भांजी की चुदाई बचपन सुरभि का

हेलो दोस्तो आई एम 28 म देल्ही से हू, ये एक सच्ची स्टॉरी है जो मैने खुद अपने भांजी के साथ किया. भांजी की चुदाई

ये बात 10 साल पुरानी है जब मैं 19 का था और मेरे भांजी जिसका नाम सुरभि है उसकी तब उमर ** साल थी तब उसका भरा बदन सांवला रंग था ** साल की उमर मे भांजी मे एसा कुछ नही होता जिससे कोई आकर्षित हो बस वो मेरे हवस और शिकार करने का शौक था.

मेरा ** साल की एज से सेक्स का शौक चुत चाटने का और लड़कियो का शिकार करने का हवस से भरा हुआ था मैं मेरा बचपन मेरे बहानो के सेक्स के साथ ही चल रहा है

एक दिन सुरभि हमारे घर रहने आई हुई थी और मुझे सेक्स करे हुई 7 दिन हो चुके थे मेरा दिमाग़ खराब और घुमा हुआ था बस चुत चुत चुत चाटो खाओ मेरे हवस बढ़ती ही जा रही थी ऐसे में उस बेचारी बच्ची मारी गई

तो हुआ यू की वो रहने आई हुई थी और उसके साथ रहना और छूना पकड़ना टच करना मुझे पागल कर रहा था उसका भराव बदन मुझे उसके बचपन को खा जाने पे मजबूर कर रहा था.

मेरी हवस इतनी बढ़ चुकी थी की मैं उसके साथ सोता उसकी चुत उसको सूँघता उसको स्मेल कर कर के मूठ मारता 3 दिन हो चुके थे मेरा सब्र ख़तम हो चुका था और घर वालो को देल्ही के बाहर शादी मे जाना था फ्राइडे का दिन था दोपहर मे 2 बजे सब का जाने का प्रोग्राम बना और मैने घरमे ही रुका रहा था.

और सुरभि ने भी जाने से मना कर दिया था वो बोली मैं मामा के साथ यही रुक जाउन्गि बस ये सुनते ही मेरा दिमाग़ अपने जगहा से हिल चुका था और मेरे अंदर का राक्षस पूरी तरहा से बाहर आ रहा था/

शाम होते ही 7 बजे सारे घर वाले जा रहे थे उनको संडे रात तक आना था वापस सब के जाते ही मैं बाहर गया और 4 बियर और एक सिगरेट्स का पॅकेट ले आया और उसको बोला चल उपर चलते है 2न्ड फ्लोर पे वाहा टीवी देखेंगे और रात के 9 बज गये थे हम मामा भांजी दोनो उपर गये वाहा टीवी चलाया और मैने कहा सुरभि बियर पीगी बोली छी मामा नही नही पागल हो आप.

मैने कहा चल चुप कर और टीवी देख मैं पी रहा हू और वो चुप रही मैं 2 बियर पी और सिगरेट उसके बाद मेरा दिमाग़ ख़तम हो चुका था हवस की हद ख़तम हो चुकी थी मैं रूम मे गया टीवी की आवाज़ तेज़ की और बोला चल डॅन्स करते है और वो भी मस्ती मे आ गई

More Sexy Stories  दोस्त की बहन की चुत की आग शांत की

ज़ोरर्र से आज़ाव कर दी और डॅन्स करने लगे उसके हिलते छोटे छोटे बूब्स उसकी निक्कर मे चिकने जांगे मुझे पागल कर रही थी और मैने रूम लॉक किया और डॅन्स करते हुए उसको एक ज़ोरसे थप्पड़ मारा और वो चौक गई और उसका मु पकड़ के उसके होंटो पे अपने होट रख के ज़ोर से चूसने लगा और वो 10 सेक चुप रही.

उसके बाद अपने आप को छुड़वाने की कोशिश करने लगी ज़ोर ज़ोर से उूउउ उूउउ कर के अपने आप को छुड़वाने की कोशिश करने लगी और अपने हाथ पैर मारने लगी और मैं हवस में डूबा हुआ पागल हुआ जा रहा था और एक दम रुका.

आहााअ और वो रोइईईईई बोहोत ज़ोरर्र ज़ोरर्र की रोने लगी मुझे मारने लगी चिल्लाने लगी मामा पागल हो गये क्या क्या हुआ क्या किया आपने ये और मैने उसको फिर से धक्का दिया बेड पे और एक थप्पड़ औरर्र मारा ज़ोर के और चुप हो गई उसका मु पकड़ा और फिर से वही ज़ोर ज़ोर से चूसने लगा चूमने लगा उसके मूह को चाटने लगा और वो बेचारी बच्ची रोए जा रही थी.

मुझे मार रही थी अपने हाथ पैर झटक रही थी और मैं उसको चाटे जा रहा था और ये सब करते वी 10:30 हो चुके थे मैं पीछे हटा और होश मे आया मैने सॉरी बोला माफी माँगी और उसको चुप करवाया वो बोहोत रोई मुझे मारा पिटा उसको समझाया मुझे कुछ हो गया था प्लीज़ अब नही करूँगा उसको चुप करवाया ये करते ही 12 बाज चुके थे रात के.

रात 12 बाज चुके थे उसको चुप करवाया खाना खिलाया और आराम से टीवी देखाया.

पर मेरी हवस ख़तम नही हुई थी उसको चूम के और बढ़ गई थी उसका चिकना बदन देख के मन था उसको पूरा नंगा कर के चाटू.

और रात 1 बजे फिर से मैं उसपे हमला बोला और उसको पकड़ के लिपट गया और चूमने लगा और बोला सॉरी बुरा मत मानिओ पर मेरा बोहोत मन है तुझे किस करू बस मना करने लगी मैने आराम से मनाया और किस किया उसके गले को चाटा उसके हाथो को चाटा.

और वो फिर रोने लगी उसके रोते ही मुझे और मज़ा आने लगा और उसकी टीशर्ट उतरवाई और उसका रोना और तेज़ हुआ मैने टीवी चलाया और आवाज़ बढ़ाई और उसके समीज़ ब्रा टाइप थे उसको उतारा और उसका जिस्म चाटने लगा भूके जानवर की तरहा उसको चाटे जा रहा था.

More Sexy Stories  सेक्सी बहन की सेक्सी चुदाई

उसके छोटे छोटे बूब्स चूस रहा था चाट रहा था उसके उपर से जिस्म चाटे जा रहा था और वो रोई उसके आँसुओ से उसका जिस्म गीला हो रहा था और मैने एक थप्पड़ और मारा साली चुप हो जा और आराम से रह और बोल के उसकी निक्कर खिच दी और साथ मे पैंटी भी उतर गई उसका रोना और बढ़ गया चिल्लाना रोना मारना पीटना और मैं उसके नंगे जिस्म से खेलने लगा उसको चाटने लगा उसकी स्मेल से मुझे हवस और जाग रही थी और उस बेचारी का मरना हो रहा था.

मैने उसकी चुत पे हाथ रखा और वो भागने लगी मैने पकड़ा और फिर धक्का दिया बेड पे और मारा एक और बोला कुछ नही करूँगा बस चाटूंगा समझी रो मत चुप हो जा नही तो और मारूँगा बोली मामा प्लीज़ मुझे छोड दो मैने क्या किया है माफ़ करदो रोने लगी मैने कहा बस चुप रह और उसकी टांगे खोली और आहा क्या चुत छोटी और मोटी चुत उसके पैर खोलते ही क्या खुशबू आ रही थी बच्ची की चुत की खुशबू मुझे दीवाना बना देती है और पागल मैं नीचे हुआ और चुत के मूह को उपर से चाटने लगा उसकी खुशबू लेने लगा उसका रोना तेज़ हुआ और मेरा मज़ा ज़्यादा हुआ.

मुझे अपना फीडबॅक देने के लिए कृपया कहानी को ‘लाइक’ ज़रूर करे, ताकि कहानियों का ये दौर देसीकाहानी पर आपके लिए यूँ ही चलता रहे.

रात के 2:20 मीं हो चुके थे मैने उसकी छोटी से चुत को अपने जीब से जैसे खोला उसने बोहोततत्त ज़ोर से आवाज़ निकाली आहह आआआ नैईईईईई मार जौन गीई रे मममाआ मेरे जीब उसकी गीली चुत से भर गई और दबा के चाटने लगा और ज़ोरर दार चटकारा लेते हुए ज़्यादा अंदर जीब ना डालते हुए चाटने लगा और उसने बोला मुझे टाय्लेट आ रहा है मामा जाने दो.

मैने कहा वहा यही कर बोली नही मामा रोते रोते बोली नही. मैने एक थप्पड़ और मारा और बोला कर साली मेरे मु मे कर उसने डर के मारे टाय्लेट आने लगा मैं उसकी चुत को मूह लगा के उसका टाय्लेट पीया अपने मूह पे डाला पीया और आहाआ मज़ा लिया.

टू बी कंटिन्यूड..

अगर आपको आगे जानना है क्या है तो मैल कर के जरूर बताइए बेहेन भाई, आई’एम मेल 28 एह फ्रॉम देल्ही अपने और सब की बहेनॉ का शिकारी हू, बचपन से बहेनॉ की चूत चाट के बड़ा हुआ हू और आज भी चाट्ता हू मैल मी मेरी मैल आईडी है बताइए मेरी कहानी कैसी लगी.