नयी गुजराती भाभी के चक्कर मे

दोस्तो आई लव यू, मैं विराट चौधरी, एक बार फिर आया हू आपके सामने अपना नया अनुभव शेर करने, आपने मेरी पहले भी मेरी कई हिन्दी सेक्स स्टोरी पड़ी होगी डीके पर.

मैं आपको बताना चाहूँगा मैं मूल रूप से राजस्थान का रहने वाला हू, और अभी 6 महीने पहले मैने गुजरात मे जॉब शुरू किया है, मेरी हाइट 6 फिट है और मैं गाओं का रहने वाला हू इसलिए मेरा बॉडी भी फिट है, अब मैं आपको अपनी स्टोरी पर लेकर जाता हू सो लेट्स एंजॉय एंड शेर युवर कॉमेंट आफ्टर रीडिंग.

जब मैं गुजरात मे जॉब करने आया तो मैं कंपनी के गेस्ट हाउस मे रहता था जो एक सोसायटी मे था जहा बहुत से परिवार रहते है, मेरी एक आदत है सुबह अर्ली मॉर्निंग मे रन्निंग करने की, तो मैं यहा भी एक पार्क मे रोज़ाना जाता था, जहा बहुत भीड़ रहती थी.

लगभग 2 महीनो बाद मुझे पता लगा की जिस फ्लॅट से मैं आता हू उसी के पास के फ्लॅट से एक भाभी भी आती रोजाना टहलने के लिए, मैं उसका पीछा करने लगा और उसका टाइमिंग नोट किया.

वो रोज सुबह मे 4.30 पर घर से निकलती थी तो मैं भी उसके साथ के लिए 4.30 पर निकलना शुरू कर दिया, पहले दिन जब मैं उसको लिफ्ट मे मिला तो कोई बातचीत नही हुई पर मैने उसकी खूबसूरती को काफ़ी नज़दीकी से देखा मैं मस्त हो गया था एक जवान माल को रन्निंग सूट मे देख कर.

जब मैं पार्क के ट्रॅक पर रेस लगा रहा था तो मैं बार बार उसका ध्यान आकर्षित करने के लिए उसके पास से गुज़रता, पहला दिन ऐसे ही बीत गया, 3-4 दिन बाद रेग्युलर लिफ्ट मे साथ रहने से हमारे अंदर नॉर्मल बाते होने लगी और हम साथ मे जाने लगे.

एक दिन मैं ऑफीस के काम से लेट सोया तो मुझे सुबह जाने का मूड नही हुआ तो अगले दिन उसने पूछा आप कल क्यो नही आए तो मैने कहा नींद नही खुली इस लिए नही आ पाया.

More Sexy Stories  अपनी रिसेप्षन वाली आंटी को चोदा

तो वो बोली मुझे अपना नं, देदो मैं आपको जगा दिया करूँगी, मैं जो चाहता था वो अपने आप कुद्रत ने कर दिया, हम दोनो ने नं, शेर किए, अब तो हम आछे से खुल गये थे, हम व्हत्सप्प पर भी मेसेज करने लगे.

अब मैं आपको उसके बारे मे बताता हू उसका नेम रेखा है बदला हुआ, एज उसकी 25 है उसके बताए अनुसार, और उसकी शादी को अभी 6 महीने हुए है जिसके कारण उसकी जवानी मे दुगना नशा छा रहा था.

उसका पति एक कंपनी मे जॉब करते है, उसके पति थोड़े मोटे है और सिंपल है ऑफीस के काम मे ज़्यादा बिज़ी रहते है.

हम व्हत्सप पर थोड़े खुलने लगे और नोनवेज मेसेज करने लगे, एक बार मैने थोड़ी ड्रिंक कर रखी थी तो मैने व्हत्सप पर अडल्ट चॅट शुरू कर दी.

मैं – क्या हो रहा है.

र, – कुछ नही सोने की तैइय्यारी है.

मैं इतने जल्दी अभी तो 10 बजे है.

र – हा.

मैं – अभी तो आप का रियल टाइम शुरू हुआ है और आप सोने की तैइय्यारी कर रहे है.

र – हा वो सब हो चुका है जिसके बारे मे आप बात कर रहे हो.

मैं – व्हातत्तटटटटटतत्त.

र – हा.

मैं इतना जल्दी कैसे.

र- वो सिंपल तरीके से करते है.

हमारी ऐसे ही बाते होती रही एक बार मैने उससे पूछा ऐसे तो ज़्यादा मज़ा नही आता होगा तो वो बोली हा बट क्या करे, मैने हस्ते हुए बोला कभी हमे ट्राइ करके देखो तो वो हस कर बोली कभी मौका मिलेगा तो देखेंगे कितना दम होता है जट मे.

मैं चकरा गया वो हर मामले मे मुझसे अड्वान्स लग रही थी.

ऐसे ही दिन गुजरते गये हम रोज सेक्सी बाते करने लगे.

More Sexy Stories  बारिश की रात भाभी के साथ

एक दिन वो दिन आ गया जिसका मुझे इंतजार था मकर संक्रांति के दिन हमारा पूरा स्टाफ घूमने निकला तो मैने तबीयत खराब होने का बहाना बना कर छुट्टी मार दी और उसको मेसेज किया की आजा देखते है किसमे कितना है दम.

वो बोली आधे घंटे मे आती हू मार्केट का बहाना करके, मैं वेट करने लगा.

थोड़ी देर बाद वो आ गई.

घर मे घुसते ही मैने उसको उठा लिया वो लाल साड़ी पहने थी बिल्कुल पटाका लग रही थी.

और बेड पर पटक कर चूमने लगा दबा कर उसके उपर गिर गया, और होटो को चूसने लगा वो छट पटाने लगी लगभग 15 मिनट बाद मैने उसको आज़ाद किया तो वो बिल्कुल लाल हो चुकी थी मैं उसके साइड मे लेट गया.

थोड़ी देर बाद मैने उसको पानी पीने के लिया दिया तो वो बोतल को फेक कर बोली ये पानी तो मैं घर पर ही पी लेती फिर यहा क्यो बुलाया है मैने झट से उछल कर बेड पर आया.

और उसकी साड़ी को खोल दिया और पेटिकोट को उठा कर उसकी पैंटी के उपर नाक रगड़ कर सूंघने लगा बहुत मादक खुशबू आ रही थी वो भी मधहोश होने लगी, मैने दोनो हाथो से उसके बूब्स दबाने शुरू कर दिए अब वो तडप रही थी और सिसकारिया भर रही थी.

मैने उसके ब्लौस के हुक खोल कर अलग कर दिया, और उसके रसीले होटो को चूसने लगा, मेरा एक हाथ उसके बूब्स मे था और दूसरा उसकी पैंटी के उपर से चुत को सहला रहा था , वो भी मेरे बालो को पकड़ कर मेरी जीभ और होटो को चूस रही थी.

15 मिनट बाद मैने उसका पेटिकोट खोला तो वो खड़ी होकर मुझे धक्का देकर गिरा दिया और मेरे अपर बैठ कर मेरी शर्ट उतारने लगी और मेरी छाती को चूमने लगी.

Pages: 1 2