जवान दिल मचल गया

अब राज धीरे धीरे हिलने लगा और मैं चुदाई का सुख लेने देने लगी.
राज ने एक लंबी सांस ले कर एक जोर का शॉट मारा और उससे मैं लिपट गई- आह्ह राज… राज… और… और करो… मजा आ रहा है… चोदो मुझे… और तेजी से चोदाई करो मेरी!

और राज शॉट पर शॉट मारने लगा.

मैं बोलने लगी- राज डार्लिंग, मैं आज चूत चुदाई का पूरा मजा लेना चाहती हूँ. राज इतना करो कि मैं उस दिन देखी मधु की चुदाई भूल जाऊँ… उस दिन तुम दोनों की चुदाई देख मुझे भी इच्छा होने लगी, उस दिन मधु को चोद रहे थे… मैं उस दिन कितना तड़पी हूं… आहह आमम्म इइइइइ…

कुछ ही देर में मैं झड़ चुकी थी, मैं राज से बोली- बस बस और नहीं राज… मैं हो चुकी हूं!
लेकिन वो और स्पीड से लंड मेरी चूत में अंदर बाहर करने लगा.

मैं पसीने से तर हो चुकी थी और वो भी… एक साथ हम दोनों ने एक दूसरे को कस कर पकड़ लिया और चुदाई का अंतिम क्षण का सुख भोगने लगे थे.

आज राज ने मुझे अच्छे से चोद कर शांत कर दिया था, मैं उसकी चुदाई का मजा ले रही थी और कुछ ही पल में उसने चोदने की स्पीड बढ़ा दी और राज अब मेरी चूत में खाली होने लगा और फिर शांत होकर कर मेरे बदन में लिपट गया।

आज मेरी चुदाई की तमन्ना पूरी हो चुकी थी, मेरा मन शांत हो चुका था।

कुछ देर बाद हम दोनों उठे और अपने कपड़े पहनने लगे.

More Sexy Stories  अंकल की नाजायज़ बीवी बनी

तभी मधु का काल आया- यार कहाँ है? जल्दी आ ना… राज के घर नहीं जाना है क्या? देर हो रही है।
मैं क्या कहती… मैंने राज को बताया कि मधु का फोन है और बाहर आ गयी।

Pages: 1 2 3