जवान स्कूल की लड़की की सील तोड़ी

Students Teacher Sex Story सभी लंड धारियों को मेरा लंडवत नमस्कार और चूत की मल्लिकाओं की चूत में उंगली करते हुए नमस्कार। स्टूडेंट्स टीचर सेक्स कहानी के माध्यम से आप सभी को अपनी स्टोरी सुना रहा हूँ। मुझे यकीन है की मेरी सेक्सी और कामुक स्टोरी पढकर सभी लड़को के लंड खड़े हो जाएगे और सभी चूतवालियों की गुलाबी चूत अपना रस जरुर छोड़ देगी।

हेलो दोस्तो मैं अरुण आज अपनी जिंदगी की पहली कहानी आप सब के लिए ले कर आया हूँ. ये कहानी एक दम सच्ची है क्योकि ये कहानी मेरी अपनी है. इससे पहले मैं इंटरनेट पर बहुत सारी हिन्दी सेक्स कहानिया पढ़ी हे. पर मुझे कही ना कही वो कहानिया झूठ लगती थी.

पर दोस्तो जब मेरे साथ ये हादसा सच मे हुआ तो मैं हैरान हो गया. मुझे अपने आप पर विश्वास ही न्ही हुआ. इसलिए मैं अपना किस्सा आप सब के सामने रख रा हूँ. मुझे उमीद है आप को मेरी ये कहानी पसंद आएगी. तो चलिए मैं आप सब का ज़्यादा टाइम ना लेते हुए सीधा अपनी कहानी पर ही आता हूँ.

दोस्तो ये बात आज से 2 साल पहले की है. जब मैं म.ब. ए कर रा था. उस टाइम मेरी उमर 24 साल थी. और मैं बहुत ही हॅंडसम और अच्छी बॉडी वाला लड़का था. मेरी हाइट 5’6 इंच है और मेरा रंग गोरा है. मैने अभी तक एक बार भी सेक्स न्ही किया था. पर फिर भी मेरा लंड 7 इंच का है. और मैने आज तक इतनी सेक्स स्टोरी पढ़ ली है, जिससे मुझे काफ़ी ज़्यादा सेक्स की नालेज हो गयी है. मुझे अच्छे से पता चल गया है की लड़की को केसे गरम करते है और आंटी या भाभी को.

मुझे इतना भी पता चल गया है की किस टाइम पर हमे चूत मे लंड डालना चाहिए और कब लड़की की चूत को चाटना चाहिए. मुझे अच्छे से पता था की ये नालेज मुझे किसी ना किसी दिन ज़रूर काम आएगी. मैं बस उस दिन का इंतेजर ही कर रा था. अब मैं आप को सब कुछ शुरू से बताता हूँ की केसे सब कुछ शुरू हुआ.

More Sexy Stories  मामी को शादी मे चोदा

मेरे घर मे मेरे मम्मी पापा और मेरी एक छोटी बेहन रहते थे. हमारा घर देहरादून मे था इसलिए वहाँ मौसम काफ़ी सुंदर बना रहता था. मैं शुरू से ही काफ़ी सीधा साधा लड़का था. मुझे अपने काम से ही मतलब था. मेरे ज़्यादा दोस्त न्ही थे इसलिए मैं हुमेशा स्टडी पर ही ध्यान देता था.

मैं स्टडी मे काफ़ी अछा था इसलिए मम्मी पापा ने मुझे म.ब. ए जोइन करने दिया था. अभी मुझे कॉलेज जाते हुए सिर्फ़ 8 महीने ही हुए थे तभी हमारे घर के पास एक खाली घर मे कोई रहने आ गया. कुछ ही दीनो मे पता चला की वहाँ पर सिर्फ़ 3 लोग ही रहते है एक आंटी और उसके दो बच्चे. आंटी के हज़्बेंड आउट ऑफ कंट्री गये हुए थे.

आंटी जॉब करती थी और उसका बेटा स्कूल मे पढ़ता था और उसकी बड़ी बेटी वो भी स्कूल मे +2 मे पढ़ रही थी. उसकी लड़की का नाम दिशा था और उसकी उमर 19 साल थी. वो बहुत ही खूबसूरत थी एक दम परि की तरह लगती थी.

खूबसूरत होने के साथ साथ वो बहुत ही सेक्सी और हॉट भी थी. उसका फिगर 30-28-30 था और बहुत ही सेक्सी थी. वो यहाँ शिमला से आई थी और आप सब दोस्तो को एक बात बता दू की पहाड़ो की लड़किया बहुत ही गोरी होती है.

जो की दिशा थी, वो मुझे पहले दिन से ही बहुत घूर कर देख रही थी. पर मैने उस पर ज़रा भी ध्यान न्ही दिया. दिशा मेरी बेहन के साथ बहुत घुली मिली हुई थी. मेरी बेहन मुझे अपनी सारी बातें बताती थी. और जब दिशा उसकी फ्रेंड बनी तो उसने मुझे आते ही बता दिया. मेरी बेहन ने मुझे बताया की दिशा आपके बारे मे मुझसे बहुत कुछ पूछती है.

More Sexy Stories  मेरी चूत चुदवाने की ललक

मैने उसको कुछ न्ही कहा और अपनी स्टडी मे अपना पूरा ध्यान रखा. कुछ दिन और ऐसे ही निकल गये. और फिर एक दिन जब मैं कॉलेज से वापिस आया तो मेरी बेहन ने मुझे कहा की भैया क्या दिशा को मेद्स की ट्यूशन दे दोगे. मैं कुछ न्ही बोला फिर वो बोली प्लीज़ भैया अगर आपने भी ना कह दिया तो वो फैल हो जाएगी. मैने कहा ठीक है उसे कल से भेज देना ओके. ये सुन मेरी बेहन ना जाने क्यो इतनी खुश हो गयी.

मेरे दिल के अंदर भी ना जाने क्यो कुछ कुछ होने लग गया था. अगले दिन मैं कॉलेज से आया तभी कुछ देर बाद दिशा घर आ गयी और आते ही मैने उसे अपने रूम के सोफे पर बिठा दिया. और उससे पूछा क्या तुम्हारा मात कमजोर है. दिशा ने कहा हन जी सिर काफ़ी कमजोर है. तो मैने उसे स्टडी करवाना शुरू कर दिया. मेरे रूम मे कभी मम्मी और कभी बेहन बार बार आते रहते थे.

इसलिए मुझे और उसे स्टडी करने मे काफ़ी दिक्कत हो रही थी. पर मैं फिर भी उसे अपना पूरा मन से स्टडी करवा रा था. मैने काफ़ी बार नोट किया की वो मुझे बार बार देख रही थी. पर मैने उस पर ज़्यादा ध्यान न्ही दिया. ऐसे ही कुछ दिन निकल गये. फिर एक दिन वो आई और हमने स्टडी शुरू कर दी. पर कुछ देर बाद वो बोली – सिर अगर आप बुरा ना माने तो मैं आप को एक बात कह स्काती हूँ.

मैं – हन बोलो क्या बात है बताओ मुझे ?

Pages: 1 2 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *