दोस्त की बहन की चुदाई की

dost ki behen ki chudai ki हेलो दोस्तो, मैं विशाल आज आप के लिए बहुत ही हॉट और सेक्सी कहानी ले कर आया हूँ. मुझे उमीद है आप को मेरी आज की कहानी पसंद आएगी. ये कहानी आज से 3 साल पुरानी है जब मेरी उमर 22 साल थी. और उस टाइम मैं कॉलेज मे ब. ए के लास्ट यियर मे था. कॉलेज मे ही मेरा एक दोस्त रवि बन गया.

हम दोनो कॉलेज के पहले दिन से एक दूसरे के बहुत अच्छे दोस्त बन गये थे. हम दोनो एक दूसरे के घर काफ़ी बार स्टडी करने के लिए चले जाते है. हम दोनो के घर वालो को हुमारी दोस्ती से कोई दिक्कत न्ही थी. क्योकि हम दोनो स्टडी मे काफ़ी अच्छे थे और कॉलेज मे भी हम दोनो की अच्छी इमेज बनी हुई थी.

सारे टीचर्स हम दोनो की बहुत तारीफ करते थे. पर रवि से ज़्यादा लड़किया मेरे उपर मारती थी. क्योकि मैं रवि से काफ़ी ज़्यादा गुड लुकिंग था. और मेरी बॉडी भी काफ़ी अच्छी है और मेरी हाइट 5’7 है. और सब से ज़्यादा ज़रूरी बात तो ये है की मेरा लंड 7 इंच लंबा और 2’5 इंच मोटा है.

ये मेरा सब से बड़ा प्लस पॉइंट था. मैने अभी तक कॉलेज मे ही करीब 18 लड़किया अच्छे से चोद दिया है. और उनके चोदने के बाद मैने अपने दोस्त को वो लड़किया गिफ्ट कर दिया था. इससे हम दोनो का काम बन जाता था और हमारी दोस्ती काफ़ी गहरी हो गयी थी.

मैं जब भी रवि के घर जाता तो उसकी बेहन ममता मुझे कुछ अलग ही नज़ारो से देखने लग गयी थी. उसने मुझे चुप चुप कर लव लेटर दे दी थी. पर मुझे ये ग़लत लगता था क्योकि मैं रवि को अब दोस्त न्ही अपन भाई मानने लग गया था. इसलिए मैने उस पर ज़्यादा ध्यान न्ही दिया और उसे इग्नोर करने लग गया.

दोस्तो मैं आप को ज़रा ममता के बारे मे बता दू. उसकी उमर 17 साल थी और उसका रंग गोरा था. उसकी हाइट 5’1 थी और अगर मैं उसके फिगर की बात करूँ तो वो कुछ ऐसा था 30-28-32. उसके छोटे छोटे बूब्स और पतली सी कमर और नीचे छोटा पर मोटा चूतड़. क्या कमाल का जिस्म था इस उमर मे ही ममता का. कहना पड़ेगा साली ने इस उमर मे पूरी कयामत कर रखी थी.

More Sexy Stories  मामा की लड़की की हॉट चुदाई

जब भी मैं उसे ध्यान से देखता था. तो कई बार मेरा भी मूड खराब हो जाता था. उस टाइम मैं अपने उपर बहुत मुश्किल से कंट्रोल करता था. पर वो थी की मुझ पर एक तरह से फिदा थी. अब मुझे लगने लगा की इस साली को चोद कर ही सेट करना पड़ेगा.

एक दिन की बात है मैं हर बार की तरह रवि के घर गया हुआ था. उसके मम्मी पापा पहले से ही आउट ऑफ स्टेशन गये हुए थे. उसके घर मे वो और उसकी बेहन और उसकी दादी जी ही थे. जब मैं आया तो उसने मुझे अपने रूम मे बिठाया और खुद अपनी दादी को डॉक्टर के पास ले गया. उसने कहा की मैं थोड़ी देर मे आता हूँ मैं इतने मे टी. वी देख लून.

मैं उसके रूम मे बैठा था. तभी ममता मेरे पास आ कर बैठी और मुझसे कहा की अगर मैं फ्री हूँ तो मैं उसे मात्स की कुछ प्राब्लम सॉल्व करा दू. मैं झट से उसे हन कर दी उसने कहा की आप 2 मिनिट बाद मेरे रूम मे आ जाना. जब मैं उसके रूम मे गया तो वो सिर्फ़ ब्रा और अपनी टाइट जीन्स मे बैठी हुई थी.

उसे इस रूप मे देख कर मैं पागल हो गया. मुझे पता था की मेरे पास टाइम कम है. इस लिए मैं जाते ही उसके उपर लेट गया और उसके चूसने लग गया. उसने मुझे कुछ भी न्ही कहा क्योकि मुझे अच्छे से पता था की वो मुझसे ये ही चाहती थी. मैं उसके पूरे जिस्म को पागलो की तरह चूसने लग गया.

More Sexy Stories  कोचिंग क्लास की हॉट लड़की की चुदाई

फिर मैने उसे और अपने आप को पूरा नंगा कर दिया. मैने उसके बूब्स बहुत ज़ोर ज़ोर से चूसे. और उसके छोटे छोटे बूब्स चूस चूस कर लाल कर दिया. उसके बाद मैने उसकी दोनो टाँगे खोली और उसकी चूत पर अपनी जीब रख कर और चाटने लग गया. मेरी जीब से उसकी चूत चाटने से वो पूरी तरह पागल हो गयी.

2 मिनिट मे ही उसकी चूत ने अपना सारा पानी निकाल दिया. उसके बाद अब मेरे लंड की बरी थी. मैने उसके मूह मे अपना लंड डाल दिया और उसको चूसने को कहा. ममता ने पहले तो ना करी पर फिर चुप चाप चूसने लग गयी. करीब 10 मिनिट अपना लंड अच्छे से चुसवाने के बाद. मैने उसके मूह मे से अपना लंड बाहर निकाल लिया.

फिर मैने उसकी चूत पर अपना लंड सेट करके उसके उपर लेट गया. और उसके मूह मे उसी की पानटी डाल दी. ताकि उसकी आवाज़ बाहर ना आ सके. मैं ढेर सारा थूक उसकी चूत पर गिरा दिया और एक जोरदार धक्के से अपना लंड उसकी चूत मे डाल दिया. लंड अभी तोड़ा सा उसकी चूत मे गया था. और इतने मे ही उसकी जान निकल गयी उसकी आँखो से आँसू बाहर आ गये.

पर मेरे उपर इस चीज़ का कोई फरक न्ही पड़ता था. मैं उसको बड़ी बेदर्दी से चोद्ता रा और उसकी चूत मे से 3 बार और पानी निकाल दिया. उसके बाद मैने उसकी चूत के उपर अपने लंड का पानी निकाल दिया. फिर उसके उपर ही लेट गया.

जब हम दोनो उठे तो देखा की उससे चला तक न्ही जा रा है. और पूरी बेडशीट उसकी चूत के पानी से भर गयी है. इतने मे ही रवि अपनी दादी को ले कर आ गया था.

Pages: 1 2