गर्लफ्रेंड की सहेली को चोदा

दोस्तो, क्या बताऊं आपको… ऐसा मेरे साथ पहली बार था कि मैं एक साथ दो लड़कियों के साथ था और थ्रीसम सेक्स कर रहा थ। दोनों मेरे शरीर पर हाथ घुमा रही थी साथ में कभी मेरे होंठों पे तो कभी गर्दन पर या कान के पास चुम्मियाँ ले रही थी।
मैं भी अब काजल के हुस्न और जिस्म को देखने के लिए बेताब था तो मैंने भी उसके कपड़े उतार दिए।
मेरे तो नसीब खुल गए थे।

अब हम तीनों पूरी तरह नंगे थे। मैं कभी शीतल की तो कभी काजल की चूचियां चूसता और दबा देता, वो भी मेरे शरीर पर चुम्मियाँ ले रही थी। साथ ही दोनों एक दूसरी के होंठ भी चूस रही थी। थोड़ी देर बाद मैंने शीतल को फिर से लेटाया और उसकी चूत चूसने लगा और काजल ने मेरा लंड पकड़ लिया और सहलाने लगी।

मैं और भी जोश में शीतल की चूत चाटने लगा। तब शीतल ने काजल से मेरे लंड को मुंह में लेने को कहा तो काजल मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी. क्या बताऊं कि कैसा आनन्द आ रहा था मुझे।
थोड़ी देर शीतल की चूत चाटने के बाद वो अकड़ने लगी और पानी छोड़ने लगी, उसका पूरा नमकीन पानी पी गया और उसके बाद उसको किस किया।

तब शीतल ने बताया कि काजल भी अपने बॉयफ्रेंड के साथ सेक्स कर चुकी है पर उसका बॉयफ्रेंड कभी उसकी चूत नहीं चाटता और इसने भी कभी किसी लंड का स्वाद नहीं चखा था।
इस बात पे मैंने कहा कि आज उसकी सारी इच्छा पूरी कर दूंगा।

फिर मैं काजल की ओर बढ़ा और उसके होंठों को चूसने लगा. थोड़ी देर बाद उसको लेटाया और उसकी चूत पर अपना मुंह ले गया। क्या बताऊं दोस्तो… उसकी चूत एकदम फूली हुई और क्लीन शेव्ड थी, एक भी बाल नहीं था।
तो मैंने देर ना करते हुए उसकी चूत पे जीभ घुमाई और चूत चाटने लगा जिससे वो पूरे जोश में आ गई और मेरा सिर पकड़ कर चूत पर दबाने लगी।

More Sexy Stories  बस में मिली माल लड़की और उसकी सहेली को चोदा

मैं भी उसकी चूत को चाटता तो कभी जीभ को चूत में घुसा देता था। थोड़ी देर बाद जब शीतल भी फिर से गरम हो गई तो उसने अपनी चूत को काजल के मुंह पे रख दिया. वो मना कर रही थी पर शीतल ने जबरदस्ती उसको अपनी चूत चटवाना चालू कर दिया।
इसलिए मैंने कुछ सोच कर ऐसी पोजिशन ली कि अब मैं काजल की चूत चाट रहा था, काजल शीतल की चूत और शीतल मेरे लंड को चूस रही थी।

थोड़ी देर बाद हम तीनों पूरी तरह से गर्म हो गए और एक दूसरे को जोर जोर से चाटने लगे और मजा लेने लगे। थोड़ी देर बाद काजल का पानी निकलने लगा जिसको मैं पूरा पी गया। अब वो शीतल की चूत चाट रही थी और शीतल मेरा लंड।
कुछ देर हम दोनों का शरीर अकड़ने लगा और दोनों ने एक साथ पानी छोड़ दिया। शीतल ने काजल के मुंह पर चूत दबा दी जिस वजह उसे पानी पीना पड़ा और शीतल ने भी मेरा सारा पानी पिया। थोड़ा कुछ लंड पे बचा था उसे मैंने काजल के पास ले जाकर उससे चटवाया और लंड को पूरी तरह से साफ करवाया।

थोड़ी देर बाद जब तीनों फिर से गर्म होने लगे तो तीनों एक साथ एक दूसरे के होंठ चाटने लगे।

मैंने अब देर न करते हुए शीतल को लेटने को कहा और उसकी दोनों टांगों को चौड़ा करके अपने लंड को उसकी चूत पर घुमाया जिससे उसने कहा- अब डाल भी दो।
शीतल मेरा लंड लेने के लिए आदि हो चुकी थी तो मैंने एक ही झटके में पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया जिसकी वजह से उसके मुंह से ऊऊईई मा… निकल गया। अब मैं शीतल की चूत में धक्के मार रहा था और काजल कभी उसके चूचे चूसती थी तो कभी उसके होंठ चूस रही थी।

More Sexy Stories  एक कुंवारा, एक कुंवारी और चुदाई का मजा

धीरे धीरे मैंने अपनी गति बढ़ाई और जोर जोर से उसको चोदने लगा। पूरे रूम में मेरी और उसकी जांघें टकराने और उसके मुंह से निकलती सिसकारियों की आवाज से गूंज रहा था। करीब 15 मिनट की चुदाई के बाद उसका शरीर अकड़ने लगा और वो पानी छोड़ने लगी पर मेरा पानी निकालना बाकी था।

तो मैं उसको एक तरफ छोड़ कर अब काजल की तरफ बढ़ा और उसकी टांगों को फैला कर उसकी चूत पर लंड रखा और धक्का मारा, पर कई दिनों से उसकी चुदाई नहीं होने की वजह उसकी चूत टाईट हो गई थी, काजल के मुख से निकला- उम्म्ह… अहह… हय… याह… मर गयी!
तो मैंने शीतल को इशारा किया और फिर से लंड सेट करके जोर से झटका मारा इसी के साथ शीतल ने उसके होंठ पे अपने होंठ रख दिए और उसकी चीख जो निकलने वाली थी उसे दबा दिया।

मैं थोड़ी देर ऐसे ही रुका रहा क्योंकि अभी आधा ही लंड उसकी चूत में जा पाया था। थोड़ी देर बाद वो नॉर्मल हुई तो मैंने धीरे धीरे अपने लंड को धकेलना चालू किया. जब पूरा लंड अंदर घुस गया तो मैंने धक्के देना चालू किया जिसकी वजह से उसके मुंह पर दर्द और मजा आने की भावनाएं दिख रही थी।

जब उसका दर्द पूरी तरह गायब हो गया तो मैंने जोर जोर से धक्के देना चालू किया जिसके साथ ही वो जोर जोर से कहने लगी- आह जय फॅक मी… ओह याहह…
यह देख कर शीतल भी हंसने लगी और बोली- ऐसा तो क्या जादू कर दिया कि मेरे मुंह से कभी कभार निकलने वाले शब्द तेरे मुख से पहली ही बार में निकलने लगे।

Pages: 1 2 3