बाप ने बेटी को रखैल बना कर चोदा-1

This story is part of a series:


  • keyboard_arrow_right

    बाप ने बेटी को रखैल बना कर चोदा-2

  • View all stories in series

आप लोगों ने मेरी पिछली कहानियों
कलयुग का कमीना बाप
माँ बेटी की मज़बूरी का फायदा उठाया
और
सर बहुत गंदे हैं
को बहुत पसंद किया, इसके लिए सभी का धन्यवाद। मेरी प्रत्येक कहानी को लाखों पाठकों ने पढ़ा; इसके लिए सभी पाठकों को बहुत बहुत धन्यवाद।

मुकुल राय बिहार के छोटे से शहर का रहने वाला है। वह सरकारी नौकरी में हैं। उसकी बीवी मिशाली एक बैंक में काम करती है। जो सुबह 9 बजे चली जाती है और शाम तक बैंक में ही रहती है। मुकुल राय की एक बेटी है जिसका नाम परीशा है।

परीशा एक खिलती हुई कली है। बेहद खूबसूरत परीशा पर जवानी कुछ ज्यादा ही मेहरबान है, उसका हर अंग सांचे में ढला हुआ है। मुकुल राय अपनी बेटी से बहुत प्यार करता है। मुकुल राय को सेक्सी कहानियां पढ़ने का बहुत शौक है। इन कहानियों में भाई बहन, मां बेटे, और बाप बेटी की कहानियां पढ़ कर धीरे-धीरे उसका नजरिया बदलने लगता है और उसकी बेटी के प्रति उसका नजरिया धीरे-धीरे बदलने लगता है।

वह अपनी बेटी की जवानी को हासिल करने के लिए तड़पने लगता है। वह जब भी अपनी बेटी को कम कपड़ों में देखता है उसका लंड खड़ा हो जाता है। बीवी तो सुबह ही बैंक के लिए चली जाती है। लेकिन मुकुल राय अपनी बेटी की कच्ची जवानी देख देख कर अपने लंड को सहलाता रहता है।

मुकुल राय एक दिन सुबह परीशा के कमरे के बाहर से गुजर रहा था कि उसे फोन पर बात करने की आवाज सुनाई दी।
परीशा- नहीं … नहीं सर प्लीज सर।
फिर उधर से कुछ कहा गया।
परीशा- प्लीज सर … ओके मैं आ रही हूँ।

इतना सुनकर मुकुल राय को शक हो गया की जरूर दाल में कुछ काला है। वह परीशा को ऑफिस जाने को कहकर जल्दी ही घर से निकल गया। बाहर आकर मेन रोड पर एक दुकान में बैठकर चाय पीने लगा।

कुछ ही देर बाद परीशा घर से स्कूल ड्रेस में जाती दिखाई दी। जबकि अभी स्कूल जाने में बहुत देर था। इतना पहले वह क्यों जा रही है। मुकुल राय उसका पीछा करने लगा। स्कूल ज्यादा दूर नहीं था, यही कोई 1 किलोमीटर था।
परीशा स्कूल में घुस गई अभी स्कूल में कोई नहीं आया था।

परीशा सीधे ऊपर चली गई। ऊपर लिखा था ओनली फॉर स्टाफ। मुकुल राय भी छुपकर ऊपर चला गया। वह धीरे धीरे आगे बढ़ रहा था तभी उसे परीशा की आवाज एक कमरे से सुनाई दी।
मुकुल राय ने जल्दी से अपने मोबाइल को साइलेंट किया और उसकी कैमरे की लाइट बंद करके कैमरा चालू कर दिया।

फिर वह उस रूम की खिड़की तक पहुँचा और खिड़की की झिरी से देखा कि एक 50 साल की उम्र का आदमी खड़ा था। वह परीशा का टीचर था और परीशा उसके आगे बैठकर उसका लंड सहला रही थी।
खिड़की पुरानी थी जो लकड़ी की बनी हुई थी इसलिए उसमें झिरी बन गई थी। मुकुल राय ने खिड़की को थोड़ा सा दबाया तो मालूम पड़ा कि वह खुली हुई थी। उसने मोबाइल का वीडियो कैमरा चालू करके उन लोगों की तरफ करके मोबाईल अंदर रख दिया, फिर दरार से देखने लगा।

अब टीचर ने परीशा को अपने लंड को चूसने को बोला। लेकिन परीशा बार बार मना कर रही थी। लेकिन जब टीचर ने गुस्से में धमकी दी तो परीशा मज़बूरी में उसका लंड चूसने लगी। अब वह टीचर परीशा के बालों को पकड़कर उसके मुँह में अपना लंड पेलने लगा।

साथ ही साथ उसने परीशा की स्कर्ट के बटन को खोलकर उसकी छोटी छोटी चूचियों को भी मसलने लगा। अब परीशा भी धीरे धीरे गर्म होने लगी थी क्योंकि अब वह भी उसके मोटे लंड को मज़े से चूस रही थी।
टीचर तो इतना गर्म हो गया था कि परीशा के मुँह में ही झड़ गया। जिसे परीशा ने फर्श पर थूक दिया और अपने कपड़े ठीक करके बाहर निकल गई।

मुकुल राय ने भी अपना मोबाइल निकाला और छुपते छुपाते स्कूल से बाहर निकल गया। आज उसका ड्यूटी जाने का मन नहीं था इसलिए वह घर आ गया।
घर पर कोई नहीं था; उसकी बीवी ऑफिस चली गई थी और परीशा के पास से आ ही रहा था।

अपने कमरे में आकर उसने वीडियो देखा तो वीडियो पूरा क्लियर था। लेकिन वह समझ नहीं पाया की यह टीचर उसकी बेटी को कैसे ब्लैकमेल कर रहा है।
वह आराम करने लगा।
तभी लंच टाइम पर दरवाजा खुलने की आवाज़ आई तो जाकर देखा तो परीशा आ गई थी।

मुकुल राय- अरे बेटी तुम इतना जल्दी कैसे आ गई? तबियत तो ठीक है ना?
परीशा- पापा मेरा सर थोड़ा भारी था इसलिए आ गई। लेकिन आप आफिस नहीं गए?
मुकुल राय- सुबह गया था बेटी … आज जल्दी काम खत्म हो गया तो चला आया। तुम फ्रेश हो के आओ, मुझे तुमसे कुछ काम है।
परीशा- ओके पापा, अभी आती हूँ।

परीशा 10 मिनट बाद फ्रेश होकर आई। मुकुल राय पहले पढ़ाई के बारे में बात करता है, फिर धीरे धीरे परीशा से असली बात पर आता है।

मुकुल राय- देखो बेटी, तुमको कोई भी प्रॉब्लम है मुझे बताओ। मैं तुमको कुछ नहीं बोलूंगा।
लेकिन जब बार बार पूछने पर परीशा ने कुछ नहीं बताया तो मुकुल राय ने अपने मोबाइल में उसका वीडियो दिखाया जिसे देखकर परीशा अपना सर नीचे झुका लिया और फूट फूट कर रोने लगी।

मुकुल राय ने परीशा को बांहों में भर लिया और उसे चूमते हुए चुप कराने लगा।
धीरे धीरे परीशा चुप हो गयी।

तब मुकुल राय ने उससे पूछा- किस मज़बूरी में तुम ऐसा कर रही थी।

तब परीशा बताने लगती है।

एक हफ्ते पहले की बात है, एक लड़का बहुत दिनों से मेरे पीछे पड़ा हुआ था। रोज मेरा पीछा करता, मुझसे बात करने की कोशिश करता। हर समय मुझे देखकर मुस्कुरा देता। लेकिन मुझे कोई असर नहीं हुआ। लेकिन 3-4 दिन पहले रात को मेरी नींद खुल गई। मुझे जोरो से पेशाब लगी हुई थी। जब मैं पेशाब करके आ रही थी तो मम्मी की आवाज आप लोगों के कमरे से सुनाई दी तो मैंने कीहोल से देखा कि आप और मम्मी सेक्स कर रहे थे।

वो नजारा देखकर मैं काफी गर्म हो गई थी। इसी का असर था कि मैं भी उस लड़के से दोस्ती करना चाहती थी ताकि मैं अपनी प्यास बुझा सकूँ। मुझे वह अच्छा लगता था इसलिए मैं भी उसे देखकर मुस्कुरा दी।

फिर एक दिन उसने मुझे एक लेटर दिया और मुझे स्कूल शुरू होने के 1 घंटे पहले मुझे स्कूल के पीछे मिलने को बुलाया।
जाने क्या मन में आया कि मैं उससे मिलने चली गई।
स्कूल के पीछे जब मैं उस लड़के से मिली तो उसने मुझे बांहों में भर लिया और मेरे होंठों और गालों को चूमने लगा। फिर उसने मेरी शर्ट उठाकर मेरे मम्मो को भी चूसने लगा। जब मुझे होश आया तो मैंने उसे धक्का दिया और वहाँ से भाग आई।
लेकिन बाद में मुझे मालूम चला कि उस टीचर ने खिड़की से मेरा उस लड़के के साथ पूरी वीडियो शूट कर लिया था। जिसमें बहुत साफ साफ वीडियो था।

बाद में उस टीचर ने मुझे बुलाया और मुझे वो वीडियो दिखाया तो मेरे होश उड़ गए। तब से वह मुझे ब्लैकमेल कर रहा है।

