बिजनेस बचाने के लिए अफ्रीकन लंड से चुद गयी-1

 

हैलो फ्रेंड्स,मैं अंजलि शर्मा अपनी आगे की सेक्स कहानी लेकर फिर से वापिस आ गयी हूँ. सबसे पहले तो मैं आप सभी पाठकों का धन्यवाद करना चाहूंगी कि आप लोगों ने मेरी पिछली सेक्सी कहानी
कॉल बॉय से कामवासना का इलाज़
को पढ़ा और मुझे इतने सारे मेल और कमेंट्स किए कि मैं सभी को जबाव ही दे पाई. इसके लिए मुझे माफ़ कर दीजिएगा.

मैं अपना परिचय एक बार फिर से दे देती हूँ ताकि नए पाठकों को भी पढ़ने में मजा आए.

मेरी उम्र 39 साल है, पर कोई भी मुझे देख कर यह नहीं कह सकता है कि मेरी उम्र 39 साल की है. मेरी उम्र अभी भी 26-27 की एक जवान लड़की की तरह लगती है. इसका कारण ये है कि मेरा फिगर 36-32-38 का एकदम कसा हुआ है और मेरा रंग भी एकदम दूध की तरह सफ़ेद है.

जैसा कि आप सभी को पता है कि मैं घर पर ज्यादा समय नंगी ही रहती हूँ या कभी कभी ब्रा और पैंटी में ही रहती हूँ. मेरी ब्रा का साइज भी 36बी है, पर मैं 32 साइज की ही ब्रा पहनती हूँ, जिसमें से मेरे बूब्स आधे से ज्यादा बाहर निकले रहते हैं. मुझे अपने मम्मों को इस तरह से दिखाना बड़ा अच्छा लगता है. चुत को ढंकने के लिए भी मैं थोंग पैंटी पहनना पसंद करती हूँ, जो सिर्फ चुत को ही छुपा पाती है. मेरी इस तरह की पैंटी की डोरी गांड की दरार में फंसी रहती है.

जब भी मुझे घर से बाहर जाना होता है मैं ज्यादातर मिनी, मिडी, स्कर्ट, जीन्स, टॉप ही पहनती हूँ. ये सभी कपड़े भी मेरे जिस्म की साइज से एक दो नम्बर छोटे होते हैं.

अब मैं आप लोगों को मेरे परिवार के बारे में भी बता देती हूँ. मेरे परिवार में मैं और मेरे पति रोहन हैं.

जैसा कि आप लोगों ने मेरी पहली सेक्स कहानी
दुबई में बेटे के साथ बनाया हनीमून
के दोनों भागों में पढ़ा था कि कैसे मैंने अपने बेटे रोहन को अपनी तरफ आकर्षित करके उसे फंसाया था. उसके बाद उसने मुझे हचक कर चोदा और फिर हमारा मां बेटे का रिश्ता बदल कर पति पत्नी का हो गया. क्योंकि हमने शादी कर ली थी.

रोहन की उम्र भी अभी 25 साल है. उसके बाद आपने मेरी दूसरी सेक्स कहानी
पति के बिना घर में एक रात
में आपने पढ़ा था कि मेरे पति रोहन की गैर मौजूदगी में कैसे मैंने एक कॉलब्वॉय को अपने घर बुला कर उसके साथ पूरी रात चुदाई का मजा लिया.

उसके बाद आप लोगों ने मेरी तीसरी सेक्स कहानी
पति के दोस्तों के साथ बनाई सुहागरात
में आप लोगों ने पढ़ा था कि कैसे मैंने अपने पति रोहन के कहने पर उनके दोस्तों को अपनी चुत का मजा चखाया था. मेरे पति के उस दोस्त ने पूरी रात चुदाई की, जिसमें मेरे पति भी मुझे चोदने के लिए शामिल थे.

उसके बाद आपने मेरी चौथी कहानी
कॉलब्वॉय के साथ अमेरिका में सुहागरात के मजे
में आप लोगों ने पढ़ा था कि कैसे मैंने अपने कॉलब्वॉय को दस दिन के लिए अमेरिका ले जाकर उसके सुहागरात और हनीमून के मजे लिए और उसके लंड से दस दिन तक लगातार चुदाई के मजे लिए थे.

इसके बाद अब आप मेरी आगे की कहानी को आज पढ़ेंगे.

ये सेक्स कहानी भी मेरी एक सत्य घटना है, जिसमें आप लोगों पढ़ेंगे कि कैसे मुझे अपने बिजनेस को बचाने के लिए अपने दो अफ्रीकन क्लाइंट्स से चुदना पड़ा. कैसे उन दोनों ने मुझे चोदा और कैसे उन्होंने मेरी जवानी के रस का आनन्द लिया.

जैसा कि आप सभी को पता है कि हमारा दुबई में एक छोटा सा लेडी अंडरगार्मेंट्स इम्पोर्ट एक्सपोर्ट का बिजनेस है, जिसमें हम लोग ब्रा-पैंटी, बेबी डॉल नाइटी, नाइटी और बिकनी की नई और उत्तेजक डिज़ाइनों का इम्पोर्ट एक्सपोर्ट करते हैं. कुछ ब्रा-पैंटी हम हमारे यहां बनाते भी हैं. मैं और मेरे पति रोहन बहुत अच्छे से हमारे बिजनेस को चला रहे हैं.

हुआ यह जब आज मैं और रोहन ऑफिस पहुंचे, तो रोहन ने मुझे बताया कि आज हमारी एक अफ्रीकन क्लाइंट के साथ मीटिंग है. मीटिंग आज ही होनी है, कल वो क्लाइंट वापिस अफ्रीका चला जाएगा. हमें उसके साथ आज ही यह मीटिंग जरूर करनी है, वरना हमारा बहुत नुकसान हो जाएगा.

मैंने रोहन से कहा- तुम चिंता मत करो, सब ठीक हो जाएगा.
रोहन ने मुझसे कहा- अंजलि, तुम हमारी मॉडल को बुला कर उसे सब समझा दो. आज ही क्लाइंट से मिलना है और उसे अंडरगार्मेंट्स की डेमो देनी होंगी.
मैंने कहा- हां रोहन, मैं अभी उसे बुला कर समझा देती हूँ.

मैंने अपने मैंनेजर को फ़ोन लगाया और उसे हमारे केबिन में आने को कहा. मैंनेजर मेरे केबिन में आया, तो मैंने उससे मॉडल को रेडी करने के लिए बोला.

उसने मुझे बताया कि मैम आज हमारी दोनों मॉडल नहीं हैं, एक की तबियत ठीक नहीं है और दूसरी पहले से ही बाहर है. तो अभी हमारे पास कोई मॉडल नहीं है.
मैंने मैंनेजर पर गुस्सा किया और उसे मॉडल ढूढ़ने को बोला.
रोहन मुझे शांत करवाने लगे.

तभी थोड़ी देर बाद हमारा क्लाइंट ऑफिस आ गया.

जल्दी जल्दी में मैं आपको क्लाइंट का नाम बताना भूल गयी. उसका नाम रॉबर्ट पेटसन था. वो एक ब्लैक हब्शी था. वो हमारे ऑफिस आ गया. फिर रोहन और मैंने क्लाइंट के साथ हमारे केबिन में बैठ कर मीटिंग की. हमारी मीटिंग बहुत अच्छे से हुई.

More Sexy Stories  भाभी ने ननद की जवानी का मजा दिलाया

फिर रॉबर्ट ने रोहन से कहा- सब ठीक है, बस मुझे एक बार अंडरगार्मेंट्स का डेमो देखना है. उसके बाद में डील कर लूंगा.

रोहन रॉबर्ट को समझाने लगे कि वो बिना डेमो देखे ही डील कर ले.
पर वो नहीं माना. उसने हमें आज शाम 8 बजे तक का समय दिया और अपने होटल के लिए निकल गया.

फिर रोहन और मैं परेशान होने लगे और मॉडल का इंतज़ाम करने लगे, पर हमें कोई मॉडल नहीं मिली.

शाम के 6 बजने वाले थे और अभी तक कोई मॉडल नहीं मिली थी. फिर मेरे दिमाग़ में एक प्लान आया और मैंने रोहन से कहा- रोहन अभी कोई मॉडल नहीं मिल रही है. और हमको ये डील करना भी बहुत जरूरी है, तो क्यों न मैं ही जाकर अपने इस क्लाइंट को डेमो दे दूं.

रोहन मेरी बात सुनकर गुस्सा होने लगे. उन्होंने मुझे मना कर दिया और बोलने लगे कि मैं तुम्हें वहां नहीं भेज सकता.

फिर मैंने रोहन को समझाया कि हमारे लिए यह डील करना बहुत जरूरी है. आप परेशान मत हो, मैं सब संभाल लूंगी.

मेरे बहुत मनाने के बाद रोहन ने मुझे जाने के लिए हां बोल दी. फिर मैंने क्लाइंट को कॉल लगाया और उससे होटल का नाम और रूम नंबर ले लिया.

कुछ देर बाद में मुझे क्लाइंट ने होटल का नाम और रूम नंबर मैसेज कर दिया.

मैंने अपने बैग में ब्रा, पैंटी, बेबी डॉल, नाइटी, नाइटी और बिकनी के सैंपल रखे और रोहन से कहा कि आप घर जाओ, में 12 बजे तक घर आ जाउंगी.

रोहन मान गए. मैं 6 बजे ऑफिस से निकल गयी और लगभग 7 बजे तक होटल पहुंच गयी. मैंने होटल पहुंच कर क्लाइंट को फ़ोन किया और उसे बता दिया- सर, मैं होटल आ गयी हूँ और रूम में आ रही हूँ.
उसने कहा- ओके तुम कमरे में आ जाओ.

मैं होटल के उसी रूम की तरफ बढ़ गई जिसमें मेरा क्लाइंट चली गयी. दो मिनट बाद मैं ऊपर रूम के पास पहुंच गयी. मैंने रूम की बेल बजाई और कुछ देर बाद रॉबर्ट ने गेट खोला.

रॉबर्ट मुझे देख कर शॉक हो गया और बोला- अंजलि जी आप अकेली?
मैंने कहा- हां सर, वो हमारी मॉडल छुट्टी पर है इसलिए मुझे आना पड़ा.

उसने मुझे रूम में अन्दर बुलाया और उसने रूम को लॉक कर दिया. मैं और रॉबर्ट रूम के लिविंग एरिया में सोफे पर बैठ गए और डील की बातें करने लगे.

रॉबर्ट ने मुझसे बोला- अंजलि अब मुझे डेमो देखना है. फिर मैं डील बुक करता हूँ.
मैंने कहा- ओके सर.

मैंने अपने बैग में से सभी ब्रा, पैंटी, नाइटी, बेबी डॉल नाइटी और बिकनी निकाल कर टेबल पर रख दी.

रॉबर्ट ने उसमें से एक ब्रा और पैंटी को हाथ में लेकर देखने लगा. उसने अपने हाथ में एक ब्रा-पैंटी का सैट ले रखा था. ये ब्रा पूरी तरह से ट्रांसपेरेंट और नेट वाली थी, जिसमें से बूब्स साफ दिख सकते थे. फिर उसने पैंटी को देखा, वो पैंटी एक थोंग पैंटी थी, जो कि सिर्फ चुत को ही छुपा सकती थी. वो भी ट्रांसपेरेंट नेट वाली थी. उसकी डोरी गांड की दरार में घुस जाती है.

उसने मुझसे कहा- अंजलि, एक काम करो तुम मुझे यह वाला सैट पहन कर दिखाओ. और थोड़ा रेडी भी हो जाना.
मैंने कहा- ओके सर, मैं रेडी होकर आती हूँ.

मैंने ब्रा-पैंटी का सैट उठाया और वॉशरूम में चली गयी. मैंने वॉशरूम लॉक कर लिया. इधर मैंने अपनी मिडी उतारी फिर अपनी ब्रा और पैंटी भी उतार दी. पहले मैंने शावर लिया, उसके बाद मैंने अपना मेकअप किया और मैं ब्रा पहनने लगी.

पर जब मैंने ब्रा पहनी, तो वो ब्रा मुझे बहुत छोटी हो रही थी. मैंने ब्रा का साइज देखा था, वो सिर्फ 30 साइज की ब्रा थी और मेरे बूब्स का साइज 36 था. पैंटी का भी कुछ यही हाल था. मेरी पैंटी का साइज 38 इंच है, पर मैं जल्दी जल्दी में 32 साइज की पैंटी ले आयी थी.

मैंने ब्रा को किसी तरह से पहनने की कोशिश की. और बहुत मुश्किल से ब्रा पहनी.

इस ब्रा में से मेरे निप्पल का ऊपर का हिस्सा पूरा बाहर आ रहा था.. मतलब ब्रा में सिर्फ मेरे आधे ही बूब्स आ रहे थे. क्योंकि मेरे बूब्स अभी तक एकदम तने हुए और टाइट और गोले मटोल हैं, इसलिए मैं बहुत हॉट एंड सेक्सी लग रही थी.

इसके बाद मैंने अपनी पैंटी पहनी. इस पैंटी की रेशमी डोरी मेरी गांड की दरार में चली गयी. पैंटी सिर्फ मेरी चुत को ही छुपा पा रही थी और वो भी हिस्सा नेट वाली कपड़े से छुपा हुआ था, जिसमें से मेरी चुत पूरी साफ नजर आ रही थी. फिर मैंने अपनी हील पहनी और हील पहनने के बाद मेरी गांड और भी बाहर निकल गयी.

मैं पूरी तरह से रेडी हो चुकी थी. मैं इन ब्रा-पैंटी में भी पूरी तरह नंगी ही लग रही थी. आज मुझे एक गैर मर्द के सामने ब्रा-पैंटी में जाने में बहुत शर्म आ रही थी. मैं हिम्मत करके वॉशरूम का गेट खोला और वॉशरूम से कैटवॉक करती हुई रॉबर्ट की पास पहुंच गयी.

More Sexy Stories  मामी की सेक्स की अंतर्वसना शांत की

रॉबर्ट सोफे पर बैठा हुआ हाथ में सिगरेट लिए हुए शराब पी रहा था. वो मुझे ब्रा-पैंटी में देख कर बहुत शॉक था. वो सोफे पर अपने पैर पसारे हुए बैठा था और मैं उसके ठीक सामने खड़ी थी. मेरी चुत उसके चेहरे के बिल्कुल सामने थी.

उसने सिगरेट को ऐश ट्रे में रखा और अपने दोनों हाथ मेरे नंगे चूतड़ों पर रखकर मुझे घुमा कर इधर-उधर देखने लगा. वो मेरी गांड पर हाथ फेरने लगा. लगभग दस मिनट तक उसने मेरे साथ ऐसा ही किया.

उसके बाद रॉबर्ट सोफे पर सीधा बैठ गया और मुझे भी अपने साथ अपनी गोद में बैठा लिया. जब मैं उसकी गोद में बैठी थी, तो उसका लंड एकदम खड़ा हो चुका था और मुझे चुभ रहा था.

फिर उसने म्यूजिक सिस्टम चालू किया और एक इंग्लिश गाना लगाकर मुझसे डांस करने को बोला. मैं उसकी गोद में से उठी और उसके सामने डांस करने लगी. रॉबर्ट सामने बैठ कर ड्रिंक कर रहा था और डांस करते हुए सिगरेट फूंकते हुए मुझे देख रहा था.

कुछ देर बाद उसने गाना बंद कर दिया और फिर उसने मुझे एक पिंक रंग की बेबीडॉल नाइटी दी. ये बेबी डॉल नाइटी पूरी ट्रांसपेरेंट थी. उसके साथ उसने मुझे एक मैचिंग की ब्लैक ट्रांसपेरेंट ब्रा-पैंटी भी दे दी.

इसी के साथ उसने एक पैग बना कर मुझे दिया और कहा कि प्लीज़ इसे ले लो.

मुझे भी इस समय ड्रिंक की बड़ी जरूरत महसूस हो रही थी. मैंने एक झटके से गिलास उठा कर अपने हलक से उतार लिया और उसके हाथ से सिगरेट लेकर दो लम्बे कश खींचे और गांड मटकाते हुए टेबल से ब्रा-पैंटी और नाइटी उठा कर वॉशरूम में वापिस आ गयी.

फिर मैंने बाथरूम में आकर ब्रा-पैंटी उतारी और ब्लैक वाली ट्रांसपेरेंट ब्रा-पैंटी पहनी. वो भी उसी साइज की थी, मेरे बूब्स उसमें नहीं आ रहे थे. फिर मैंने बेबी डॉल भी पहन ली, जिसमें से मेरा पूरा शरीर नंगा दिखाई दे रहा था. मैं अन्दर से पूरी तरह नंगी दिखाई दे रही थी. इसके बाद मैंने हील पहनी और वॉशरूम का गेट खोल कर कैटवॉक करती हुई रॉबर्ट के पास आ गयी.

रॉबर्ट मुझे अधनंगी देख कर अपना लंड सहला रहा था. उसने मुझे कैटवॉक करने को बोला. मैंने उसे थोड़ी देर कैटवॉक करके दिखाया. वो अचानक खड़ा हुआ और मेरे मम्मों पर हाथ फेरने लगा. मुझे इस समय उसके हाथ मस्त कर रहे थे.

थोड़ी देर बाद उसने मुझे एक नीले रंग की बिकनी दी और उसे पहन कर दिखाने को बोला. ये बिकनी की ब्रा डोरी वाली थी, जो पीछे से बंधती है. इसकी पैंटी भी ऐसी ही थी जो दोनों तरफ से डोरी बांधी जाती है.

मैं मुस्कुराई और उसका पैग उठा कर नशीली आंखों से उसे देखते हुए सिगरेट पीने लगी. उसने लंड सहलाते हुए मुझे इशारा किया, तो मैं बिकनी उठा कर वॉशरूम में जाने लगी.

उसने मुझसे बोला- अंजलि तुम्हें वॉशरूम में जाने की जरूरत नहीं है, तुम यहीं बदल सकती हो. वैसे भी यहां कोई नहीं है.

मैंने उसे मना किया और वॉशरूम में जाने लगी, पर उसने मुझे रोक दिया.
वो बोला- नहीं डार्लिंग, तुम यहीं बदल लो.

मुझे रुकना पड़ा क्योंकि वो क्लाइंट था. मैं उसे देखने लगी, तो उसने फिर बोला- तुम यही चेंज कर लो.
मैंने उसे मजबूरी में कहा- ओके सर.

रॉबर्ट सोफे पर बैठ गया और मैं उसके सामने थी. मैंने अपनी नाइटी की लेस खोली और नाइटी उतार कर टेबल पर रख दी. अब मैं सिर्फ ब्रा-पैंटी में थी. मैंने अपना हाथ पीछे किया और अपनी ब्रा का हुक खोल दिया. जैसे ही ब्रा का हुक खुला, मेरे चूचे एकदम से आज़ाद हो गए. मैंने उसे अपने मम्मे दिखाते हुए ब्रा उतार कर नीचे गिरा दी. मेरे बड़े बड़े चूचे हवा में उछल रहे थे.

मैं नीचे झुकी और पैंटी को भी नीचे उतार दिया. मैंने पैंटी को हवा में घुमाते हुए, सोफे पर रॉबर्ट बैठे के पास फेंक दी. रॉबर्ट ने उसे अपने हाथ में लपक लिया और मेरी पैंटी की खुशबू लेने लगा.

इस समय मैं रॉबर्ट के सामने बिल्कुल नंगी खड़ी थी और मुझे बहुत शर्म आ रही थी. मैं अपने दोनों हाथों से अपने बूब्स छुपा रही थी और जांघों से अपनी चुत को छुपा रही थी. रॉबर्ट मुझे नंगी देख कर बहुत खुश हो रहा था.

आज मैं अपनी कंपनी की मालिक एक गैर मर्द के सामने पूरी तरह नंगी खड़ी थी. मुझे समझ आ गया था कि ये हब्शी आज मुझे चोदे बिना नहीं मानेगा. मगर मुझे आज अपने बिजनेस के लिए डील पक्की करने की लग रही थी, इसलिए मैंने उससे चुदना भी ठान लिया था.

उससे चुदाई के समय मुझे कुछ ऐसा करना था, जिससे उसे लगे कि वो एक नई जवान लौंडिया चोद रहा है और इसके लिए मुझे उससे चुदवाते समय कुछ ज्यादा ही चीखना होगा.

इस सबको अपने दिमाग में रखते हुए मैंने उसके साथ चुदने के लिए मन बना लिया था.

इस सेक्स कहानी के अगले भाग में आप मेरी उस हब्शी के साथ चुदाई की कहानी का मजा लेंगे. आपके मेल मुझे उत्तेजित करते हैं, प्लीज़ मुझे मेल जरूर करें.
[email protected]

कहानी का अगला भाग: बिजनेस बचाने के लिए अफ्रीकन लंड से चुद गयी-2