भाभी और ननद की हिंदी सेक्स स्टोरी

This story is part of a series:


  • keyboard_arrow_left

    एक्स-गर्लफ्रेंड की कुंवारी ननद की चुदाई

  • View all stories in series

अब तक इस हिंदी सेक्स स्टोरी के पिछले भाग
एक्स-गर्लफ्रेंड की कुंवारी ननद की चुदाई
में आपने पढ़ा था कि मैं जिया को चोदने के बाद अपने कमरे में चला गया था और इन्हीं सब कामुक बातों के साथ मेरी एक्स गर्लफ्रेंड अपनी ननद के साथ मेरे लंड से चुदने की बात का मजा ले रही थीं.

अब आगे:

वो दोनों हंसते हुए किस करने लगीं.

शाम को पांच बजे उठकर जब मैं कोमल के कमरे में गया, तब वो दोनों एकदम नग्न अवस्था में सो रही थीं, ये देखकर मेरा लंड खड़ा हो गया. अभी मेरे सामने दो हॉट सेक्सी माल नंगी सो रही थीं. उन्हें नंगी देख कर मैंने अपने सारे कपड़े निकाल दिए और अपने लंड को सहलाकर कोमल के पास आ गया.

मैं कोमल के मम्मों को दबाने लगा. तभी कोमल जाग गई और मैंने उसकी ओर देखकर सेक्सी स्माइल दे दी.

कोमल- क्या कर रहे हो?
राज- प्यार.
कोमल- तुम सुधरोगो नहीं.

मैं कोमल के होंठों को चूमने लगा और उसके मम्मों भी दबा रहा था. पहले तो वो मुझे दूर करने की कोशिश कर रही थी, लेकिन बाद में वो भी मेरा साथ देने लगी.

हम दोनों किस करने में मशगूल थे और पास में जिया सो रही थी. मैं कोमल के बदन को सहलाने लगा. फिर उसके ऊपर चढ़कर उसकी गर्दन को चूमने लगा.

तभी जिया की नींद खुल गई. मगर हम दोनों अपने रोमांस में मशगूल थे.

जिया- तुम दोनों कभी भी शुरू जाते हो!

उसकी आवाज कानों में सुनाई दी, तभी हम दोनों ने जिया की ओर देखा. मैंने उसके मम्मों को भी सहला दिया, लेकिन जिया ने अपने हाथ से मुझे रोक दिया.

कोमल- इसकी वजह से ही ये होने लगा.
मैं- क्या करूं … तुम दोनों को नंगी देखकर मेरा लंड खड़ा हो गया.

जिया ने खड़े होकर अपने कपड़े उठाए और कमरे से बाहर चली गई. मैं कोमल के बदन को चूमने लगा. मैं कोमल को चुदाई के लिए गर्म कर रहा था. मैं अपनी उंगली से उसकी चुत को सहलाने लगा. उसके मुँह से कामुक आवाज़ निकलना शुरू हो गई थीं.

मैंने ज्यादा देर ना करते हुए लंड को चुत पर सैट करके धक्का लगा दिया और मेरा आधा लंड चुत में घुस गया.

अब कोमल भी मेरे लंड को चुत में लेने की आदी हो गई थी इसलिए उसने मेरे लंड का मजा लेना शुरू कर दिया.

मैं उसको किस करते हुए चोद रहा था और वो कामुक आवाज़ निकाल रही थी. कोमल की आवाज सुनकर और तेजी से धक्के लगाने लगा.

कोमल- आहह उम्म्ह… अहह… हय… याह… यस फक उहह उम्मह ओहह यश सो गुड़.
मैं- जान तुम गांड मरवाना चाहती हो?
कोमल- हां … आ जाओ!

मैंने ये सुनते ही अपना लंड चुत से निकाला और तभी कोमल घूमकर डॉगी स्टाइल में हो गई. मैं पीछे से उसकी गांड पर चपत मारते हुए रेडी हो गया. मैंने उसकी कमर को पकड़कर गांड में लंड घुसा दिया और जोर के झटके लगाकर उसकी गांड मारना चालू कर दी. उसकी मादक कराहें निकलना शुरू हो गईं. अभी कमरे में कोमल की कामुक आवाजें और साथ में फच फच फच की आवाज़ गूंज रही थीं.

कोमल के चूचे हवा में हिल रहे थे और मैं तेज़ी से उसकी गांड मार रहा था.

करीब बीस मिनट तक घमासान चुदाई के बाद मैं हांफते हुए उसकी गांड के ऊपर झड़ गया … और दो-तीन धक्कों के बाद अपना लंड निकाल लिया. वो बिस्तर पर पेट के बेल लेट गई और मैं उसके पास ही लेट गया.

लंड निकलने से कोमल को भी चैन मिल गया और वो अपनी उंगली गांड में घुमाने लगी. जिससे लंड से निकला वीर्य उसके हाथ में लगने लगा. वो खड़ी होकर बाथरूम में चली गई.

आज की रात यहां पर मेरी आखिरी रात है. कोमल को तो अच्छे से चोद चुका हूं अब जिया को फिर से चोदना था. वैसे भी अभी उसकी गांड मारनी बाकी है.

मैंने बेड पर लेटकर पहले टिश्यू पेपर से अपना लंड साफ किया और बस चुदाई के बारे में सोचने लगा. मेरे अन्दर सेक्स की प्यास पहले से ज्यादा बढ़ चुकी थी.

तभी कोमल बाथरूम से बाहर निकल आई और मैं उसको देखकर मुस्कराने लगा. वो भी मुझे सेक्सी स्माइल दे रही थी.

कोमल मेरे सामने ब्रा और पेन्टी पहनने लगी. मैं खड़े होकर उसके पीछे से चिपक गया और उसकी गर्दन पर किस करने लगा.

मैं- आई लव यू कोमल.
कोमल- हम्म … फिर से मुझसे प्यार हो गया!
मैं- बहुत ज्यादा!
कोमल- और वो तुम्हारी रिया!
मैं- क्यों … क्या मैं दो गर्लफ्रेंड नहीं बना सकता!
कोमल- तुम्हें बता दूं कि मैं किसी की बीवी हूँ.
मैं- तो इसमें क्या है … मुझे चलेगा.
कोमल- चल मुझे छोड़ … जाने दे.

मैंने उसको छोड़ दिया और वो अलमारी से कपड़े निकाल कर पहनने लगी. मैं बेड पर बैठकर उसको देखने लगा. कुछ ही पलों में वो कमरे से बाहर चली गई और मैं बाथरूम में चला गया.

क्या कभी आपने किसी और की बीवी के साथ सेक्स किया है? या कभी आपने एक से ज्यादा लड़की के साथ सेक्स किया है? आप मुझे मेल और कमेंट करके जरूर बताना.

मैं बाथरूम से फ्रेश होकर बाहर आया. वो दोनों टीवी देख रही थीं. मैं कोमल के पास जाकर बैठ गया और वो दोनों मेरी और देखने लगीं.

मैं- खाने का क्या प्लान है?
कोमल- बाहर से आर्डर किया है.
जिया- राज … भाभी बता रही थीं कि तुम रिया से डरते हो?
मैं कोमल की तरफ देखकर बोला- मैं क्यों डरने लगा?

कोमल- इधर तो हमारी चुत की बैंड बजा रहे हो … तो अब तक उसकी क्यों नहीं मारी?
जिया- भाभी इसलिए … वरना राज को वो छोड़ कर चली जाएगी, इसी डर से कभी पहल ही नहीं की है. वो कहते हैं न कि जो मुफ्त का मिलता है, उसकी कदर नहीं होती है.
मैं- चलो हम शर्त लगाते हैं.
कोमल- कैसी शर्त?
मैं- अगर मैंने एक हफ्ते में उसके साथ सेक्स कर लिया, तो तुम दोनों मेरे साथ रात बिताने के लिए मुंबई आओगी.
कोमल- मंजूर है … हम भी तो देखें … तुम कैसे रिया की चुत में लंड घुसाते हो.
जिया- अगर तुमने रिया की गांड मारी … तो ही मैं तुम्हें अपनी गांड मारने दूंगी.
मैं- मुझे चैलेंज मंजूर है.

तभी डोरबेल की आवाज़ सुनाई दी और जिया दरवाजा खोलने के लिए खड़ी हो गई. मैं कोमल की जांघ को सहलाने लगा. तभी जिया खाना लेकर आ गई.

जिया- चलो … खाना आ गया.

फिर हम तीनों साथ में खाना खाने लगे. मैं जिया की ओर देख रहा था. उसकी चूचियां मुझे एक बार फिर से उसकी चुदाई के लिए ललचा रही थीं.

मैं खाना खाने के बाद में टीवी देखने लगा. करीब आधे घंटे बाद कोमल मुझे कॉल करके कमरे में बुलाया. लेकिन उसने मुझे आंखें बंद करके अन्दर आने को कहा था.

मैं टीवी ऑफ करके कमरे की ओर गया और दरवाजे पर पहुंचते ही अपनी आंखें बंद कर लीं. मैं नोक किया और अन्दर घुस गया. मैंने कोमल के कहने पर अपनी आंखें खोल दीं.

आह … मैं उन दोनों को देखता रह गया. वो दोनों मेरे सामने सिर्फ ब्रा और पेन्टी पहनकर किसी पोर्न स्टार के अंदाज में खड़ी थीं, जिससे मेरा लंड खड़ा हो गया.

कोमल- हम दोनों कैसी लग रही हैं?
मैं- एकदम सेक्सी.
कोमल- आज की आखिरी रात हम तुम्हारी हैं.
जिया- बस मेरी गांड मारने की सोचना मत.
कोमल- सबसे पहले किसके साथ मजा करोगे?
मैं- पहले जिया … बाद में तुम्हारी बारी.

तभी कोमल मेरे सामने कुर्सी पर बैठ गई और मैं जिया के पास जाकर उसे किस करने लगा. मैं किस करते हुए उसकी मस्त गांड को सहलाने लगा और वो भी मेरा साथ दे रही थी.

करीब पांच मिनट किस करने के बाद मैंने उसकी ब्रा उतार दी और फिर अपनी टी-शर्ट भी निकाल दी. मैंने जिया को बेड पर लेटने को कहा. वो मेरी बात सुनकर अपनी पेन्टी उतार कर बेड पर लेट गई.

इधर मैं अपनी निक्कर उतार कर कोमल के पास आ गया और उसको इशारे से ब्लोजॉब करने को कहा.
कोमल ने मेरी ओर देखा.
मैं- प्लीज़.

उसने मेरा लंड हाथ में ले लिया और लंड को मुँह में ले कर स्वाद लेने लगी फिर धीमे से लंड को चूसने लगी. कोमल को अभी अजीब सा लग रहा था और उसके मुँह से अलग आवाज आ रही थीं.

तभी मैंने उसके बालों को पकड़कर पूरा लंड मुँह में घुसा दिया, जिससे उसके मुँह का थूक मेरे लंड पर लगने लगा.

मैं उसके मुँह को चोदने लगा.

जिया- ओए … इधर मैं तेरा इंतजार कर रही हूँ.
मैं कहा- आ रहा हूँ साली.

ये कह कर मैंने ड्रावर से कंडोम निकाला और लंड पर पहन लिया. मैं जिया के पास जाकर उसके ऊपर चढ़ गया. जिया ने मेरे ऊपर आते ही अपनी चुत पसार दी. मैंने जिया को किस करके चुत पर लंड सैट कर दिया.

जिया- राज धीमे चोदना … अभी भी दर्द हो रहा है.

मैंने जिया की बात सुनकर धीमे से धक्का लगाया और थोड़ा सा लंड अन्दर घुस गया. मैंने इतने लंड से ही चुदाई शुरू कर दी. जिया धीमे से सीत्कार कर रही थी. तभी मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और साथ में जिया की कामुक आवाज़ भी बढ़ गईं. कोमल हम दोनों को देखकर अपने बदन को सहला रही थी.

जिया- ओहह आहह सो हार्ड उहह याह ओहह यस उहह उम्मह उह.

मैं तेजी से जिया की चुत पेल रहा था और वो दर्द को झेलते हुए चुद रही थी … क्योंकि उसे पता था कि एक बार मैंने चुदाई शुरू कर दी, तो मैं रुकूँगा नहीं.

चुत चुदने से फच फच फच की आवाज पूरे कमरे में गूंज रही थी. दस मिनट बाद मैं झड़ गया और लंड से कंडोम को डस्टबिन में फेंक कर लेट गया. जिया अपनी चुत को सहलाते हुए बाथरूम में चली गई.

तभी कोमल मेरे पास आ गई और मेरे ऊपर चढ़कर मुझे किस करने लगी. मैंने झट से कोमल की ब्रा निकाल दी.

कोमल- क्या तुम मुझे चोदने के लिए तैयार हो?
मैं- हां रानी आज तो मैं तेरी चुत का भोसड़ा बनाने के मूड में हूँ.

मैंने कोमल को बेड पर लेटा दिया और खड़े होकर सेक्स पॉवर की टेबलेट ले ली.

कोमल- बस … अभी से टेबलेट की जरूरत पड़ गई!
मैं- मैं कोई रोबोट नहीं हूँ … जो बिना रुके चोदता रहूँ.
कोमल हंसने लगी.

मैं कोमल के ऊपर चढ़कर उसके होंठों को चूमने लगा और गर्दन को चूमने लगा. कोमल अब पूरी तरह से गर्म हो चुकी थी, लेकिन मैं गोली के असर शुरू होने तक उसे और तड़पाना चाहता था.

मैं उसके बदन को चूमते हुए उसके मम्मों को सहला रहा था. अब दवा की असर मुझ पर होने लगा था. फिर मैंने कोमल की पेन्टी निकाल दी.

मैंने कोमल को घुमाकर घोड़ी बना दिया और उसकी गांड पर चपत लगाकर धक्का दे मारा. पहली बार में ही लंड आधे से ज्यादा अन्दर घुस गया, जिससे कोमल कराह उठी.

उसके बाद मैंने उसकी कमर पकड़ कर जोर से धक्का लगाने लगा. कोमल जोरों से कामुक आवाज़ कर रही थी- ओहह उहह ओह या आहह उम्मह फक फक याह यस.

जब मैं कोमल की गांड को तेजी से पेल रहा था, तभी जिया बाथरूम से बाहर आ गई. मैंने उसकी ओर देखकर आंख मार दी, तो जिया बेड पर बैठकर हम दोनों को देखने लगी. कोमल जिया को देखकर मुस्करा उठी.

मैंने अगले पल कोमल को पलट दिया और उसके दोनों पैर ऊंचे करके चुत में लंड पेल दिया.

जिया- राज, फक हार्ड माय हॉट भाभी.
कोमल- उहह ओह या आहह सो गुड.

मैं पूरी तेजी से कोमल की चुदाई कर रहा था. वो कामुक आवाज़ कर रही थी. हम दोनों के हाल देखकर जिया अपने मम्मों को सहलाने लगी.

करीब आधे घंटे तक घमासान चुदाई के बाद मैं हांफते हुए कोमल की चुत में ही झड़ गया.
मैं- ओहह.
कोमल- ओहह सो गुड.

मैं झड़ने के बाद कोमल के पास लेट गया और जिया कोमल को किस करने लगी. तभी कोमल खड़ी होकर चली गई.

जिया- तुम चुदाई जबरदस्त करते हो.

अब हम दोनों पास होकर किस करने लगे. उसके बाद हम दोनों आराम करने लगे और तभी कोमल भी हमारे पास आकर बेड पर लेट गई.

इस समय मैं दो हॉट माल के बीच लेटा था. मेरे दोनों तरफ अभी दो हॉट सेक्सी औरतें लेटी थी, जिसमें एक किसी की बीवी थी, तो एक बहन थी.

उस रात मैंने उन दोनों की दो बार चुदाई की थी और सो गया.

सुबह नौ बजे उठकर मैं तैयार होकर नाश्ता करने के लिए गया. वो दोनों नाश्ता कर रही थीं.

कोमल- कब जाने वाले हो?
मैं- आधे घंटे बाद.
जिया- हमारा चैलेन्ज तो याद है न!
मैं- हां तुम दोनों मुंबई आने के लिए तैयार रहना.
कोमल- वो देखते हैं.
मैं- इन दो दिन में बहुत मजा आया.
जिया- मजा तो आएगा ही न … ननद और भाभी की दो चुत चोदने को मिल गईं. तुमने हम दोनों की चुत का कबाड़ा कर दिया.
कोमल- तुम्हारी तो सिर्फ चुत चुदी है … मेरी तो गांड भी चुद गई है. अगर आकाश ने देख लिया, तो उसको जरूर शक हो जाएगा कि मैं किसी और के साथ सेक्स के मजे ले रही हूँ.

फिर मजाक करते हुए हम तीनों नाश्ता करने लगे. नाश्ता करने के बाद मैं उन दोनों को किस करके चला गया.

ये दो दिन मुझे हमेशा याद रहेंगे, जिसे मैं कभी नहीं भुला पाऊंगा.

यह कहानी यहीं पर ही पूरी होती है. मुझे आशा है कि आपको यह चोदन कहानी जरूर पसंद आई होगी.

दोस्तो, आप मुझे इस हिंदी सेक्स स्टोरी से सम्बन्धित और मेरी आगामी नई सेक्स कहानी को लेकर कोई भी बात मेरे इमेल पर भेज सकते हैं. अब मैं आपसे अपनी नई सेक्स कहानी के साथ एक नए अंदाज में मिलूंगा, तब तक विदा.
[email protected]

More Sexy Stories  कुछ अधूरा सा-2