पड़ोसन ज्योति आंटी ने मुझे चोदना सिखाया

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम संजय है और मैं नयी मुंबई का रहनेवाला हूँ. मेरी उम्र 23 साल की है और मेरा लंड 6 इंच लम्बा और साड़े 3 इंच मोटा है. इसके पहले मैंने अभी कोई कहानी नहीं लिखी है और आज ये मेरी पहली ही पेशकश है. मैं डेली सेक्स की कहानियाँ पढता था इस साईट पर और लंड हिलाता था. तब मैं वर्जिन था और मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं थी. ये कहानी मेरी पड़ोसन आंटी के साथ की है. और उस आंटी के साथ ही मेरे को अपनी लाइफ का पहला सेक्स अनुभव मिला था. अब मैं आंटी को चोद चोद के इतना अनुभव ले चूका हूँ की अब मैं किसी भी लेडी को खुश कर सकता हूँ.

तो ये कहानी मेरी पड़ोसन ज्योति आंटी की है. वो एक बच्चे की माँ है और उनकी एज 35 साल की है और वो अभी भी दिखने में एकदम टकाटक ही है, जैसे की उसकी नयी नयी शादी हुई हो और बदन थोडा खुला हो. आंटी की हाईट करीब 5 फिट 3 इंच की हे और आंटी का फिगर 32 30 34 है और वो दिखने में एकदम कातिल है. मैंने जब पहली बार उसको देखा तो मुझे लगा की कोई लड़की है वो. लेकिन बाद में पता चला की वो तो बच्चे की माँ है. पहले तो मैं उसके साथ कोई बात नहीं करता. और वो ऑलमोस्ट डेली हमारे घर आती थी जिस से मेरे को गुस्सा भी आता था की वो कभी भी घर पर आ जाती थी.

ये बात आज से कुछ 3 महीने पहले की है. आंटी के डेली आने से मेरा ध्यान उसके फिगर पर जाने लगा था. और मेरे मन में भी अब उसके लिए इंटरेस्ट आने लगा था. और फिर आंटी मेरे को अच्छी लगने लगी थी. तभी उन दिनों मैं इन्टरनेट के ऊपर आंटी को चोदने की कहानियाँ भी पढता था. इसलिए मेरा मन भी ज्योति आंटी को चोदने को करने लगा था. जब भी वो अब मेरे घर आती थी तो मैं उसे घूरता रहता था. कभी वो झुकती थी तो उसके मेक्सी के अंदर लटकने वाले बूब्स को देखता रहता था. और वो दिन में ऑलमोस्ट मेक्सी पहन के ही घुमती थी और हमारे घर भी मेक्सी में ही आती थी. धीरे धीरे मैं उस से बातें करने लगा था. और वो भी बहुत अछे से हँसते हुए बातें करती थी मेरे साथ. और वो जोक्स कह के हंसाती भी थी.

More Sexy Stories  बीबी के भोसड़े में बाप का लंड

एक दिन जब जब वो हमारे घर आई तो वो दरवाजे में खड़ी थी जो हॉल और किचन को कनेक्ट करता था. तब मैं किचन से कुछ सामान ले के बहार आ रहा था. और मेरा मन उसको देख कर पागल हो रहा था. तो पता नहीं उस दिन मेरे अंदर उतनी हिम्मत भी कहा से आ गई. मैंने बहार आते समय जानबूझ के अपने हाथ को आंटी के बूब्स पर टच करवा दिए कोहनी के पास. हाथ में सामान था इसलिए बहाना तो था ही. और आंटी के बूब्स को टच करने के चक्कर में हाथ में जो सामान था वो निचे गिर गया. आंटी ने मेरे को देख के स्माइल दिया और फिर मेरे कंधे के ऊपर हलके से मार के बोला, जरा धीरे से. मैंने भी आंटी को एक स्माइल दे दी. और फिर वो दिन ऐसे ही निकल गया.

फिर दुसरे दिन जब आंटी हमारे घर आई तो उसने नयी साडी पहनी हुई थी. और साल्ली क्या गजब की माल लग रही थी. आंटी का ब्लाउज भी एकदम कसा हुआ था उस दिन जैसे अपने नाप से छोटा पहन के आई हो. और आज वो जानबूझ कर मेरे को अपने बूब्स काफी बार दिखा रही थी. और उसकी गांड भी क्या मस्त लग रही थी उस चमकती हुई साडी में. कुछ दिन पहले तक उसके घर आने से मुझे गुस्सा आता था और अब उसके आने से मेरा लंड खड़ा होने लगा था.

मैं बार बार उसे ही देख रहा था और वो मेरे को. आँखों ही आँखों में इशारे होने लगे थे. मैंने आंटी को इशारे से बोला की वो बड़ी मस्त लग रही थी. और उसने स्माइल दे के मेरे को थेंक्स किया. फिर जब मेरी माँ कुछ काम से बाहर गई 2 मिनिट के लिए तो आंटी ने बोला, आज मैं खीर बना रही हूँ खाने आओगे?

More Sexy Stories  फर्स्ट सेक्स पहले प्यार के साथ

मैंने कहा, कब बना रही हो?

वो बोली, जैसे ही तुम घर आओगे?

मैंने कहा, मुझे दूध वाली चीजें बहुत पसंद है.

वो बोली, आ जाओ फिर.

मैंने कहा, ओके.

फिर माँ आ गई और आंटी मेरे को स्माइल दे के चली गई. मैंने माँ को कहा मैं आता हूँ मार्केट जा के. और फिर मैं चुपके से घर से निकल के आंटी के घर गया. आंटी किचन में ही थी और उसने पतीली में दूध चढ़ा दिया था जिसे वो चम्मच से हिला रही थी. मैंने कहा आप अकेली ही हो?

वो बोली, हां तभी तो तेरे को बुलाया.

और ये कह के उसने हंस दिया.

मैंने पीछे से आंटी की गांड देखी और मेरे लंड में झुनझुनाहट सी होने लगी थी. मैं उसके पास गया और कहा आप क्या कर रही हो? वो बोली बोला तो तुम्हारें लिए खीर बना रही हो?

मैंने कहा, मेरे लिए?

वो बोली, हां सिर्फ तुम्हारें लिए!

और ये कह के उसने मेरी तरफ देखा. हम दोनों की आँखे मिली और ना उसने आँखे हटाई और ना मैंने. मैं उसके करीब गया आँखों में आँखे डाल के. आंटी की साँसे अब मेरे को सुनाई दे रही थी. उसके बूब्स के ऊपर का हिस्सा देखा तो पता चला की वो जोर जोर से साँसे ले रही थी इसलिए वो हिस्सा ऊपर निचे हो रहा था. मैंने आंटी की कमर में हाथ रखा और वो कुछ भी नहीं बोली. मैं उस से एक ही इंच दूर था! आंटी ने मुझे अपनी तरफ खिंच लिया और मेरा लंड उसके पेट कके ऊपर लग रहा था क्यूंकि वो हाईट में मेरे से ऑलमोस्ट एक फिट कम थी. उसने मेरे बाल पकडे और मेरे होंठो के ऊपर अपने होंठो को लगा दिया. मैंने हाथ से उसकी कमर को खिंच लिया और हम दोनों किस करने में ऐसे तल्लीन हो गए की दूध उभर के निचे गिर गया.

Pages: 1 2

Comments 3

  • Agr Koi aesi sexy bhabhi ya aunty jinke husband unko satisfy Nahi krte h to vo lady mujhe mail ya contact kre m aapko vo maja dunga jo aaj tk Nahi mila aapko m aapko upper se niche tk chatunga jeeb se phir uske bad aapke boobs ko chus Chus chuskr Lal kr dunga phir uske bad Aapki chut aur gand ke hole ko pura andr tk chatunga jeeb se phir uske bad Aapki chut aur gand ke hole pr chocolate lgakr chatunga uske bad apne lund se chudai krunga m sex krte time aapke andr Ak janwar jga dunga

  • 7821913261 anyone girls ,bhabi ya aunty sex krna chahti h call me

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *