माया मिली मुझे महानगरी ट्रेन मे

हेलो दोस्तो. कैसे है आप सब? आप सब लोगो ने मेरी लास्ट की 3 स्टोरी को इतना पसंद किया. सो आज मैं आपके लिए एक न्यू और हॉट स्टोरी शेयर करने आया हू. मेरा नाम गौरव है. और मैं वाराणसी से हू. एज 23 है. और मैं यहा से यूजी कर चुका हू. सो ये स्टोरी है अक्टोबर 2015 की है. दीवाली मे मैं अपने घर बॉम्बे से लौट रहा था. भाई ने कहा की फ्लाइट से चला जाउ. लेकिन मेरा मन नही था. सो मैने सोचा फ्लाइट के बजाए ट्रेन का मज़ा लेते हुए जाउ. क्यूंकी फ्लाइट बहुत बार गया हू. ट्रेन से कम ही जाता हू. सो मैने महानगरी की ए.सी की टिकेट ली. वेटिंग था. मैने क्वाट लगवा कर. कन्फर्म करवा लिया. मुझे साइड अपर मिला. सो मैने टाइम से स्टेशन पहुच गया. मैने देखा की आस पास बहुत भीड़ थी. सो ट्रेन आई मैं चढ़ गया. मेरे बर्त के उस साइड कपल और ओल्ड मॅन थे ट्रेन मे.

बट मैने सोचा इस साइड लोवर पे कौन होगा. मैने सोचा जो भी अभी बैठता हैं. कुछ देर बाद एक मॅरीड वुमन आई. एज लगभग 32 के आस पास रही होगी. लेकिन क्या बताउ दोस्तो एकदम माल लग रही थी. साइज़ होगी 34.36.38 की. उसके मस्त बुब्स. आई और बोली. एक्सक्यूस मी ये मेरी सीट हैं मैने कहा ओके मॅम. आप बैठ जाओ. मेरी उपर वाली है. उसने कहा कोई नही. फिर उपर सीट पे चला गया. ट्रेन चल दी. मैं लॅपटॉप मे मूवी देखने लगा. उसके बाद रात तो थी ही, क्यूंकी 12 बजे की ट्रेन थी. सो मैं बाथरूम जाके फ्रेश हो गया. उसके बाद आया तो देखा लेडी जागी हुई थी. सो मैने कहा मैं बैठ सकता हू. उन्होने बोला हा क्यू नही. मैने बोला आप कहा जा रहे हो. उन्होने बोला विएनएस. मैने पूछा बॉम्बे मे घर है. उन्होने कहा नही. उनके हज़्बेंड जॉब करते है. सो दीवाली मे आई थी. सो मैने पूछा आप विएनएस से बिलॉंग करती हो. उन्होने नही वाराणसी मेरा ससुराल है.

बिलॉंग यू.पी से करती हू. और हज़्बेंड अभी न्यू कंपनी जोइन की मीडीया लाइन मे. बस आई हुई थी बॉम्बे 4 मंत से. अब मैं जा रही हू. क्यूंकी मेरे जॉब लग गयी है वाराणसी मे बॅंक मे. सो उन्होने आप क्या करते हो. मैने बोला मैं विएनएस से यूजी कर रहा हू. बॉम्बे मेरा होमटाउन है. बिलॉंग यूपी से ही करता हू. हमारी बात चित होने लगी. मैं उनके बात पे कम उनके बुब्स पे ज़्यादा ध्यान दे रहा था. उन्होने बताया की मार्च मे उनका और हज़्बेंड का ट्रान्स्फर न्यू देल्ही हो जाएगा. वो उनका घर भी है. फिर हमारी बात चित जारी रही. कुछ देर मैं सोने चला गया. अगली सुबह उठा फ्रेश हुआ. उसके बाद खाया पिया. फिर हम बाते करने लगे. मैने पूछा आप एफबी या व्हातसाप पे हो. तो उन्होने एफबी आईडी दी. अब शायद वो मेरे नियत समझ गयी थी बट बोल नही रही थी. सो हम बाते करते करते क्लोज़ आ गये. उन्होने पूछा कोई जीएफ़ है.

More Sexy Stories  भाभी और उनकी कामवाली के साथ ग्रूप सेक्स

मैने कहा थी. बट धोखा दे दिया. मैं उन्हे पूरी स्टोरी बताई उनके आँखो मे अपने प्रति हमदर्दी देखा. मैं खुश हुआ. फिर हम विएनएस आ गये. हमारी बात एफबी से अब कॉल तक पहुच गयी. हम क्लोज़ आ गये. आपको उनका नाम बता दू. नाम था. माया. सो उन्होने बोला की उनका पति उनके साथ ज़्यादा सेक्स नही करता है. और उन्हे सॅटिस्फाइड भी नही कर पता है. सो मैने सोचा मौके पे चौका मारू. लेकिन मेरी आदत है. मैं साला डरता बहुत हू. सो हम डेली बात करते थे. सो अब मैने उन्हे आई लाइक यू तक भी कह दिया था. फिर वो मेरे से नाराज़ हो गयी. और कुछ दिन बात नही की. फिर एक दिन उनका कॉल. आया. मैं क्लास से निकल रहा था. सो उन्होने कहा मुझे मिलना है तुमसे. तो मैने बोला कहा . उन्होने बोला उनके घर आउ. बात से तो लग रहा था. की वो बहुत ज़्यादा गुस्से मे है. लेकिन मैने कहा जो होगा वो देखा जाएगा. मैं उनके घर पहुचा. क्या नाइटी पहनी हुई थी. देख के किसी का भी खड़ा हो जाए. मेरा हो गया.

फिर मैं अंदर गया. क़ॉफ़ी पिया. उन्होने बोला खाना खाए नही हो जी. मैं बना रही हू कुछ खा लो. उन्होने खाना बनाया . मैने खाया. क्या खाना बनाया था. की आदमी अपनी उंगली भी खा जाए. फिर मैं बैठ कर टी.वी देखने लगा. और वो नहाने चली गयी. मैं टी.वी पे मूवी देख रहा था. यामला पागला दीवाना . फिर वो आई. और मैने कहा आप यहा अकेली रहती उन्होने बोला नही. लोग रहते है बट अभी एक फंक्षन मे गये है. परसो आएँगे. फिर हम घूमने निकल गये. मैं उनके साथ मॉल गया. फिर हम सारनाथ गये घूमने. ये बात थी फेब 2015 की. ठंड का मौसम था. हम नाइट का डिन्नर साथ मे किए होटेल मे. मैने बोला. अब मैं चलता हू. उन्होने बोला कहा जा रहे हो. मैने बोला फ्लॅट. उन्होने कहा चलो अभी मेरे घर कुछ देर रुकना फिर जाना. मैं गया उनके रूम पे. वो फ्रेश होके चेंज करके आई. क्या लग रही थी नाइटी मे.

More Sexy Stories  पुणे मे जॉब देकर चुदाई की

एक हॉट हॉट माल. फिर हम बाते करने लगे. मैने कहा आप बहुत अछी लग रही हो वो एक सेक्सी स्माइल दी. मैं उनके गालो को छुआ वो कुछ नही बोली. फिर मैं उनके गाल पे किस किया फिर मैं उनके होटो को अपने होटो से सटा कर लीप किस्सिंग करने लगा. वो मधहोश हो रही थी. फिर मैं उनके गर्दन पे किस किया. उसके बाद मैं धीरे धीरे उनके बुब्स को पकड़ के ज़ोर ज़ोर से प्रेस करने लगा. वो आहे भरने लगी. मैं उनके नाइटी को उतार दिया उन्होने ब्रा नही पहना था. मैं उनके बुब्स को चूसने लगा. और दूसरे को दबाने लगा. फिर मैं उनकी पैंटी पे हाथ रखा और सहलाने लगा. वो आआ ह्ह्ह्ह्ह्ह. आहे भर रही थी. फिर मैने पैंटी उतारा और फिंगरिंग करने लगा. वो मज़ा ले रही थी. फिर मैं उन्हे सक करने लगा. वो मुझे अपने पैरो से कस के दबाए हुई थी मेरे सिर को. सांस लेना भी मुस्किल था. बट आप लोग जानते हैं मुझे सक करना बहुत पसंद है.

Pages: 1 2