मालेगाओं की आंटी की चुदाई

हेलो ऑल डीके रीडर्स, मैं साहिल मालेगाओं से एक बार फिर हाज़िर हूँ एक और नयी घटना के साथ, ये कहानी है एक आंटी की है जो मुझे बस स्टॅंड पर मिली, हुआ ये की मैं अपने रिलेटिव को लेने के लिए बस स्टॅंड पर गया और वाहा पहुचने के बाद मालूम हुआ की बस एक घंटा लेट है, मैं पास मे रखे हुए टेबल पर बैठ कर बस का वेट करने लगा, कोई 10 मिनट बाद एक आंटी फुल पिंक ड्रेस मे बिल्कुल हॉट एंड सेक्सी ड्रेस पहन कर मेरे पास आ कर थोड़ा दूर बैठ गयी, मैं चोरी-चोरी उनके फिगेर को देखने लगा और कई बार तो उनसे नज़र भी मिल जाती और फिर उन्होनो पूछा बस कब आएगी, मैने बता दिया फिर मैने पूछा आपको कहा जाना है तो उन्होने कहा नाशिक, मैं तो बात करते हुए भी उनके बूब्स को देख रहा था और उसने ये नोटीस कर लिया था और एक बार उन्होने पूछ ही लिया क्या हुआ क्या देख रहे हो, मैने कहा कुछ नही बस देख रहा हूँ तो वो बोली बस तो सामने से भी दिखेगी तुम कुछ और देख रहे हो, मैं बोला हान जब कोई इतनी मेहनत कोई चीज़ दिखना चाहे तो देखना ही पड़ेगा, दरअसल उन्होने अपने बूब्स को काफ़ी टाइट बाँध रखा था फिर वो समझ गयी की मैं किस चीज़ की बात कर रहा हूँ.

वो एक नोटी स्माइल देकर बोली सिर्फ़ देखते ही हो या कभी छुआ भी है तो मैं बोला तुम खुद ही आज़मा के देख लो, फिर वो अपने हॅंडबॅग मे सिर झुका कर कुछ कर रही थी फिर बस आ गयी और आंटी खड़ी हो गयी मेरा दिल उदास हो गया, लेकिन फिर जब वो जाने के लिए पलटी तो एक कागज ज़मीन पर गिरा मैं तो बहुत खुश हो गया, मैने आगे बढ़कर वो कगाज़ उठाया तो उसपर उनका फोन नंबर लिखा था और नीचे लिखा था रेडी फॉर फन मैने अपने रिलेटिव को बस से पिक कर के घर ले गया, फिर रात को उस नंबर पर मिस कॉल दिया फिर उन्होने कॉल बॅक किया, फिर हमारी बात स्टार्ट हुई और उन्होने मेरा नाम और मेरे लॅंड का साइज़ पूछा और फोन सेक्स भी किया और नेक्स्ट संडे को सेक्स के लिए मीटिंग फिक्स हुई, क्योकि उनके पति कहीं जाने वाले थे और फिर एक-एक दिन बड़ी मुश्किल से निकला तब-तक हम हर रोज़ फोन सेक्स करते रहे, फिर संडे को मैने एक दम अछी ड्रेसिंग मार के कॉंडम लेके रात को आंटी के घर पहुचा, आंटी का घर मालेगाओं के थोड़ा आउटसाइड एरिया मे था और घर पहुच कर मैने बेल बजाई आंटी ने दरवाज़ा ओपन किया अरे ये क्या आंटी ने तो सिर्फ़ ब्रा एंड पैंटी पहन रखी थी.

More Sexy Stories  Meri garam bhabhi ki sex ki pyas bujhaye

मेरा लॅंड तो पैंट मे ही बंबू बन गया बिना टच किए और फिर मैने आंटी को गले लगा कर एक फ्रेंच किस करदी और उनकी तारीफ करने लगा, आंटी ने कहा क्या लोगे और मैने कहा सब कुछ तो वो बोली मैने कब रोका है पर कॉफी या टी मैने कहा गरम दूध मिलेगा तो वो हंस कर बोली लगता है एक ही दिन मे सब इंतेज़ार का बदला लेलोगे क्या, फिर वो दूध लेकर आई और मुझे दिया और मेरी पैंट पर हाथ रख कर बैठ गयी वाउ उनके बदन से बहुत सेक्सी खुशबू आ रही थी, मैने आधा दूध पिया और बाकी टेबल पर रख दिया और फिर हमने एक लंबा स्मूच किया और फिर धीरे-धीरे मैं उनके बूब्स को प्रेस करने लगा, वो मुझसे बिल्कुल चिपक कर आहें भरने लगी और मैने उन्हें किस करते-करते बेड पर लिटा दिया और फिर उनकी नेवेल पर लव बाइट्स देने लगा अहह, मैने अब तक उनके सारे कपड़े रिमूव कर दिए थे और अपनी जीभ उनके जी पॉइंट पर घुमाना शुरू कर दिया, वो मेरे बालों मे ज़ोर-ज़ोर से उंगलियाँ घुमाने लगी और मैने अपनी बड़ी उंगली उनकी चुत मे डाल कर घहराई नापने लगा, वो चिल्लाने लगी अहह ईईईईहह वूऊओवव्व मज़ा आ रहा कूवूल ऊवंन्न प्लीज़ फक मी हार्ड बहुत अछी तरह से चुत चाट रहे हो.

मेरे पति तो चुत पर नज़र भी नही डालते इसी लिए उनको बहुत मज़ा आ रहा था, वो बोली अब मेरी बारी है और जल्दी-जल्दी मुझे फुल न्यूड कर दिया और मुझे लेटा कर मेरे लॅंड पर धावा बोल दिया अहह अगर लॅंड चुसवाने का मज़ा चाहिए तो मॅरीड विमन ही दे सकती है, फिर मैं झड़ गया और आंटी ने मेरे सारे माल को लस्सी की तरह तस्त करके चाट लिया और फिर हम 69 पोज़िशन मे आ गये और एक तरफ चुत की और दूसरी तरफ लॅंड की चूसाई जारी थी, फिर मेरा लॅंड जंग के लिए तैयार हो गया और मैने आंटी को खड़ा करके बेड के सहारे झुका दिया और पीछे से लॅंड को चुत मे डाल कर चुदाई चालू कर दी, आंटी चिल्ला उठी ओह्ह्ह मेरी चुत फाड़ दी रे आअहह एस एस यू आर वेरी हॉट फक मी हार्ड कम ऑन मी बॉय, वो जैसे बाते बोले जा रही थी मैं बहुत तेज़-तेज़ धक्के लगा रहा था और फिर मैने पोज़िशन चेंज कर दी, अब मैने आंटी को दीवार पर एक हाथ से खड़ा किया और उनकी एक टाँग को अपने हाथ मे लेकर चोदने लगा, वो बहुत एंजॉय कर रही थी और मुझे तो आज बस चुत फाड़ डालने का मन हो रहा था, इसी लिए मैं उन्हें हर पॉर्न स्टाइल मे चोदे जा रहा था और इसी तरह पूरी रात उनको हर स्टाइल मे चोदा.

More Sexy Stories  पुरानी क्लासमेट की चुदाई

Pages: 1 2