अजनबी भाभी के साथ एक रात

हेलो भाभी, मैं राज ठाकुर, एक एरिया सेल्स मॅनेजर – मल्टिनॅशनल कंपनी मे काम करता हूँ, महीने के 15 दिन मैं बाहर रहता हूँ, मुझे जगह जगह जाना पड़ता है, एक बार मैं कंपनी के काम से गोआ गया था, जहा मैं होटेल वुडलॅंड मे रुका था, 3 दिन का ट्रिप था दिन भर के काम के बाद मैं अपने रूम मे वापस आ गया, और फ्रेश होने के बाद टीवी देख रहा था, की अचानक मुझे बाजू वाले कमरे से ज़ोर की आवाज़ आई मैं वाहा दौड़ कर गया और रूम का दरवाज़ा खाटखटाया, अंदर से आवाज़ आई की कम इन, मैं अंदर गया तो एक भाभी बेड पर लेटे टीवी देख रही थी, भाभी “हान बोलो, कौन है आप?? क्या चाहिए?” राज “कुछ नही बस ऐसे ही मुझे एक आवाज़ सुनाई दी तो मैं पूछने चला आया इट्स ओके” और फिर मैं चला आया, इतने मे पीछे से भाभी ने आवाज़ दी, भाभी “सुनो, कहा से हो तुम? क्या नाम है तुम्हारा? यहा क्या कर रहे हो?” राज “मैं बोला कंपनी के काम से आया हूँ, इन्दोर का रहनेवाला हूँ”.

भाभी “असल मे मैं बहोत बोर हो रही थी” इसलिए गुस्से से मैने रिमोट फेका, मैं यहा पे अपने बेटे के स्कूल आन्यूयल डे के लिए आई हूँ जो कल है, शाम हो चुकी थी, मैने भाभी को पूछा, ये बात है?? रात के डिन्नर का क्या प्लॅन है? चाहो तो मैं तुम्हारा साथ दे सकता हूँ., ओह सोची और खुश होकर बोली, ओके. अंजान हो पर सीधे लगते हो, कोई बात नही, मैं फ्रेश होकर तुम्हे नीचे मिलती हूँ. मैने ओके कहा और चल दिया. अपने कमरे मे फ्रेश होते हुए मेरा मन डगमगा ने लगा… क्यू पता नही… भाभी के स्तन मेरे आगे आने लगा और मैं उन पर आकर्षित होने लगा, मन कर रहा था की बस आज रात भाभी मेरे ही कमरे मे रह जाती तो बस क्या बात होती, होटेल मे खाना खाते समय बहोत बातें की, कुछ चुटकुले भी सुनाए, काफ़ी हस्सी मज़ाक हुई, फिर जब हम अपने होटेल पहुचे तो लिफ्ट मे अचानक से हम दोनो शांत हो गये, मुझे अंदर से मन कर रहा था की भाभी के होटो को चूम कर गुडनाइट विश करू, पर क्या करता कुछ सिग्नल नही मिल रहा था.

More Sexy Stories  बेटी के साथ मॉं की चुदाई कहानी

अब हम अपने अपने रूम मे वापस जा रहे थे तो मैने भाभी को बोला, अब तो बोर नही होगी ना?? नींद आएगी ना? की सुलाने भी आजाउ? तो वो हस्स कर बोली, जाओ अपने कमरे मे और सो जाओ, मैं भी अपने रूम मे चला गया, फ्रेश होते समय मुझे मेरा लिंग टाइट महसूस हुआ और मैं भाभी के स्तन के बारे मैं सोचते हुए हिला लिया, बहोत अछा लग रहा था फिर मैं सोने चला गया, आधी रात को मैं वापस मचला और मुझे भाभी की याद सताने लगी, तो मैं अपने कमरे से बाहर गया, मैने देखा की भाभी की कमरे की लाइट चालू है, अनुमान लगाया की वो जाग रही है और दरवाज़ा खटका दिया, उसने नीद्रा अवास्ता मे दरवाज़ा खोला, वो सिर्फ़ मिनी पहनी हुए थी, बहोत सेक्सी लग रही थी., मुझे देख कर बोली, क्या हुआ इतने रात को यहा कैसे? कुछ प्राब्लम? मैने मौके का फ़ायदा उठाया और बोला, की मेरा सीना जल रहा है, पता नही शायद खाना नही पचा भाभी ने बोला ठंडा दूध माँगा दू? मैने कहा माँगने की क्या ज़रूरत है??.

भाभी बोली क्या? शायद वो समझी नही और उन्होने रूम सर्विस को फोन करके एक ग्लास ठंडा दूध माँगा लिया, जब तक दूध आता मैं अपनी गर्लफ्रेंड की बाते कर रहा था, दूध आने पर मैं बोला की भाभी मैं अपने कमरे मे पी लूँगा भाभी बोली नही, तुम्हे यही पीना होगा, मैं कहा मेरा दूध पीने का स्टाइल अलग है, भाभी बोली दूध पीने मे भी स्टाइल?? बोलो कैसे पीते हो?? मैं बोला की मैं सीधा स्तन को मूह लगा कर पीता हूँ, भाभी शर्मा गयी, मैं बोला अरे, भाभी ग्लास के स्थान से, भाभी समझ गयी… पता नही उन्हे क्या हुआ, उन्होने बोला की मैं तुम्हे अलग अलग तरीके से दूध पिलाती हूँ, यहा आओ मैं भाभी के साथ बेड पर बैठ गया, पहले उन्होने अपने मूह मे दूध भरा और मुझे होटो पे चूमते हुए दूध अपने मूह से मेरे मूह मे डाला, मुझे बहोत अछा लगा, मैने बोला और, कहा से पी सकता हूँ, फिर धीरे धीरे भाभी ने अपनी मिनी का स्ट्रॅप उतार कर अपने गोल बूब्स मे दूध गिराया और मुझे कहा की पियो.

More Sexy Stories  पड़ोसन भाभी की चूत मारी

मैं तो पागल ही हो गया था, गोल बूब्स., पिंक निप्पल, उस पर वाइट दूध की बूंदे, उफ़फ्फ़, फिर लेट कर अपनी पैंटी दूध से भीगाई और बोली की और पियो..मैं भाभी की पैंटी चूस डाली और उनकी चुत गीली कर दी थी, मैने उनकी पैंटी निकाल दी और उनकी चुत पर दूध गिरा के पीने लगा, मैने एक बूँद दूध का नीचे नही गिरने दिया, फिर भाभी ने बचे दूध के ग्लास मुझसे लिया और मेरे फॅन फनाते हुए लंड को डुबॉया और सारा का सारा चाट गयी, बहोत मज़ा आ रहा था, भाभी फूल मूड मे आ चुकी थी, हम 69 पोज़िशन से मज़ा ले रहे थे, फिर भाभी ने मेरे लंड को टाइट पकड़ा और कहा की अब इसे मलाई खाने दो, मैने भी आओ देखा ना ताओ, मैने अपना लंड डाल दिया भाभी की रसीली चुत मे, बहोत अछा लग रहा था, भाभी ज़ोर ज़ोर से सिसकिया ले रही थी, मैं इतना मौज़ मे था की मैने अपने लंड से निकली मलाई भाभी के चुत मे ही गिरा दिया, भाभी बहोत खुश नज़र आ रही थी तो भाभी ने मुझे छोड़ा नही था.

Pages: 1 2