पड़ोसन भाभी को चुदाई कर के सॅटिस्फाइ किया

pados ki bhabhi ko satisfy kia हाय दोस्तो हाउ आर यू? मेरा नाम राजा है मैं उत्तर प्रदेश के गाज़ियाबाद सिटी मे रहता हू मेरी उमर 20 ईयर है और मैं इसकी काफ़ी स्टोरी पढ़ चुका हू सोचा चलो आज मैं भी अपनी पहली सेक्स की ट्रू भाभी की देसी चुदाई शेयर करता हू और सेक्स मे मैं बहुत दीवाना हू मैं सेक्स मे कुछ भी कॉंप्रमाइज़ नही करता.

तो दोस्तो ये मेरी पहेली स्टोरी आपको अगर कोई मिस्टेक हो गयी हो तो माफ़ करना और सुझाव देने हो तो मुझे मेरे ईमेल अड्रेस पे मैल करना. अगर कोई भाभी या कोई गर्ल मुझसे चुदना चाहती है ईमेल मी.

चलिए अब आपको बोर ना करते हुए अपनी स्टोरी पे आता हू.

हेलो दोस्तो मैं राजा अपनी और अपने पड़ोस मे रहने वाली भाभी की सेक्स कहानी आज आप सबको सुनाने जा रहा हू.

बात उन दीनो की है जब मैं समर वेकेशन मे समर ट्रैनिंग करने के लिए अपने दोस्त के फ्लॅट पे रुका था उसका फ्लॅट 20 फ्लोर पे था वो उस सोसाइटी की सबसे उची बिल्डिंग थी.

और मैं ज़रा आंटी को देख के दीवाना हो जाता हू उनकी मोटी गॅंड और चुचि मेरे होश उड़ा देती है जिसकी वजा से मैं हमेशा फ्लॅट की बाल्कनी मे खड़ा होकर उनको देखा करता था कभी बेडरूम मे लेटे तो कभी किचन मे ऐसेही मेरे दिन कट रहे थे मुझे क्या पता था की जल्दी ही मुझे जन्नत नसीब होने वाली है.

मेरे सामने वाले ब्लॉक मे एक आंटी रहती थी नेम आकाँशा(चेंज्ड) उनका फिगर 38 24 38 था हल्की सी चुब्बी थी वो हमेशा शॉर्ट नाइटी मे अपने किचन मे काम करती और मैं उन्हे देखता रहता ये सोचते हुए काश इन्हे चोदने का मौका मिले. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

कुछ दिन ऐसेही चलता रहा. फिर एक दिन सोसाइटी के शॉप मे घर के कुछ समान लेने गया वाहा वो अपने 3 साल के बच्चे के साथ थी और बारिश का मौसम था तो वो जैसे ही शॉप से बाहर निकली स्लिपरी फ्लोर की वजा से गिर पड़ी उनके पैरो मे मोच आ गयी मैं ये मौका कैसे छोड़ देता भाग के उनके पास गया और उनकी कमर मे हाथ डाल कर उठाया चैर पे बैठा के पानी पिलाया.

More Sexy Stories  मनीषा की चुदाई उसको पटा के

कुछ देर बाद वो फिर चलने की कोशिश करने लगी पर पैर मे मोच की वजा से गिर पड़ी और उनको पकड़ने के लिए मैं आगे बढ़ा तो मेरे हाथो मे उनके बड़े बड़े बूब्स थे उफ़फ्फ़ क्या मुलायम मुलायम चुचे थे फिर वो उठी और मुझसे रिक्वेस्ट की घर तक ड्रॉप करदु उनका समान.

घर पहुच के उन्होने मुझे सोफे पे बैठ ने को कहा और पानी मे गिरने की वजा से उनकी ड्रेस गंदी हो गयी थी तो वो चेंज करने चली गयी मैं उनके बेटे के साथ खेलने लगा.

लेकिन जब 5 मीं बाद वो चेंज कर के आई तो दोस्तो क्या बताउ आपको मेरे होश ही उड़ गये वो उस शॉर्ट नाइटी मे थी ब्लॅक कलर की और शायद उन्होने अपनी ब्रा उतार दी थी क्यूकी उनके बूब्स लटक रहे थे मन कर रहा था अभी पकड़ के चोद दू.

बट फिर मैने अपने आप को कंट्रोल किया और उनको एक सेक्सी सी स्माइल दी वो आके मेरे बगल मे सोफे पे बैठ गयी मुझे ही पता था मैं कैसे कंट्रोल किया था मैने.

फिर हम दोनो ने कुछ बाते की (उनके हज़्बेंड एचसीएल मे जॉब करते थे और ज़्यादा तर आउट ऑफ टाउन ही रहेते थे)तभी पॉवेर कट हो गया वो अपने बच्चे को पकड़ने के लिए भागी और ग़लती से मेरे उपर गिर गयी और मेरे लिप्स उनके लिप्स से टच हो गये तभी लाइट आगई वो उठी और मैं भी उठ के जाने लगा हम दोनो ने नंबर एक्सचेंज किए.

कुछ दिन ऐसेही बीते जब भी वो बाल्कनी मे आती थी तो हेलो होता था उनके हज़्बेंड वापस अगये थे इसी लिए मेरी भी हिमत नही होती थी उनके घर जाने की.

More Sexy Stories  मेरी पड़ोसन जसमीत भाभी की चुदाई

एक दिन उनका मेसेज आया “हेलो”मैं तो समझ ही गया की वो है बट मैं भी इग्नोर करते हुए पूछा ”हू’स दिस”. उनका रिप्लाइ आया मैं आकाँशा तुम्हारी बाल्कनी फ्रेंड.

मैने बोला “ओह आप हो” फिर ऐसेही कुछ देर हमारी चॅट हुई.

फिर शाम को उनका मेसेज आया की फ्री हो मैने क्यू मौका छोड़ू उनके साथ ना रहने का मैने भी बोला हा. उन्हे शॉपिंग करने बाहर जाना था तो उन्होने मुझसे रिक्वेस्ट की मैं उन्हे ले चलु उनके हज़्बेंड के कार से.

फिर एक घंटे बाद हम दोनो निकले शॉपिंग करने वाहा जाके मुझे पता चला की उन्हे ब्रा पैंटी लेनी थी वो वाहा देखने लगी तो एक ब्रा थी सेक्सी वाली तो मैने इनडाइरेक्ट्ली बोला ये लेलो अछी लगेगी फिर उन्होने एक नॉटी सी स्माइल देते हुए बोला अछा एंड उसेही खरीद लिया मैने सोचा नही वही लेनी होगी बट मुझे क्या पता था की वो भी मुझसे चुदने के लिए बेताब है.

थोड़ी बहोत और शॉपिंग करने के बाद हम थोड़े स्नॅक्स लिए . उन दीनो रब्ता मूवी आई हुई थी तो आंटी ने बोला चलो मूवी देखते है मैने बोला ओके. फिर हमने रात 10:30 वाला शो की टिकिट ली उनका बेबी सो चुका था और रात वाले शो मे मेन्ली जीएफ़&बीएफ या फिर न्यूली मॅरीड कपल्स थे आधे तो हॉल मे सेक्स करने ही आए थे.
फिर मूवी स्टार्ट हुई हमारी बगल वाली सीट के कपल्स ने किस करना स्टार्ट कर दिया उनको देख के आंटी और जोश मे आगई उन्होने मेरा हाथ पकड़ लिया मैं भी अंजान बनते हुए पूछा क्या हुआ तो वो बोली कुछ नही. मैं भी मौके का फ़ायदा उठा ते हुए उनके हाथो हो प्यार से सहलाने लगा. वो इतनी गरम हो चुकी थी अपने बगल वालो को देख के की उन्होने मेरे लॅंड पे हाथ रख दिया.

Pages: 1 2

Comments 1

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *