मेरी बहेन रेशमा की मस्त चुदाई

हेलो रीडर्स मैं अब अपना लाइफ का पहला स्टोरी आपके सामने पेश करने जा रहा हू जोकि मेरे लाइफ की सच्ची घटना है. ये कहानी मेरे बहन रेशमा पे आधारित है जोकि मेरे मामा की बेटी है. वो दिखाने मे सावली है पर वो बोहोत ही सेक्सी दिखती है, वो क्लास 12 मे पढ़ती है. बात तब की है जब मैं अपने मामा के घर गया था मैं बेसिकली पटना (बिहार) से हू. मैं अक्सर छुट्टियो मे गाओ जाता रहता हू मैं इसबार गाओ ना जा कर मैं अपने मामी के यहा चला गया मैं वाहा बोहोत दीनो बाद गया था वाहा मैने जब अपनी बहन को देखा तो वो बोहोत बड़ी हो चुकी थी वो अब क्लास 12थ मे चली गई थी. मैने उसे आखरी बार जब वो क्लास 8 मे थी तब ही देखा था उसे अब वो जवान और सेक्सी हो चुकी थी मैने उसे देखते ही मेरे मन मे उसके बारे मे ग़लत ख़याल आने लगे. मेरे मन मे बस यही चल रहा था की कैसे मैं उसको पटौ और उसको चोदु एक तरफ मुझे डर लग रहा था की वो रिश्ते मे मेरी बहन लगेगी पर क्या करू चुत और लंड का कोई रिश्ता नही होता है.

तबसे मैं उसका दीवाना हो गया वो जो बोलती थी वो करता था मैं और वो जो बोलती थी वो लाकर देता था मैं. धीरे धीरे क्लोज़्नेस बढ़ता गया हम दोनो के बीच मे पर जो मेरी मामी थी वो बहुत ही अजीब टाइप की औरत थी शक भारी निगाहो से देखती थी मुझे. अब हम दोनो के बीच मे मॅग्ज़िमम बाते शेर होने लगी. तो मैने उसे अपनी जाल मे फसाना शुरू कर दिया मैने एक झुटि कहानी बनाई जिसमे मुझे मेरी जीएफ़ छोड़ कर चली जाती है वो सुनकर वो बोहोत सॅड हो गई मैने उसे पूछा की क्या बात है तो उसने मुझे ज़ोर से हग कर लिया और बोला की भैया आप बोहोत ही आछे हो. मैं तुरंत समझ गया की मेरा प्लॅन काम कर रहा है उसके बाद मैने उसमे जलन लाने के लिए उसके दोस्तो से बात करना शुरू कर दिया वो बोहोत जलती थी जब मैं उसके दोस्तो से बात करता था तब. एक दिन वो बोली मुझे की मत बात कीजिए आप मेरे दोस्तो से तो मैने पूछा क्यू.

More Sexy Stories  भाई को पटाकर मर्द बनाया

तो वो बोली की मैं आपसे प्यार करती हू मैं सुनकर तोड़ा शोकेड होने का नाटक किया और मैने उसे बोला की तुम ये क्या बोल रही हो पागल तो नही हो गई हो ना तुम तब उसने बोला की मैं आपसे प्यार करती हू तो करती हू ये मेरा फाइनल डियिसन है. मेरा प्लॅन फुल्ली काम कर रहा था मैं बस अब मौके की तलाश मे था तभी मुझे एक मौका मिला पर 3 मंथ के बाद मौका मिला. जब रेशमा की मम्मी यानी की मेरी मामी के भाई का शादी था. मामा, मामी, नानी ये लोग चले गये थे शादी मे 10 दिन पहले से ही बस घर मे मेरी बहन और उसका भाई था बस . उन दीनो का क्लास था इसी लिए नही गये थे उसका भाई थोड़ा बेवकूफ़ टाइप का लड़का है. जब ये बात मुझे पता चली तो मैं नानी के यहा चला गया और देखा की शाम हो गया है और मेरी बहन और मेरा भाई घर मे बैठ के पढ़ रहा है मेरी बहन मुझे देखते ही खुश हो गई.

फिर रात को हम लोगो ने खाना खाया और सोने चले गये मैं और उसका भाई एक ही रूम मे सो गये और रेशमा अलग रूम मे सोई थी जब रात के 12 बज रहे थे तब मैं जगा और रेशमा के रूम मे चला गया. वो जाग गई मैने उससे पूछा की कैसी हो तो वो बोली की आप यहा क्या कर रहे है भाई देख लेगा तो बवाल हो जाएगा तो मैने बोला की कुछ नही होगा. तो वो बोली की उसे मेरी बोहोत याद आ रही थी तो मैने बोला की तो कॉल क्यू नही की तो वो बोली की किया था पर बॅलेन्स ख़तम हो गया था.. हम दोनो बात करते रहे तभी लाइट चला गया और मैने उसे किस कर दिया. तो वो बोली की भैया आप पगाल हो क्या ये आपने क्या किया हा. तो मैने बोला की प्यार मे ये सब कॉमन है तो वो बोली की ग़लत है ये सब तब मैने उसे किस करता ही गया . थोड़ी देर बाद वो भी मेरा साथ देने लगी वो भी मुझे किस करने लगी. मैं धीरे धीरे किस करते करते उसका बुब्स दबाने लगा वो मोन कर रही थी.

More Sexy Stories  18 साल की बहन की चुदाई

मैं उसके बाद उसका टॉप हटा दिया और उसके बूब्स सक करने लगा वो पूरी उतावली हो चुकी थी मैं लगातार उसके गले पे उसके होटो पे और उसके बूब्स पे किस करता ही रहा. वो तड़पने लगी तो मैने धीरे से अपना हात उसके पैंटी के उपर बढ़ाया उसने मेरा हाथ रोक लिया और बोला की नही भैया ये नही. तो मैने बोला की कुछ नही होगा तब भी वो नही मानी तो मैने बोला ठीक है मैने हाथ हटा लिया. फिरसे मैं किस करता ही रहा और एक बार अचानक से उसके पैंटी के अंदर हात डाल दिया और उसके चुत मे एक उंगली डाल दिया उसने फिर रोका पर मैं नही माना इस बार वो पूरा मोन करने लगी अया आ अया आ करने लगी तभी वो पहली बार झड़ गई. तब मैने नही रोका बाद मे मैने अपना खड़ा लंड उसके हात मे दे दिया. वो मेरा लंड पकड़ के हिलाने लगी मैने उसे बोला की मेरे लंड को मूह मे लेलो तो वो नही मानी मैने बहुत मिन्नते की तब जाके वो आख़िर मे मूह मे लिया उसने.

Pages: 1 2

Comments 11

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *