भाभी ने अपनी कामुकता शांत की

bhabhi ne apni kamukta shant ki मुझे सब प्यार से ली बुलाते हैं. मैं मुंबई मे अपने भाभी के साथ रहता हू. भैया और मेरे भाभी की बड़ी बहन के पति एक एजेन्सी में काम करते है साल में एक या दो बार आते हैं. हिन्दी पॉर्न स्टोरी पड़ोस की भाभी

एक दिन की बात है भाभी ने मुझसे शॉपिंग पे चलने को कहा. मैं तैय्यार हुआ और शॉपिंग के लिए गया. भाभी ने शॉपिंग की और हम घर को वापस आ ही रहेते की बारिश होने लगी. घर पहुँचने तक हम भीग गये थे.

मैने बाइक को जल्दी पार्क किया और घर में आ गया. भाभी ने कहा ली जल्दी कपड़े बदल लो नही तो बीमार हो जाओगे. और मैं भी जा रही अपनी ड्रेस चेंज करने.

मैं अपने रूम में गया और कपड़े को उतार कर रख दिया और टॉवेल को लपेट लिया. तभी भाभी ने मुझे पुकारा. मैं उनके रूम में गया तभी देखा भाभी अपने ब्रा और पैंटी में खड़ी थी.

मैं शर्मा गया और रूम से बाहर चला आया. भाभी ने कहा ली ज़रा मेरा हुक लगा दो मुझसे लग नहीं रहा है. मैं शरमाते हुए भाभी मैं नहीं मुझे शर्म आती है.

भाभी ने मुझसे कहा अरे इसमे शरमाना क्या. प्लीज़ लगा दो ना. मैं किसी तरह गया और हुक को लगाया और जल्दी से भाभी के रूम से निकलने ही वाला था उन्होने मुझे रोका और कहा की मैं कैसी लग रहीं हूँ.

मैने कहा अछी तो उन्होने कहा अरे मेरी तरफ देख कर बताओ. मैं पीछे मुड़ा तो देखा भाभी एक लाइट ब्लॅक कलर की मॅक्सी में खड़ी हैं और उनकी मॅक्सी के लाइट होने के कारण उनकी पैंटी और ब्रा सॉफ दिख रहें है.

मैने कहा भाभी बहोत अछी और बहोत हॉट भी. वो हंसते हुए बोली दत शरारती कहीं का. मैं जैसे ही पीछे मुड़ने वाला था मेरा टॉवेल पता नही कैसे खुल गया और मैं भाभी के सामने पूरा न्यूड (नंगा)हो गया. भाभी ने मुझे देख लिया जिससे मैं शर्म से लाल हो गया और अपने रूम में जाने को सूचने लगा.

More Sexy Stories  जवान भाभी की चूत की आग शांत की

तभी भाभी ने मुझे तेज़ी से अपने बेड पे धक्का देकर बेट पे गिरा दिया औ मुझे आँख मरके मेरे पास आकर लेट गईं और मेरे मूह में अपना मूह डालकर किस करने लगी.

अब मैं रियेक्ट करने लगा और मैं भी उनको किस करने लगा और उनके बूब्स को दबाने लगा. उन्होने मुझे 10मीं तक किस किया. अब मैं भी हॉट हो गया था. भाभी उठी और मेरे पेनिस(लंड) को चाटने लगी.

भाभी मेरे पेनिस को 30मीं तक चाटती रही और बीच बीच में वो अपने मूह से सलाइवा (थूक) निकालकर मेरे पेनिस पे गिराकर अपने पेनिस को रगड़ती और लालीपोप की तरह चुस्ती. जब वो मेरे पेनिस चाट रही थी तब मेरे मूह आआााआः जैसी आवाज़े निकल रहीं थी और मुझे बहुत अछा लग रहा था.

और मैने भी भाभी को पकड़ा और उनको लेटा के गले को चाटा और होटो को चबाया. कुछ देर चाटने के बाद मैने भाभी की मॅक्सी को फाड़ दिया और भाभी के नाभि को चाटने लगा और अपनी जीभ से गुद गुदि करने लगा जिससे भाभी के मूहसे एक हॉट सेक्स भरी आवाज़ आई हहुऊँ आआआः.

फिर मैने उनके पैंटी के उपर से वजाइन (चूत )को चाटने लगा. मेरे चाटने पर भाभी की पैंटी एक दम गीली हो गयी और उसमें से वजाइन(चुत )सॉफ झलक रहा था मैने भाभी के पैंटी और ब्रा को उतार के फेक दिया और भाभी को एक दम न्यूड (नंगी)कर दिया और उनके चुत को चाटने लगा जिससे भाभी हॉट(गरम)होने लगी और आआआः ुआाह जैसी आवाज़ें निकालने लगीं. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

15मीं चुत को चाटने के बाद उनके बूब्स दबाने लगा और चाटने लगा जिससे भाभी को मज़ा आने लगा. मज़ा लेते हुए अयाया ऊऊऊ हााह करने लगी.

तभी वो उठीं और मेरे लंड को तेज़ी से लोलीपोप की तरह चाटने लगी(मतलब भाभी अब हॉट हो चुकी थी) और मेरा 8इंच का लंड(पेनिस)खड़ा कर दिया और उसपे सलाइवा (थूक)गिराती और अपने जीभ से रगड़ती हुई थूक को अंदर ले लेती.

More Sexy Stories  काजल को चुदाई की चुल्ल

अब मैने भी भाभी के वजाइन(छूट) को चूसा और आस(गॅंड) को भी चाटा. और अपनी दो फिंगर(उंगली)को भाभी के चुत में डाला और अंदर बाहर करने लगा और अपने जीभ से उनकी गॅंड को चाट रहा था.

कुछ देर बाद भाभी ने कहा आआ जनूऊओ कितना तड़पाओँगे अपने 8इंच मोटे साँप से आआआआः डसो ना आआआआः सबर नहीं होता आआआः बीट मी ,बीट मी(डसो मूज़े डसो) कहने लगीं आआआः.

भाभी को मैने घोड़ी जैसा बनाके अपने पेनिस (लंड) पर एक थूक मारी और भाभी के चुत पर ज़ोर से हाथ पर थूक लेकर मारा जिससे भाभी कूद पड़ी और आआआआआः कहने लगी. अब मैं अपने लंड को धीरे धीरे भाभी के चुत में डालने लगा और आआआआः ऊऊऊव्व आआआः करने लगी.

अब मेरा आधा लंड भाभी के चुत मे था अब मैने थोड़ा और दम लगाया और पूरा लंड घुसेड दिया जिससे भाभी थोड़ी तेज अव्वाज़ में चिल्ला उठी आआआआआः एस, एस फक मी ,फक मी बोलने लगी और उनकी ये शब्द सुनकर मेरा भी जोश बढ़ रहा था.

अब भाभी आगे पीछे होने लगी और मैं भी आगे पीछे होने लगा और जोश में रफ़्तार बढ़ा दी और भाभी भी उसी रफ़्तार में आगे पीछे होने लगी और बोलने लगी -एस,एस,फक मी,एस फक मी ,अया फक ,आआआआः (हन चोदो मुझे ,हाआँ चोदो ,हाआँ चोदो ,आाअग)
30 मीं बाद मैने अपना लॅंड निकाल कर भाभी को दे दिया भाभी ने उसे खूब जल्दी जल्दी चाटा और चोदने को कहने लगी. मैने भाभी को सोफे पर टीका के चोदने लगा और रफ़्तार बढ़ा दी अब मेरा रुकने का मन पर काबू नहीं था और रफ़्तार बढ़ाता गया तभी भाभी ने आगे ज़ोर से झटका मारते हुए मुझे रोक दिया और चीख पड़ी उउउउउउउउआआआआ.

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *