एग्जाम के बाद गर्लफ्रेंड की गांड चोदी

हॉट गर्लफ्रेंड Xxx स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपनी गर्लफ्रेंड की चूत बहुत चोद चुका था. अब उसकी गांड मारनी थी. मैंने कैसे उसे गांड मरवाने को राजी किया?

दोस्तो, आप सभी मस्त होंगे और लंड चूत का मजा ले रहे होंगे.

मेरी पिछली Xxx कहानी
कोचिंग क्लास की लड़की ने मुझे पटा लिया
अंतर्वासना पर प्रकाशित हुई थी. उसके लिए आप सभी के काफी संख्या में मेल आए थे.

हॉट गर्लफ्रेंड Xxx स्टोरी शुरू करने से पहले मैंने एक बार फिर से अपना परिचय दे देता हूँ.
मेरा नाम मिंटू है. मेरे बारे में अधिक जानने के लिए पिछली सेक्स कहानी अवश्य पढ़ें जिसका लिंक ऊपर है.

मैं इंदौर के पास का रहने वाला हूँ. मैंने एक प्राइवेट कॉलेज से इंजीनियरिंग की है. अभी मैं एक मल्टी नेशनल कंपनी में काम करता हूँ.

जैसा कि आपने पिछली कहानी में पढ़ा था कि नैना और मैं सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे थे.
हम दोनों सरकारी नौकरी की परीक्षाओं में साथ में फॉर्म भरते थे तो हमारे परीक्षा सेंटर भी साथ ही आते थे.

एक बार हम दोनों मेरी बाइक पर साथ गए. वो मेरे साथ परीक्षा देने गयी थी. उस दिन उसने पिंक टॉप और ब्लू जीन्स पहना था.
वो बड़ी दिलकश लग रही थी.

खुले रास्ते पर आते ही उसने मेरे लंड पर हाथ रख दिया.
मैं भी अपनी पीठ पीछे को दबा कर उसके मम्मों को रगड़ने का सुख ले लिया.

वो बोली- आज बड़ा मन कर रहा है.
मैंने कहा- हां यार … काफी दिन से नहीं किया है.

वो बोली- फ्लैट किसका है … क्या वो भी उधर होगा?
मैंने कहा- नहीं, वो हर शनिवार को अपने घर चला जाता है.

वो खुश हो गई.
उसने अपनी जीभ से मेरे कान की लौ को छेड़ना शुरू कर दिया.

मैंने कहा- सब्र रख जान … नहीं तो अभी किसी गड्डे में ले जाकर चोद दूंगा.
वो इठला कर बोली- जिधर चाहे ले चलो मेरे बलमा … बस मुझे तो तेरे उसका प्यार चाहिए.

मैंने कहा- साली खुल कर बोल ना. मेरे किसका प्यार चाहिए?
वो बोली- बड़ा हरामी है तू.
मैंने कहा- और तू बड़ी सीधी सादी है.
वो हंस दी.

मैंने कहा- बोल न … मेरे किसका प्यार चाहिए?
वो मेरे कान में बोली- तेरे लंड से चूत चुदवानी है मुझे!

मैंने कहा- आज तेरी चूत के साथ गांड का मजा भी चाहिए है मुझे!
वो बोली- साले उधर की तो तू सोचना भी नहीं.

मैंने कहा- क्यों … गांड में क्यों नहीं लेगी?
वो बोली- फट जाएगी.

मैंने कहा- मैं तेल लगा कर पेलूँगा बेटू … तेरी गांड में बड़े प्यार से लंड जाएगा.
वो बोली- तेल लगाने से दर्द नहीं होगा क्या?

मैंने कहा- पहली बार चूत में लंड लिया था, तब दर्द हुआ था कि नहीं?
वो बोली- हां हुआ तो था.

मैंने कहा- बस ऐसे ही पहली बार में किसी भी जगह लंड पेलने से दर्द होता है.
वो कुछ देर चुप रही.

मैंने कहा क्या हुआ … चुप क्यों हो गई?
वो बोली- तुम मेरी जान लेकर रहोगे.

मैंने कहा- अच्छा एक काम करते हैं.
वो बोली- क्या?

मैंने कहा- दारू पियोगी?
वो बोली- पागल है क्या?

मैंने कहा- क्यों बियर तो पीती ही है … दारू में कौन से कांटे लगे होते हैं?
वो बोली- नहीं बियर तक ही ठीक है.

मैंने कहा- चलो बियर पी लेना मगर मुझे तो दारू पीने का मन है.
वो बोली- नहीं … ना तुम दारू पियोगे और न ही मैं … हम दोनों सिर्फ बियर लेंगे और वो भी एग्जाम के बाद.

मैंने ओके कह दिया और वो बात उधर ही खत्म कर दी.
हम दोनों घर से शाम चार से पहले इंदौर पहुंच गए.

मैंने अपने एक दोस्त को बोला था कि फ्लैट की चाभी दे जाना.
वो उधर अकेला रहता था.

More Sexy Stories  मेरे कुंवारे जिस्म में जल रही वासना की ज्वाला- 1

उस दिन शनिवार था तो वो अपने घर निकल गया था.
उसने बता दिया था कि फ्लैट की चाभी कौन से गमले के नीचे रखी है.

सरकारी नौकरी की परीक्षाएं रविवार को ही होती हैं तो हमें उसके खाली कमरे का लाभ मिल गया था.

उस शाम को हम दोनों रीजिनल पार्क घूमने गए, फिर खाना बाहर ही खाकर फ्लैट में आ गए.

उसने शॉवर लेकर कपड़े बदल लिए. मैं जब तक घर फ़ोन पर बात कर रहा था.

फिर मैंने भी शॉवर लिया और हम दोनों गप्पें लड़ाने लगे या यूं बोलो हमारे बीच सेक्सी बातें शुरू हो गईं.

नैना ने काले रंग का लोवर और क्रीम कलर का टॉप पहना.
मैं एक ढीले बरमुंडा और बनियान में था.

नैना को मैंने बांहों में ले लिया और किस करने लगा.
मैं लड़की को चोदने से पहले बहुत ही ज्यादा गर्म कर देता हूँ जिससे चुदाई में मजा बढ़ जाता है.

नैना मेरे लौड़े से पहले भी चुद चुकी थी तो उसने बरमुंडा के अन्दर हाथ डाल कर मेरा लंड पकड़ लिया और सहलाने लगी.

फिर मैंने भी धीरे से उसका टॉप निकाल दिया.
उसके जिस्म की खुश्बू मुझे मदहोश कर रही थी. सच कहूँ बहुत ही गोरी गोरी चूचियां थीं उसकी … बिल्कुल गुलाबी निप्पल थे.

उसने क्रीम कलर की ब्रा और ब्लैक जाली वाली पैंटी पहनी थी, जिसे मैंने झट से निकाल दी.

मैंने किस करते हुए उसकी ब्रा पैंटी दोनों को निकाल दिया और उसके दोनों मम्मों को मुँह में बारी बारी से लेकर चूसने लगा.

उसकी भी सिसकारी निकलने लगी.
वो कहने लगी- आह आह मिंटू दुखता है यार … काटो नहीं प्लीज़!

मैं एक हाथ से उसकी चूत को सहलाने लगा और दूसरे हाथ से उसके दूसरे मम्मे का हलुआ बनाने लगा.
वो बहुत ज्यादा उत्तेजित हो गयी.
उसने मेरा लंड मुँह में ले लिया और जोर जोर से चूसने लगी.

कुछ देर बाद हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए.
वैसे मैंने कभी चूत पर किस नहीं किया था लेकिन उसकी क्लीन शेव चूत देख कर मैं उसकी बुर चूसने लगा.

मुझे बहुत मजा आ रहा था. वो कभी मेरे लंड को चूसती, कभी मेरी गोटियां चूसती.
कुछ देर बाद मैं सीधा होकर बेड नीचे खड़ा हो गया और उसकी चूत में लंड रगड़ने लगा.

वो कामवासना में जल रही थी और कह रही थी- आंह और न तड़पा … डाल भी दे ना … बहुत खुजली होती है. साले एक बार तेरा औजार अन्दर क्या ले लिया … रात को मेरी चूत मुझे सोने नहीं देती है.

मैंने धीरे से लंड चूत में डाल दिया. उसकी मीठी सी आह निकली और उसको उसको चूत में मज़ा आने लगा.

एक दो झटकों में मैंने भी पूरा का पूरा लंड चूत में उतार दिया. वो सुख के सागर में गोते खाने लगी और आह आह करने लगी.

मेरे लंड की स्पीड धीरे धीरे बढ़ती गयी.

कुछ ही पलों में मैंने इतनी जोरों से चुदाई चालू कर दी कि उसकी चीखें निकलना शुरू हो गईं.

नैना- आह आह मिंटू धीरे करो … लग रही है यार … कहीं भागी थोड़ी जा रही हूँ आंह आंह रुक जा साले … आह धीरे चोद न!
लेकिन मैं आज उसकी एक नहीं सुनने वाला था.

पहली बार में उसकी चूत का रस कुछ ही मिनट में निकल गया लेकिन मैं रुका ही नहीं, मैंने ताबड़तोड़ चुदाई चालू रखी.

फिर वो दूसरी बार झड़ी. मेरा अभी रस नहीं निकला था.

वो थक रही थी तो मैंने लंड निकाल कर उसकी चूत पर मुँह लगा दिया और चूमना और चाटना शुरू कर दिया.

उसने भी मेरा सर पकड़ कर चूत पर दबाना चालू कर दिया.

कुछ देर बाद एक बार फिर से मैंने उसकी चूत में लंड डाल दिया और गांड फाड़ चुदाई शुरू कर दी, उसकी चूत की मेरे लंड से घिसाई शुरू कर दी.

More Sexy Stories  रिश्ते में बहन के साथ सेक्स सम्बन्ध- 2

मेरा लंड जैसे जैसे उसकी चूत में आ-जा रहा था, उसकी चुद बहुत टाईट और कसी होती जा रही थी.
वो अपनी टांगों को सिकोड़ कर लंड को दबोच सी रही थी. जबरदस्त रगड़ाई हो रही थी.

बीस मिनट तक चूत चोदने के बाद मेरा कामरस निकलने को हो गया और मैंने उसकी चूत में ही रस छोड़ दिया.
मेरे साथ में वो भी झड़ गई.

उसकी चूत से हमारा मिक्स माल निकल कर बहने लगा.
वो बहुत थक गयी थी. हम दोनों लेट गए और सो गए.

सुबह परीक्षा के लिए जाना था. सुबह दोनों जल्दी जल्दी तैयार होकर अपने परीक्षा सेण्टर चले गए.

सुबह 8 बजे से पेपर शुरू हुआ, तो 11 बजे खत्म हुआ.

अब हम दोनों फिर साथ थे.
हमने जूस पिया, हल्का फुल्का नाश्ता किया.

फिर हम 2 बीयर और चखना लेकर वापस दोस्त के फ्लैट पर आ गए.

गर्मी ज्यादा होने की वजह से मैं शॉवर लेने चला गया.
शॉवर लेकर मैंने नैना को टॉवल के लिए आवाज दी तो वो भी शॉवर लेने के लिए तैयार थी.

मैंने उसको बाथरूम में खींच लिया. हम दोनों साथ में शॉवर लेने लगे.

मैंने उसकी ब्रा पैंटी निकाल दी और एक दूसरे को किस करने लगे.
वो भी मुझे किस करने लगी.

मेरा लंड कड़क हो गया तो मैंने उसकी चूत में लंड डाल दिया और शॉवर के नीचे खड़े खड़े उसकी चूत चोदने लगा.

रात की चुदाई के बाद और इस बार की चुदाई 20 मिनट तक चली. इस बार हम दोनों साथ में झड़े.

चुदाई के बाद हम दोनों नहाये और कमरे में आ गए.
हमने एक एक बियर पी.
नैना को हल्का फुल्का सुरूर आने लगा.
वो और बियर पीने की जिद करने लगी.

मैंने कपड़े पहने और अकेला ही शॉप पर जाकर 4 बियर ले आया.
हम दोनों फिर से पीने लगे.

वो नंगी ही मेरी गोद में थी और बियर पी रही थी. फिर उसे मस्ती चढ़ने लगी तो वो अपने मुँह में बियर भर कर मुझे पिलाने लगी.
मैं भी उसकी चूचियों को बियर में डुबोकर चूसने लगा.

उसे और मुझे बहुत मज़ा आने लगा.
फिर मैंने उससे उसकी गांड चोदने की इच्छा जाहिर की, तो उसने थोड़ा मना किया. बाद में मान गयी.

मैंने उसको बेड पर लिटा कर उसकी गांड में उंगली डालना चालू की और साथ में उसकी चूत को चूसना भी चालू किया.
वो बहुत मदहोश होने लगी.

फिर मैंने अपने लंड को तेल से नहला कर उसकी गांड में लंड का टोपा रगड़ना शुरू कर दिया.

वो टांगें खोल कर लंड पेलने की कहने लगी. मैंने लंड गांड में डाला और धीरे धीरे अन्दर पेलना शुरू कर दिया.
उसकी आवाज बहुत कांप रही थी.

मैंने तेल के साथ धीरे धीरे अपना लंड गांड में डालने लगा. मेरी हॉट गर्लफ्रेंड दर्द से चीख रही थी.
वो पहली बार गांड में लंड ले रही थी.

मैंने गांड चुदाई चालू रखी और 20 मिनट तक जम गांड मारी.
फिर अपना सारा माल उसकी गांड में छोड़ दिया.

उसके बाद मैंने एक बार शाम में और गांड मारी.
हम दोनों शाम को चल कर वापस घर आ गए.

उसके बाद फोन पर बातें तो होती ही रहती थीं पर मिलना नहीं हो पाता था.
मैं भी थोड़ा बिजी हो गया था.
अब ज्यादा हमारे बीच कुछ रह नहीं गया था.

नैना को कोई और मिल गया था और उसने मुझे एक दिन कोचिंग में रिसेप्शन पर बैठी लड़की के साथ देख लिया तो हमारी बात होना ही बंद हो गयी.

वो रिसेप्शन वाली लड़की की चूत मैंने कैसे ली, ये अगली कहानी में लिखूंगा. अभी के लिए इतना ही.

आशा करता हूँ कि आपको मेरी ये रियल हॉट गर्लफ्रेंड Xxx स्टोरी पसंद आयी होगी.
मुझे आपके मेल का इंतज़ार रहेगा.
[email protected]

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *