मेरी छिनाल चाची की सेक्स कहानी- 2

देसी चाची चुत चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि मैंने अपनी चाची को मेरे टीचर से चुदती देखा. टीचर ने मुझे देख लिया तो उसने मुझे कमरे में बुला लिया.

दोस्तो, मैं सोहेल एक बार फिर से अपनी छिनाल शबनम चाची की गांड चुत चुदाई की कहानी में आपका स्वागत करता हूँ.
देसी चाची चुत चुदाई स्टोरी के पिछले भाग
मेरी कामुक चाची मेरे टीचर के लंड से चुदी
में अब तक आपने पढ़ा था कि खान सर मेरी शबनम चाची की गांड में लंड पेले हुए थे और चाची दर्द से कराहते हुए शांत हो गई थीं.

अब आगे देसी चाची चुत चुदाई स्टोरी:

शबनम चाची के दर्द भरी आवाजें शांत होते देख का खान सर बोले- शबनम मादरचोद … मजा आ रहा है. बोल दम से चुदाई शुरू कर दूं … मजा आ रहा है न!
चाची ने हामी भर दी.

तो सर तेजी से चाची की गांड मारने लगे और चाची सिसयाने लगीं- आहह आह ओह सर प्लीज धीरे धीरे आह प्लीज छोड़ दो.
अब सर के झटके काफी ताकतवर लगने लगे थे.

सर के झटके इतने तेज थे कि चाची धीरे धीरे बिस्तर पर लेटने लगीं और थोड़ी देर बाद चाची पेट के बल पूरी लेट गईं. सर तूफानी रफ्तार से चाची की गांड मारने लगे.

चाची की गांड से फच फच की आवाज़ होने लगी.
ताबड़तोड़ चुदाई से पलंग भी चर्र चर्र चूं चूं करने लगा.

कमरे में दोनों के बदन टकराने की फद्द फद्द फद्द आवाज़ होने लगी. काफी देर तक कमरतोड़ चुदाई के बाद सर लंड गांड से निकालकर उठ गए.

वो बोले- आह साली कुतिया क्या मस्त मखमली गांड है तेरी … मजा आ गया.
उन्होंने लंड चाची के मुँह में डाला और घिसने लगे.

चाची लंड चूसते हुए आवाज निकालने लगीं- औकक्क आकक्क अमम्म उम्मम्मम.

थोड़ी देर बाद सर ने चाची इशारा किया, तो चाची उनके लंड को अपनी चुत में डालकर उनके ऊपर बैठ गईं.

सर बोले- चल सोहेल, तू इस रांड की गांड में लंड पेल दे. आज तेरी चाची को सैंडविच चुदाई का मजा देते हैं.

मैं तो खुद यही चाहता था, तो मैं तुरंत चाची के ऊपर चढ़ गया.
चाची की गांड देखी मैंने … तो देखता रह गया चाची की गांड पूरी फैल गई थी. इस समय चाची की गांड बिल्कुल ब्लू फिल्मों की हीरोइन के समान हुई पड़ी थी.

मैंने लंड चाची की पोली गांड में घुसा दिया.
अब चाची हम दोनों के बीच में सैंडविच बन गई थीं. हम दोनों चाची को तेजी से चोदने लगे.

चाची मस्ती में आवाज निकालने लगीं- इस्स आईईईई और तेज रगड़ो ऊईईईई ईईई … दो लंड से चुदने में मज़ा आ रहा है … उफ्फ … आह आह ओह आह उईइ आहह.

हम दोनों ने चाची को अलटा पलटाकर खूब चोदा और फिर बिस्तर पर लेट गए.

चाची बारी बारी से हमारे लंड चूसने चाटने लगीं.
सर अभी झड़े नहीं थे तो वो फिर से चाची की गांड मारने लगे.

इधर चाची के मुँह में मेरा लंड चुस रहा था. उनके मुँह की गर्मी से मैं उनके मुँह में ही झड़ गया.

चाची भी मेरे लंड के माल को गटक गईं. सर अभी भी चाची की गांड मार रहे थे.

कमरे में चाची की मादक सिसकारियों की आवाज गूंजने लगी थी- आईईईई ऊईईईई आआह ईईई बस रुको … ओओह आहह प्लीज़ नहीं करो आईई मर गयी मम्मीईई.

कोई तीस मिनट के बाद सर चिल्लाए- आह आह शबनम आहह आह ले रस का मजा ले.
बस सर चाची के ऊपर गिर गए. वे दोनों लंबी लंबी सांसें लेने लगे.

थोड़ी देर बाद सर ने लंड चाची की गांड से निकालकर कहा- शबनम मादरचोद … आज तेरी गांड मारने में मजा आ गया.
चाची मुस्कुराते हुए बोलीं- सर आपने आज मुझे जन्नत दिखा दी. दो लंड से चुद कर मुझे मजा आ गया.

More Sexy Stories  बड़ी बेहन ने मूठ मरते हुए पकड़ा

इसके बाद सर ने एक सिगरेट जलाई और धुंआ उड़ाने लगे. फिर वो चाची को सिगरेट देते हुए बोले कि ले शब्बो रंडी तू भी मजा ले ले.
चाची सिगरेट पीने लगीं.

मैं उन दोनों को देखते हुए अपना लंड सहला रहा था.
चाची ने मेरी तरफ सिगरेट बढ़ा दी और बोलीं- तू भी एक दो सुट्टा मार ले.
मैंने सिगरेट अपने होंठों में दबाई और कश लेने लगा.

चुदाई के बाद मैंने और चाची ने कपड़े पहन लिए.

इसके बाद हर हफ्ते शबनम चाची मेरी पढ़ाई देखने के बहाने सर से मिलने आतीं और हम दोनों के लंड से चुदाई करवा लेतीं.

एक दिन जब अहमद चाचा बाहर गए थे तो खान सर घर आ गए.
मैं और चाची घर में थे. मैं समझ गया कि आज फिर चाची की चुदाई होगी.

कुछ देर की आवभगत के बाद सर और चाची बेडरूम में चले गए. उन्होंने कमरे का दरवाजा बंद कर दिया.
थोड़ी देर बाद चाची की सिसकारी गूंजने लगीं- आहह ओह इस्स आह प्लीज़ नहीं करो आईईई आहह ओह.

मैंने भी चाची कि चुत रगड़ने का मन बना लिया.

पहले तो मैंने बाहर का मेन दरवाजा बंद किया. फिर बेडरूम में झांक कर देखा तो चाची सर के लंड की सवारी कर रही थीं.
चाची के हाथ सर के सीने पर टिके थे और सर चाची की कमर पकड़कर उनको ऊपर नीचे कर रहे थे. सर का लंड चाची की चुत में शंटिंग कर रहा था.

सर बोले- शबनम मादरचोद और तेज तेज रगड़ भैन की लौड़ी.
चाची तेजी से उछलने लगीं.

‘उफफफ्फ़ आहह इस्स मजाहह आह आह ऊऊ मजा रहा है.’

थोड़ी देर बाद चाची उठीं और लंड चाटती हुई बोलीं- आह मजा आ गया … अब मैं गांड में लंड लूंगी.

चाची ने लंड अपनी गांड पर टिकाया और धीरे धीरे लंड पर बैठने लगीं.

लंड गांड में घुसा, तो चाची कराहते हुए बोलीं- आहहह आह आह ओह … कितना मोटा लंड है मजाहह आ गया आहह ओह.
थोड़ी देर बाद चाची की गांड पूरा लंड निगल गई.

सर बोले- शबनम मादरचोद क्या बात है क्या रबड़ी सी गांड है तेरी.
चाची बोलीं- अहमद तो मेरी गांड छूता भी नहीं है जानेमन.

अब चाची तेजी से उछलने लगीं. उनके मुँह से चुदासी आवाजें निकलने लगीं- उफफफ्फ़ आहह इस्स आह आह … मजा आ रहा है वाह क्या बात है क्या लंड है.

थोड़ी देर चाची लंड पर उछलती रहीं.

सर बोले- शबनम बहनचोद अब मेरी बारी है … चल नीचे आ जा.

सर एकदम से उठे तो चाची गिर गईं. सर ने उनकी टांगें अपने कंधों पर फंसा लीं और चाची की गांड मारने लगे.

चाची सिसयाने लगीं- प्लीज आहह ओह धीरे धीरे आह उईइइइइ आहह प्लीज आहह इस्स आ धीरे धीरे आह उईइइइइ.

सर ने चाची को ब्लू फिल्मों के समान पोज बदल बदल कर खूब चोदा. आखिर में सर ने चाची को जमीन पर लिटाया और चोदने लगे.

थोड़ी देर बाद चाची कराहीं- आहह सर बस बस रूको आहह आऊ छोड़ दो न … मैं झड़ गई हूँ, छोड़ दो आहहह.
सर बोले- थोड़ी देर और रूक जा मादरचोदी … मैं भी झड़ने वाला हूँ.

करीब 10 मिनट बाद सर बोले- आहहह शबनम आहहह मैं आ गया अहहह.

सर चाची के ऊपर गिरे और उनकी चुत में अपना माल भरने लगे.

चाची हांफते हुए बोलीं- बापरे कितनी बुरी तरह से चोदा है.
सर बोले- भैनचोद रांड तू तो चुदने के लिए ही बनी है … मज़ा आ गया.

उन दोनों की चुदाई खत्म हुई तो सर कपड़े पहनने लगे.

चाची बोलीं- सर मैं आपके बच्चे की मां बनने वाली हूँ.
सर बोले- कल सफाई करवा लेना.

सर ने कपड़े पहने और चले गए. मैं अन्दर गया, तो चाची नंगी बिस्तर पर पड़ी थीं.

मैं बोला- काफी सेक्सी लग रही हो चाची … अब मुझे भी खुश कर दो.
चाची बोलीं- सोहेल तू बेडरूम में जा, मैं नहाकर आती हूँ.

More Sexy Stories  दोस्त की चालू बहन की चुत में मेरा लंड- 3

मैं बेडरूम में गया और चाची का इंतजार करने लगा. थोड़ी देर में चाची आ गईं. उन्होंने अपने गीले बदन पर सिर्फ एक तौलिया लपेटी हुई थी.

मैं खड़ा हो गया.

चाची मेरे पास आकर बोलीं- आज मैं तुम्हारी हूँ … जो चाहे कर लो.

मैंने चाची कि तौलिया को हटा दिया और उनके मम्मों को दबाने लगा.

वो सिसयाने लगीं- प्लीज आहह इस्स आ धीरे धीरे आह.

मेरा लंड और टाईट हो गया. मैंने चाची को बिस्तर पर पटका और नंगा हो गया.

चाची टांगें फैलाकर बोलीं- सोहेल जल्दी डालो … अब सहन नहीं हो रहा है.

मैं उनके ऊपर चढ़ गया. चाची ने लंड अपनी चूत पर रखा और बोलीं- प्लीज घुसा दो.

मैंने एक धक्के में पूरा का पूरा लंड चुत में घुसा दिया.

चाची की कामुक सिसकारी निकल गई- आहह सोहेल.
मैं बोला- चाची तुम्हारी चुत तो भोसड़ा बन गई है.
चाची मुस्कुराते हुए बोलीं- सोहेल ये सब मेरे चाहने वालों की करामात है.

मैंने चाची के होंठों को चूसना शुरू कर दिया. चाची ने मेरे बदन को जकड़ लिया और मेरे होंठों को चूमते हुए बोलीं- प्लीज सोहेल चुदाई शुरू करो.

मैंने तेजी से चुदाई शुरू कर दी. चाची सिसयाने लगीं- प्लीज आहह इस्स आ धीरे धीरे आह.

मैंने चाची के मम्मों को निचोड़ना शुरू कर दिया और तेजी से चोदने लगा.

मैं बोला- चाची तुम्हें चोदने में काफी मजा आ रहा है.
चाची तेजी से कमर उछालने लगीं- उफफफ्फ़ आहह इस्स आह आह ह ओह तेज तेज रगड़ो सोहेल.

मैंने स्पीड बढ़ा दी और बीस मिनट तक धकापेल करता रहा.

चाची मुझे रोकने लगीं- बस सोहेल बस … रुको मैं झड़ गई हूँ.
मैं बोला- चाची मैं अभी नहीं झड़ा हूँ.
चाची मुस्कुराते हुए बोलीं- सोहेल तू चिंता मत कर, मैं हूँ न!

मैंने लंड चुत से निकाला और चाची मेरे लंड को चूसने चाटने लगीं.

चाची बोलीं- वाह सोहेल, तू तो अपने अहमद चाचा से आगे निकला, इतनी देर तो तेरे चाचा चोद ही नहीं पाते हैं.
मैं बोला- चाची तुमको कितने मर्दों ने चोदा है?
वो हंसते हुए बोलीं- सोहेल मुझे अब तक 29 मर्दों ने चोदा है, तू तीसवां है.

मैं उनकी चूची मसली और इशारा किया, तो चाची कुतिया बन गईं और बोलीं- सोहेल अब तुम मेरी गांड की प्यास बुझाओ.

मैंने चाची की गांड पर लंड टिकाया और दबाने लगा.
चाची की गांड पूरी खुली थी, तो मेरा लंड आराम से अन्दर घुस गया.

चाची अपनी कमर उचकाने लगीं और सिसकारी लेने लगीं- आहह इस्स आह आह ओह ओहआहह.

मैंने चाची की कमर पकड़ी और तेजी से गांड मारने लगा.
चाची बोलीं- प्लीज इस्स आह आह ओह ओह तेज तेज रगड़ो … आह मजा आ रहा है सोहेल.

मैंने चाची को खींचा और उनके मम्मों को निचोड़ते हुए जोर जोर से गांड मारने लगा.
चाची बोलीं- प्लीज सोहेल धीरे धीरे … अपनी चाची पर रहम करो.

मैंने चाची को लिटा दिया और गांड मारने लगा.
करीब पंद्रह मिनट बाद मैंने अपना सारा माल चाची की गांड में भर दिया और चाची के ऊपर गिर कर हांफने लगा.

थोड़ी देर बाद मैं चाची से अलग हुआ और बोला- चाचीजान, आपकी चुदाई में मजा आ गया.
चाची मुस्कुराते हुए बोलीं- सोहेल अभी तो शुरूआत है. आज पूरी रात बाकी है. तुम ऐसा करो मेरे कमरे से दारू की बोतल ले आओ. आज पार्टी जमाते हैं.

मैंने दारू और सिगरेट के साथ पूरी रात चाची को चोदा. हम दोनों अपनी हवस मिटाते रहे.

अब जब भी अहमद चाचा दुबई जाते हैं, तो मैं और खान सर उनकी हवस शांत करते हैं.
हम दोनों ने चाची को कई बार गर्भवती भी किया, पर उन्होंने हर बार अपना गर्भपात करा लिया.

आपको मेरी देसी चाची चुत चुदाई स्टोरी कैसी लगी, प्लीज़ मेल करना न भूलें.
[email protected]

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *