सेक्सी मॉडेल स्नेहा की चुदाई

और अपने लंड पर कॉंडम चड़ा कर मैने अपना लंड उसकी गीली चूत पर सेट कर दिया. और जोरदार धक्के से उसकी चूत मे अपना पूरा लंड उतार दिया. उसके मूह से आहह आहह की आवाज़ निकली और फिर धीरे धीरे धक्के मारना मैने शुरू कर दिया. हम दोनो की गरम सांसो ने पूरी कार को अंदर से गरम कर दिया था. उसके बाद मुझे उसकी पानटी मे लगे चूत के पानी ने पागल बना दिया.

तभी प्रीति पूरी की पूरी अकड़ गयी और उसने अपनी चूत का सारा पानी निकाल दिया. मैने भी फिर अगले 5 मिनिट बाद अपने लंड का पानी निकाल दिया. फिर कुछ देर मैं उसके उपर लेटा रा और फिर हम दोनो उठकर अगली सीट पर बैठ गये. प्रीति ने मुझे किस किया और पूछा की क्या तुम मेरे घर चलोगे. मैं झट से हन कह दिया और फिर उसने कार स्टार्ट करी और सीधा मुझे अपने घर ले गयी. घर मे जाते ही वो किचन मे टी बनाने लग गयी.

मैं उसके पीछे खड़ा था मुझे उसकी ब्लॅक कलर की ब्रा सॉफ सॉफ दिख रही थी. मैने उसको पीछे से उसके नंगे कंधो और उसकी गर्दन पर किस करना शुरू कर दिया. उसकी आँखें बंद हो गयी और गरम गरम साँसे चलना शुरू हो गया. फिर वो झट से पीछे की और मूडी और उसने मेरी शर्ट को उतार दिया. और छाती के निपल्स को अपनी जीब से चाटने लग गयी.

अब मुझसे और कंट्रोल न्ही हो रा था. इसलिए मैं गॅस को बंद किया और उसे अपनी गोध मे उठा कर बेडरूम मे ले गया. बेड पर उसे लिटा कर मैने उसके सारे कपड़े उतार दिए. और साथ ही अपने भी सारे कपड़े निकाल दिए उसके बाद मैं उसके उपर आ गया. और प्रीति के होंठो को चूसने लग गया. मेरे दोनो हाथो मे उसके बूब्स थे जिसे मैं पागलो की तरह मसल रा था.

More Sexy Stories  दो सहेलियों का प्यार

मैं उसके होंठो को चूस्ता हुआ सीधा नीचे उसके बूब्स के पास आ गया और उसके दोनो बूब्स को पागलो की तरह चूसने लग गये. बीच बीच मे मैं अपने दांतो से उसके बूब्स के निपल्स को काट रा था. जिससे उसे काफ़ी दर्द हो रा था और दर्द की वजह से वो मेरे नीचे मछली की तरह तड़प रही थी.

कुछ देर बूब्स अच्छे से चूसने के बाद मैं नीचे सीधा प्रीति की चूत पर चला गया. मैने बड़े प्यार से उसकी दोनो टाँगे खोली और उसकी गुलाबी चूत देखने लग गया. उसकी चूत पर छोटे छोटे बाल थे जो उसने ट्रिम किए थे.

सच मे काफ़ी सेक्सी चूत लग रही थी मैने अपनी जीब झट से उसकी चूत पर रखी और ज़ोर ज़ोर से उसकी चूत अच्छे से चाटने लग गया. मेरी जीब उसकी चूत को नीचे से उपर की और चाट रही थी. जिससे मुझे एक अलग ही मज़ा आ रा था. और मैं लेटे हुए बहुत ही मज़े मे उसकी चूत को बहुत ही अच्छे से चाट रा था. उसकी चूत मे से थोड़ा थोड़ा पानी बाहर आने लग गया था जिसे मैं अपनी जीब से चाटने लग गया था.

कुछ ही देर बाद उसका शरीर पूरी तरह से आकड़ा और उसने अपने दोनो हाथो से मेरा सिर अपनी चूत मे दबा दिया. मैने अपनी जीब उसकी चूत मे डाल दी जिससे वो और भी ज़्यादा मचलने लग गयी. और कुछ ही देर बाद मेरी जीब पर उसकी चूत का काफ़ी सारा पानी आ गया जिसे मैं चाट चाट कर सारा का सारा पी गया. अब मैने उसकी चूत को अच्छे से चाटा और उसकी पूरी चूत को अपनी जीब से ही चाट चाट कर अच्छे से सॉफ कर दिया.

More Sexy Stories  सिस्टर की ननद के साथ

मैने अपना अंडरवेर भी उतार दिया और अपने लंड पर कॉंडम लगाने लगा तो उसने मुझे मना कर दिया. मैं काफ़ी खुश हो गया और खुशी के मारे मैं उसके उपर खूद कर आ गया. और उसकी दोनो टाँगे उठा कर अपने कंधो पर रखा और अपना लंड उसकी चूत पर सेट करके एक जोरदार धक्का लगाया. जिससे लंड एक दम काफ़ी अंदर तक उसकी चूत मे चला गया. उसकी छींक निकल गयी सच मे उसे दर्द हुआ था. क्योकि उसकी आँखो से आँसू भी अब बाहर आ गये थे.

पर मैने उस पर अब कोई रहम न्ही किया और ज़ोर ज़ोर से उसकी चूत को चोदने लग गया. मैं थोड़ा नीचे हुआ चोदने के साथ साथ अब मैं उसके बूब्स भी चूस रा था. इस सब मे सच मे काफ़ी ज़्यादा मज़ा आ रा था. फिर मैने अपना लंड बाहर निकाला और उसे घोड़ी बनने को कहा.

प्रीति ने मेरी बात झट से मान ली और मैने अपना लंड उसकी चूत मे पीछे से डाल दिया. और ज़ोर ज़ोर से अब मैं पीछे से ही उसकी चूत को चोदने लग गया.

काफ़ी देर उसकी चूत मारने के बाद मैने अपना लंड का सारा पानी उसकी चूत मे ही निकाल दिया. और मैं उसके उपर ही लेट गया. करीब 30 मिनिट रेस्ट के बाद मैने उसे फिर से जम कर चोदा. उस चुदाई के बाद वो मेरी फ़ान हो गयी और अब हर हफ्ते मैं उसे उसके ही घर पर चोदने जाता हूँ.

Pages: 1 2