पड़ोस के अंकल ने मम्मी की चुदाई की

सभी दोस्तो को मेरा नमस्कार .मै इस वेबसाइट का रेग्युलर रीडर हू.सारी चुदाई पड़कर मैने सोचा क्यू ना आज मै भी अपनी कहानी आप सब के साथ शेयर करू लेकिन एक बात कहूँगा की.. कहानी पड़ने से पहले अपने लंड को हाथ मे निकाल लो क्यूकी कहानी पड़ने के बाद बिना लंड हिलाए नही रह सकोगे. ये मेरी पहली सेक्स कहानी है अगर कोई ग़लती हो तो माफ़ करना.

अब ज़्यादा समय वेस्ट ना करते हुए चलिए अब कहानी पर आते है
मेरा नाम निखिल है. मै म.प के एक छोटे से गाव मे रहता हू. मेरी उमर 24 साल है. मेरे परिवार मे मम्मी पापा और बस मै हू. हमारा खेतीबाड़ी का काम है. और मेरे पापा किसान है, बात उस समय की है जब मै 10 साल का था. पापा का नाम अशोक और मम्मी का नाम ममता है. पापा की एज 34 और मम्मी की एज 31 साल थी वो बहुत ही सेक्सी थी. उसके चूतड़ मोटे मोटे थे और दूध भी सूट से बाहर आने को रहते थे

रंग गोरा और हाइट 5.6 थी.
जवानी से भरपूर यौवन की देवी थी.वो हमेशा सूट सलवार पहनती थी और सलवार मे उसके चूतड़ कहर बरसते थे. हमारी गली के सभी अंकल उनपर लाइन मारते थे लेकिन मेरे पापा बहुत गुस्से वाले थे इसलिए मम्मी किसी से ज़्यादा बात नही करती थी

ह्मारे पड़ोस मे एक फॅमिली रहती थी जिनका घर बिल्कुल ह्मारे घर से मिलता था दोनो घरो के बीच मे एक छोटी सी दीवार थी जिसे आसानी से कूद कर आया जा सकता था. उस फॅमिली मे एक अंकल रहते थे जो 41 के आस पास होगे

वो ह्मारे घर आते रहते थे क्यूकी उनके खेत बिल्कुल हमारे पास थे

वो मेरी मम्मी से काफ़ी बाते करते थे ख़ास्कर तब जब पापा घर पर नही होते थे
बात सर्दियो की है जब एक रात पापा खेत पर गये थे तो मै मम्मी के पास सो रा था उनकी रज़ाई मे क्यूकी मै छोटा था और अकेले सोने मे मुझे डर लगता था.

रात को मेरी आँख खुली तो मुझे मम्मी की पायल बजने की आवाज़ सुनाई पड़ी.

अभी मै टाय्लेट के लिए उठने ही वाला था की इकडम से मम्मी के मुह से उईईईईई माआ की आवाज़ निकली. मुझे लगा मम्मी को दर्द हो रा है शरीर मे कही पर इसलिए वो ऐसा कर रही है.

मै मम्मी से पूछने ही वाला था की इस बार बेड थोड़ा सा हिला और मम्मी फिर से कराह पड़ी आआअहह माआ मॅर गईइई उफफफफ्फ़ आआआआ आआ..

इस बार मुझे लगा जैसे रज़ाई मे कोई और भी है और मै सोचने लगा कोन हो सकता है. क्यूकी पापा तो पूरी रात के लिए खेत पर गये है. मै सोच ही रा था की मम्मी फिर से बोली उूुुउउस्स्स्स्स आआहह अयाया ब्सस्स ब्सस्स आआ और रज़ाई मैं तेज़ी से कुछ हलचल हुई और बेड थोड़ा सा हिला.

मै समज नही पा रा था क्या हो रा है क्यूकी मैने पहले ऐसा कभी नही सुना और देखा था. मै सोच ही रहा था की बेड जोरो से हिलने लगा और मम्मी की पायल भी बजने लगी लेकिन इस बार कोई आवाज़ नही आई. पर थोड़ी देर मे मुझे किसी मर्द के बोलने की आवाज़ सी सुनाई दी और मै सोचने लगा ये पड़ोस के अंकल इस वक़्त यहा क्या कर रहे है मेरी मम्मी के साथ.
तभी उन्होने मम्मी से कहा ममता लाइट जला लू. मै बताना भूल गया मेरी मम्मी का नाम ममता है. मम्मी ने कहा नही चिंटू जाग जाएगा ऐसे कर लो बस.अंकल ने कहा मुझे तुम्हारा रूप देखना है रोज ऐसे कुछ मज़ा नही आता मुझे. ये सुन कर मै शॉक्ड सा हो गया इसका मतलब अंकल पहले भी मम्मी की चुदाई कर चुके है.

More Sexy Stories  गर्लफ्रेंड की मॉं के साथ मज़ा

मै अब थोडा सा मम्मी की तरफ को हो गया और मम्मी से टच हुआ तो मुझे एहसास हुआ वो बिकुल नंगी लेटी है.

अब मैने अंदर देखने के लिए मूह रज़ाई के अंदर किया लेकिन मुझे कुछ दिखाई नही दे रा था ब्स एक अलग से मादक खुसबु आ रही थी.
मै देखने की पूरी कोशिस कर रा था बस मुझे रज़ाई उपर नीचे उठी नज़र आ रही थी तभी मुझे रज़ाई मे पुचह उच और ठप ठप की आवाज़ आने लगी और ममी भी आआहह आआहह उईईईई आआहह करने लगी और ठप ठप तेज़ी से होने लगी..

अंकल बोले धीरे बोल ममता नही तो चिंटू जाग जाएगा मम्मी बोली रोज नही जागता तो आज कैसे जागेगा तो अंकल जोश मे आ गये और तेज़ी से धक्के लगाने लगे अंकल के हर धकके पर मम्मी की आहह निकल जाती तभी अंकल बोले गर्मी लग रही है और उन्होने रज़ाई हटा दी
लेकिन मैने रज़ाई से एक होल बना लिया और देखने लगा मुझे अब थोड़ा थोड़ा दिख रा था. मम्मी अंकल के नीचे बिल्कुल नंगी लेटी थी और अंकल उनके उपर चड़ड़े हुए थे.
थोड़ी देर बाद अंकल अलग हुए और उन्होने मम्मी को घोड़ी बनने के लिए कहा और मम्मी के गोल चूतादो मे मूह दे दिया और बोले ममता तेरे चूतादो की खुसबु मुझे पागल करती है और ये कहकर अपनी ज़ुबान मम्मी की गांद पर फेरने लगे.

मम्मी तो पागल हो गई और ज़ोर ज़ोर से आहे भरने लगी उईईईई माआ आअहह उम्म्म्मम आआहह मार गईइई ब्ससस्स उफफफफ्फ़ आआअहह ब्सस्स करो ब्सस्स भी करो उम्म्म्मम.

अंकल कुछ देर ऐसा करने के बाद हट गये और अपना लंड मम्मी की गांद पर फिराने लगे तो मम्मी बोली ऐसे नही जाएगा तो अंकल हसे और मम्मी के आगे आ गये
मम्मी ने अंकल का पूरा लंड एक झटके मे मूह मे ले लिया और चूसने लगी अंकल आहे भरने लगे मम्मी लंड चूस्ते चूस्ते एक उंगली अंकल की गांद मे देने लगी अंकल को भी मज़ा आ रा था कुछ देर ऐसे ही चलने के बाद अंकल मम्मी के पीछे आ गये और लंड मम्मी की गांद मे डालने लगे.

More Sexy Stories  कज़िन साली की दिल्ली मे चुदाई

मम्मी ने भी अपनी गांद को दोनो हाथो से फैलाया और बोली अब जल्दी करो ब्सस्स तो अंकल ने धीरे से गांद के छेद पर लंड लगाया और धका देने लगे तो मम्मी रो पड़ी आआहह माआ बहुत दर्द हो रा है पर अंकल के लंड का सुपरा अंदर जा चुका था और उन्हे बहुत मज़ा आ रा था इसलिए उन्होने एक धक्का और लगाया तो मम्मी उहह उहह करने लगी क्यूंकी वो चिल्ला भी नही सकती थी मेरे उठने के डर से..
और इस बार अंकल ने ज़ोर का झटका मारा और लंड पूरा अंदर इस बार मम्मी ने अपनी चीख रोकने की पूरी कोशिस की लेकिन रोक नही पाई और आआआहह म्ररररर गईिईई उनके मूह से निकल ही गया आआआहह एयेए बहर करो उफफफफ्फ़ आअहह बहुत दर्द हो रा है अयाया आआ आआअहह पर अंकल पर उनकी बातो का कोई असर न्ही हो रा था वो अपने धक्को की स्पीड बड़ाने मे लगे हुए थे.

थोड़ी देर ऐसे हे धक्के मारने के बाद अब मम्मी का भी दर्द कम हो गया था और वो बसस उम्म्म्म एयाया उसामम्म आआ करने लगी और अपनी गांद अंकल के लंड पर आगे पीछे करने लगी अब दोनो को पूरा मज़ा आ रा था ऐसे ही चुदाई चलने के बाद अब अंकल मम्मी की गांद को पकड़ कर मसालने लगे और आहह आहह करने लगे और ज़ोर ज़ोर से धकके लगाने के बाद हट गये
ममी भी अब खड़ी हो गई और अंकल से लिपट गई थोड़ी देर ऐसे ही रहने के बाद दोनो अलग हुए और अंकल ने मम्मी के सलवार से अपना लोड्ा पोछा और कपड़े पहनने लगे फिर अंकल वही बेड पर बैठ गये.

और मम्मी से बाते करने लगे और बोले अगली बार मोका कब मिलेगा तो मम्मी बोली जब तुम्हारा मन करे और हसणे लगी अंकल ने कहा कैसे तो वो बोली कल मै खेत मे जाउगी उनका खाना लेकर क्यूकी वो पूरी रात से वही है तो क्यू ना कल खेत मे भी थोड़ी चुदाई हो जाए.
इस पर अंकल खुश हुए लेकिन उदास होते हुए बोले वाहा तो मनोज होगा फिर कैसे होगा. तो मम्मी बोली ये तो तुम्हे देखना होगा कैसे तुम उसकी बीवी को उसके सामने चोदोगे.

अंकल कुछ सोचने लगे फिर अपनी मूछो पर ताव देते हुए बोले अब तो उसके सामने ही चोदउँगा तुम भी देखना ये कहकर उन्होने मम्मी के होटो को चूसना सुरू कर दिया मम्मी ने भी उनका पूरा साथ दिया और अपनी जीभ उनके मूह मे डालने लगी ये किस बहुत देर तक चली..

फिर मम्मी बोली चलो अब तुम जाओ आज इतना बहुत है.थोड़ा कल के लिए भी बचा कर रखो और दोनो हसणे लगे. फिर अंकल ने मम्मी को हग किया और चले गये और मम्मी भी कपड़े पहन कर मेरे पास आके सो गई.