मकान मालिक ने मालिश करने के बहाने चोद लिया

हलो फ्रेंड्स, मैं जूही आप सभी का स्वागत करती हूँ. मैं हरियाने की रहने वाली हूँ. मेरी शादी हो गयी हूँ और अभी पटियाला में अपने पति के साथ रह रही हूँ. मेरा पति एक मजदूर है तो पास की एक फैक्ट्री में काम करता है. मैं अभी घर पर सिलाई का काम करती हूँ. अपने पति के साथ मैं किराये के मकान में रह रही हूँ. सबसे पहले मैं आप लोगो को अपने बारे में बता देती हूँ. मेरी उम्र 27 साल ही हो चुकी है और मैं बहोत ही सेक्सी औरत हूँ. मेरे को सेक्स करना और चुदना बहोत पसंद है. पर फ्रेंड्स मेरा पति अच्छी तरह से मेरे को चोद नही पाता है. उसका लंड 4 इंच का है. वो मेरे को कवी भी अच्छे से चोद नही पाता है और इसी वजह से मैं हर बार प्यासी रह जाती हूँ. कितने दिनों ने मेरा दिल कर रहा था की किसी लम्बे और मोटे लंड को अपनी चूत में लेकर सेक्स करूं.
कुछ दिनों पहले की बात है मेरा मकान मालिक मेरे कमरे पर आया था. वो मेरे को घूर घूर के देख रहा था. मैं उस समय अपने घर पर थी और सिर्फ ब्लाउस पेटीकोट पहनी थी. मेरा जिस्म नीचे से उपर तक भरा हुआ था. मकान मालिक मेरे को सेक्स की नजर से देख रहा था. ऐसा लग रहा था मेरे को चोदना चाहता है.

मालिक: जूही!! मेरे को इसी समय किराया दे. आज 1 तारिक है
मैं: अवि तो मेरा मर्द घर पर नही है बाबु जी. शाम को मैं किराया खुद लेकर आपके कमरे पर जा जाउंगी
वो मेरे को बार बार नजर से देख रहा था. फिर मेरे ब्लाउस के बिच देखने लगा. फ्रेंड्स मैंने आगे से गहरा ब्लाउस पहना था जिसमे मेरे दूध बहोत ही सेक्सी दिख रहे थे. गोल गोल दूध तने हुए थे. अब मकान मालिक दूध की तरफ देखने लगा.
“बाबू जी!! ऐसे आप क्या देख रहे हो. नही जानते की किसी दूसरे मर्द की बीबी को देखना गलत होता है” मैंने बोला
“जूही!! मेरी बीवी भी तेरी तरह सेक्सी औरत थी पर उसे कैन्सर हो गया और वो मर गयी. जूही!! तू तो बहोत गरीब है. तेरा मर्द तो कम पैसा ही कमा पाता है. ऐसे कर तू मेरे को किराया मत देना. तू आराम से इस घर में रह. पर शाम को आकर मेरी मालिश कर दिया कर” मकान मालिक बोला
उसकी बात सुनकर मैं समझ गयी थी की वो मेरे को चोदना चाहता है. वो मेरे साथ सेक्स करेंगा. रात को मेरा मर्द घर लौटा. फिर उसे खाना परोसने के बाद वो मेरे ब्लाउस को खोलने लगा. धिरे धीरे उसने मेरे को पूरी तरह से नंगा कर दिया. अब अपना 4 इंच लंड मेरी चूत में घुसाकर जल्दी जल्दी चोदने लगा. अब तो मैं मकान मालिक को याद कर रही थी. क्यूंकि वो 7 फुट लम्बा मर्द था और मेरे को भरोसा था की उसका लंड भी 7 इंच का होगा. मेरा पति मुझे चोदने लगा. मैं “ओह्ह माँ….ओह्ह माँ…उ उ उ उ उ……अअअअअ आआआआ….” करने लगी. पर पुरे समय मैं अपने हट्टे कट्टे मकान मालिक के बारे में सोच रही थी. फिर पति ने मेरे को कुछ देर चोदा. पर हर बार की तरह इस बार भी मेरे को मजा नही आया. क्यूंकि पति का लंड सिर्फ 4 का था.

More Sexy Stories  मेरे ही दोस्त मेरी मेरी सगी बहन के साथ क्या सेक्स

अगले दिन शाम के 4 वजे मैं अपने मकान मालिक के पास चली गयी. उसके घर में और भी नौकर थे. काफी पैसे वाला आदमी था वो. मेरे को उसने देखा और मुस्कुराने लगा.
मालिक: आजा जूही आजा. कल से मैं तेरी राह देख रहा हूँ. चल मेरे बदन में अच्छे से मालिश कर दे. कबसे बदन टूट रहा है
मैं: मालिक मैं भी आपकी सेवा करने को व्याकुल हूँ. आज के जमाने में कौन मकान मालिक किराया माफ़ करता है. आप इंसान नही भगवान हो. आप हजारो साल जियो!!
उसके बाद मैं उसके साथ कमरे में चली गयी. मालिक ने दरवाजे को अंदर से बंद कर दिया और कुण्डी लगा दी. मेरे को लग गया था की आज वो मेरे को अपने मोटे लंड से चोदेगा. उसने अपने कपड़े निकाल दिए और पेट के बल लेट गया. मैंने सरसों के तेल से उसकी मालिश शुरू कर दी. मेरे को मालिश करना अच्छा लगता था. मेरे को ये काम बहोत पसंद था. मैं उसकी पीठ रगड़ रगड़ कर मलने लगी. उसे बहोत सुकून मिल रहा था. उसे मेरी सेवा पसंद आ रही थी. उसकी पूरी पीठ पर मैंने अच्छे से मालिश कर दी. वो सिर्फ कच्छा पहने था. अब मैं उसके पैर में तेल लगाने लगी. फिर जोर जोर से रगड़ रगड़ पर मालिश करने लगी थी. मालिक की बॉडी किसी पहलवान की तरह बनी थी. रोज सुबह उठकर वो दंड पेलता था. कुश्ती के अखाड़े में जाकर कुश्ती करता था. जिम भी जाता था.
रोज 2 से 3 लिटर दूध पीता था. इसी वजह से उसकी बॉडी बड़ी सेक्सी दिख रही थी. अब मैं उसके घुटनों और जांघो पर हाथ से मलने लगी. कुछ देर बाद मेरा हाथ और उपर उसके पोते पर चला गया और गलती से मैंने उसकी गोलियों को छू लिया. मैंने 2 घंटे मेहनत से उसके सेक्सी बदन को अच्छे से मला. वो बहोत खुश हुआ. मैंने साड़ी पहनी थी जो बहोत पुरानी थी. मकान मालिक ने अपनी जेब से 500 के 2 नोट निकाले और मेरे को थमा दिया.

More Sexy Stories  पड़ोसन ज्योति आंटी ने मुझे चोदना सिखाया

मालिक: जूही!! तेरी साड़ी फट गयी है. देख ये पैसे लेकर अच्छी से साड़ी ले ले और मेरे पास आकर रोज की मालिश कर दिया कर. अब मैं तेरे से घर का किराया नही लूँगा क्यूंकि तू मेरे को अब अच्छी लगने लगी है
मैं: क्या सच में मैं आपको अच्छी लगती हूँ??
मालिक: हाँ!! तेरे को देखकर मेरे को मेरी औरत की याद आती है
मैं ये बात सुनकर मुस्कुरा दी. मालिक ने अपना हाथ मेरे हाथ के उपर रख दिया.
मालिक: जूही!! मेरा तेरे से प्यार करने का दिल करता है
वो बोले और मेरे हाथ को पकड़कर मेरे को पास लाने लगे. अंदर से मेरा भी चुदने का दिल था तो मैंने भी कुछ नही बोला. फिर मालिक ने मेरे को बिलकुल करीब खींच लिया और गालो पर चुम्मा देने लगे. मेरे को बिलकुल पास कर लिया और बाहों में भर लिया. फिर तो बार बार चुम्मा देने लगे. अब मेरे को भी मजा आने लगा. मैं भी अपनी तरफ से किस करने लगी. दोनों की आशिक बन गये. आज मेरा भी दिल था की मालिक के मोटे लंड से चुदवा लूँ. इस लिए मैंने कुछ नही बोला. मेरे को उन्होंने सीने से लगा लिया और सब जगह चुम्मा देने लगे.
मेरे गाल, गले, और फोरहेड पर कई बार किस किया. अब मेरे ब्लाउस पर हाथ रखकर दूध दबाने लगे. फ्रेंड्स, मेरे दूध 36 इंच के थे और बहोत रसीले थे. मेरा फिगर 36 30 34 का था इसलिए मैं बहोत हॉट औरत दिख रही थी. इसके साथ ही मेरा रंग चांदी जैसा गोरा था. मैं सेक्सी औरत दिख रही थी. अब मालिक मेरे ब्लाउस के उपर से दूध दबाने लगे. मैं परेशान होकर “ओहह्ह्ह…ओह्ह्ह्ह…अह्हह्हह…अई..अई. .अई… उ उ उ उ उ…” करने लगी क्यूंकि मेरे को बहोत सेक्सी लग रहा था. अब तो मालिक जैसे पागल हो गये और मेरे ब्लाउस के बटन उपर से खोल दिए और हाथ अंदर डाल दिया. मेरे दोनों 36 इंच के दूध सफ़ेद ब्रा में कैद थे. मालिक ने मेरे दूध पकड़ लिए और जोर जोर से मसलने लगे. अब तो मेरे को नये तरह का मजा मिलने लगा. मकान मालिक ने 15 मिनट तक वारी वारी से मेरे दोनों दूध को दबा लिया. मुझे अपने पास ही लिटा दिया और उपर चढ़ गये. मेरा ब्लाउस को मालिक ने उतार दिया.

Pages: 1 2

Comments 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *