गाओं मे मामी की चुदाई

Gaon Me Mami Ki Chudai हेय गाइस एंड स्पेशली माय डियर पुसी गर्ल्स, लव यू बेब्स, हौझ गोयिंग नाउ. हिन्दी पॉर्न स्टोरी प्यार भरा परिवार

सो नाउ आई एम हियर टू ब्रिंग अ न्यू स्टोरी फॉर यू विच हप्पेंड बिटवीन मी एंड माय हॉटेस्ट सेक्सी मामी.

चलो तो फिर अब स्टोरी पर आते है.

मेरा नाम राहुल है और मैं रायपुर सी.जी. का रहने वाला हू.

ये स्टोरी कुछ समय पहले की है जब मैं अपनी नानी के यहा अलाहाबाद गया था, वैसे मेरा वाहा अब बहुत कम ही जाना होता है वैसे तो वाहा पर नॉर्मली नाना नानी ही रहते है बट अभी वाकेशन्स के कारण मामी और उनके 2 बच्चे भी वाहा पर आए हुए थे.

चलो अब मैं अपनी मामी के बारे मे आप सबको बताता हू, मैं बताउ इससे पहले ही आप सब अपना लंड हाथ मे ले लो और गोलियो को मसलना चालू करो और बेब्स आप लोग भी अपनी चुत पे हल्की हल्की उंगलिया चलाना चालू करो और मेरी कहानी का पूरा मज़ा लो.

हा तो मेरी मामी जो अभी लगभग 30 ईयर की है और वो बॉम्बे से आई हुई है, तो इन शॉर्ट काहु तो गजब की पर्सनॅलिटी और बेहद खूबसूरत है, चलो मैं आप लोगको उनके फिज़िक्स के बारे मे कुछ बताता हू ताकि आपका लंड और चूत मचलने लगे..

मेरी मामी का नाम रंजना है वो उनके हेर्स एकदम ब्लॅक रंग चका चक गोरा और गोल गोल मस्त कसे हुए दूध से भरे हुए बूब्स और पीछे से मस्त निकली हुई गॅंड है.. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

और उनकी कमर एकदम स्लिम है और नाभि भी बहोत खूबसूरत है, उनके होट का शेप एकदम पर्फेक्ट है एंड वो मॅक्स अपने होटो पर रेड लिपस्टिक ही लगाती है, और मतलब आप सोच सकते हो कितनी जबरदस्त दिखती होगी, मैं तो अपनी मामी के नाम से बहुत बार मूठ मारता हू, और सपनो मे उन्हे चोदने के सपने देखता हू, चलो तो आगे बढ़ते है.

जैसा की मैने आपको बताया मैं अपनी नानी के यहा गया हुआ था वाहा मामी भी थी जब मैं वाहा पहुचा तो मामी मुझे देखकर बहुत खुश हुई, वैसे मामी मुझे बहुत प्यार करती है पता नही क्यू, पर वो मुझसे बहुत अट्रेक्टेड है ये मेरी पर्सनल फीलिंग है, मैं मामी को टच करने का मौका कभी भी नही छोड़ता था.

मैं वाहा पर पहुचा तो काफ़ी थका हुआ था, मैं मामी एंड अदर पर्सन्स से मिलने के बाद हाथ मु धोया और मामी ने मुझे पानी वग़ैरह पिलाया, मैं मामी की नज़दीकियो से अपने आप को बहुत ही गरम महसूस कर रहा था, और मामी के पास आते ही उनकी खुशबू को महसूस कर रहा था. गर्मी के दिन होने के कारण मामी ने मुझे कहा राहुल तुम नहा के आ जाओ खाना खा लो मैं भी हा मे सिर हिलाकर ओके कहा.

और नहाने के लिए जाने लगा, मैने मामी से टॉवेल माँगा और कपड़े उतारकर नहाने के लिए जाने लगा, वैसे मैं बाहर अपने कपड़े खुद ही धोता था पर अभी मामी ने कहा रहने दो राहुल मैं धो दूँगी मैने कहा ठीक है मामी.

मेरा लंड अभी भी खड़ा ही था मैने अपने लंड को अड्जस्ट किया और टॉवेल पहनकर बाथरूम मे नहाने चला गया बाथरूम मे डोर नही है, और अंदर एक हॅंडपंप है जिससे पानी निकल कर नहाना पड़ता है और उसके पास ही मामी का रूम एंड किचन है, मैने मामी से कहा साबुन कहा है तो मामी ने साबुन लाकर दिया उस वक़्त मैं नल से पानी निकाल रहा था, मामी बोली रहने दो मैं नल चला देती हू राहुल तुम नहा लो.

More Sexy Stories  पढ़ाई के बहाने चुदाई

मैं बोला इट्स ओके मामी रहने दो आप कितना काम करती हो, मैं खुद चला कर नहा लूँगा, इसके बाद मैने मामी से कहा मामी मैं नाहा रहा हू देखना कोई अंदर ना आए, मामी ने कहा ठीक है और बाथरूम का परदा लगा दिया और चली गई.

अब मैं टॉवेल उतारा और बनियान और अंडरवेर भी उतार दिया और मेरा 6 इंच का लंड अब हवा मे था और मैं चैन की सास लेकर रिलॅक्स होने लगा. मैने अपने लंड को हल्का सा वॉर्म उप किया मतलब अपने लंड के टोपे को एक दो बार अंदर बाहर किया और लंड के टोपे को बाहर निकालकर मूतने लगा. मस्त रिलॅक्स लग रहा था.

वैसे मैं आपको बता दू मैं पूरा नंगा होकर नहाना ही पसंद करता हू.

इसके बाद मैं थका हुआ था इसलिए फटाफट आछे से नहाया और बाहर आ गया पूरा बाथरूम मेरी गर्मी से तप रहा था, मैं बहार केवल टॉवेल लपेट कर आया था और उसमे मेरा लंड का उभार सॉफ दिख रहा था, मुझे नही पता मेरी मामी ने इन सब बातो पर गौर किया की नही, इसके बाद मैं मामी से पूछा की मामी अंडरवेर कहा डालु तो मामी ने कहा उपर सूखा दो.

और मैने वैसा ही किया मामी किचन मे बिज़ी थी. इसके बाद मैं नीचे आया और अपने बॅग मे से अंडरवेर निकाल कर पहन लिया, फिर मैने कपड़े पहन लिए, वैसे अभी मैने लोवर पहना हुआ था और उसमे से भी मेरे लंड का उभर सा दिख रहा था.

पर मैं रिलॅक्स था क्यूंकी वैसे भी मामी देख भी लेगी तो क्या होता है वैसे भी मैं मामी के साथ बहुत रिलॅक्स महसूस कर रहा था, कपड़े पहन कर मैं किचन मे गया और मामी को जी भर कर देखा मामी उल्टी खड़ी थी और उनकी मस्त गॅंड बाहर की ओर मुझे इन्वाइट कर रही थी.
पर मैं वाहा पर पानी पिया और फिर मामी से थोड़ी बहोट बात किया और फिर मम्मी ने कहा की खाना खाने बैठ जा राहुल, मैं खाना खाने बैठ गया मामी ने खाना परोसा और मामी के खाना परोसते समय मुझे उनके बड़े बड़े और पसीने मे नहाए हुए बूब्स के भी दर्शन हो गये, और उनके ब्लाउस मे उनके आर्मपॉइंटस भी बहुत गीले हो गये थे ये सब देखकर मेरा लंड बहुत ज़्यादा टाइट हो रहा था.

मैने मामी को कहा मामी आप तो पसीने मे नहा ली हो, मामी बोली हा बहुत गर्मी है, इसके बाद मैं खाना खा के उठ गया, इसी तरह मेरा समय कटने लगा और मैं मामी के कॅमरिया को महसूस करने का कोई भी मौका नही छोड़ता था, दिन भर मैने मामी से खूब सारी बातें की और अपने आँख सेकता रहा.

बहुत अछा था मामी का साथ, घर मे आस पास के थोड़े लोग मिलने आए जिससे मामी ने मुझे मिलाया और ऐसा ही मेरा दिन निकलने लगा शाम के समय मामी ने मेरा कपड़े उतारते वक़्त मेरा अंडरवेर भी उपर से ला ली, और उन्होने मेरी अंडरवेर मुझे देते हुए कहा की राहुल अंडरवेर आछे से नही धोए थे क्या इसमे वाइट वाइट दाग है.

More Sexy Stories  दीदी और मेरी सेक्स की दुनिया

मैने मामी से कहा हा मामी बहुत गर्मी थी ना हो सकता है पसीने के कारण हो गया होगा, जबकि वो दाग मेरी पिछले दिन की छोड़ी हुई पिचकारियो के कारण पड़ा हुआ था, मामी ने भी हल्के से हसकर मज़ाक मे कहा तेरा सारा पसीना अंडरवेर मे ही निकलता है लगता.

मैं भी स्माइल दे दिया और अपनी अंडरवेर ले लिया, वैसे तो मामी भी जानती ही होगी की ये निशान अंडरवेर पर कैसे आया, फिर भी मैं भोले बनने की कोशिश कर रहा था वैसे भी भोलेपन का अपना ही एक अलग मज़ा है. इसके बाद सोने का समय हुआ तो मैं रात को मामी से बोलकर तकिया चद्दर लेकर उपर सोने चल दिया और बहुत मस्त नींद आई.

अगली सुबह मामी ने मुझे आकर उठाया क्यू की मैं लेट तक सोता था और गाओं मे सब सुबह ही उठ जाते है और मैं अंडरवेर मे ही बस सोता हू और जब मामी मुझे उठाने आई तो मामी ने मेरे सीने को हाथ लगा कर मुझे जगाया जिससे मेरा लंड मस्त खड़ा हो गया था.

मैने ध्यान दिया मेरी चद्दर मुझसे अलग हो गई है और मेरा लंड तन कर खड़ा है और हल्के से अंडरवेर से बाहर आ गया है,मैं देखते ही करवट बदलते हुए कहा हा मामी आ रहा हू, ये सब पता नही मामी ने नॉटिक किया या नही.

इसके बाद मामी ने कहा जल्दी से नीचे आकर चाय पी लो, और मामी नीचे चली गई ऐसे ही एक दो दिन बीते और एक सुबह मैं रोज की तरह बाथरूम मे नहाने गया और मेरी आदत है मैं वीक मे एक बार अपने लंड को सरसो तेल से मालिश ज़रूर करता था ताकि मेरा लंड मोटा और तगड़ा और लंबा हो.

पर यहा पर थोड़ा रिस्क था पर मैने सोचा रिस्क तो है पर मामी ही तो है वैसे भी उन्ही के लिए तो मैं सपने देखा करता था, खैर मैने चिंता छोड़ी और नहाने जाते वक़्त मामी से कटोरी मे थोड़ासा सरसो तेल माँगा, मामी ने कहा नहा लो फिर लाती हू मैने कहा अभी काम है नहाने से पहले, फिर मामी बोली क्या करोगे राहुल अभी.

मैं बोला कुछ नही मसाज करना है काम है, शायद मामी को लगा सिर की मसाज और उन्होने हल्का सा तेल दे दिया, मैं तेल ले कर अंदर नहाने चला गया इसके बाद मैं अपने सारे कपड़े उतार कर मस्त अपने लंड पर खूद सारा तेल लगाकर मसाज करने लगा और मामी के बारे मे सोचने लगा मेरे लंड से लगता स्पर्म निकल रहा यहा और मुझे बहोत ज़्यादा आनंद का अनुभूति हो रहा था.

मुझे अपना फीडबॅक देने के लिए कृपया कहानी को ‘लाइक’ ज़रूर करे, ताकि कहानियों का ये दौर देसीकाहानी पर आपके लिए यूँ ही चलता रहे.

मैं ऐसे ही अलग अलग तरीके से 5 मीं तक मसाज करता रहा, और मैं भावनाओ मे खोया हुआ मज़े ले रहा था, इतने मे मामी बाथरूम के अंदर आ पहुचि और वो ये सब नज़ारा देखकर शॉक रह गई और वही पर 2 सेकेंड तक खड़ी रही, शायद उनको इसका कोई अंदाज़ा नही था.

इसके आगे की कहानी जानने के लिए मेरे साथ बने रहिए, और मेरी कहानी आपको कैसी लगी मुझे मैल करके ज़रूर बताइए,

और कोई भी भाभी या लड़की मुझसे सेक्स चॅट या चुदाई करना चाहती हो तो बिल्कुल खुलकर कह सकती है.

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published.