मुकुल राय- अब तक कितनी बार तुमको बुलाया है।
परीशा- आज तीसरा दिन था। लेकिन असली प्रॉब्लम संडे को है। उसने मुझे धमकी दी है की संडे को किसी बहाने उसके घर जाना है। उसकी बीवी एक दिन पहले ही अपने घर जाने वाली है। नहीं जाने पर वो वीडियो नेट पर डाल देगा।

यह बोलकर फिर परीशा रोने लगती है। मुकुल राय परीशा को चुप कराने लगता है- अच्छा बेटी, तुमने बोला नहीं वो वीडियो डिलीट करने के लिए?
परीशा- बोला था पापा … लेकिन वो बोल रहा है कि संडे को मेरे घर आओ। अगर मैंने उसे खुश कर दिया तो वो वीडियो डीलीट कर देगा। वो मेरे साथ सेक्स करना चाहता है पापा।

मुकुल राय- तुम चिंता मत करो बेटी, मैं हूँ ना! मैं आज ही वो वीडियो लाकर तुम्हें दूंगा। तुम अपने हाथों से डिलीट करना। तुम्हें इतनी बड़ी प्रॉब्लम से निकालूँगा तो बदले में मुझे क्या मिलेगा?

परीशा- आप जो बोलोगे मैं वो करुँगी पापा! आज के बाद आपको शिकायत का मौका नहीं दूंगी।
यह कहकर अपने पापा से लिपट जाती है और उनके गाल पर किस करके चली जाती है।

मुकुल राय सोच में गुम हो जाता है। कुछ देर सोचने के बाद अपनी बेटी और उस टीचर की वीडियो की 2 मिनट का एक पार्ट अलग करता है जिसमें लड़की का चेहरा नहीं खता। सिर्फ टीचर का चेहरा दीखता है और कोई स्कूल ड्रेस पहने लड़की उसका लंड चूस रही है। ये साफ दिख रहा है।
उस वीडियो को वह उस टीचर के व्हाटसअप पे भेज देता है और लिख देता है कि 1 घंटे के अंदर शहर के बाहर एक ख़ाली मकान में आओ। साथ में धमकी भी दे दी कि किसी को खबर की तो ये वीडियो स्कूल के प्रिंसीपल और पुलिस के पास भेज दी जायेगी।

मुकुल उस खाली घर में पहुच गया. चूंकि टीचर भी डर गया था तो वह जाकर उस मकान के बाहर खड़ा हो जाता है।

अंदर से जब मुकुल राय देखता है वह अकेला आया है तो वह नकाब पहन कर खिड़की से कड़क आवाज़ में उस टीचर से उसकी मोबाइल मांगता है। जब टीचर अपना मोबाइल देता है तो मुकुल राय उसका कोड मालूम कर लेता है उसका सिम निकालकर दे देता है।

मुकुल राय मोबाइल चेक करता है तो वो वीडियो मिल जाता है और मोबाइल अपने पास रख लेता है और बोलता है- जल्दी से भाग जा यहाँ से … नहीं तो मेरे आदमी तुझे गोली मार देंगे। आज के बाद किसी लड़की को ब्लैकमेल किया तो वो दिन तेरी ज़िन्दगी का आखिरी दिन होगा। भाग साले जल्दी।

टीचर वहाँ से ऐसे भागता है जैसे उसके पीछे भूत लग गए हों। फिर मुकुल राय पीछे से निकलकर अपने घर आ जाता है।

घर आकर अपने रूम में जब वो वीडियो देखता है तो अपनी कमसिन बेटी की संतरे जैसी चूचियों की चुसाई देखकर उसका लंड खड़ा हो जाता है। यह कहानी आप अन्तर्वासना पर पढ़ रहे हैं।

फिर मुकुल राय ने परीशा को बुलाया। जब परीशा आ गई तो मुकुल राय ने वो मोबाईल दिखाया- देखो बेटी, यही मोबाईल है ना?
परीशा ख़ुशी के मारे अपने पापा से लिपट गई और बोली- जल्दी से वो वीडियो डिलीट करो पापा प्लीज!

मुकुल राय- पहले देख तो लो वो वीडियो है या नहीं।

फिर मुकुल राय ने गैलरी खोला और वो वीडियो चला दिया।
वीडियो देखते ही परीशा शरमा गई- प्लीज पापा जल्दी डिलीट करो ना!
मुकुल राय- अरे बेटी पूरा तो देखने दो। मैं भी तो देखूं मेरी बेटी अंदर से कितनी सुन्दर है।
परीशा- प्लीज पापा।

कहानी जारी रहेगी.
इस कहानी पर आप अपने विचार दे सकते हैं।
मेरा ईमेल है- [email protected]

More Sexy Stories  दो आंटियों की चुत चुदवाने की चाहत