गर्लफ्रेंड के साथ चुदाई का अंतिम मजा

GF BF Xxx story में पढ़ें कि मैं अपनी गर्लफ्रेंड को चोद चुका था, उसी से शादी करना चाहता था पर उसके घरवाले नहीं माने. उसकी शादी से पहले वो मेरे साथ सेक्स करना चाहती थी.

दोस्तो, आप सभी लोगों को मेरी तरफ से नमस्ते, भाबी और लड़कियों को भी हाथ जोड़ कर नमस्ते.

मैं लगभग 5 साल से अन्तर्वासना पर सेक्स कहानी पढ़ता आ रहा हूँ. मैंने लगभग सभी कहानियां पढ़ी हैं.
मुझे भाबी और आंटी की चुदाई की कहानी पढ़ना बहुत पसंद हैं.

आज की यह GF BF Xxx story मेरी और मेरी गर्लफ्रेंड की है.
यह मेरी लाइफ क़ी बिल्कुल सच्ची कहानी है और 2019 की दास्तान है.

मेरा नाम जॉनी सीन्स (काल्पनिक नाम) है और मैं 25 साल का हूँ. मेरी हाइट 5.8 इंच है और मेरा लंड 8 इंच का है.

मेरी गर्लफ्रेंड मेरे बड़े लंड के कारण मेरे लंड की बहुत बड़ी दीवानी और फैन थी.
उसका नाम शलाका था और उसकी उम्र भी 25 साल थी.

शलाका दिखने में बहुत ही सेक्सी थी. उसके चुचे और गांड बहुत बड़ी थी.
उसे जो कोई भी एक बार देख भर ले, तो मेरी गारन्टी है वो उसे चोदने के लिए मचल उठेगा.

मैंने अभी तक सिर्फ उसी के साथ सेक्स किया था.
मैं अपनी गर्लफ्रेंड शलाका को बहुत बार चोद चुका था व उसी से शादी भी करना चाहता था पर मेरी गर्लफ्रेंड के घर वाले नहीं माने और उसका कहीं और रिश्ता कर दिया.

उसकी शादी तय हो गयी थी.
पर शादी से पहले वो मेरे से आखिरी बार सेक्स करना चाहती थी.

मैंने अब तक उसकी गांड नहीं मारी थी तो मैंने सोचा कि अब इसके बाद न जाने कौन सी लौंडिया मेरे लंड के नसीब में होगी. शलाका से ही बात कर लेता हूँ … ये ही अपनी गांड में मेरे लंड को आनन्द दे दे, तो जीवन की इस अभिलाषा को भी पूरा कर लूंगा.

मैंने उससे कहा- जान, इस बार मैं तुम्हें पीछे से भी चोदना चाहता हूँ.

वो पहले तो कुनमुनाने लगी और कहने लगी- नहीं यार उधर से नहीं … तुम आगे से ही कर लेना.
मगर मैंने कहा- यार, मेरी आखिरी इच्छा पूरी कर दो. फिर न जाने तुम्हें जीवन में गांड मराने का सुख मिलेगा भी या नहीं. तुम्हारा पति तुम्हारी गांड मारेगा भी या नहीं!

मेरे कुछ देर समझाने के बाद वो बैक डोर सेक्स के लिए राजी हो गई.

मैंने उससे कहा- अब जब तुम राजी हो ही गई हो, तो अपनी गांड में कुछ कुछ डाल कर उसे ढीली करके मेरे लंड के लिए तैयार कर लो.
वो हंस दी और बोली- ठीक है जानू, मैं करती हूँ.

फिर हम दोनों ने मिलने का प्लान बनाया और अगले हफ्ते एक होटल में मिलने के लिए रूम बुक कर लिया.
तयशुदा दिन पर वो मुझसे मिलने आई.

मैं खुश भी था और कुछ बुरा भी लग रहा था कि आज हम अंतिम बार सेक्स करेंगे. इसके बाद शायद हम कभी चुदाई नहीं कर पाएंगे.
हम दोनों रूम में आ गए थे.

मैंने शलाका को कस के अपने गले से लगा लिया और उसको जोर जोर से चूमने लगा.
शलाका भी मेरा पूरा साथ दे रही थी.

वो बहुत ही जल्दी गर्म हो गयी.
मैंने उसको बेड पर लिटा दिया और एक एक करके उसके ऊपरी कपड़े उतार दिए.
अब वो सिर्फ ब्रा ओर पैंटी में थी.

सच बोलूं तो वो सनी लियोन जैसी सेक्सी माल लग रही थी.

कुछ पल प्यार से निहारने के बाद मैंने उसकी ब्रा उतार दी और पागलों क़ी तरह उसके मम्मों को चूसने लगा, जोर जोर से दबाने लगा.

शलाका बहुत ही गर्म हो चुकी थी. उसकी चूत के रस से उसकी पैंटी गीली हो चुकी थी.

फिर शलाका ने मुझे बेड पर अपने बाजू में लिटा लिया और वह अब मेरे कपड़ों को उतारने लगी.
उसने कुछ ही पलों में मुझे पूरा नंगा कर दिया और मेरे लंड को हाथ में पकड़ लिया.

मैंने उसे लंड की तरफ इशारा किया तो वो मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी.
आज वो रंडी की तरह में लंड को चूस रही थी.

More Sexy Stories  सिनेमा हाल में मिली औरत को चोदा

मैं उसको देखता ही रह गया.
शलाका पोर्न फिल्मों की स्टार की तरह लंड चूस रही थी.
उसकी लंड चुसाई की अदा से मैं जन्नत में पहुंच गया था.

अब मैंने उसकी पैंटी भी उतार दी.
उसकी चिकनी चूत एकदम गुलाबी थी और उस पर स्ट्राबेरी फ्लेवर की कोई क्रीम लगी थी. वो पूरी तैयारी के साथ आयी थी, अपनी चूत को चमका कर लाइ थी.

फिर हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए. वो मेरा लंड चूस रही थी और मैं उसकी गीली चूत चूस रहा था.
उसकी चूत में स्ट्राबेरी का बेहतरीन स्वाद आ रहा था.

शलाका मेरे लंड को चूसती रही और उसने मेरे लंड को झड़ने को मजबूर कर दिया.
मैंने उसके मुँह से लंड हटाने की कोशिश की, मगर वो नहीं मानी और उसने मेरे लंड का सारा पानी पी लिया.

उसने मेरे लंड का पानी पहली बार पिया था.
फिर वो भी झड़ गयी. मैं भी उसकी चूत का सारा पानी पीने लगा, चूत चाटने लगा.

अब हम दोनों थोड़ी देर के लिए रुक गए.
वो मेरे लंड को हाथ में लेकर सहलाने लगी और मेरे लंड में पुनः जान आना शुरू हो गई, तो वो लंड की मुठ मारने लगी.

कुछ ही देर में मेरा लंड फिर से एकदम फौलाद हो गया था.
मैं भी फिर से उसकी चूत की क्लिट को चूसने में लग गया. वो बहुत जल्दी गर्म हो गई.

अब वो बार बार कह रही थी कि जल्दी से मेरी चूत की आग बुझा दो, मुझे जल्दी से चोद दो.
पर मैं चूत से मुँह हटा ही नहीं रहा था.
वो मुझसे अपनी चूत चुदाई की भीख सी मांगने लगी थी.

तब मैंने भी उसे ज्यादा तड़फाना ठीक नहीं समझा और उसको बेड पर सीधा लिटा दिया.
मैंने उसके पैरों को ऊपर कर दिया.
इससे उसकी चूत की कलियाँ खुल गई थी, अंदर का गुलाबी गुलाबी दिखने लगा था.

मैंने अपने लंड को उसकी गुलाबी गीली चूत पर लगा दिया. मैं लंड को चूत पर रगड़ने लगा.

शलाका से एक पल भी रहा नहीं जा रहा था, वो अपनी गांड उठा कर लंड अन्दर लेने की कोशिश करने लगी थी.

मैंने बहुत प्यार से लंड को उसकी चूत के अन्दर सरका दिया.
आधा लंड उसकी चूत में चला गया.
वो दर्द से आह कर उठी.

कुछ ही पलों में मेरा पूरा लंड चूत में चला गया. मैं अन्दर बाहर करने लगा.

वो मजे से ‘अह आआह ईई ईएए उफ्फ फक मी हार्ड …’ बोल रही थी.

मैं उसको बहुत जोर जोर से चोदने लगा. जल्दी ही पूरे रूम में फक फक क़ी आवाज आने लगी.

शलाका मस्ती में थी और ‘उफ़्फ़ ईईईएए आआ ऊऊऊ …’ कर रही थी.

मैं कम से कम 25 मिनट तक शलाका को चोदता रहा, फिर शलाका झड़ गयी.
उसकी चूत का पानी निकल गया और वो निढाल हो गई.

मैं अभी भी पूरे जोश में था और उसे जोर जोर से चोदता रहा.

कुछ मिनट के बाद मेरा भी पानी निकलने वाला था.
मैंने शलाका से कहा कि मेरा होने वाला है.

वो बोली- जानू आज तुम अपना शीरा मेरे मुँह में निकाल दो. मैं अपने मुँह में लंडरस लेना चाहती हूँ.
मैंने उसकी चूत में से लंड निकाला और उसके मुँह में दे दिया.
वो लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी.

मैंने सारा पानी उसके मुँह में निकाल दिया, वो भी किसी रांड की तरह मेरे लंड का सारा रस पी गयी.

जोरदार चुदाई से हम दोनों पसीने से भीग गए थे.
काफी थकान हो गई थी तो हम दोनों नंगे ही बेड पर पड़े रहे और एक दूसरे को देख रहे थे.

हमने एक दूसरे को ‘आई लव यू …’ बोला और एक दूसरे को किस करने लगे.
अब माहौल कुछ प्यार मुहब्बत वाला हो गया था.

मैं यूं ही उसे किस करते करते उसकी गांड पर हाथ फेरने लगा.
वो समझ गयी कि मैं उसकी गांड मारना चाहता हूँ.

पहले तो वो मुझे घूर घूर कर देखने लगी.
उसकी नजरों को पढ़ कर मैंने उसकी गांड पर से हाथ हटा दिया और उसकी चूत को सहलाने लगा.
उसकी चूत में उंगली करने लगा.

More Sexy Stories  दूधवाले अंकल ने मेरी तड़पती चूत चोद दी

जल्दी ही प्यार की मूक भाषा ने हम दोनों को वासना का पाठ पढ़ा दिया और हम दोनों फिर से 69 की पोजीशन में आ गए.
वो मेरे लंड को चूसने लगी और मैं उसकी चूत को चूसने लगा.

थोड़ी देर बाद मैं उसकी गांड के छेद को अपनी जीभ से चाटने लगा.
वो खुद अपनी गांड मेरे मुँह पर रगड़ने लगी.
मैं उसकी गांड को जोर जोर से चाटने लगा.

उसने अपनी गांड को खोल दिया और शायद अब उसको भी गांड चटवाने में मजा आने लगा था.
वो अपनी गांड उठा उठा कर मेरे मुँह में देने लगी.
फिर वो अपने आप डॉगी स्टाइल में आ गयी और उसने अपनी गांड हिला कर मुझे संकेत दिया.

मैं उठ गया और फिर से उसकी गांड चाटने लगा.
मुझे समझ आ गया कि आज वो मेरे लंड से अपनी गांड मराना चाहती है.

मैंने गांड पर थूक लगाया और अपने लंड को गांड के छेद पर लगा दिया.
वो आंह उन्ह करने लगी और मेरे लंड के सुपारे को अपनी गांड पर महसूस करने लगी.

मुझे उसकी गांड खुलने का इंतजार था.
उसकी गांड का छेद लुपलुप कर रहा था.
जैसे ही उसकी गांड का छेद थोड़ा सा बेखबर हुआ और खुला, मैंने अपना कड़क लंड उसकी गांड में दबा दिया.

लंड का सुपारा उसकी गांड के पहले छल्ले को चौड़ाता हुआ अन्दर चला गया.
वो जोर से चिल्लाने लगी- उई मम्मी रे … मर गई … आंह मेरी गांड फट गई.

मैं रुक गया और उसके चूतड़ों को सहलाने लगा और उसकी गांड में अपना थूक टपकाने लगा.

उसे भयंकर वाला दर्द हो रहा था और वो जोर जोर ने गालियां बकने लगी- आंह मादरचोद … लंड निकाल हरामी … साले मेरी गांड का छेद फाड़ दिया … आंह बहुत दर्द हो रहा है कुत्ते … आंह निकाल भोसड़ी के!

मगर मैंने उसकी गांड में से लंड नहीं निकाला.
मैं लगा रहा और धीरे धीरे मेरा पूरा लंड उसकी गांड में चला गया.
उसकी आखों में से आंसू निकल आए थे और वो फफक फफक कर रोने लगी थी.

मैं मान नहीं रहा था. मुझे मेरे लंड में बड़ी कसावट महसूस हो रही थी और ऐसा लग रहा था जैसे कुत्ते का लंड कुतिया की चूत में फंस गया हो और फूलने लगा हो.

दूसरी तरफ वो बार बार लंड को बाहर निकालने के लिए बोल रही थी.
मैंने उसकी एक नहीं सुनी और उसकी गांड में लंड को अन्दर बाहर करने लगा.

थोड़ी देर बाद उसका दर्द कम हो गया और उसको भी अब गांड मराने में मजा आने लगा.
वो अपनी गांड को उठा उठा कर चुदवाने लगी.

अब मैंने उस डॉगी पोजीशन में अपने हाथ आगे लाकर उसकी चूचियों को पकड़ा और दबाते हुए उसकी गांड में सटासट लंड पलना शुरू कर दिया.

वो अब चिल्लाने की जगह ‘उन्ह आंह …’ करती हुई गांड हिलाने लगी थी.

मैं यूं ही काफी देर तक उसकी गांड चोदता रहा. इसके बाद मैंने अपना एक हाथ उसकी चूत में लगा दिया और चूत में उंगली करने लगा.
इससे अब उसको डबल चुदाई का मजा मिलने लगा.
वो मादक आवाजें निकालने लगी.

कुछ देर बाद मैं उसकी गांड में झड़ गया और लंड का सारा पानी उसकी गांड में निकाल दिया.

वो भी अपनी चूत से रस टपका कर झड़ गई.
GF BF Xxx के बाद हम दोनों थक कर चूर हो गए थे.

फिर कुछ देर बाद हम दोनों बाथरूम में नहाने आ गए.

नहाते समय एक बार फिर से लंड चूत चैतन्य हो गए और मैंने फिर से उसकी ताबड़तोड़ चुदाई करना शुरू कर दी.

उस दिन मैंने उसको 4 बार चोदा.
उससे अब ठीक से चला भी नहीं जा रहा था. मैंने उसके घर से थोड़ी दूर ही छोड़ दिया.

चार महीने के बाद उसकी शादी हो गयी. मैं उसको बहुत प्यार करता था. उसके बाद मैंने कभी सेक्स नहीं किया.

आपको मेरी ये GF BF Xxx story कैसी लगी, मुझे कमेंट्स और मेल करें.
धन्यवाद.
मेरी मेल आईडी है [email protected]
इंस्टाग्राम आईडी है vika_s3207