बहन की गरम खून की चुदाई

राजू का लंड काफ़ी बड़ा था क्योकि मम्मी उसके लंड को पूरा नही ले पा रही थी और वो कुत्ते की तरह मम्मी को चोदे जा रहा था. राजू की आँखे भी बंद थी क्योकि अगर उसकी आँखे खुली होती तो वो मुझे ज़रूर देख लेता. दोनो चुदाई के समुंदर मे खो चुके थे और चुदाई का पूरा मज़ा ले रहे थे.

राजू मेरी मम्मी की चूत मे से लंड निकाल कर उस पर अपनी थूक लगाकर फिर से डालता जिससे मम्मी को खूब मज़ा आ रहा था और वो उनके लंड को अंदर लेकर खूब मज़े मे चुदवा जा रही थी.

राजू मज़े मे चोदता हुआ बोल रहा था- मेरी पूजा, तुझे कितने दीनो बाद चोदने का मोका मिला है, तेरा जिस्म तो और चिकना होता जा रहा है, तेरी चूत तो और टाइट होती जा रही है, मुझे बहोत ही ज़्यादा मज़ा आ रहा है. आआहह पूजा आई लव यू आअहह आहह. मेरी जान, तू मुझसे ऐसे ही चुदवाते रहना, तुझे चोद-चोद कर मेरा लंड घोड़े के लंड जितना बड़ा होज़ायगा, मेरी जान बहोत मज़ा आ रहा है.

मम्मी भी मज़े लेते हुए बोल रही थी – आअहह आहह राजू, चोद मुझे जमकर चोद, बहोत तड़पति हू इसके लिए. अगर तू ना होता तो मेरी चूत तो बिना लंड के तड़प कर ही मर जाती क्योकि मेरे पति मे तो इतना ताक़त ही नही थी की वो मुझे संतुष्ट कर सके. आआहह चोद मादर्चोद, चोद, मेरी चूत का आज भरता बना दे.

मम्मी की ये सब बाते सुनकर राजू उसे ज़ोर ज़ोर से चोदने लग गया और बोला – आअहह बेहेन्चोद, ले मेरा मोटा लंड अपनी चूत मे, साली तू तो जवान होती ही जा रही है मुझे तुझे चोदते हुए 8 साल हो चुके है और तू है की जवान होती जा रही है. अब मेरे लिए कोई नयी चूत का भी बंदोबस कर दे, वैसे तेरी बेटी भी अब जवान हो गई है, उसी की चूत देदे अपने राजू को, तुम दोनो मा- बेटी की दिन रात मैं सेवा करूँगा.

More Sexy Stories  कुंवारी गर्लफ्रेंड की पहली देसी चुदाई

मम्मी उसकी बाते सुनकर अपनी गॅंड उसके लंड पर रगड़ने लग गई की तभी राजू ने मेरी मा की गॅंड मे लंड डाल दिया और उनकी कमर पकड़ ज़ोर ज़ोर से उन्हे चोदने लग गया. मैं बाहर खड़ा ये सब देखता रहा और मुझे तो इतना भी ख्याल नही आया की मेरे हाथ मे मम्मी की मेडिसिन है.

राजू मेरी मा को चोदे जा रहा था और तभी वो मम्मी के उपर चढ़ के उनके बूब्स को ज़ोर ज़ोर से दबाने लग गया और अपना लंड उनकी गॅंड मे ज़ोर ज़ोर से पेलने लग गया और बोला – आअहह पूजा मेरा निकला, मैं तो गया, आअहह आअहह.

इतना कहते ही वो ज़ोर ज़ोर से गॅंड मारने लग गया की तभी मम्मी ने ज़ोर से आगे हो कर लंड बाहर निकाल लिया और अपनी चूत पर राजू का हाथ रख उसका लंड मूह मे ले कर चूसने लग गई. राजू भी उनके निकले पानी से उनकी चूत को मल रहा था और मैं ये सब देख कर समझ गया था की मम्मी अंदर क्यो नही लेना चाहती थी.

अब मैं भी अपने लंड को पकड़ कर अपने कमरे मे आ गया और खुद के लिए शराब बनाने लग गया और तब तक राजू भी मम्मी को चोदकर बाहर चला गया था और मम्मी भी अपनी सहेली के घर के लिए निकल चुकी थी. मेरा मूड तो पहले ही ललित ने खराब कर दिया था पर जब मम्मी को नोकर राजू से चुदते हुए देखा तो मेरा हाल बुरा हो गया और मैने अपने लंड को पकड़कर उपर नीचे करना शुरू कर दिया.

मैने अपना निकालने से पहले देखना चाहा की घर पर कोई तो नही है इसलिए मैं अब अपनी अलमारी से सेक्स की बुक लेने के लिए उठा तो वो बुक मुझे वाहा नही मिली तो मैं एक दम से डर गया और घर के हर एक कोने मे जाकर बुक को देखने लग गया. मैं सब जगह देख ही रहा था की मुझे अपनी बहन दिशा के कमरे से आअहह आअहह की आवाज़े सुनने लगी तो मैने देखा की दिशा और सोनम एक दूसरे के साथ नंगी चिपकी हुई थी और मेरी बहन दिशा सोनम की चूत मे जीब डाल कर चाट रही थी.

More Sexy Stories  बाय्फ्रेंड से चुदाई कराई अपनी चूत

सोनम मज़े मे आअहह आअहह कर रही थी और बोल रही थी- आअहह दिशा, और चाट मेरी चूत पूरी लाल कराडे, निकाल इसका पानी, आअहह आअहह. बेस्ट हिन्दी सेक्स स्टोरी

ये सब सुनकर मेरा लंड भी खड़ा हो चुका था और मैने देखा की मेरी बुक भी वही बेड पर खुली पड़ी थी और दोनो अपने मे मस्त हो रखी थी. मेरी आँखो के सामने ही दोनो 69 ली पोज़िशन मे आ कर एक दूसरे को प्यार कर रही थी.

ये सब देख कर मेरा तो दिमाग़ ही हिल गया था और मैं अब अपने रूम मे आ गया और वाहा पर मेरा फोन रिंग कर रहा था. मैने देखा तो फोन ललित का था जो की मैने पिक करलिया.

ललित- भाई यहा तो सब उल्टा हो गया, घर पर गेस्ट आ रखे है जिसकी वजह से मैं अपनी बहन को चोद भी नही पाया और अपना खड़ा लंड वापिस ले कर आ गया. तू भी यहा आजा, दोनो बैठकर दारू पीते है.

मैं- ललित अगर मज़े लेने ही है तो मेरे घर आ, तुझे सील बंद चूत का मज़ा दिलाता हूँ. आज तुझे अपनी बहन दिशा की चूत देता हूँ.

ललित – क्या सच मे ?

मैं – हाँ भाई सच मे, बस आते हुए एक बॉटल शराब की लेता आईओ.

Pages: 1 2 3

Comments 1

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *