भाभी की भाभी खुद चुदने चली आई

दोस्तो कैसे हो, सभी की चुत को मेरे खड़े लंड का सलाम. मैं फिर से अपने दोस्तों के लिए अपनी नई सेक्सी कहानी लेकर हाजिर हुआ हूँ. मेरी पिछली सेक्सी कहानी
पड़ोस की मस्त प्यासी भाभी की चुदाई
को बहुत से लोगों ने पसंद किया और फिर मुझे मेल भी किए. उन लोगों का बहुत धन्यवाद. उनको भी शुक्रिया जिन्होंने मेरी पिछली कहानी को पढ़ा और कोई जबाव नहीं किया.

मेरे बारे मैं आप सभी को फिर से बता दूं कि मैं गुजरात के अहमदाबाद का रहने वाला हूं. मैं अपनी पड़ोसन भाभी को बहुत अच्छी सर्विस दे रहा हूं. वो भी मेरी इस सर्विस से काफी खुश हैं.

अब बात कुछ इस तरह की है कि एक दिन मैं भाभी के घर पर सर्विस दे रहा था … मतलब कि उन्हें चोद रहा था कि तभी उनकी भाभी ने हम दोनों को सेक्स करते हुए देख लिया.
हम दोनों चुदाई में इतने मस्त थे कि हमें ये मालूम भी नहीं चला था कि कोई हमें देख रहा है.

ये तो तब मालूम पड़ा, जब भाभी की भाभी ने उन्हें कहा और मुझसे बात करने को मुझे बुलाया.
यह बात सुनकर मेरी तो जैसे फट ही गई थी. मैंने भाभी से पूछा- उन्होंने कब आकर देख लिया. आपने तो गेट और सभी खिड़कियों को बंद कर दिया था.

भाभी ने कहा कि उनकी साधना भाभी को गेट बाहर से खोलना आता है.

मेरा तो दिमाग ही काम करना बंद हो गया था. मैंने कहा- भाभी, ये बहुत बड़ी दिक्कत हो गयी है.
भाभी मेरे पास आ कर बैठीं और कहा- जो हो गया, उसकी चिंता न करके अब आगे कुछ ग़लत ना हो, उसका ध्यान रखना है. अब तो उनसे बात करके ही सब सही हो सकेगा.

फिर एक दिन भाभी की भाभी से मिलने का समय आ गया. वो आईं, तब मैं अपने ही घर पर ही था. भाभी ने मुझे बुलाया … तो मैं उनके घर आ गया. मैं थोड़ा डरा हुआ था.
मैंने आते ही माहौल को देखा और धीमे स्वर में कहा- कहिये आपने मुझे बुलाया क्यों है?

More Sexy Stories  दोस्त की शादी, मेरी चाँदी

साधना भाभी कहने लगीं कि तुम ये सब जो कर रहे हो न … ये ग़लत है.
मैंने कहा- कैसे ग़लत है?
तो उन्होंने कहा- इसकी शादी हो गई है.
मैंने कहा- सही कहा … शादी तो हुई है और वो शादी से खुश हैं. पर अभी मेरी शादी नहीं हुई है.

मैंने ये थोड़ा मजाक में कहा और हंस दिया.

साधना भाभी कहने लगीं- जो भी है, तू इसको छोड़ दे.
मैंने कहा- अगर भाभी को कुछ दिक्कत नहीं, तो आपको क्यों दिक्कत हो रही है?
वो कुछ नहीं बोलीं.

फिर मैंने ही मजाक करते हुए कहा- यदि आपका मन हो तो आपको भी मजे करवा सकता हूँ … मगर भाभी कहेंगी तो.
भाभी इतनी डरी हुई थीं कि कुछ बोल ही नहीं रही थीं.
भाभी ने कुछ नहीं बोला, पर साधना भाभी ने कहा- तुम अब जाओ.

मैंने जाते वक्त उनसे यह कहा- एक निवेदन है कि अब आप ये बात अपने तक ही रखिएगा. बाकी आपकी इच्छा … और मेरे लायक कुछ काम हो तो बताइएगा.

कुछ दिन यूं ही बीत गए. फिर एक दिन मैं भाभी से मिला.
तब भाभी ने कहा- मेरी साधना भाभी तुझसे कुछ चाहती हैं.
यह सुनकर मुझे झटका लगा … हालांकि मुझे तो एक नई चूत मिल रही थी, मुझसे क्या दिक्कत हो सकती थी. झटका इस बात से लगा कि भाभी खुद अपनी भाभी की इच्छा बता रही थीं.

मैंने भाभी की तरफ देखा- उन्हें क्या चाहिए?
तो भाभी कहने लगीं- जो मर्द ही औरत को दे सकता है.

मैंने कुछ देर तक सोचा कि कहीं ये मुझे फंसाने की साजिश तो नहीं है.
फिर मैंने भाभी से पूछा- क्या ये सही में साधना भाभी ने कहा?
तो भाभी ने कहा- हां सही में साधना भाभी ने ही कहा.
तब मैंने कहा- आप मेरी जगह पर होतीं तो क्या करतीं?

More Sexy Stories  अजनबी भाभी के साथ एक रात

भाभी ने भी कुछ नहीं कहा. थोड़ी देर शांत रहने के बाद भाभी कहने लगीं- तुझे उनको यह सुख देना चाहिए़.
उनके मुँह से ये सुनकर मैं पहले तो चौंक गया. फिर मेरे मन में लड्डू फूटा कि नया माल भी मिल रहा है. मैं ना तो कहना नहीं चाहता था, फिर भी मैंने उनके ऊपर छोड़ दिया कि आप जो कहेंगी, मैं वही करूंगा.

भाभी ने मुझे गले लगा लिया और कहा- ये तुझे करना ही होगा वरना मेरी इज्जत सबके सामने चली जाएगी.
मैंने कुछ ज्यादा नहीं सोचा और कहा- अब वो कब मिलेंगी.
तब उन्होंने कहा- ये मैं उनसे पूछ कर बताऊंगी.

मैंने उनको अपनी बांहों में भर लिया, पर उनकी तरफ से कुछ प्रतिक्रिया न मिलने पर मैंने कहा- क्या हुआ?
तब भी भाभी कुछ नहीं बोलीं.
मैं समझ गया कि वह अभी तक साधना भाभी के बारे में ही सोच रही हैं. मैंने भाभी को किस किया और कहा कि चिंता मत करो … मेरे रहने तक आपको कुछ नहीं होगा.
मैं चला गया.

भाभी की भाभी यानि कि साधना भाभी, भाभी के घर पर ही थीं. भाभी ने मुझे आधा घंटे बाद फिर से बुलाया. मैं गया और साधना भाभी ने मुझे अपने पास बिठाकर कहा- तेरी भाभी ने सब कुछ बता दिया न?

मैंने हां कहते हुए कहा- सब कुछ बताया, पर पहले मुझे यह बताओ कि आप अपने पति से क्यों नहीं … और मुझसे ही ये सब क्यों चाहिए.

वो बताते हुए रोने लगीं- पति ज्यादा सेक्स कर नहीं पाते हैं. मुझे अपनी उंगली से अपने आपको शांत करना पड़ता है. वो तो उनका होने के बाद सो जाते हैं. मैं तुम्हारी चुदाई देखने के बाद तुमसे चुदाई करवाना चाहती थी. पर कैसे करवाऊं, वो नहीं समझ आ रहा था. पर तुम उस दिन कह कर गए थे कि कुछ काम हो तो बताना. तब मुझे ये रास्ता सूझा.

Pages: 1 2 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *