ब्वॉयफ्रेंड के दोस्त संग चुदाई

दोस्तो मेरा नाम दीपिका है. मैंने इससे पहले अपनी पहली चुदाई की कहानी
सहेली के बॉयफ्रेंड ने की मेरी पहली चुदाई
लिखी थी, जिसका लिंक मैं इस कहानी के साथ दे रही हूँ. मुझे उम्मीद है कि आपको मेरी चुदाई की कहानी पसंद आई होगी. जिसमें मैंने आपको बताया था कि कैसे मेरी रूममेट कोमल के बॉयफ्रेंड मणि ने मेरी चुदाई की थी.
अब आगे..

दो दिन तक मणि ने मेरी बहुत चुदाई की. मणि ने मुझे बताया कि मणि के दो दोस्त संजय और रवि भी कोमल की चुदाई कर चुके है. पहले मणि कोमल की चुदाई संजय के फ्लैट पर करता था. मणि संजय के सामने ही कोमल की चुदाई के मजे लेता और कोमल की अपनी इस चुदाई को वो संजय को दिखाता. वो संजय के सामने ही कोमल के बोबे दबा देता. कोमल के होंठ चूस लेता.

शुरुआत कुछ ऐसे हुई कि मणि कोमल को संजय से चुदवाना चाहता था. क्योंकि मणि कोमल संजय के फ्लैट में ही रासलीला करते थे. उसके फ्लैट की सुविधा के एवज में मणि कोमल को संजय के लंड के लिये तैयार कर रहा था.

जब मैंने मणि से पूछा कि तुमने कोमल को कैसे तैयार किया?
मणि बोला- लड़की को जब लंड का चस्का लगता जाता है, तो वो किसी का भी लंड लेने को तैयार हो जाती है.
फिर मणि ने मुझे कोमल की कहानी बतायी. जो आज मैं आपके सामने हूबहू उसी के शब्दों में लिख रही हूँ.

मणि का दोस्त संजय फ्लैट पर अकेला ही रहता था. तो मणि ने कोमल को भी संजय के फ्लैट पर शिफ्ट कर लिया. सुबह से शाम तक संजय ऑफिस में बिजी रहता और कोमल मणि के साथ कालेज में ट्रेनिंग पर रहती थी. शनिवार और रविवार को सब फ्री रहते थे. संजय के फ्लैट में दो बेडरूम थे. कोमल बुधवार को शिफ्ट हुई थी.

गुरुवार को मणि और कोमल ट्रेनिंग पर चले गए. शाम को तीनों वापस आए तो बीयर पीने लगे. कोमल ने शॉर्ट्स और टी-शर्ट पहनी हुई थी. धीरे-धीरे तेज नशे वाली बीयर सबको चढ़ने लगी.

कोमल को मणि ने अपने और संजय के बीच में बिठा लिया. मणि कोमल की कमर पर हाथ फेरने लगा और उसको अपनी तरफ खींच कर उसके होंठ चूसने लगा. मणि ने कोमल का हाथ खुद के बरमूडे में डाल कर अपना लंड पकड़ा दिया.

मणि ने कोमल को एक खेल खेलने को तैयार किया. मणि ने कहा- हम तीनों में से जिसके सामने बाटॅल का मुँह आएगा, बाकी दोनों उससे सवाल पूछेंगे.
सब राजी हो गए.

मणि ने बाटॅल घुमायी. संजय के सामने बोतल का मुँह रुक गया, मतलब उसकी बारी आ गई.
उससे मणि ने पूछा- कोई गर्लफ्रेंड है?
संजय ने मना कर दिया.
मणि ने पूछा- तूने कितनी बार सेक्स किया है?
उसका जवाब आया- बहुत बार किया है. मैंने गिनती नही की.

अगली बार फिर से संजय की बारी आई तो मणि ने पूछा- पहली बार सेक्स कब किया?
संजय ने बोला- स्कूल में 12 वीं क्लास में.
मणि ने पूछा- आज तक कितनी लड़कियों की ली.
संजय बोला- अब तक 35 की चूत ली है.

अगली बारी मेरी फ्रेंड कोमल की आई.
मणि ने पूछा- चुदाई का मन है या चुसाई का.
कोमल बीयर के नशे में बोली- चुदाई चूस चूस कर करवाने का.
संजय बोला- मैं तुमसे तीन सवाल पूछूँगा और जवाब देना जरूरी होगा.
मणि बोला- हां तू पूछ.. वो सब देगी.

More Sexy Stories  रिश्ते में बहन के साथ सेक्स सम्बन्ध- 1

ये कहते हुए मणि ने कोमल के शॉर्ट्स के बगल से उसकी चूत में उंगली डाल दी.

संजय- पहला सवाल, कोमल क्या तुम्हें हम दोनों के साथ अच्छा लगता है?
कोमल ने नशे की पिनक में कहा- हां अच्छा लगता है. आई फील वैरी रोमांटिक एंड हॉट.
संजय ने दूसरा सवाल किया- तुम पहली बार कब चुदी थीं
कोमल- मैं भी 12 वीं में खुल चुकी थी.
संजय ने तीसरा सवाल किया- मणि और मेरा लंड मुँह से नाप कर साइज बताओगी?

अभी कोमल कुछ कहती कि मणि ने कोमल के मुँह के सामने अपना लंड खोल दिया. कोमल ने मणि का लंड मुँह में ले लिया. उसने नाप बताया कि मणि का लंड कितना बड़ा है. इसके बाद संजय ने अपना लंड खोला. तो कोमल जैसे ही संजय का लंड चूसने लगी. मणि ने कोमल की चुदास को समझ लिया और उसे पूरा नंगी कर दिया.

इसके बाद तीनों नंगे होकर संजय के बेडरूम में आ गए. मणि ने कोमल को बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी कमर पर किस करना शुरू किया. साथ ही उसने अपना खड़ा लंड कोमल को पकड़ा दिया.
मणि ने कोमल के साथ बिस्तर पर लेट कर उसकी गांड चौड़ी कर दी और उंगली डाल दी.

कुछ देर बाद 69 की सी स्थिति बन गई और संजय का लंड कोमल के मुँह में आ गया. कोमल की चूत में पीछे से मणि लंड पेल कर चुदाई कर रहा था.

कोमल मणि के लंड से चुद रही थी. संजय ने मणि को इशारा किया, तो संजय ने लंड बाहर निकाल कर कोमल की चूत, संजय के लंड के लिए खाली कर दी. अब संजय ने कोमल के चूतड़ चौड़े करके अपना लंड उसकी चूत में पेल दिया.

कोमल की टांगें मणि ने अपने ऊपर कर लीं. आगे से संजय कस कस के कोमल की चूत में लंड के झटके मारने लगा. तभी मणि ने अपना लंड कोमल के मुँह में डाल दिया और वो कोमल का मुखचोदन करने लगा.

कुछ देर बाद संजय ने इशारा किया और मणि को कोमल की गांड मारने के लिए बुलाया. मणि आने लगा तो संजय ने कोमल को अपने ऊपर ले लिया और नीचे से उसकी चूत में लंड पेलने लगा. तभी मणि ने कोमल को पीछे से पकड़ कर गांड चौड़ी करके लंड पेल दिया और संजय नीचे से कोमल की चूत में लंड डाले हुआ था.

अब मणि और संजय ने कोमल को सैंडविच बना दिया. कोमल ने चिल्ला चिल्ला कर अपनी चूत और गांड का बैंड बजवाया. चूंकि संजय का बेडरूम साउंडप्रूफ था. सो किस बात की कोई चिंता ही नहीं थी.

पूरी रात मणि और संजय ने कोमल को जी भर के पेला. उसकी गांड और चूत की चुदाई करके समझो सुजा दिया. कोमल की गांड गड्डा बन गई थी और चूत सूज कर पकौड़ा बन गई थी, उससे चला भी नहीं जा रहा था.
चुदाई के बाद मैंने और संजय ने फिर से पीना शुरू की और थोड़ी सी कोमल को भी पिला दी, ताकि उसको दर्द से राहत मिल सके और नींद आ जाए.

अगली सुबह मणि ने कोमल की चूत में लंड पेल दिया और उसे चोदने के बाद संजय को उठाया.

अगले दो दिन शनिवार रविवार को सब फ्री थे, मणि ने संजय से कहा- आज रात को डिस्को चलेंगे.

रात को तीनों डिस्को चले गए. डिस्को में संजय की एक फ्रेंड हिना भी आई थी. संजय ने कोमल को हिना से मिलवाया. हिना ने छोटी फ्राक ही पहनी हुई थी. हम सब लोग ड्रिंक कर रहे थे. बीच-बीच में मणि संजय हम दोनों को किस कर रहे थे. डिस्को में भीड़ बहुत ज्यादा थी. क्योंकि शुक्रवार था और एक विदेशी ग्रुप भी आया हुआ था. ये डिस्को एक होटल में था.

More Sexy Stories  गन्ने के रस और मोसम्बी के रस की हिंदी सेक्सी कहानी

तभी संजय मणि किसी काम से चले गए. वे बोल कर गए थे कि एक घंटे तक आ आयेंगे.

उनके जाने के बाद दोनों लड़कियों ने ड्रिंक मंगा ली. अकेली लड़कियों के लिए डिस्को रिस्की होता है. वे डांस करने लगी. भीड़ में कोमल और हिना को लड़के छेड़खानी करने लगे. एक तो हिना की छोटी सी फ्राक थी, जिस वजह से एक लड़का तो हिना के चूतड़ चौड़े कर रहा था.

हिना तो उसके साथ एक अंधेरे कोने में जाकर बैठ गई. कोमल हिना के पास ही चली गई. वो लड़का बोला कि रूम में चलते हैं.
वे तीनों एक रूम में चले गए. रूम में जाते ही लड़के ने कोमल को पीछे से पकड़ कर उसकी टांगों में से हाथ डाल कर चूतड़ चौड़े करके गांड में अच्छे से उंगली पेल दी.

तभी कोमल के पास मणि का फोन आया कि हम दोनों आधे घंटे में आने वाले हैं. कोमल ने हिना को ये बताया, तो उस लड़के ने जल्दी जल्दी दोनों को चोद कर खुश कर दिया.

फिर रात को मणि और संजय ने कोमल और हिना को फ्लैट पर लाए. उसके बाद उन्हें दारू पिला कर चुदाई के लिए रेडी कर दिया.

मणि संजय ने कोमल को अपने बीच में पकड़ कर गांड और बोबे दबा दिये. रात को मणि और संजय ने कोमल और हिना को बारी बारी से चोदा. मणि ने कोमल की चूत में लंड पेल दिया और संजय ने कोमल के मुँह में लंड में दिया हुआ था.

इसके बाद चुदाई का खेल खुल कर शुरू हो गया और मणि और संजय ने कोमल और हिना को एक दूसरे के सामने कुतिया बना कर खूब चोदा. इस स्थिति में कोमल और हिना एक दूसरे के आमने सामने थीं. वे एक दूसरे के होंठ चूसने लगीं. पीछे से संजय ने कोमल को चोदने लगा और मणि हिना की चूत में झटके मारने लगा.

इस चुदाई समारोह में दो दोस्तों के साथ दो लड़कियां मादक सीत्कारें लेते हुए मस्ती से चुद रही थीं.

हिना ने अपने बारे में बताया और कहा कि यदि उसको भी इस फ्लैट में रख लो, तो रोज ही समूह में चुदाई का मजा आएगा.
यह सुनते ही संजय ने हां कर दी, वो तो चूतों का रसिया था ही. इसके बाद रोज रात को मणि और संजय कोमल और हिना की चुदाई करने लगे.

दो महीने बाद संजय मुंबई शिफ्ट हो गया और हम सब अपने रूम पर आ गए.

कोमल और मणि फिर वहीं शिफ्ट हुए, जिधर मणि ने मेरी पहली चुदाई की थी. कोमल के आने से पहले मणि ने मेरी बहुत चुदाई की थी. फिर जब कोमल आयी तो मणि कोमल की चुदाई करने लगा और मैं लंड की प्यासी हो गई.
हिना अब इधर से चली गई थी, उसने कोई और लंड ढूँढ लिया है.

आप सभी को मेरी इस ग्रुप सेक्स कहानी से कितना मजा आया. प्लीज़ मुझे ईमेल करके बताइएगा.
धन्यवाद.
[email protected]

What did you think of this story??