमा को तैयार कर लूंगा.

ये कह कर वो अपने कमरे में गया, तो रीमा निखिल के कमरे पहुँच कर बेड पर लेटी उसके आने का इंतज़ार कर रही थी.

निखिल ने कमरे में आते ही रीमा को पकड़ लिया और उसका पजामा निकाल कर उसकी चुत सहलाते हुए उसके होंठ चूमने लगा.
एक हाथ से निखिल रीमा के मम्मे दबाने लगा.

रीमा भी अब पूरी तरह गर्म हो गयी थी.

उधर मीरा से रहा नहीं गया, वो नंगी ही निखिल के कमरे के बाहर खड़ी होकर उन दोनों की चुदाई का खेल देखने लगी.
वो अपनी चूत और मम्मों को सहला रही थी.

तभी निखिल की नज़र उस समय मीरा पर पड़ गई, जब वो रीमा की चुत चूस रहा था.
रीमा आंख बंद करके कराह रही थी और अपने बूब्स मसल रही थी.

निखिल ने मीरा की इशारे से अन्दर बुलाया और मीरा भी योजना अनुसार अपना नाइट गाउन अपने कमरे से ले आयी और उसे पहन कर जोर से दरवाजा बजाते हुए खोल दिया.

मीरा ने सीन देखा और चिल्लाते हुए कहा- ये सब क्या हो रहा है!

रीमा की आंखें खुल गईं और मीरा को देख कर वो एकदम से घबरा गयी.
निखिल भी बनावटी डर दिखा रहा था.

दोनों मीरा के सामने गिड़गिड़ाने लगे.
रीमा ने कहा- आंटी, मैं और निखिल एक दूसरे से बहुत प्यार करते हैं. लेकिन अब से मैं ऐसा नहीं करूंगी.

वो दोनों माफ़ी मांगने लगे.

रीमा की बुरी हालत देख कर मीरा ने उसे उठाया और कहा- जवानी में ऐसा जोश आ जाता है, तुम मुझे अपना दोस्त ही समझो. मैं तुम दोनों के लिए रितेश से उनकी शादी बात करूंगी.

इस बात से रीमा थोड़ा खुश हो गयी.

फिर मीरा ने अपना असली दांव खेलते हुए कहा- पहले तुम दोनों अपना ये खेल पूरा करो, वो भी मेरे सामने … ताकि मैं देखूं कि तुम लोग शादी के लायक हुए भी हो या नहीं.

रीमा ये सुनकर सोच में पड़ गई.

मीरा ने उससे कहा- रीमा तुम भी मेरा दुःख समझो कि इतने सालों से मैं भी कैसे बिना लंड के रहती आई हूँ.
रीमा को मीरा की बात समझ नहीं आई कि ये किस तरह से खुल कर लंड चुत बोल रही हैं.

मीरा ने तभी अपनी दूसरी शर्त रखी कि प्यार निखिल तुमसे ही करेगा पर वो आज से हम दोनों की चुदाई करेगा.

रीमा को अब तक खेल समझ आने लगा था और वो थोड़ा सोचने लगी थी कि उसे तो निखिल के लंड से चुदने से मतलब है. यदि मीरा भी निखिल से चुदती है तो ये तो उसके लिए एक सेफ चुदाई का अड्डा बन जाएगा.

More Sexy Stories  ना-ना करते चुद गयी हरियाणवी छोकरी- 1

इस तरह से मीरा ने रीमा को अपनी बातों के जाल में उलझा लिया और निखिल के जोर देने से रीमा मान गयी.

रीमा बोली- लंड तो औरतों की प्यास बुझाने के लिए ही होता है. मैं तो कुछ दिन में ही बिना लंड के पागल हो गयी हूँ. जबकि आप तो काफी समय से बिना लंड की चुदाई के हैं.

फिर मीरा नंगी हो गई और रीमा के होंठों को चूम कर उसे थैंक्यू बोलने लगी.

अब कमरे का माहौल फिर से रंगीन होने लगा था. वो दोनों बैठ गईं और निखिल का लंड को बारी बारी से सहलाने लगीं.
कुछ ही देर में वो दोनों निखिल के लंड को चूमने लगीं और एक दूसरी की चूत में भी उंगली करने लगीं.

निखिल ने मीरा को उठाया और उसे बेड पर चित लिटा कर उसकी चूत चाटने लगा. मीरा ने रीमा को इशारा किया और अपने मुँह पे उससे चुत रखने को कहा.

मीरा किसी अनुभवी चुदक्कड़ रंडी की तरह रीमा की जवान चुत चूसने और चाटने लगी.
रीमा भी उसके होंठों और जीभ पर अपनी चुत रगड़ने लगी.

यहां निखिल भी मीरा की चुत चाट रहा था और मीरा उसका सर पकड़ कर अपनी जांघों में दबा रही थी.

थोड़ी ही देर में मीरा झड़ गयी और हांफने लगी.
रीमा उसके मुँह से उतर गयी और उसने निखिल को अपनी ओर आने का इशारा किया.

वो खुद घोड़ी बन गयी.
निखिल ने भी अपना लंड रीमा की चूत में पेल दिया और चुत चोदने लगा.
मीरा ये सब खेल बगल में लेटे हुए देख रही थी और रीमा के बूब्स दबा रही थी.

करीब बीस मिनट की चुदाई के बाद रीमा झड़ गयी.

तब तक मीरा भी गर्म हो गयी थी. उसकी चुत गीली होकर रस से भर गयी थी. उसने निखिल के गले में हाथ डाला और उसे अपनी ओर आने का इशारा कर दिया.

मीरा ने अपनी टांगें चौड़ी करके चुत खोल दी.
निखिल ने भी अपने मूसल लंड को अपनी मौसी की चूत में एक बार में ही पूरा उतार दिया.

मीरा के मुँह से सीत्कार निकल गयी.
वो दोनों धकापेल चुदाई करने लगे और एक दूसरे को चूसने लगे.

इतने में रीमा ने अपने होश सम्भालते हुए निखिल के चूतड़ों को पकड़ा और उन्हें सहलाने लगी.

रीमा निखिल से बोल रही थी- इस मीरा को और चोदो … आज इसकी बरसों की प्यास बुझा दो.

निखिल भी अपनी मौसी मीरा को ताबड़तोड़ चोदे जा रहा था.
मीरा भी निखिल के हर धक्के पर अपनी गांड उठा कर उसका जवाब दे रही थी.

फिर थोड़ी ही देर में वो दोनों झड़ गए.
रीमा मस्ती से उन दोनों को चुदाई के लिए शाबाशी दे रही थी.

लेकिन उसको क्या पता था कि मीरा तो अपनी चुदाई की प्यास निखिल से पहले ही पूरी करवाती आ रही है.

कुछ ही देर में तीनों 3सम सेक्स में थक कर एक दूसरे से लिपट कर सो गए.

आधी रात को मीरा को बिस्तर पर कराहने की आवाज आयी.
तो उसने देखा कि रीमा टांगें फैलाये निखिल का लंड अपनी चुत में ले रही है और आहें भर रही है.

मीरा बहुत थक गयी थी और उसे ऑफिस भी जाना था.

वो रीमा के सर को चूम कर सो गयी.
उस रात रीमा और निखिल ने खूब चुदाई की और सो गए.

सुबह मीरा उठी तो उसने रीमा को उठाया और वो काम वाली बाई के आने से पहले रीमा को अपने कमरे में ले गयी.

रीमा ख़ुशी से मीरा के गले लग गयी क्योंकि कल रात के बाद अब वो खुल्लम खुल्ला निखिल के साथ चुदाई का खेल खेल सकती थी.
साथ ही वो मीरा के साथ लेस्बियन सेक्स भी कर सकती थी.

इधर मीरा के दिमाग में रितेश के लंड से उसी की भतीजी को चुदवाने का प्लान घूम रहा था कि वो किस तरह से रीमा को रितेश से चुदवा दे और चारो लोग खुल कर चुदाई का मजा ले सकें.

दोस्तो, कैसी लगी मेरी 3सम सेक्स कहानी?
धन्यवाद.
[email protected]

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *